दूध के साथ न खाएं केला, सेहत को पहुंचाता है नुकसान

केला और दूध पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं। अक्सर जो लोगो मसल्स बढ़ाने के लिए कोशिश कर रहे होते हैं, उन्हें केला और दूध के सेवन की सलाह दी जाती है। मीठे फल केला और दूध का शेक भी लोग बड़े चाव से पीते हैं। लेकिन विशेषज्ञों का मानना है कि केला और दूध का एक साथ सेवन सेहत के लिए बिल्कुल भी सही नहीं होता। यह शरीर के कई अंगों की फंक्शनिंग को प्रभावित करता है। आयुर्वेद भी केला और दूध के एक साथ सेवन को सही नहीं मानता।

केला और दूध दोनों के अलग-अलग ढेरों स्वास्थ्य संबंधी फायदे हैं। दूध जहां प्रोटीन का सबसे अच्छा स्रोत है वहीं केला भी फाइबर, विटामिन सी, पोटैशियम और बायोटिन का भरपूर भंडार होता है। दूध को संपूर्ण आहार भी कहा जाता है। 100 ग्रा. दूध से तकरीबन 42 कैलोरी मिलती है, वहीं 100 ग्रा. केले से तकरीबन 89 कैलोरी ऊर्जा की प्राप्ति होती है। केला खाने से शरीर में देर तक ऊर्जा बनी रहती है, इसलिए यह वर्कआउट से पहले और बाद में खाया जाने वाला सबसे बढ़िया खाद्य है। दोनों के इतने लाभ होने के बावजूद इन्हें साथ खाने की मनाही है। एक अध्ययन से यह बात पता चली है कि केला और दूध का मिश्रण हमारे पाचन तंत्र को बुरी तरह से प्रभावित करता है। इसकी वजह से साइनस संबंधी समस्या होने के भी आसार रहते हैं।

आयुर्वेद के मुताबिक किसी भी ठोस फल का किसी तरल से संयोजन अच्छा नहीं माना जाता है। इसके अनुसार बनाना यानी कि केला और दूध का सेवन साथ-साथ करने से शरीर में विषैले तत्वों का प्रभाव उत्पन्न होने लगता है। ऐसे में शरीर के तमाम अंगों की कार्यप्रणाली पर बुरा असर पड़ता है। इसके अलावा केला और दूध खाने से शरीर भारी-भारी बना रहता है और साथ ही साथ आपकी मस्तिष्क क्षमता भी इससे प्रभावित होती है। केला और दूध के सेवन का सबसे बेहतर तरीका होता है कि आप इसे अलग-अलग खाएं और पिएं। इससे शरीर को किसी भी तरह का नुकसान नहीं होता है। विशेषज्ञों का कहना है कि केला खाने के 20 मिनट बाद दूध पीना ज्यादा फायदेमंद होता है। अगर आप किसी डेयरी प्रोडक्ट के साथ ही केले का सेवन करना चाहते हैं तो इसके लिए आप दही का इस्तेमाल कर सकते हैं।

 

POPULAR ON IBN7.IN