बालों की हर समस्या के लिए कारगर इलाज है देसी घी, जाने कैसे करें इस्तेमाल

बालों में घी लगाने के कई सारे फायदे होते हैं लेकिन इन्हें लगाना इतना आसान नहीं होता। लगाने से ज्यादा बालों से घी को छुड़ाना कठिन होता है। इसको लगाने के बाद बाल चिपचिपे हो जाते हैं। इससे बचने के लिए एक्सपर्ट्स घी में बादाम का तेल मिलाने की सलाह देते हैं। दोमुहे बाल, रूसी, बालों की ग्रोथ आदि समस्याओं के लिए घी का इस्तेमाल किया जा सकता है। देशी घी से रोज सिर की मालिश करने से बालों की कई समस्याओं का प्राकृतिक उपचार हो जाता है।

कैसे करें इस्तेमाल –
दोमुहे बालों के लिए – अगर आपके बालों में दोमुंहेपन की समस्या है तो 3 चम्‍मच गर्म घी लगाने से ये समस्‍या दूर हो जाएगी। इसके लिए घी को 15 मिनट तक लगाए रखें और बाद में गुनगुने पानी से बालों को धो लें। इससे बाल बहुत सिल्‍की हो जाते हैं। इसके अलावा घी को हल्‍का गुनगुना कर 20 मिनट तक सिर का मसाज करें और बाद में इसमें नींबू पानी लगाएं। कुछ देर के लिए छोड़ दें। 10 मिनट बाद पानी से धो लें। इससे बालों को प्राकृतिक चमक मिलेगी।

रूसी के लिए – कई बार सिर की त्वचा के रूखेपन की वजह से रूसी हो जाती है। इससे निपटने के लिए घी और बादाम के तेल को मिलाकर बालों में लगाएं। 15 मिनट बाद गुलाबजल मिले पानी से धो लें। इससे बहुत जल्द ही आपको रूसी से छुटकारा मिल जाएगा।

बालों की ग्रोथ के लिए – महीने में तीन बार बालों का घी से मसाज करने से बाल तेजी से बढञते हैं। इसके लिए बालों में घी लगाकर मसाज करें और बालों को तौलिए से 15 मिनट के लिए लपेट लें। बाद में गुनगुने पानी से बालों को धो लें।बालों के पोषण – प्रदूषशण की वजह से बाल कमजोर होते हैं और फिर टूटते हैं। ऐसे में इस परेशानी से बचने के लिए देसी घी का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके लिए देसी घी को तब तक गर्म करें जब तक ये पूरी तरह पिघल न जाए। अब हल्के हाथों से इसे अपने बालों पर लगाएं। एक घंटे इसे लगाकर रखें और फिर धो लें। अगर आपकी सिर की त्‍वचा में किसी प्रकार का संक्रमण है तो घी को लगाएं। इससे सोरा‍यसिस जैसी बीमारी में भी लाभ मिलता है।

 

POPULAR ON IBN7.IN