चीन को मिलने जा रहा अंतरमहाद्वीपीय मिसाइल, भारत समेत पूरी दुनिया में कहीं भी गिरा सकेगा परमाणु बम

Monday, 20 November 2017 21:25

चीन की सेना में लंबी दूरी वाली एक ऐसी अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल अगले साल शामिल हो सकती है जो कई परमाणु हथियारों को एक साथ ले जाने सहित दुनिया के किसी भी स्थान के लक्ष्य को भेदने में सक्षम होगी। एक मीडिया रिपोर्ट से इसकी जानकारी मिली है।यह नई मिसाइल डोंगफेंग-41, मैक 10 से भी ज्यादा तीव्र गति वाली है। यह दुश्मनों की मिसाइल चेतावनी और रक्षा प्रणाली में भी सेंध मारने में सक्षम है।

सरकारी मीडिया हाउस ग्लोबल टाइम्स ने बताया कि साल 2012 में इस मिसाइल की घोषणा होने के बाद से अब तक इसका आठ बार परीक्षण हो चुका है और यह पीपल्स लिबरेशन आर्मी में 2018 में शामिल हो जाएगी। चीन आर्म्स कंट्रोल एंड डिसआर्मामेंट एसोसिएशन के वरिष्ठ सलाहकार शु गुआंगु ने कहा कि अगर यह मिसाइल सेना में सेवा देना शुरु करती है तो इसे काफी मजबूत होना होगा। ग्लोबल टाइम्स ने गुआंगु को यह कहते हुए उद्धृत किया कि डोंगफेंग-41 तीन स्तरीय ठोस ईंधन मिसाइल है और इसमें कम से कम 12,000 किलोमीटर की मारक क्षमता है।

इसका मतलब यह हुआ कि यह चीन से दुनिया के किसी कोने में भी निशाना साधा जा सकता है. यह मिसाइल 10 परमाणु हथियारों को एक साथ ले जा सकती है और अलग-अलग निशान लगा सकती है।

 

दोस्त ने दिया झटका: रॉ पर पाकिस्तान के आरोपों को चीन ने किया खारिज

Monday, 20 November 2017 21:23

चीन ने आज पाकिस्तान के शीर्ष सैन्य जनरल के आरोपों को खारिज कर दिया कि भारत ने 50 करोड डॉलर की लागत से एक विशेष खुफिया प्रकोष्ठ का गठन किया है ताकि चीन-पाकिस्तान आर्थिक कोरीडोर (सीपीईसी) में बाधा डाली जा सके। चीन ने कहा कि उसके पास इस तरह की कोई खबर नहीं है। पाकिस्तान के ज्वाइंट चीफ्स ऑफ स्टाफ कमिटी के जनरल जुबैर महमूद हयात ने 14 नवम्बर को आरोप लगाया था कि भारत क्षेत्र में अराजकता फैला रहा है। उन्होंने आरोप लगाए कि भारत की विदेशी खुफिया एजेंसी रॉ ने सीपीईसी में बाधा डालने के लिए 50 करोड डॉलर की लागत से एक विशेष प्रकोष्ठ का गठन किया है।

उन्होंने भारत पर अशांत बलूचिस्तान प्रांत में आतंकवाद को हवा देने के भी आरोप लगाए। चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लु किंग ने आरोपों के बारे में पूछने पर कहा, हमारे पास इस तरह की कोई रिपोर्ट नहीं है। भारत के खिलाफ आरोपों से चीन का इंकार काफी महत्व रखता है क्योंकि बीजिंग और इस्लामाबाद के रिश्ते काफी मजबूत माने जाते हैं।

सीपीईसी के पाकिस्तानी कब्जे वाले कश्मीर से गुजरने पर भारत की आपत्तियों की तरफ इशारा करते हुए लु ने कहा, हमें उम्मीद है कि सीपीईसी को क्षेत्रीय देशों और अंतरराष्ट्रीय समुदाय से ज्यादा समर्थन और मान्यता मिलेगी। पाकिस्तान के शीर्ष अधिकारी रॉ पर सीपीईसी को बाधित करने के आरोप लगाते रहे हैं क्योंकि पाकिस्तान के सुरक्षा बलों को बलूचिस्तान राष्ट्रवादी बलों के साथ ही बलूचिस्तान प्रांत में इस्लामिक स्टेट के कई हमलों का सामना करना पडा था। सीपीईसी चीन के अशांत शिनजियांग प्रांत को बलूचिस्तान के ग्वादर बंदरगाह से जोडता है।

 

तो क्या विराट कोहली को शतक का लालच पड़ा भारी? जीतने वाला मैच हुआ ड्रॉ

Monday, 20 November 2017 21:20

कोलकाता के ईडन गार्डंस पर श्रीलंका और टीम इंडिया के बीच एक और रोमांचक टेस्ट मैच आखिरकार ड्रॉ हो गया। मैच के आखिरी दिन टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने यूं तो शानदार शतक जड़ा लेकिन उनका यही शतक इस मैच के ड्रॉ होने की बड़ी वजह भी बन गया। हुआ ये कि उन्होंने अपना शतक तो तेज तर्रार तरीके से जड़ा, लेकिन इसके लालच में वह पारी देर से घोषित कर पाए। परिणाम ये हुआ कि टीम के तेज गेंदबाजों को कम ओवर फेंकने को मिले। टीम इंडिया ने दूसरी पारी में 26 ओवर की गेंदबाजी की। अगर टीम इंडिया के तेज गेंदबाजों को 5 से 10 ओवर और गेंदबाजी करने को मिल जाती तो मैच का परिणाम कुछ और हो सकता था। भारतीय तेज गेंदबाजों ने पांचवें दिन श्रीलंका के 7 खिलाड़यों को 75 रन पर चलता कर दिया।

इस मैच में एक फैक्ट सबको पता था कि मैच में हर दिन खेल खराब रोशनी के कारण ही रोका गया। जाहिर है खराब रोशनी का खतरा आखिरी दिन भी था। लेकिन कोहली अपने शतक का लोभ नहीं छोड़ सके। नतीजा ये हुआ कि जो मैच टीम इंडिया के कब्जे में हो सकता था, वह रोमांचक ढंग से ड्रा हो गया। कप्तान कोहली ने पारी को टी टाइम से ठीक पहले घोषित किया। उन्होंने श्रीलंका के सामने जीत के लिए 230 रनों का लक्ष्य रखा। अगर कोहली अपनी पारी टीम के 301 रन के स्कोर पर पारी घोषित कर देते तो भारतीय गेंदबाजों को 5 ओवर और गेंदबाजी करने को मिल जाते। उस समय तक टीम इंडिया श्रीलंका पर 180 रन से ज्यादा की लीड ले चुकी थी। कोहली उस समय 78 रन पर खेल रहे थे।

टीम इंडिया की मैच में लीड जब 200 रन की हो गई, तब भी पारी घोषित नहीं की गई, क्योंकि उस समय तक कोहली 86 रन बना चुके थे। इसके बाद जब उन्होंने शतक लगा लिया, तब तक ये लीड बढ़कर 230 रनों की हो गई। टीम इंडिया के गेंदबाजों को मैच में कम ओवर फेंकने को मिले, नतीजा मैच बेनतीजा ही रहा।

 

सोनिया गांधी के आरोपों का अरुण जेटली ने दिया जवाब, कहा- कांग्रेस ने भी संसद सत्र बुलाने में देरी की थी

Monday, 20 November 2017 19:46

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और वित्त मंत्री अरुण जेटली के बीच संसद के शीतकालीन सत्र के संचालन को लेकर अप्रत्यक्ष रूप से जमकर कहा सुनी हुई। सोमवार को जहां कांग्रेस अध्यक्ष ने केंद्र की मोदी सरकार पर गुजरात चुनाव की वजह से समय पर संसद का शीतकालीन सत्र ना बुलाने का आरोप लगाया वहीं अरुण जेटली ने आरोपों बेबुनियाद करार दिया। उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कांग्रेस के आरोपों का खंडन करते हुए कहा, ‘लोकतंत्र के मंदिर को ताला लगाने वाली बात कहने वाली कांग्रेस पूर्व में खुद ऐसा कर चुकी है। कांग्रेस ने भी संसद सत्र देरी से बुलाया था’

केंद्र के ऊपर लगे आरोपों का जवाब देते हुए वित्त मंत्री ने आगे कहा कि आमतौर पर संसद का शीतकालीन सत्र नवंबर के तीसरे सप्ताह में बुलाया जाता है जो दिसंबर की तीसरे सप्ताह तक चलता है। पीटीआई को मिली जानकारी के अनुसार केंद्र सरकार शीतकालीन सत्र को दिसंबर के दूसरे सप्ताह से दस दिनों के लिए बुलाने पर विचार कर रही है।

गौरतलब है कि सोनिया गांधी ने कांग्रेस वर्किंग कमेटी (सीडब्ल्यूसी) की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी नीतियों पर सोमवार को जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि पीएम ने अपने अंहकार के लिए लोकतंत्र के मंदिर को ताला लगा दिया। वो अपने अहंकार के लिए गरीबों के भविष्य को भी नष्ट करने पर तुले हुए हैं। केंद्र द्वारा शीतकालीन सत्र बुलाए जाने की देरी पर भी उन्होंने केंद्र को आड़े हाथों लिया था। उन्होंने कहा, ‘केंद्र सरकार अगामी गुजरात चुनाव की वजह से संसद का सामना करने से बच रही है। जबकि ये महज एक बहाना है।’

 

कांग्रेस अध्यक्ष के अनुसार मोदी सरकार ने अपने अहंकार की वजह से शीतकालीन सत्र को ना बुलाकर संसदीय लोकतंत्र पर अंधेरा ला दिया है। सरकार अगर सोचती है कि लोकतंत्र के मंदिर को ताला लगाकर वो संवैधानिक जवाबदेही से बच निकलेगी तो सरकार ये सोचना गलत है।

अपने आधिकारिक आवास पर बुलाई बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष ने गरीबों के भविष्य को नष्ट करने का कारण मोदी सरकार की नोटबंदी और जबरन थोपी गई गई जीएसटी को बताया। जबकि कांग्रेस सहित कई विपक्षी पार्टी इसे जल्दबाजी और बिना बदलाव के लागू करने वाला टैक्स कह चुकी हैं।

पीएम मोदी पर निशाना साधाते हुए कांग्रेस अध्यक्ष ने आगे कहा, ‘प्रधानमंत्री जीएसटी के लिए आधी रात को संसद सत्र तो बुला सकते हैं लेकिन आज संसद का सामना करने से भाग रहे हैं।’ दरअसल सोनिया गांधी ने इस साल 30 जून, 2017 को संसद के उस सत्र का उदाहरण दिया जो जीएसटी लागू करने के लिए आधी रात को बुलाया गया था। जानकारी के लिए बता दें कि इससे पहले साल 1997 में संसद सत्र आधी रात को बुलाया गया था। ये सत्र देश की आजादी के पचास साल पूरे होने की वर्षगांठ पर बुलाया गया था।

मौनी रॉय का इन पर है क्रश, खुद किया इजहार

Monday, 20 November 2017 19:10

 

इन दिनों खूबसूरत एक्ट्रेस मौनी रॉय खबरों में बनी हुईं हैं। बहुत जल्द बिग स्क्रीन पर एक मेन लीड ऐक्ट्रेस के रूप में डेब्यू करने जा रही मौनी ने नेशनल टीवी पर अपने क्रश का खुलासा कर फिर से सुर्खियां बटोर ली हैं। उन्होंने अपने क्रश का खुलासा एक रिएलिटी शो के दौरान किया। जहां वह गेस्ट के रूप में मौजूद थीं। मौनी इन दिनों टेलीविजन के कई रिएलिटी शो का हिस्सा बन चुकी हैं। वह कलर्स चैनल के हालिया शुरू हुए शो ‘एंटरटेनमेंट की रात’ में भी गेस्ट के रूप में नजर आ चुकी हैं।

मौनी ने जिस शो पर अपने क्रश का खुलासा किया है वह शो कोई और नहीं बल्कि एमटीवी पर आने वाला रिएलिटी शो ‘इंडियाज नेक्स्ट टॉप मॉडल’ सीजन 3 है। जिसको ग्लैमरस एक्ट्रेस मलाइका अरोड़ा और मिलिंद सोमन जज करते हैं। इस शो में मौनी ने एक खूबसूरत ब्लैक गाउन पहनकर शिरकत की थी। इस आउटफिट में मौनी गजब ढा रही थीं। शो में एंट्री लेने के बाद मौनी ने शो की जज मलाइका अरोड़ा, मिलिंद सोमन और डब्बू रतनानी को ज्वाइन किया। इस दौरान मौनी ने मलाइका को देखते हुए कहा, ‘मैं ज्यादा इंट्रेस्टेड होती अगर आप पोल पर होतीं। मैं आपको पोल पर काफी पसंद करती हूं और बाकी सब कुछ भी। मुझे आप पर क्रश है, प्लीज मुझे ये नेशनल टेलीविजन पर एडमिट करने दीजिए’।

दरअसल शो में मौजूदा कंटेस्टेंट्स को पोल पर पोज देने का टास्क दिया गया था। जिसके बाद उनके खींचे गए फोटो को सभी जज देखने वाले थे। वहीं इस टास्क के दौरान मलाइका भी पोल डांस करती दिखीं थी। बता दें 2002 में आई मलाइका की फिल्म ‘कांटे’ में उनपर फिल्माया गया गाना ‘माही वे’ काफी हिट हुआ था। इस गाने में मलाइका पोल पर शानदार डांस करती दिखीं थीं।

Bigg Boss 11 : मास्टरमाइंड विकास के चक्रव्यूह में फंसी हिना खान, हितेन और अर्शी करेंगे वार

Monday, 20 November 2017 18:39

बिग बॉस में जब भी घर से बाहर होने के लिए नॉमिनेशन होते हैं,  उस दिन असली ड्रामा देखने को मिलता है. उस समय दोस्ती और दुश्मनी एक झटके में सामने आ जाती है. ऐसा ही कुछ आज भी होने वाला है. आज बिग बॉस नॉमिनेशन के लिए बड़ा ही मजेदार खेल खेलेंगे. घर के गार्डन एरिया में एक सेफ जोन बनाया जाएगा. जिसमें घर के चार सदस्यों को बैठना होगा. घर के जो भी चार सदस्य इसमें मौजूद रहेंगे वे एविक्शन से सेफ होंगे. लेकिन बिग बॉस छह बार एक ट्यून बजाएंगे और हर बार तीन सदस्यों की मर्जी से एक सदस्य को इस सेफ जोने से बाहर करना होगा. जो इससे बाहर होगा वह घर से बाहर जाने के लिए नॉमिनेट हो जाएगा.

इस गेम की शुरुआत बहुत ही दिलचस्प अंदाज में होगी. बिग बॉस पहले चार सेफ लोगों के नाम लेंगे और यह बहुत ही चौंकाने वाले होंगे. इनमें हिना खान, हितेन तेजवानी, अर्शी खान और विकास गुप्ता के नाम शामिल होंगे. इसके बाद घर के बाकी सदस्य आते जाएंगे और गेम खेलते जाएंगे. आखिर में जो चार सदस्य सेफ जोन में रह जाएंगे वही कैप्टन बंदगी के साथ इस हफ्ते के एविक्शन से सेफ होंगे. इस पूरे गेम के मास्टरमाइंड विकास गुप्ता ही रहेंगे.

शुरुआती नाम सुनते ही हिना खान के तोते उड़ जाएंगे क्योंकि विकास और अर्शी तो अभी तक टीम में खेल ही रहे हैं, और एक दूसरे की खातिर कई कुर्बानियां भी देते आए हैं. फिर हितेन भी समय-समय पर पाला बदलते दिखे हैं. ऐसे में हिना खान चिढ़ जाती हैं और खतरे में आ जाती हैं. सेफ जोन के तीन सदस्य विकास, हितेन और अर्शी हिना को ही बाहर निकालने की बात करते हैं जबकि हिना इससे साफ इनकार करती है. मुकाबला कम हंगामाखेज नहीं होने वाला है.

सुप्रीम कोर्ट ने ‘पद्मावती’ पर सुनवाई से किया इनकार, सेंसर बोर्ड के पाले में डाली गेंद

Monday, 20 November 2017 17:19

‘पद्मावती’ को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने  फिर सुनवाई से इनकार कर दिया है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि सेंसर बोर्ड ने अभी कोई निर्णय नहीं लिया है. ऐसे में कोर्ट दखल नहीं दे सकता और ये एक तरह प्री जजमेंट की तरह होगा. सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि अभी यह मामला प्री-मैच्योर है. सेंसर बोर्ड सर्टिफिकेट के लिए वैधानिक तौर पर काम करता है और फिल्म को लेकर वो ही विचार करेगा. कोर्ट इस मामले में दखल कैसे दे सकता है ?

सुप्रीम कोर्ट ने याचिकाकर्ता से कहा कि जो आपत्ति याचिका में दी गई हैं वो किसी अन्य काम के लिए इस्तेमाल नहीं होंगी और उसे पब्लिसाइज नहीं किया जाएगा. इस तरह सुप्रीम कोर्ट ने याचिका का निस्तारण किया. बता दें कि वकील एम. एल. शर्मा ने याचिका दाखिल कर इस फिल्म से विवादित दृश्य हटाने के आदेश देने की मांग की है. साथ ही फिल्म के निर्माता निर्देशक के खिलाफ FIR दर्ज कर CBI जांच की मांग की है. याचिका में कहा गया है कि जानबूझकर एक महिला की मानहानि की जा रही है.

‘पद्मावती’ को लेकर इन दिनों विवाद चल रहे हैं  और फिल्म की रिलीज पर रोक लगाए जाने की मांग भी की जा रही है. फिल्म के निर्माताओं ने स्वेच्छा से फिल्म की रिलीज को फिलहाल टाल दिया है. फिल्म को पहली दिसंबर को रिलीज होना था. अभी इसकी रिलीज के बारे में कोई घोषणा नहीं की गई है. 'पद्मावती' में रणवीर सिंह, शाहिद कपूर और दीपिका पादुकोण लीड रोल में हैं.

‘कृपया खड़े न हों, अब मैं राष्ट्रपति नहीं रहा’ जानें प्रणब मुखर्जी ने किस पर कसा तंज

Monday, 20 November 2017 17:15

 

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की हाजिर जवाबी आपको चौंका सकती है। राष्ट्रपति पद से रिटायर होने के बाद भी सार्वजनिक जीवन में उनकी सक्रियता जारी है। दिल्ली में आयोजित ऐसे ही एक कार्यक्रम में पूर्व राष्ट्रपति ने अपने विनम्र जवाब से लोगों का दिल जीत लिया। मौका था जस्टिस वी आर कृष्ण अय्यर की 102वीं जयंती का। कॉस्टीट्यूशन क्लब में आयोजित इस कार्यक्रम में डॉ प्रणब मुखर्जी ने वी आर कृष्ण अय्यर को भारत माता का महान सपूत बताया। उन्होंने कहा कि अलग अलग राजनीतिक विचारधारा होने के बावजूद उन दोनों के बीच बेहद प्यार भरे रिश्ते थे। अपना भाषण देने के बाद पूर्व राष्ट्रपति वापस अपने सीट पर आ रहे थे, इस दौरान कार्यक्रम में बैठे सभी लोग खड़े हो गये और पूर्व राष्ट्रपति के बैठने का इंतजार करने लगे ताकि इसके बाद वे भी बैठ सकें। ये देखकर पूर्व राष्ट्रपति ने बड़ी विनम्रता से कहा कि कृपया वे लोग खड़े ना हों क्योंकि वे अब राष्ट्रपति नहीं रहे। पूर्व राष्ट्रपति ने कहा, ‘कृपया खड़े नहीं होइए, औपचारिकतावश भी नहीं, क्योंकि मैं अब राष्ट्रपति नहीं रहा।’

पूर्व राष्ट्रपति के इस जवाब को सुनकर लोग उनकी तारीफ किये बिना नहीं रह सके। राजनीतिक धुंरधरों और कानून के विद्धानों की इस सभा में ऐसे कई मौके देखने को मिले, जहां पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, वरिष्ठ वकील फली ए नरीमन और जस्टिस एक के पटनायक ने अपनी हाजिर जवाबी से माहौल को मनोरंजक बनाये रखा। इस बैठक में राज्य के नीति निर्देशक तत्वों और भारत के लिए इसकी अहमियत पर चर्चा हो रही थी। प्रणब मुखर्जी ने कहा कि वे भारत माता के इस महान सपूत को अपनी श्रद्धांजलि पेश करते हैं। उन्होंने कहा, ‘जस्टिस वी आर कृष्ण अय्यर के ज्ञान से मैं सदा लाभान्वित हुआ, भारत की संसदीय प्रणाली के काम करने के तरीके में उनकी गहरी रुचि थी।’ प्रणब मुखर्जी ने कहा कि कानून और संविधान के क्षेत्र में और लोगों को आने की जरूरत है। डॉ मुखर्जी के मुताबिक इस क्षेत्र में चार्टर्ड अकाउंटेंट और मेडिकल फील्ड के लोगों का भी स्वागत होना चाहिए।

 

लंदन की अदालत में पेश हुआ विजय माल्या, कहा-भारत में मुझे जान का खतरा

Monday, 20 November 2017 16:51

 

बैंकों का 9000 करोड़ रुपए लेकर फरार चल रहे कारोबारी विजय माल्या ने लंदन के कोर्ट में कहा है कि वो भारत नहीं जा सकते क्योंकि वहां पर उन्हें जान का खतरा है। सोमवार को विजय माल्या ने लंदन के वेस्टमिंस्टर कोर्ट में पेशी के दौरान ये बात कही। माल्या को भारत में प्रत्यर्पित करने के केस में सुनवाई के लिए ये भगोड़ा कारोबारी कोर्ट पहुंचा था। कोर्ट में विजय माल्या की इस दलील के बाद अब भारतीय पक्ष उसकी सुरक्षा को लेकर किये गए बंदोबस्त को कोर्ट के सामने रखेगा। आपको बता दें कि विजय माल्या पर अलग-अलग बैंकों के 9,000 करोड़ रुपये का कर्ज है। बैंकों का कर्ज चुकाने के बजाय माल्या देश छोड़कर फरार हो गए। माल्या 2016 से ही लंदन में हैं। जिसके बाद भारत ने ब्रिटेन सरकार से माल्या को भारत भेजने की अपील की थी। भारत की मांग पर सुनवाई करते हुए लंदन प्रशासन ने माल्या को रेड कॉर्नर नोटिस के आधार पर गिरफ्तार किया था, जिसके बाद उसे जमानत मिल गई थी।

 

सीएम शिवराज का ऐलान, मध्‍य प्रदेश में नहीं दिखाई जाएगी पद्मावती फिल्‍म

Monday, 20 November 2017 15:18

भोपाल : संजय लीला भंसाली की  फिल्‍म पद्मावती की रिलीज डेट भले ही टल गई हो लेकिन इस फिल्‍म के साथ विवाद खत्‍म होने का नाम नहीं ले रहे हैं. अब मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह ने ऐलान किया है कि मध्‍यप्रदेश में पद्मावती फिल्‍म नहीं दिखाई जाएगी. इस मामले में वकील एमएल शर्मा ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर इस फिल्म से विवादित दृश्य हटाने के आदेश देने की मांग की है. साथ ही फिल्म के निर्माता निर्देशक के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर सीबीआई जांच की मांग की है.

इससे पहले राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने केंद्र सरकार को चिट्ठी लिखी थी. वसुंधरा राजे ने सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी को चिट्ठी लिखकर आग्रह किया था कि पद्मावती फिल्म तब तक रिलीज न हो, जब तक इसमें जरूरी बदलाव नहीं कर दिए जाएं, ताकि किसी भी समुदाय की भावनाओं को ठेस न पहुंचे.

वहीं करणी सेना के विरोध प्रदर्शन के बीच हाल ही में सेंसर बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन ने भी फिल्म को लेकर आपत्ति जताई. सेंसर बोर्ड ने फिल्म 'पद्मावती' को देखने से फिलहाल इंकार कर दिया. तकनीकी कमियों का हवाला देते हुए बोर्ड ने फिल्म का एप्लिकेशन वापस भेज दिया. 

सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष प्रसून जोशी ने कहा, "रिव्यू के लिए इसी हफ्ते फिल्म का आवेदन बोर्ड को मिला. मेकर्स ने खुद माना कि एप्लिकेशन अधूरा था. फिल्म काल्पनिक है या ऐतिहासिक इसका डिसक्लेमर तक अंकित नहीं किया गया था. ऐसे में बोर्ड पर प्रक्रिया को टालने का आरोप लगाना सरासर गलत है."

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रियरंजन दासमुंशी का निधन, नौ साल से कोमा में थे

Monday, 20 November 2017 12:56

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता तथा पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रियरंजन दासमुंशी का  निधन हो गया है. वह पिछले नौ साल से कोमा में थे. अपने राजनैतिक जीवन में कई अहम पद संभाल चुके प्रियरंजन दासमुंशी का जन्म 13 नवंबर, 1945 को हुआ था, और वह पहली बार वर्ष 1971 में दक्षिणी कोलकाता लोकसभा सीट से सांसद चुने गए थे. उन्हें वर्ष 1985 में पहली बार राजीव गांधी मंत्रिमंडल में मंत्रिपद सौंपा गया था.

प्रियरंजन दासमुंशी के परिवार में उनकी पत्नी दीपा दासमुंशी तथा पुत्र प्रियदीप दासमुंशी हैं. दीपा दासमुंशी से उनका विवाह वर्ष 1994 में हुआ था, और इस समय दीपा पश्चिम बंगाल की रायगंज सीट से लोकसभा सांसद हैं. प्रियरंजन दासमुंशी अंतिम बार वर्ष 2004 में रायगंज सीट से ही लोकसभा चुनाव लड़े थे, और जीते थे.

अक्टूबर, 2008 में उन्हें दिल का दौरा पड़ा था, और उसके बाद से वह किसी को भी नहीं पहचान पा रहे थे, और बोल भी नहीं पा रहे थे. उन्हें दिल्ली के ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज़ में भर्ती कराया गया था, जहां से बाद में उन्हें अपोलो अस्पताल में ले जाया गया था.

फोन पर SC/ST को गाली देना अपराध, सुप्रीम कोर्ट ने कहा- हो सकती है पांच साल जेल

Monday, 20 November 2017 12:31

उच्चतम न्यायालय ने व्यवस्था दी है कि सार्वजनिक स्थान पर फोन पर अनुसूचित जाति (एससी) और अनुसूचित जनजाति (एसटी) श्रेणी के खिलाफ जातिसूचक टिप्पणी करना अपराध है और इसके लिए अधिकतम पांच वर्ष की जेल की सजा हो सकती है। शीर्ष न्यायालय ने एक व्यक्ति के खिलाफ दायर मामले की आपराधिक सुनवाई पर स्थगन लगाने और प्राथमिकी को रद्द करने से इनकार कर दिया। व्यक्ति पर फोन पर अजा/अजजा श्रेणी की एक महिला के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने के आरोप हैं।

न्यायमूर्ति द्वय जी चेलामेश्वर और एस अब्दुल नजीर की पीठ ने इलाहाबाद उच्च न्यायालय के 17 अगस्त के फैसले में हस्तक्षेप करने से इनकार कर दिया। उच्च न्यायालय ने उत्तर प्रदेश के रहने वाले व्यक्ति की याचिका खारिज कर दी थी जिसने अपने खिलाफ एक महिला द्वारा दर्ज करायी गई प्राथमिकी को रद्द करने की मांग की थी। पीठ ने यह कहते हुए उसकी याचिका खारिज कर दी कि उसे मामले की सुनवाई की दौरान यह साबित करना होगा कि उसने महिला से सार्वजनिक स्थल से बात नहीं की थी।

आरोपी की तरफ से अधिवक्ता विवेक विश्नोई ने कहा कि महिला और उनके मुवक्किल ने जब बात की तब दोनों अलग-अलग शहरों में थे। उन्होंने कहा कि इस कारण यह नहीं कहा जा सकता है कि आरोपी तब सार्वजनिक स्थान पर था।

 

राहुल गांधी 4 दिसंबर को ही बन जाएंगे कांग्रेस अध्यक्ष, निर्विरोध चुने जाने के आसार

Monday, 20 November 2017 12:29

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी अब  कुछ ही दिन में, संभवतः 4 दिसंबर को आधिकारिक रूप से पार्टी प्रमुख बन जाएंगे. सोमवार को पार्टी की मौजूदा अध्यक्ष सोनिया गांधी के आवास 10, जनपथ पर हुई कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए होने वाले चुनाव के कार्यक्रम की घोषणा कर दी गई.

घोषित कार्यक्रम के अनुसार, चुनाव की अधिसूचना 1 दिसंबर को जारी होगी, और नामांकन पत्र भरने की अंतिम तारीख 4 दिसंबर तय की गई है. यदि एक से ज़्यादा वैध नामांकन दाखिल किए जाते हैं, और चुनाव की नौबत आती है, तो मतदान 15 दिसंबर को होगा, तथा मतगणना 19 दिसंबर को करवाई जाएगी. लेकिन चूंकि माना जा रहा है कि राहुल गांधी के खिलाफ कोई भी नेता नामांकन पत्र दाखिल नहीं करेगा, सो, 4 दिसंबर को ही उनका निर्विरोध चुना जाना तय है.

कार्यसमिति की बैठक में अपने उद्घाटन भाषण में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर कई मुद्दों पर हमला बोला, जिनमें संसद के शीतकालीन सत्र को टाला जाना मुख्य रहा. सोनिया गांधी ने सत्र को आगे बढ़ाए जाने को अस्वस्थ संसदीय परम्परा करार दिया.


कार्यसमिति की बैठक में पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने गुजरात में विकास के अभाव की बात की, तथा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व बीजेपी प्रमुख अमित शाह की जोड़ी पर भ्रष्टाचार में लिप्त होने का आरोप लगाया. बैठक में पार्टी के अधिकतर सदस्यों गुजरात चुनाव को लेकर चर्चा की, तथा आशंका व्यक्त की कि मोदी-शाह की जोड़ी चुनाव जीतने के लिए किसी भी हद तक जा सकती है. कांग्रेस सदस्यों का कहना था वीवीपीएटी वाली ईवीएम मशीनों से छेड़खानी नहीं की जा सके, इसके लिए पर्याप्त कदम उठाए जानिे चाहिए.

कांग्रेस और पाटीदारों के बीच इन वजहों से नहीं हो पाया समझौता, पढ़ें 5 कारण

Monday, 20 November 2017 09:58
अहमदाबाद: गुजरात में कांग्रेस ने जैसे ही उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी की. वैसे ही हंगामा शुरू हो गया. घंटों पहले समर्थन को लेकर बनी सहमति तोड़फोड़ तक पहुंच गई. हार्दिक पटेल की अगुवाई वाली पाटीदार अनामत आंदोलन समिति के सदस्यों ने रविवार देर रात कांग्रेस के सूरत दफ्तर के बाहर हंगामा किया और जमकर तोड़फोड़ हुई. इसको लेकर अहमदाबाद में भी हंगामा हुआ. 
इन पांच वजहों से बिगड़ी कांग्रेस और पाटीदारों के बीच बात
  1. पाटीदार समिति का कहना है कि कांग्रेस ने आंदोलन के दो नेताओं के नाम बिना सहमति के लिस्ट में शामिल कर लिया. ये दो नेता हार्दिक के सहयोगी ललित वसोया और अमित थुम्मर हैं. 
  2. कांग्रेस ने 77 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी की है और पाटीदार समाज के 23 लोगों को टिकट दिया.
  3. पाटीदारों ने कांग्रेस पर लगाया धोखा देने का आरोप लगाया है. दोनों के बीच आज समझौते का ऐलान होना था लेकिन उससे पहले कांग्रेस ने उम्‍मीदवारों का ऐलान कर दिया.  
  4. पाटीदार अनामत आंदोलन समिति नेता दिनेश बम्भानिया ने कहा कि हम कांग्रेस और कांग्रेस के लोगों का विरोध करेंगे. कांग्रेस अभी हमें जवाब नहीं दे रही है, आगे हमारी बात क्या सुनेगी.
  5. दिनेश बम्‍भानिया ने कहा कि पटेल नेताओं से नामांकन नहीं भरने की अपील करेंगे, भरेंगे तो विरोध करेंगे.

प्रियंका चोपड़ा को आधे घंटे के लिए 12 करोड़, दीपिका को पूरी फिल्म के लिए 8 करोड़!

Monday, 20 November 2017 09:56

इस समय बॉलीवुड की देसी गर्ल यानी प्रियंका चोपड़ा अपने अमेरिकी टीवी शो क्वांटिको के सीजन 3 की शूटिंग में बिजी हैं। वहीं उनके भारतीय फैन उन्हें जल्द ही किसी बॉलीवुड फिल्म में देखने के लिए बेताब हैं। हालांकि अच्छी बात यह है कि वो नियमित तौर पर अपनी जिंदगी और काम से जुड़े हुए अपडेट्स लोगों को देती रहती हैं। जिससे उनके फैंस खुश रहते हैं। उनके इतने बड़े फैन बेस और उनकी हाई डिमांड को देखते हुए एक अवॉर्ड शो उन्हें 30 मिनट की परफॉर्मेंस के लिए 12 करोड़ रुपए देने को राजी हो गया था।

कुछ महीनों पहले एक अवॉर्ड शो में उन्हें परफॉर्म करने के लिए कहा गया था लेकिन उन्होंने मना कर दिया क्योंकि वो खुद को मिल रहे पैसे से खुश नहीं थीं। वो अब इंटरनेशनल स्टार हैं इसी वजह से उन्हें उसी मुताबिक पैसा मिलना चाहिए। उन्हें उम्मीद थी कि बॉलीवुड के टॉप हिरो के अनुसार ही उन्हें राशि ऑफर की जाएगी। वहीं अगर दीपिका पादुकोण की बात करें जो ट्रिपल एक्स के जरिए हॉलीवुड डेब्यू कर चुकी हैं लेकिन उन्हें पूरी फिल्म के लिए केवल 8 करोड़ रुपए मिलते हैं।

दीपिका ही नहीं बल्कि बॉलीवुड के टॉप एक्ट्रेसेज को पूरी फिल्म के लिए भी 12 करोड़ रुपए नहीं मिलते जितने की प्रियंका को केवल आधे घंटे की परफॉर्मेंस के लिए ऑफर किए गए थे। इसके बाद भी उन्होंने इसे ठुकरा दिया था क्योंकि उन्हें सलमान और शाहरुख के बराबर की राशि चाहिए थी।

हाल ही में प्रियंका की टीम ने उनका एक वीडिया शेयर किया था। जिसमें एक्ट्रेस अपने को-स्टार रोशेल टॉवे के साथ गाड़ी में मस्ती करती हुई नजर आ रही हैं। हालांकि वीडियो में उस वक्त ट्विस्ट आता है जब गाड़ी के दरवाजे से लटक रहीं प्रियंका अचानक से नीचे गिर जाती हैं और उसी बीच उनके हंसने की आवाज आती है और देखने वाले कंफ्यूज हो जाते हैं।

क्रिकेटर्स के बाद अब कमेंटेटर ने उठाए टीम में धोनी की जगह पर सवाल, कहा- अब वो गेम चेंजर नहीं

Monday, 20 November 2017 09:51

पूर्व भारतीय कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी की टीम में जगह पर पूर्व क्रिकेटरों के बाद अब क्रिकेटर से कमेंटेटर बने संजय मांजरेकर ने सवाल उठाए हैं। सीमित ओवरों के खेल में धोनी की उपयोगिता पर बोलते हुए मांजरेकर ने ईएसपीएन क्रिकइंफो से कहा, ”वह (धोनी) पहले की तरह गेम चेंजर नहीं रह गए हैं। पहले वह मन-मुताबिक चौके-छक्‍के लगा पाते थे, अब वह सिर्फ एक लगा पाते हैं। उन्‍हें मैच जीतने के लिए दूसरों पर ज्‍यादा निर्भर रहना पड़ता है।” मांजरेकर ने अजित अगारकर और वीवीएस लक्ष्‍मण का भी बचाव किया, जिन्‍होंने धोनी के प्रदर्शन पर सवाल उठाए थे। मांजरेकर ने कहा, ”अगर टीम से बाहर कोई वर्तमान में धोनी से बेहतर प्रदर्शन कर रहा है, तो इस पर चर्चा होनी चाहिए, बजाय नाराज हुए या अतार्किक बयान दिए। यह खेल के लिए अच्‍छा है और इस पर मुंह बनाना ठीक नहीं।”

 

भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज संजय ने रविवार को कहा कि निर्णय समीक्षा प्रणाली (डीआरएस) के इस्तेमाल में संशय होने पर बल्लेबाजों को ड्रेसिंग रूम से मदद लेने की अनुमति मिलनी चाहिए। ईडन गार्डन्स स्टेडियम में जारी पहले टेस्ट मैच के चौथे दिन श्रीलंका के बल्लेबाज दिलरुवान परेरा की ओर से डीआरस के फैसले की मांग पर विवाद खड़ा हो गया। ऐसा माना जा रहा है कि उन्होंने ड्रेसिंग रूम की तरफ देखने के बाद इसकी मांग की थी। हालांकि श्रीलंका क्रिकेट ने इससे इनकार किया है।

वर्तमान में कमेंटेटर की भूमिका निभा रहे संजय ने एक क्रिकेट खिलाड़ी के रूप में अपने करियर के दौरान 37 टेस्ट व 74 वनडे मैच खेले थे। उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में 2,043 और वनडे में 1,994 रन बनाए हैं।संजय ने कहा कि जब आप टीवी में देखते हैं, तो आप सही तरीके से देखते हैं और यह दोनों टीमों के लिए अच्छा होता है। कोशिश तो यही होती है कि निर्णय सही हो, इसलिए इस पर विचार किया जाना चाहिए।

 

अंतरिक्ष में बृहस्पति ग्रह पर आया तूफान, देखें नासा की भेजी हुई फोटो

Monday, 20 November 2017 09:09

वाशिंगटन: सौरमंडल के बृहस्पति ग्रह का अध्ययन करने के लिए नासा द्वारा छोड़े गए जूनो अंतरिक्ष यान ने ग्रह के उत्तरी गोलार्ध में बड़े, उग्र तूफान की आकर्षक तस्वीर भेजी है. जूनो ने बृहस्पति के बेहद करीब अपनी नौवीं उड़ान में यह तस्वीर कैमरे में कैद की. यह तस्वीर 24 अक्तूबर को ली गई थी जब अंतरिक्ष यान बृहस्पति ग्रह के बादलों के ऊपर से करीब 10,108 किलोमीटर दूर था. 

चमकीली तस्वीरों में दिखाई दे रहा है कि घड़ी की दिशा के विपरीत एक तूफान घूम रहा है. तूफान के कुछ चमकदार हिस्सों के भीतर छोटे-छोटे बादल देखे जा सकते हैं जिसमें से कुछ छाया दे रहे हैं. चमकीले बादल और उनकी छाया चौड़ाई और लंबाई में करीब सात से 12 किलोमीटर तक फैली है. 

Bigg Boss 11 : प्रियांक शर्मा के साथ हुई थीं बोल्ड, लेकिन फिर भी घर से बाहर

Monday, 20 November 2017 09:06

 बिग बॉस के घर में रविवार को एविक्शन होना है और इस बार घर की ऐसी सदस्य बाहर हुई हैं जो अभी तक अपने दिमाग से चल ही नहीं पाई हैं. वे घर के दूसरे सदस्यों के दिमाग से ही खेलती आई हैं. कई बार तो वे अपना आपा तक खो बैठीं और बेकार की बात को इश्यू बनाती नजर आईं. रविवार को बेनाफ्शा, हिना खान और सपना चौधरी नॉमिनेट थीं  लेकिन सबसे कम वोट मिलने की वजह से बेनाफ्शा को घर से बाहर होना पड़ा. वैसे भी आने वाला उनका समय अच्छा नहीं था क्योंकि वे एक टास्क के दौरान अपने दोस्त प्रियांक को बचाने के लिए अगले दो हफ्तों के लिए भी नॉमिनेट हैं. इस तरह अगर इस हफ्ते वे बच जातीं तो अगले दो हफ्ते भी उन्हें इस खतरे को झेलना था.

लेकिन इस बार वे टीवी एक्टर हिना खान और हरियाणवी डांसर-सिंगर सपना चौधरी के साथ मुकाबले में फंस गईं. जिस वजह से सबसे कमजोर कंटेस्टेंट साबित हुईं. हालांकि उन्होंने प्रियांक के साथ एक कैमिस्ट्री बनाने की कोशिश भी की लेकिन वह भी नहीं चल सकी. आखिरकार उन्हें घर से बाहर होना पड़ा. इस तरह वे पूरे शो के दौरान कहीं भी इम्प्रेस नहीं कर सकीं. सिर्फ प्रियांक के साथ उनके बिस्तर में सोने की वजह से ही सुर्खियां बटोर सकी थीं.

दीपिका और भंसाली का सिर कलम करने वाले को 10 करोड़ का इनाम : बीजेपी नेता

Monday, 20 November 2017 09:05

बॉलीवुड की फिल्म 'पद्मावती' को लेकर जारी विवाद का सिलसिला आज तब और आगे बढ़ गया जब हरियाणा बीजेपी के एक पदाधिकारी ने विवादित बयान दिया. राज्य बीजेपी के चीफ मीडिया कोआर्डिनेटर सूरजपाल अम्मू ने कहा कि फिल्म की हीरोइन दीपिका पादुकोने और निर्माता संजय लीला भंसाली का सिर कलम करने वाले को 10 करोड़ रुपये का इनाम दिया जाएगा. उन्होंने फिल्म में अलाउद्दीन खिलजी का रोल करने वाले रणवीर सिंह के पैर तोड़ने की धमकी भी दी.  हाल ही में मेरठ के एक व्यक्ति द्वारा दीपिका और भंसाली का सिर काटने वाले को पांच करोड़ रुपये का इनाम देने का ऐलान किया गया. इस पर सूरजपाल ने कहा कि  "हम कानून को अपने हाथों में नहीं लेना चाहते हैं, लेकिन अगर किसी ने हमारी बहनों और बेटियों पर नजर उठाई, तो उसे दंडित किया जाएगा.'' 

सूरजपाल अम्मू ने कहा है कि भंसाली और दीपिका का सिर लाने वाले को समाज के लोग 10 करोड़ रुपये इकट्ठा करके देंगे. उन्होंने यह भी ऐलान किया कि जो भंसाली का सिर काटकर लाएगा उसके परिवार का पालन-पोषण भी वे करेंगे. हाल ही में रणवीर सिंह ने एक साक्षात्कार में कहा था कि वे हमेशा संजय लीला भंसाली के साथ खड़े हैं. इस पर अम्मू ने रणवीर सिंह को धमकी दी कि अगर अपने शब्द वापस नहीं लिए तो टांगें तोड़कर हाथ में दे देंगे. फिल्म के लिए फंडिंग के सवाल पर बीजेपी नेता ने कहा, "संजय लीला भंसाली तीन करोड़ के लायक नहीं हैं लेकिन उन्हें 300 करोड़ रुपये मिल गए.'' उन्होंने कहा कि ''मोदी जी आप बोलिए.''

व्यापक विरोध प्रदर्शन और धमकियों के बाद फिल्म की रिलीज आज रुक गई. लेकिन प्रदर्शनकारी फिल्म पर पूर्ण प्रतिबंध की मांग कर रहे हैं. अम्मू नेकहा कि "वसुंधरा जी कहती हैं कि फिल्म में काट-छांट करनी होगी. भूल जाओ, हम इस फिल्म को चलने नहीं देंगे."

इस फिल्म की शूटिंग शुरू होने के बाद से ही इस पर विवाद चल रहा है. आरोप लगाया जा रहा है कि फिल्म में पद्मिनी और अलाउद्दीन खिलजी के बीच एक रोमांटिक एंगल जबरन गढ़ा गया है. राजनीतिक रूप से प्रभावशाली राजपूत समुदाय इस फिल्म का विरोध कर रहा है. शूटिंग के दौरान दो शहरों में फिल्म के सेट तबाह कर दिए गए. थिएटरों की टिकट खिड़कियां तोड़ी गईं. चित्तौड़ का किला आगंतुकों के लिए बंद कर दिया गया.

राजपूत समुदाय की करणी सेना के एक नेता ने यह भी कहा है कि वे दीपिका पादुकोन को नाक काटकर उसी तरह दंडित करेंगे जैसे रावण की बहन सूर्पणखा को लक्ष्मण ने दंडित किया था.

राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष पद मिलना तय, आज से शुरू होगी प्रक्रिया

Monday, 20 November 2017 09:01

लंबे समय से राहुल गांधी को  कांग्रेस अध्यक्ष बनाए जाने की अटकलें तेज़ है. समय-समय पर कांग्रेस के भीतर से भी ये मांग उठती रही है कि राहुल गांधी अब पार्टी की कमान संभालें. ऐसे में गुजरात चुनाव की कमान संभाले राहुल को अब जल्द ही अध्यक्ष पद मिलनेवाला है. 

नए अध्यक्ष के चुनाव के लिए दिल्ली में सोमवार सुबह 10 बजे से कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक है. सोनिया गांधी की अध्यक्षता में हो रही इस बैठक में राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी. माना जा रहा है कि एक दिसंबर तक कांग्रेस को नया अध्यक्ष मिल जाएगा.

बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव का फैसला पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी के अगला अध्यक्ष बनने का रास्ता साफ करेगा. सूत्रों ने कहा कि अध्यक्ष पद के लिए राहुल के अकेले उम्मीदवार रहने की संभावना है. 

पार्टी नेताओं का कहना है कि वैसे अध्यक्ष पद के चुनाव के कार्यक्रम की मंजूरी के लिए सीडब्लयूसी की औपचारिक बैठक बुलाने की जरूरत नहीं है लेकिन सोनिया गांधी ने पार्टी की निर्णय करने वाली सर्वोच्च संस्था की मंजूरी लेने का फैसला किया है.

गुजरात में नाटकीय घटनाक्रम, कांग्रेस और पाटीदारों के बीच पहले समझौता फिर देर रात में विवाद

Monday, 20 November 2017 08:59

 गुजरात में कांग्रेस और पाटीदार समुदाय में समर्थन को लेकर बनी सहमति के   कुछ घंटे बाद ही नाटकीय घटनाक्रम सामने आया. देर रात में हार्दिक पटेल की अगुवाई वाली पाटीदार अनामत आंदोलन समिति (पास) के सदस्यों ने कांग्रेस के सूरत के दफ्तर पर हमला किया. उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने आंदोलन के दो नेताओं के नाम सहमति के बिना सूची में शामिल कर लिए.

कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव के लिए 77 उम्मीदवारों की सूची की घोषणा की है. इसमें पाटीदार समुदाय के 19 सदस्य हैं, जो कि सरकारी नौकरियों और कॉलेजों में समुदाय को आरक्षण देने के लिए प्रचार कर रहे हैं. इनमें हार्दिक पटेल के दो सहयोगी भी शामिल हैं.

कांग्रेस की गुजरात इकाई और  पाटीदार अनामत आंदोलन समिति ने पहले कहा था कि वे राज्य में कांग्रेस के सत्ता में आने पर पटेलों को आरक्षण देने के मुद्दे पर एक समझौते पर पहुंच गए हैं. आरक्षण फॉर्मूले की बारीकियों और गुजरात विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को समर्थन देने को लेकर ‘पास’ के रुख के बाबत आधिकारिक घोषणा सोमवार को हार्दिक पटेल राजकोट में एक जनसभा में करेंगे. इसके बाद देर रात में बवाल शुरू हो गया. ‘पास’ के सदस्यों ने सूरत में कांग्रेस कार्यालयों पर हमला किया. उन्होंने आरोप लगाया कि आंदोलन के दो नेताओं को उनकी सहमति के बिना सूची में शामिल किया गया. उन्होंने कहा कि जब समझौता हुआ तब कोई मौजूद नहीं था. इधर, अहमदाबाद में कांग्रेस मुख्यालय में भी इसी तरह की स्थिति बनी जिसे रोकने के लिए बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी बुलाए गए.

पाटीदार अनामत आंदोलन समिति की कोर कमेटी के सदस्य दिनेश बम्भानिया ने कहा, "कांग्रेस ने हमारी अनुमति के बिना नामों की घोषणा की. हम कांग्रेस के खिलाफ राज्यव्यापी आंदोलन शुरू करेंगे."

कांग्रेस ने हार्दिक पटेल के दो सहयोगी ललित वसोया और नीलेश पटेल को सूची में शामिल करते हुए घोषणा की थी कि दोनों पक्ष आरक्षण फॉर्मूले पर सहमत हैं. कांग्रेस का समर्थन कर रही ‘पास’ की ओर से औपचारिक घोषणा हार्दिक पटेल द्वारा सोमवार को राजकोट में की जाएगी. 24 वर्षीय पाटीदार नेता हार्दिक पटेल इस बैठक में शामिल नहीं हुए.

इससे पहले कांग्रेस और ‘पास’के बीच आरक्षण के मुद्दे पर हुई अहम बैठक के बाद ‘पास’ के संयोजक दिनेश बम्भानिया ने बताया था कि ‘‘पहले हमने कांग्रेस से स्पष्ट करने को कहा था कि वह पाटीदारों को संवैधानिक तौर पर मान्य आरक्षण कैसे देगी. रविवार को हमने इस मुद्दे पर एक अहम बैठक की और आखिरकार पार्टी की ओर से हमें पेशकश किए गए विभिन्न विकल्पों पर आम राय पर पहुंच गए. इस समझौते की आधिकारिक घोषणा राजकोट में हार्दिक द्वारा सोमवार को की जाएगी.’’

बैठक के बाद उन्होंने पत्रकारों से कहा था कि ‘‘मैं कह सकता हूं कि आरक्षण देने के कांग्रेस के फॉर्मूले पर हम पार्टी के साथ हैं. हमने ‘पास’ को टिकट देने के बारे में कोई चर्चा नहीं की है. हार्दिक ऐलान करेंगे कि ‘पास’ चुनावों में कांग्रेस का समर्थन करेगी या नहीं.’’

गुजरात चुनाव: हार्दिक पटेल ने कांग्रेस का समर्थन तो कर दिया, मगर सीटों के बंटवारे पर हो सकती है लड़ाई

Sunday, 19 November 2017 16:38

आगामी गुजरात विधानसभा चुनावों में पाटीदार अनमत आंदोलन समिति और कांग्रेस के बीच टिकट बंटवारे को लेकर संकट गहरा रहा है। एक तरफ तो हार्दिक ने चुनावों में कांग्रेस को अपना पूरा समर्थन देने की बात कही है, वहीं उनके साथी कांग्रेस से अपने उम्मीदवारों के लिए 9 टिकट की मांग कर रहे हैं लेकिन दूसरी तरफ कांग्रेस उन्हें केवल चार टिकट देने पर अड़ी है। टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार शुक्रवार को पाटीदार अनमत आंदोलन समिति के लोगों ने कांग्रेस नेताओं से टिकट बंटवारे और कोटा मुद्दे को लेकर बातचीत की। जब कोई फैसला नहीं लिया गया तो समिति के लोगों ने पार्टी को कोटो फॉर्मूले पर अंतिम फैसला लेने के लिए 24 घंटे का समय दिया या फिर राज्यभर में विरोध देखने के लिए तैयार रहने को कहा।

समिति ने कहा हमने कांग्रेस के सामने 9 टिकट देने की मांग रखी है। खासकर अहमदाबाद, उत्तरी गुजरात और सौराष्ट्र के पाटीदार बहुलता इलाकों के लिए टिकट देने के लिए कहा है, लेकिन कांग्रेस चार टिकट से ज्यादा देने को तैयार नहीं है। समिति के एक नेता ने कहा कि पहले पार्टी ने हमें सुनिश्चित किया था लेकिन जबसे सीडी विवाद हुआ है उसके बाद पार्टी केवल चार टिकट देने पर अड़ गई है।

वहीं इस पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष भारतसिंह सोलंकी ने कहा कि एक महत्वपूर्ण बैठक के कारण वे दिल्ली में पाटीदार अनमत आंदोलन समिति के नेताओं से नहीं मिल पाए। सोलंकी ने कहा कि कांग्रेस की टिकट को लेकर समिति सदस्यों से कोई बातचीत नहीं हुई है। आपको बता दें कि राज्य में अगले महीने दिसंबर में 9 और 14 तारीख को मतदान होने हैं और 18 को नतीजे घोषित किए जाएंगे। गुजरात में पिछले 22 सालों से बीजेपी सत्ता पर काबिज है। बीजेपी चाहती है कि इस बार भी बीजेपी ही फिर से सरकार बनाए लेकिन वहीं कांग्रेस चुनावों में किसी प्रकार की कसर नहीं छोड़ रही है। इन चुनावों में बीजेपी और कांग्रेस के बीच सीधी टक्कर है।

 

फिल्मों में बोल्ड सीन्स करने से पहले यह शर्त रखती हैं सनी लियोनी

Sunday, 19 November 2017 16:34

बॉलीवुड की लैला, सनी लियोनी को कौन नहीं जानता। अपने हॉट अंदाज और काम की वजह से फिल्म इंड्रस्टी की नई सनसेशन बन चुकी सनी लियोनी काफी पॉपुलर हैं। सनी बादशाह शाहरुख खान से लेकर सलमान खान तक के साथ काम कर चुकी हैं। आमतौर पर सभी जानते हैं कि सनी लियोनी पोर्न इंड्रस्टी की स्टार रह चुकी हैं और अब बॉलीवुड में काम कर रही हैं। शायद इसी वजह से कई बार उनपर कमेंट किए जाते हैं कि वह बॉलीवुड फिल्मों को पोर्न की ओर लेकर जा रही हैं। चलिए आज हम आपको फिल्मों में बोल्ड सीन्स से पहले सनी की उस शर्त के बारे में बताते हैं जिसके बारे में शायद ही आप जानते होंगे।

फिल्मों में बोल्ड सीन्स करने के लिए सनी लियोनी पर कई बार सवाल खड़े होते हैं लेकिन सनी की शर्त के बारे कम ही लोग जानते हैं। किसी भी बोल्ड सीन करने से पहले सनी की एक शर्त मानी जाती है और उसके बाद बोल्ड सीन फिल्माया जाता है। शर्त यह है वह किसी भी एक्टर के साथ बोल्ड सीन्स नहीं करेंगी।

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो सनी लियोनी की शर्त है कि कोई भी इंटीमेट सीन एक्टर के साथ नहीं बल्कि अपने पति डैनियल वेबर के साथ ही करेंगी। इसलिए सनी लियोनी के पति डैनियल बोल्ड सीन के दौरान एक्टर के बॉडी डबल बनते हैं।

सनी लियोन की बात करते ही रोमांस और हॉटनेस का कॉम्बिनेशन सामने आ जाता है और बोल्डनेस की बौछारें हो जाती हैं। इन दिनों बॉलीवुड में सनी का जादू तेजी से चल रहा है। सिर्फ एक्टिंग की नहीं ग्लैमर की दुनिया में भी सनी का दबदबा है। सनी के फैन फॉलोअर्स देश-विदेश में फैले हुए हैं।

 

रहें सावधान! फोन पर कुछ सेकेंड्स की बातचीत लगा सकती है आपको लाखों की चपत, ऐसे बचें

Sunday, 19 November 2017 16:31

इन दिनों ऑनलाइन ठगी पुलिस के साथ-साथ आम लोगों के लिए भी एक बड़ी मुसीबत साबित हो रही है. खास बात यह है कि आरोपी ऑनलाइन ठगी के लिए फोन कॉल्स का खास तौर पर इस्तेमाल करते हैं. इन फोन कॉल्स की मदद से आरोपी आपको महज कुछ सेकेंड्स से लेकर मिनट भर के एक फोन कॉल से लाखों की चपत लगा सकते हैं. आरोपी एक पैर्टन में काम करता है. पहले फोन करने वाला शख्स आपको भरोसे में लेता है. फोन पर बात करते हुए आपके सहज होते ही आरोपी युवक आपको लुभावने ऑफर का लालच देता है. लालच में फंसते ही आपके कार्ड व खाते से जुड़ी जानकारी ले ली जाती है. खाते व कार्ड से जुड़ी जानकारी मिलते ही आपके खाते को हैक कर उससे आपकी जमा कमाई अपने खाते में ट्रांसफर कर लिया जाता है. ऐसे में आपके खाते जमा आपकी मेहनती की कमाई पर कोई हाथ न साफ कर ले, इसके लिए जरूरी है कि आप फोन पर बात करते हुए इन बिंदुओं का ख्याल रखें. 

बैंक के नाम पर आते हैं कॉल्स 
साइबर कानून विशेषज्ञ पवन दुग्गल ने बताया कि बीते दो से ढाई वर्षों में ऑनलाइन फ्राड की संख्या में खासी बढ़ोतरी हुई है. एेसे अपराध में सक्रिय गिरोह खास तौर पर बैंक के नाम का इस्तेमाल कर लोगों से ठगी करते हैं. ऐसे में हमें सतर्क रहने की जरूरत है. अगर आपके पास भी ऐसा ही कोई कॉल आता है तो फोन पर कुछ भी जानकारी देने से साफ तौर पर मना कर दीजिए. फोन करने वाले को बताएं कि आप किसी भी तरह के ऑफर के लिए खुद बैंक जाकर पता करेंगे. दरअसल, कोई भी बैंक आपको फोन कर कोई भी ऑफर नहीं देता. लिहाजा फोन पर कोई भी जानकारी साझा करने से बचें.

कस्टमर केयर से तुरंत करें संपर्क 
खाते व कार्ड से जुड़ी जानकारी किसी से साझा करने के बाद भी आपके पास अपने पैसे को बचाने का एक आखिरी मौका होता है. आपको चाहिए कि किसी से जानकारी साझा करने के तुरंत बाद आप अपने बैंक के कस्टमर केयर को सूचित करें. उनसे अनुरोध करें कि वह आपके खाते को तुरंत ब्लॉक कर दे. कई बार जानकारी मिलने के पांच से दस मिनट तक आपका पैसा किसी के खाते में ट्रांसफर नहीं हो पाता है. ऐसे में अगर आपने समय रहते कस्टमर केयर से बात की और अपने खाते को ब्लॉक कराया तो आप अपने पैसे को बचा सकते हैं. 

पुलिस को भी दें सूचना
खाते से पैसे निकाले जाने की सूचना आपको जल्द से जल्द से पुलिस को दी जानी चाहिए. ऐसा करने से पुलिस के पास आरोपियों के पास पहुंचने और उन्हें दबोचने का मौका होता है. कई बार बैंक खाते से पैसा निकलने के बाद लोग पुलिस को इसकी जानकारी नहीं देते हैं. इस वजह से पुलिस चाह के भी आरोपी तक नहीं पहुंच पाती.

पुलिस को घटना की सूचना जल्द देने के साथ-साथ उन तमाम फोन नंबर की भी जानकारी दी जानी चाहिए जिनसे आपके पास फोन आया था. 

POPULAR ON IBN7.IN