संगति से पता चलता है व्यक्ति का आकर्षण

लंदन: शोधकर्ताओं का कहना है कि किसी व्यक्ति की सुंदरता उसके बगल में खड़े होने वाले व्यक्ति पर निर्भर करती है कि वह उसकी तुलना में कितना सुंदर दिख रहा है। अध्ययन से पता चलता है कि एक व्यक्ति कितना आकर्षक है, इसका पता तब नहीं चलता जब वह अकेला होता है। उसके आकर्षक होने का पैमाना किसी कम आकर्षक व्यक्ति की तुलना में ही तय होता है।

शोधकर्ताओं का कहना है कि हम जिनके साथ होते हैं, उससे इस पर असर पड़ता है कि हमारा व्यक्तित्व दूसरों को कैसा दिख रहा है। 

अध्ययन के मुताबिक, अवांछित चेहरों से घिरा एक औसत आकर्षक चेहरा अपने आप ही तुलना में ज्यादा आकर्षक हो जाता है।

लंदन विश्वविद्यालय के रॉयल हालोवे के निकोलस फर्ल ने कहा, "एक कम आकर्षक चेहरे की मौजूदगी एक आदमी के आर्कषण को ही नहीं बढ़ाती, साथ ही लोगों की भीड़ हमें इस बारे में चुनने में और सावधान करती है। "

अध्ययन के लिए दल ने कई तरह के चेहरों वाली तस्वीरों को प्रतिभागियों को परखने के लिए कहा।

फर्ल ने कहा, "हमने पाया कि एक 'विचलित' चेहरा आर्कषक लोगों के बीच स्पष्ट तौर पर अंतर पैदा करता है और देखने वालों ने इन अंतरों को अलग करना शुरू किया और अपने फैसले में खास तव्वजो दी।" 

अध्ययन 'जर्नल साइकोलॉजिकल साइंस' में प्रकाशित हुआ है। 

--आईएएनएस

  • Agency: IANS
Poker sites http://gbetting.co.uk/poker with all bonuses.