कर्नाटक: कुमारस्वामी आज लेंगे सीएम पद की शपथ, शपथग्रहण में लगेगा मोदी विरोधियों का जमावड़ा

Wednesday, 23 May 2018 07:28

बेंगलूरु: जेडीएस नेता कुमारस्वामी आज शाम 4.30 बजे कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेंगे. राज्यपाल वजुभाई वाला कुमारस्वामी को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाएंगे. कुमारस्वामी के अलावा कांग्रेस नेता जी परमेश्वर भी सरकार में डिप्टी सीएम पद की शपथ लेंगे. जबकि अन्य मंत्रियों का शपथग्रहण बहुमत साबित करने के बाद होगा.
एक लाख लोगों को बैठाने का इंतजाम
कुमारस्वामी के शपथ ग्रहण समारोह में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और सोनिया गांधी समेत कई गैर बीजेपी शासित राज्यों के मुख्यमंत्री और क्षेत्रीय दलों के प्रमुख भी शपथ ग्रहण समारोह में शामिल रहेंगे. शपथग्रहण समारोह में एक लाख लोगों को बैठने का इंतजाम किया गया है.
क्या होगा कांग्रेस जेडीएस सरकार का स्वरुप?
कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन की सरकार में जेडीएस से कुमारस्वामी को मुख्यमंत्री पद सौंपा गया है. कांग्रेस ने डिप्टी सीएम का पद दलित समुदाय से आने वाले और कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष जी परमेश्वर को दिया है. कांग्रेस की ओर से के आर रमेश को कर्नाटक विधानसभा का स्पीकर बनाने का फैसला लिया गया है. जबकि डिप्टी स्पीकर जेडीएस से होगा.
34 मंत्रियों में से 22 मंत्री कांग्रेस के होंगे, जबकि 12 मंत्रियों समेत मुख्यमंत्री जेडीएस की ओर से होंगे. वहीं विभागों का बंटवारा बहुमत साबित करने के बाद किया जाएगा.
उनके शपथ समारोह में मोदी विरोधी पूरा मोर्चा मौजूद रहेगा. जिन मेहमानों ने शपथ में मौजूद रहने का निमंत्रण स्वीकार किया है उनमें कई बड़े नेता शामिल हैं.
कौन-कौन होगा शामिल?

    • यूपीए की चेयरपर्सन सोनिया गांधी
    • कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी
    • बीएसपी की अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती 
  • समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव

इन राज्यों के मुख्यमंत्री भी होंगे शामिल

    1. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल
    1. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी 
    1. आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू
    1. केरल के मुख्यमंत्री पी विजयन
  1. तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेकर राव

इन नेताओं को भी दिया गया न्योता

    • लालू यादव के बेटे और बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव
    • आरएलडी के संस्थापक अजीत सिंह
    • अभिनेता से नेता बने दक्षिण फिल्मों को सुपरस्टार कमल हसन
  • तमिलनाडु में डीएमके के नेता एम के स्टालिन

17 मई को येदुरप्पा ने ली थी सीएम पद की शपथ

राज्य में बीएस येदुरप्पा ने 17 मई को मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी, लेकिन बीजेपी के पास पर्याप्त संख्या बल नहीं होने के  कारण येदियुरप्पा ने विधानसभा में शक्ति परीक्षण से पहले ही शनिवार को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था. इसके बाद कुमारस्वामी ने राज्यपाल वजुभाई वाला से मुलाकात की और कहा कि उन्हें सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया.

कर्नाटक में 12 मई को विधानसभा का चुनाव हुआ था जिसका परिणाम त्रिशंकु रहा था. चुनाव में बीजेपी 104 सीट जीतकर सबसे बड़े दल के रूप में सामने आई थी. वहीं कांग्रेस को 78, जेडीएस को 38 और अन्य को दो सीटें मिली थीं.

कांग्रेस के जी परमेश्वर कर्नाटक के डिप्टी सीएम होंगे

Tuesday, 22 May 2018 21:57

 लंबी खींचतान के बाद अब तय हो गया है कि  प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जी परमेश्वर कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री होंगे. वह बुधवार को एचडी कुमारस्वामी के साथ उपमुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. कुमारस्वामी कर्नाटक के अगले मुख्यमंत्री होंगे. हालांकि कुछ समय पहले तक डीके शिवकुमार के नाम की चर्चा डिप्टी सीएम के लिए हो रही थी. चर्चा थी कि राज्य में दो उपमुख्यमंत्री होंगे, जिनमें एक लिंगायत समुदाय का होगा. हालांकि दूसरे उपमुख्यमंत्री को लेकर अब तक कोई खुलासा नहीं हुआ है.


कर्नाटक में कांग्रेस के महासचिव केसी वेणुगोपाल ने कहा कि कुल 34 मंत्रियों में से 22 मंत्री कांग्रेस पार्टी से होंगे. वहीं, मुख्यमंत्री समेत 12 मंत्री जेडीएस के होंगे. वेणुगोपाल ने मंगलवार को पत्रकारों से कहा, 'कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गठबंधन सरकार में उप मुख्यमंत्री के तौर पर परमेश्वर के नाम पर मुहर लगा दी है.' इसके अलावा वेणुगोपाल ने कहा, 'विधानसभा का स्पीकर कांग्रेस से होगा और डिप्टी स्पीकर जेडीएस से होगा."

स्पीकर और डिप्टी स्पीकर के नामों की घोषणा गुरुवार को की जाएगी और कैबिनेट मंत्रियों के नामों व विभागों की घोषणा सदन में बहुमत परीक्षण के बाद की जाएगी. वेणुगोपाल ने कहा, 'दोनों पार्टियों के सदस्यों की संयुक्त समन्वय समिति का अगले कुछ ही दिनों में गठन किया जाएगा.'

कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष परमेश्वर सन 2015 से 2017 तक कर्नाटक के गृह मंत्री रहे हैं. उनको राजनीति में आने के लिए पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने प्रेरित किया था. 

गौरतलब है कि एचडी कुमारस्वामी ने सोमवार को दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की थी. इस दौरान इस सभी विषयों पर चर्चा भी हुई थी. कुमारस्वामी ने राहुल और सोनिया गांधी को शपथ ग्रहण समारोह में आने का न्योता भी दिया था. कांग्रेस अध्यक्ष ने न्योते को स्वीकार कर लिया और कहा  कि वह शपथ ग्रहण समारोह के दौरान मौजूद रहेंगे.

बता दें कि शपथ ग्रहण में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के अलावा गुलाम नबी आजाद, मायावती, ममता बनर्जी, अखिलेश यादव, चंद्रबाबू नायडू, अरविंद केजरीवाल, पिनाराई विजयन समेत कई लोग शामिल होंगे. वहीं सीपीआई (एम) के प्रमुख सीताराम येचुरी ने भी शपथ समारोह में हिस्सा लेने की पुष्टि की है. 

पाकिस्‍तान के मंत्री ने कहा- हमारी आर्थिक नीतियों की नकल कर आगे निकल गया भारत

Tuesday, 22 May 2018 21:50

दूसरे देशों में आतंकवादी भेजने वाले पाकिस्तान को भी अब आर्थिक विकास की चिंता सताने लगी है। पड़ोसी देश के आतंरिक और योजना मामलों के मंत्री अहसान इकबाल के बयान से कुछ ऐसा ही लगता है। इकबाल ने कहा कि 90 के दशक में भारत के तत्कालीन वित्त मंत्री मनमोहन सिंह ने अपने पाकिस्तानी समकक्ष सरताज अजीज की आर्थिक नीतियों की नकल कर उसे अपने देश में सफलतापूर्वक लागू किया और हमसे आगे निकल गए। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान की आर्थिक रणनीति को बांग्लादेश ने भी अपनाया और उसे जमीन पर उतारा। बकौल इकबाल, पाकिस्तान ने राजनीतिक अस्थिरता के कारण 90 का पूरा दशक गंवा दिया। पाकिस्तानी मंत्री साइबर सिक्योरिटी विषय पर आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। साथ ही उन्होंने कहा कि सिर्फ टैंक और मिसाइल के बूते देश को नहीं बचाया जा सकता है। बता दें कि रक्षा क्षेत्र में भारत से मुकाबला करने के लिए पाकिस्तान अपने ज्यादातर संसाधन का अस्त्र-शस्त्र के आयात या उसके विकास में ही खर्च कर देता है। पाकिस्तान की आर्थिक स्थिति जहां खस्ताहाल है, वहीं भारत विश्व की प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं में शामिल हो चुका है। भारत आर्थिक प्रगति के बूते करोड़ों लोगों को गरीबी रेखा से ऊपर उठाने में सफल रहा।

अहसान इकबाल ने पाकिस्तान के आर्थिक विकास को लेकर उम्मीद भी जताई। उन्होंने कहा, ‘पाकिस्तानी अर्थव्यवस्था के लिए पहला मौका 60 के दशक में आया था। दूसरा अवसर 90 के दशक में सामने आया था और तीसरा मौका पाकिस्तान का दरवाजा खटखटा रहा है। इसे अस्थायित्व के कारण किसी भी हाल में नहीं खोना चाहिए जैसा कि अतीत में हुआ, क्योंकि हद की भी हद होती है। शांति, स्थायित्व और निरंतरता आर्थिक प्रगति के लिए बेहद जरूरी हैं।’ पाकिस्तान को विकास के मामले में दुनिया के कई अन्य देशों के मुकाबले पिछड़ने का भी मलाल है।

 

इकबाल ने कहा, ‘हमें यह सोचना पड़ेगा कि हमसे पीछे रहे देश हमसे बहुत आगे कैसे निकल गए? चीन की प्रति व्यक्ति आय पाकिस्तान की तुलना में कम थी, लेकिन आज कहीं ज्यादा है। इसी तरह, बांग्लादेश का विदेशी मुद्रा भंडार 33 अरब डॉलर तक पहुंच गया है, जबकि पाकिस्तान का महज 18 अरब डॉलर ही है। हमलोग कब तक दूसरे देशों को खुद से आगे निकलते देखते रहेंगे?’ पाकिस्तानी मंत्री ने इस मौके पर सेना की शहादत की भी तारीफ की। उन्होंने कहा कि एक समय आतंकवादियों ने चारों तरफ से जकड़ लिया था, लेकिन सेना के बलिदान के कारण देश ने उनसे छुटकारा पा लिया है। ऐसे में यदि हमलोगों ने आर्थिक विकास के इस मौके को गंवाया तो आने वाली पीढ़ी हमें माफ नहीं करेगी।

15 साल के लड़के ने सुष्मिता सेन के साथ की छेड़खानी! एक्ट्रेस ने सुनाया वाकया

Tuesday, 22 May 2018 21:48

आम-जिंदगी में तो लड़कियों के साथ छेड़छाड़ और गलत व्यवहार की खबरें देखते-सुनते रहते हैं। इसके साथ ही कभी-कभी सेलिब्रिटी भी छेड़छाड़ का शिकार हो जाते हैं। बॉलीवुड अभिनेत्री सुष्मिता सेन ने बीते शनिवार को एक इंवेट के दौरान एक चौंका देने वाला खुलासा किया। मीडिया से बातचीत में सुष्मिता ने बताया कि एक 15 साल का लड़का उनके साथ गलत व्यवहार करने की कोशिश। सुष्मिता वाकये को बताते हुए थोड़ी इमोशनल भी हो गईं थीं।

सुष्मिता ने कहा, ”कई बार लोगों को लगता है कि हमें इस तरह की चीजों का सामना नहीं करना पड़ता है। हमारे साथ छेड़छाड़ नहीं हो सकती है क्योंकि हमारे पास बॉडीगार्ड होते हैं। तो मैं आपको बता दूं कि 10 बॉडीगार्ड और 100 लोगों की भीड़ में भी लोग छेड़छाड़ कर लेते हैं।” सुष्मिता ने आगे कहा, ”छह महीने पहले एक अवॉर्ड फंक्शन के दौरान एक 15 साल के लड़के ने मेरे साथ गलत व्यवहार करने की कोशिश की उसे लगा कि मुझे पता नहीं चलेगा क्योंकि भीड़ है। मैंने उसका हाथ पीछे से पकड़कर जब सामने लाई तो उसका चेहरा देखकर मैं हैरान थी। क्योंकि उसकी उम्र महज 15 साल थी। मैंने उसकी गर्दन पकड़ी और थोड़ी दूर ले गई। मैंने उससे कहा कि मैंने भीड़ को बताया या मैं रोई तो तुम्हारी लाइफ खत्म हो जाएगी। हालांकि उसने पहले मेरे साथ छेड़छाड़ करने की बात को इंकार कर दिया, लेकिन मैंने सख्ती से उसे गलती मानने के लिए कहा। बाद में उसे अपनी गलती का एहसास हुआ उसने मुझसे माफी मांगी और वादा किया आगे से वह ऐसा कभी नहीं करेगा। मैंने उसके खिलाफ कोई भी एक्शन नहीं लिया क्योंकि मुझे पता था कि 15 साल के लड़के को यह नहीं सिखाया गया कि ऐसी हरकत करना अपराध है, मनोरंजन नहीं।”

सुष्मिता सेन का नाम ऐसी एक्टर्स की लिस्ट में शुमार हैं जिन्होंने उम्र को सिर्फ एक नंबर साबित किया है। सुष्मिता सेन ने साल 1994 में मिस यूनीवर्स का खिताब जीत कर देश का नाम रोशन किया था। इसके अलावा सुष्मिता सेन बॉलीवुड की ‘आंखे’, ‘मैंने प्यार क्यों किया’ और ‘मैं ऐसा ही हूं’ समेत कई फिल्मों में काम कर चुकी हैं।

WhatsApp लाया आईफोन यूजर्स के लिए नया 'Request Account Info' फीचर

Tuesday, 22 May 2018 21:45

 इंस्टेंट मैसेजिंग एप व्हाट्सएप अपने आईफोन यूजर्स के लिए नया फीचर लेकर आया है. इस फीचर का नाम 'Request Account Info' है. पिछले महीने एंड्रॉयड बीटा वर्जन में इन फीचर को स्पॉट किया गया था.

इस फीचर के तहत यूजर अपना व्हाट्सएप डेटा डाउनलोड कर सकेंगे. इसमें अकाउंट इंफॉर्मेशन और सेटिंग्स से जुड़ा डेटा डाउनलोड किया जा सकेगा लेकिन यहां पर्सनल मैसेज डाउनलोड नहीं किया जा सकेगा. ये फीचर यूरोपियन जनरल डेटा प्रोटेक्शन रेग्यूलेशन के लागू होने के महज दो दिन पहले लाया गया है.

इस फीचर 'Request Account Info' के तहत यूजर जान सकेंगे कि आखिर व्हाट्सएप ने उनका क्या-क्या डेटा कलेक्ट किया है. इसमें तस्वीरें, प्रोफाइल फोटो और ग्रुप के नाम जैसी जानकारी व्हाट्सएप से डाउनलोड किया जा सकेंगी. जैसा कि व्हाट्सएप चैट एंड-टू-एंड एनक्रिप्टेड होती हैं तो ऐसे में ना ही व्हाट्सएप पर्सनल चैट कलेक्ट करता है ना ही यूजर इसे डाउनलोड कर पाएंगे. याद रहे कि यूजर वहीं जानकारी डाउनलोड कर सकेंगे जो व्हाट्सएप के पास होंगी.

कैसे पाएं डेटा?

व्हाट्सएप की ओर से डेटा पाने के लिए आईफोन में 2.18.60 एप का वर्जन डाउनलोड करें या अपना मौजूदा एप अपडेट करें. नया वर्जन डाउनलोड होने के बाद सेटिंग्स>अकाउंट्स में जाएं. यहां आपको Request Account Info का ऑप्शन मिलेगा. यहां Request Report ऑप्शन पर टैप करें.

रिक्वेस्ट के तीन दिन के बाद व्हाट्सएप आपको डेटा देगा कि जिसे डाउनलोड किया जा सकेगा. याद रहे ये ये डेटा कुछ हफ्तों के लिए ही डाउनलोड के लिए उपलब्ध होगा. अकाउंट की रिपोर्ट तैयार हो जाने पर नोटिफिकेशन के जरिए यूजर को जानकारी दी जाएगी.

सरकार के चार साल: नितिन गडकरी का काम बेमिसाल, उमा भारती का रिपोर्ट कार्ड बदहाल

Tuesday, 22 May 2018 20:48

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को देश की बागडोर संभाले करीब चार साल हो चुके हैं. चार साल बाद मोदी सरकार के मंत्री अपने मंत्रालयों को लेकर बड़े-बड़े दावे कर रहे हैं. लेकिन बीते चार साल में पीएम मोदी के मंत्रियों कामकाज के आधार पर एबीपी न्यूज़ ने इन मंत्रियों का रिपोर्ट कार्ड तैयार किया है.


इस रिपोर्ट कार्ड के मुताबिक मोदी के कैबिनेट के सबसे अव्वल मंत्री का तमगा सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी के हिस्से आया है. नितिन गडकरी को 10 में से 7.14 नंबर मिले हैं. मोदी कैबिनेट की सबसे खराब मंत्री पेयजल मंत्रालय का जिम्मा संभाल रहीं उमा भारती हैं. उन्हें 10 में से सिर्फ 3.27 नंबर मिले हैं.

कैसे तैयार हुआ रिपोर्ट कार्ड?
मोदी कैबिनेट का यह रिपोर्ट कार्ड के देश 50 जाने माने पत्रकारों की टीम ने तैयार किया है.
50 पत्रकारों की इस टीम ने हर मंत्री के कामकाज को देखते हुए नंबर दिए हैं. इस टीम ने मंत्रियों को 10 के पैमाने पर नंबर दिए हैं. यानी रिपोर्ट कार्ड में जिस मंत्री के ज्यादा नंबर हैं, वो पास हैं, जिनके कम नंबर हैं वो फेल हैं.

मोदी कैबिनेट के पांच सबसे अच्छे मंत्री
पांच सबसे अच्छे मंत्रियों की लिस्ट में टॉप पर सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी हैं. एक्सपर्ट्स की टीम ने नितिन गडकरी के कामकाज को सबसे ज्यादा सराहा है, उन्हें 10 में से 7.14 नंबर मिले हैं.

दूसरे नंबर पर देश के गृहमंत्री राजनाथ सिंह हैं, गृहमंत्री को एक्सपर्ट्स की टीम ने 5.95 नंबर दिए हैं. एबीपी न्यूज़ के रिपोर्ट कार्ड के मुताबिक गृहमंत्री 50% से ज्यादा नंबर से पास हुए हैं.

तीसरे नंबर पर ट्विटर पर भी मदद को तैयार रहने वाली विदेश मंत्री सुषमा स्वराज हैं. सुषमा स्वराज को एक्सपर्ट्स की टीम ने 10 में 5.84 नंबर दिए हैं. रिपोर्ट कार्ड में विदेश मंत्री भी 50% से ज्यादा नंबर से पास हुयी हैं.

50 पत्रकारों की टीम ने अच्छे मंत्रियों की लिस्ट में चौथे नंबर पर पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान को रखा है. धर्मेंद्र प्रधान को 10 में 5.52 नंबर हासिल हुए हैं.

पांचवें नंबर पर देश की रक्षा मंत्रालय की कमान संभाल रही हीं रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण हैं. निर्मला सीतारमण को विशेषज्ञों ने 10 में से 5.44 नंबर दिए हैं. मोदी सरकार के लिए एक अच्छी खबर है कि टॉप पांच मंत्रियों की टीम में दो महिला मंत्री हैं.

मोदी कैबिनेट के पांच सबसे फिसड्डी मंत्री
इस लिस्ट में सबसे पहला नाम केंद्रीय पेयजल मंत्री उमा भारती का है. उमा भारती को 10 में से सिर्फ 3.27 नंबर हासिल हुए हैं.

अपने बयानों से अक्सर सुर्खियों में रहने वाले गिरिराज सिंह खराब मंत्रियों की लिस्ट में दूसरे नंबर पर हैं. 50 पत्रकारों के एक्सपर्ट पैनल ने गिरिराज सिंह को 10 में से सिर्फ 3.39 नंबर दिए हैं.

खराब मंत्रियों की लिस्ट में तीसरे नंबर पर कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी हैं. स्मृति ईरानी को 10 में से 3.87 नंबर मिले हैं. हाल ही में हुए कैबिनेट फेरबदल में स्मृति ईरानी से सूचना प्रसारण मंत्रालय का जिम्मा छीन लिया गया था.

केंद्रीय पर्यटन राज्य मंत्री अल्फोंस कन्नथानम खराब मंत्रियों की लिस्ट में चौथे नंबर पर हैं. एक्सपर्ट्स ने उनके काम को देखते हुए 10 में से सिर्फ 3.94 नंबर दिए हैं. केरल से आने वाले अल्फोंस कन्नथानम पहले सिविल सेवा अधिकारी भी रह चुके हैं.

खराब मंत्रियों की लिस्ट में आखिरी पायदान पर श्रम एवं रोजगार राज्य मंत्री संतोष गंगवार हैं. संतोष गंगवार को 10 में से चार नंबर मिले है. बता दें पिछले कुछ समय से मोदी सरकार रोजगार के मुद्दे को लेकर विपक्ष के निशाने पर है.

मोदी सरकार के पांच बड़े मंत्रियों का रिपोर्ट कार्ड
सबसे अच्छे और सबसे खराब मंत्रियों की लिस्ट के बाद बारी आती है, मोदी सरकार के पांच बड़े मंत्रियों की. इस लिस्ट में मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर सबसे ऊपर हैं. प्रकाश जावड़ेकर को पांच में से 5.35 नंबर मिले हैं.

इस लिस्ट में दूसरे नंर पर सूचना और प्रसारण मंत्री राज्यवर्धन राठौर हैं. अपनी फिटनेस लिए मशहूर राज्यवर्धन सिंह राठौर ने अपने कामकाज से अपना रिपोर्ट कार्ड भी फिट रखा है. एक्सपर्ट्स ने उन्हें 10 में से 5.32 नंबर दिए हैं.

मोदी सरकार के कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद इस लिस्ट में तीसरे नंबर हैं. रविशंकर प्रसाद को 10 में से 5.26 नंबर मिले हैं. रविशंकर प्रसाद के पास सूचना और तकनीक मंत्रालय भी है.

देश को जोड़ने वाली रेलवे का जिम्मा उठा रहे पीयूष गोयल इस लिस्ट में चौथे नंबर हैं. पीयूष गोयल को 10 में से 5.21 नंबर मिले हैं. हाल ही में अरुण जेटली की तबीयत खराब होने के चलते पीयूष गोयल को वित्त मंत्रालय की जिम्मेदारी भी मिली हैं.

वित्त मंत्री के रूप में अरुण जेटली ने भी इस लिस्ट में जगह बनाई है. अरुण जेटली को एक्सपर्ट्स ने 10 में से 5.10 नंबर मिले हैं. अरुण जेटली का हाल ही में किडनी का ऑपरेशन हुआ है.

तमिलनाडु में स्टरलाइट कॉपर यूनिट के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान पुलिस फायरिंग में 9 की मौत

Tuesday, 22 May 2018 18:15

चेन्नई: तमिलनाडु के तूतीकोरिन में पिछले एक महीने से वेदांता की स्टरलाइट कॉपर यूनिट को बंद करने की मांग को लेकर हो रहा प्रदर्शन आज हिंसक हो गया. पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर जमकर लाठियां बरसाईं और अपने बचाव में फायरिंग भी की. पुलिस से हुई हिंसक झड़प में अब तक 9 लोगों के मारे जाने और 30 से ज्यादा लोगों के घायल होने की खबर है.

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ई पलानीस्वामी ने 9 लोगों के मरने की पुष्टि की है. उन्होंने कहा कि मरने वालों के परिवारों को 9 लाख रुपये और घायलों को 4 लाख रुपये दिए जाएंगे.

पुलिस सूत्रों ने बताया कि संयंत्र की तरफ बढ़ने से रोके जाने कारण प्रदर्शनकारियों ने पथराव किया और पुलिस के वाहनों को पलट दिया. उन्होंने बताया कि मद्रास उच्च न्यायालय के आदेश के अनुसार इकाई को सुरक्षा प्रदान करने के लिए क्षेत्र में धारा 144 लागू कर दी गई है.

रैली निकालने की अनुमति न मिलने पर प्रदर्शनकारियों ने सुरक्षाकर्मियों को खदेड़ने की कोशिश की और नारेबाजी करने लगे. पुलिस ने बताया कि प्रदर्शनकारी पथराव करने लगे और पुलिस वाहन को पलट दिया. इसके बाद पुलिस ने उन्हें तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े. उन्होंने बताया कि पथराव की घटना में बीस से अधिक लोगों को मामूली चोट आई हैं और कुछ वाहनों को आग के हवाले कर दिया गया. इसके बाद से क्षेत्र में तनाव का माहौल है. दर्शनकारियों का आरोप है कि संबंधित इकाई की वजह से क्षेत्र में भूजल प्रदूषित हो रहा है. गौरतलब है कि वहां 20 हजार से अधिक प्रदर्शनकारी जमा हुए थे.

फ्लाइट में शराबी का हंगाम, महिला को छेड़ा और सीट पर ही कर दी पेशाब

Tuesday, 22 May 2018 18:12

जरा सोचिए कि आप फ्लाइट में सफर कर रहे हैं और आपके सामने कोई व्यक्ति शराब पीकर हंगामा करने लगे तो कैसा लगेगा, जाहिर सी बात है आपको गुस्सा आएगा, बहुत गुस्सा आएगा। ऐसा ही कुछ हुआ है फ्रंटियर एयरलाइंस की फ्लाइट 9864 में। अमेरिका के कोलोराडो से चार्ल्सटन जा रही फ्लाइट में एक व्यक्ति ने शराब पीकर जमकर हंगामा किया। रिपोर्ट्स के मुताबि गुरुवार (17 मई) को कोलोराडो के माइकल एलेन हाग नाम के यात्री ने फ्लाइट के अंदर ही दो वोडका टॉनिक पी ली और अपना आपा खो बैठा। हाग ने नशे में अपने बगल में बैठी महिलाओं को छेड़ा, जिसके बाद महिलाओं ने उसकी शिकायत की। शिकायत के बाद हाग को फ्लाइट में सबसे पीछे बैठा दिया गया, जहां उसने सबके सामने ही पेशाब कर दी।

रिपोर्ट्स के मुताबिक हाग की सीट की दोनों तरफ दो महिलाएं बैठी थीं। विंडो सीट पर बैठी महिला सो रही थी, लेकिन साइड सीट पर बैठी महिला हेडफोन लगाकर गाने सुन रही थी। फ्लाइट के उड़ान भरने के साथ ही हाग ने एक वोडका टॉनिक पी ली और साइड सीट पर बैठी महिला से बातें करने लगा। हाग लगातार महिला की छाती को घूर रहा था और महिला से बहुत सारे सवाल कर रहा था। महिला ने कुछ देर तो हाग के बर्ताव को छेला, लेकिन बाद में उसने साफ कह दिया कि उसे बात करने में कोई दिलचस्पी नहीं है।

उसके बाद हाग ने दूसरा वोडका टॉनिक पी लिया और उसका ध्यान विंडो सीट पर बैठी महिला की तरफ चला गया। हाग ने महिला के हाथ छूने शुरू कर दिए, जिसके तुरंत बाद महिला जाग गई और उसने हाग से कहा कि उसे न छुए। हाग ने माफी मांगी, लेकिन फिर कुछ समय बाद उसके पैर को टच करने लगा। हाग की हरकत से परेशान होकर महिला खड़ी हो गई और उसने जोर से चिल्लाते हुए कहा, ‘अगर इस आदमी ने एक बार फिर मुझे छूने की कोशिश की तो मैं इसे मार डालूंगी।’ इसके बाद हाग को पीछे की सीट पर शिफ्ट कर दिया गया, जहां तीनों सीटें खाली थीं। हाग उस वक्त बहुत नशे में था।

उसकी सीट की दूसरी तरफ की रो पर बैठी महिला का ध्यान हाग पर गया। उसने दूर से ही हाग की तस्वीर लेने की कोशिश की। उसके कुछ समय बाद ही महिला ने नोटिस किया कि हाग बैठे-बैठे पेशाब कर रहा है। महिला ने जोर से चिल्लाया, ‘ओह माई गॉड! वह पेशाब कर रहा है… वह पेशाब कर रहा है।’ महिला के चीखने पर फ्लाइट अटेन्डन्ट का ध्यान हाग पर गया। करीब 3 घंटे बाद जब फ्लाइट चार्ल्सटन एयरपोर्ट पर लैंड करी, तब तीनों महिलाओं ने हाग के खिलाफ शिकायत की। रिपोर्ट्स के मुताबिक हाग को महिला से छेड़छाड़ करने और फ्लाइट के अंदर पेशाब करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया।

 

 

फिर मोदी के खिलाफ चर्च: विवाद बढ़ने पर सफाई- किसी पार्टी पर नहीं किया हमला

Tuesday, 22 May 2018 17:26

एक बार फिर चुनाव से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ चर्च की चिट्ठी आई है. दिल्ली में चर्च के आर्कबिशप ने चिट्ठी लिखकर इशारों में कहा है कि देश में लोकतंत्र खतरे में है और 2019 के लिए ईसाइयों को ऩई सरकार के लिए वोट करना चाहिए. सवाल उठने के बाद चर्च सफाई दे रहा है कि उन्होंने किसी एक सरकार के खिलाफ चिट्ठी नहीं लिखी.

बता दें कि दिल्ली के कैथोलिक चर्च के मुख्य पादरी अनिल कोटो ने देशभर के अन्य पादरियों को पत्र लिख कर कहा है कि देश का लोकतंत्र खतरे में है, जिसका बचना बेहद जरूरी है. पादरी ने पत्र में किसी पार्टी या सरकार का जिक्र तो नहीं किया है लेकिन यह साफ है कि उनका निशाना केंद्र की मोदी सरकार पर है. पादरी के पत्र पर बीजेपी और आरएसएस ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है. संघ ने कहा कि धर्मांतरण और फंडिंग पर रोक लगने से पादरी घबराए हुए हैं. वहीं गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने चिट्ठी को लेकर जानकारी से इनकार किया है. उन्होंने हालांकि कहा, ''देश में मजहब के आधार पर कोई भेदभाव नहीं किया जाता है, देश में सभी अल्पसंख्यक सुरक्षित है.''

धर्मांतरण उद्योग बंद होने से है घबराहट-आरएसएस 

बीजेपी नेता शायना एनसी ने कहा कि बहुत ही खराब संदेश है. एक कौम के लोग धर्मनिरपेक्ष देश में किसी पार्टी के खिलाफ वोट देने के लिए कह रहे हैं. वहीं राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) से जुड़े रहे प्रोफेसर राकेश सिन्हा ने कहा कि धर्मांतरण उद्योग पर डंडा चलने से वह घबराए हुए हैं.

उन्होंने कहा, ''पत्र भारत की धर्मनिरपेक्षता और लोकतांत्रिक मूल्यों पर सीधा हमला है. यह सब बेटिकन के निर्देश पर हो रहा है. दरअसल मोदी सरकार बनने के बाद इन्हें मिलने वाले पैसे में भारी गिरावट आई है. 17 हजार 773 करोड़ से घटकर यह राशि 6 हजार 795 करोड़ रह गई है. यह पैसा ईसाई संगठनों को कई कामों के लिए मिलता था. लेकिन इससे केवल और केवल धर्मांतरण उद्योग चलता था.''

पादरी ने पत्र में क्या कहा?
अनिल कोटो ने कहा, ''हमलोग अशांत राजनीतिक माहौल का गवाह बन रहे हैं. इसके कारण संविधान के लोकतांत्रिक मूल्यों और देश के धर्मनिरपेक्षता को खतरा है.'' उन्होंने कहा कि देश और नेताओं के लिए प्रार्थना करना हमारी पवित्र परंपरा है. आम चुनाव नजदीक होने के कारण और भी महत्वपूर्ण हो जाता है. कोटो ने कहा, ''हमलोग साल 2019 की ओर बढ़ रहे हैं. इसी साल हमें नई सरकार मिलेगी. ऐसे में हमें 13 मई से अपने देश के लिए प्रार्थना अभियान शुरू करना चाहिए.''

आपको बता दें-

इसी साल नागालैंड चुनाव में चर्च ने कहा था सांप्रदायिक पार्टी को वोट न दें. पिछले साल गुजरात चुनाव से पहले भी चर्च ने लोकतंत्र को खतरा बताया था. पिछले साल गोवा चुनाव से पहले भी चर्च ने लोगों को सलाह दी थी. अब दिल्ली के चर्च ने 2019 चुनाव से पहले चिट्ठी जारी कर नए विवाद की शुरुआत कर दी है.

 

 

 

मनी लॉड्रिंग मामले में सीबीआई ने राबड़ी देवी के आवास पहुंचकर बयान रिकार्ड किया

Tuesday, 22 May 2018 17:22

बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के आवास पहुंचकर सीबीआई की एक टीम ने नोटबंदी के बाद एक सहकारी बैंक में बड़ी राशि जमा करने से जुड़े धनशोधन के एक मामले में आज उनका बयान रिकार्ड किया। पटना के दस सर्कुलर रोड स्थित राबड़ी देवी के आवास पर सीबीआई की चार सदस्यीय टीम आज दोपहर पहुंची और करीब 20 मिनट के बाद वहां से रवाना हो गयी। उस दौरान राबड़ी के पति और राजद प्रमुख लालू प्रसाद भी मौजूद थे, जो करोड़ों रूपये के चारा घोटाले से जुड़े मामलों में अस्थायी जमानत पर रिहा हैं।

राजद के राष्ट्रीय महासचिव और विधायक भोला यादव ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि कुछ दिन पहले राबड़ी देवी को बिहार अवामी सहकारी बैंक के खिलाफ मनी लॉंंिड्रग के एक मामले में सीबीआई की ओर से नोटिस मिला था जिसमें एजेंसी उनका बयान रिकार्ड करना चाहती थी। बिहार अवामी सहकारी बैंक के अध्यक्ष अनवर अहमद हैं जो कि कभी लालू के विश्वासपात्र माने जाते थे। वह बिहार विधान परिषद के सदस्य भी रहे।

भोला ने बताया कि राबड़ी ने सीबीआई टीम के समक्ष अपने आयकर रिटर्न सहित अन्य आवश्यक दस्तावेज पेश किए जिससे अधिकारी संतुष्ट दिखे। उन्होंने कहा कि सीबीआई के अफसर परिवार के किसी अन्य सदस्य से कोई बात किए बिना लौट गये। उल्लेखनीय है कि लालू जहां चारा घोटाले से जुड़े कई मामलों में सजायाफ्ता हैं वहीं उनकी पत्नी राबड़ी देवी, बड़ी पुत्री मीसा भारती और छोटे पुत्र तेजस्वी प्रसाद यादव से रेलवे में होटल के बदले भूखंड सहित कई अन्य मामलों में सीबीआई, प्रवर्तन निदेशालय और आयकर विभाग द्वारा पूर्व में पूछताछ की जा चुकी है।

IOCL के चेयरमैन ने कहा, सभी पेट्रोलियम प्रोडक्‍ट्स GST के अंतर्गत लाने का समर्थन

Tuesday, 22 May 2018 17:19

 देश में पेट्रोल और डीजल के दाम लगातार बढ़ते जा रहे हैं और यह दाम पिछले पांच सालों में  सर्वाधिक स्तर पर पहुंच गया है. मोदी सरकार की इस बात के लिए काफी आलोचना हो रही है. लोगों को इस बात का डर है कि डीजल के बढ़ते दाम का असर सीधा उनकी जेब पर हो सकता है. महंगाई दर बढ़ने की आशंका के मद्देनजर विपक्ष भी सरकार पर हमलावर हो गई है. विपक्षी दलों के नेता लगातार सोशल मीडिया के जरिये सरकार पर हमले कर रहे हैं पीएम नरेंद्र मोदी उनकी कही बातें भी याद करा रहे हैं. 

ऐसे में देश की बड़ी तेल कंपनी आईओसीएल के चेयरमैन संजीव सिंह ने सरकार से आज कहा कि सरकार पेट्रोलियम उत्पादों को जीएसटी के दायरे में लाने की मांग का हम समर्थन करते हैं. काफी दिनों से यह कहा जा रहा है कि सरकार पेट्रोलियम उत्पादों के जीएसटी के दायरे में लाएगी तो पेट्रोल और डीजल के दाम कम हो सकते हैं. लेकिन सरकार ने जीएसटी लागू करने के साथ ही साफ कर दिया था कि इसके दायरे में पेट्रोल और पेट्रोलियम उत्पादों को नहीं लाया जा रहा है. 

 
 

मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए सिंह ने कहा कि आप केवल भारत की बाजार को देख रहे हैं, अंतरराष्ट्रीय बाजार में स्थिति पर नजर डालें तो बात साफ हो जाती है. हमारे पास कोई रास्ता नहीं है. अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेल के बढ़ते दाम के साथ दाम बढ़ाना हमारी मजबूरी है. उन्होंने कहा कि ईरान का मामला न होता तो स्थिति कुछ और होती. 

उन्होंने मुनाफे और घाटे से जुड़े एक प्रश्न के जवाब में कहा कि आज इस कुछ भी कहना संभव नहीं है क्योंकि यह एक अवधि पर तय किया जाता है. कंपनी हमेशा कम कीमत पर उत्पाद नहीं बेच सकती.

बता दें कि सरकार के तमाम दावों के बावजूद पेट्रोल-डीज़ल की क़ीमतें मंगलवार को एक बार फिर बढ़ गई है. यह सिलसिला लगातार नौवें दिन का हो गया है. पेट्रोल 30 पैसे जबकि डीजल की क़ीमतों में 26 पैसे की बढ़ोतरी हुई है. आज की बढ़ोतरी के बाद दिल्ली में एक लीटर पेट्रोल की क़ीमत 76.87 हो गई है जबकि डीजल 68.08 हो गया है. 

जानकारी के लिए बता दें कि जीएसटी की सर्वाधिक दर 28 फीसदी भी यदि पेट्रोल पर लगा तब भी दिल्ली में पेट्रोल के दाम आज की दर से करीब 30 रुपये कम हो जाएंगे.

इस गाने को सुनकर 100 से ज्यादा लोगों ने ले ली अपनी जान, कई देश लगा चुके हैं बैन!

Tuesday, 22 May 2018 17:15

संगीत को लेकर अक्सर कहा जाता है कि इसे सुनने से मन को सुकून मिलता है। मगर संगीत ही जीवन के अंत होने का कारण बन जाए, तो यह कौतुहल का विषय हो उठता है। ऐसा ही मामला हंगरी के गाने से जुड़ा हुआ है, जिसके कारण साल 1930 के आसपास करीब 100 लोगों ने अपनी जान ले ली थी। आलम यह था कि कई देशों को इस गाने पर प्रतिबंध लगाना पड़ा था, ताकि कोई बेवजह अपनी जान न ले।

गाने का नाम है- ग्लूमी संडे, जिसे रेज्रो सेरेस नाम के गीतकार ने लिखा था। संगीत की दुनिया में वह उन दिनों अपना नाम बनाने और मुकाम हासिल करने के लिए संघर्ष कर रहे थे। रेज्रो को तब उनकी प्रेमिका छोड़ कर चली गई थी, जिसके गम में वह काफी मायूस और बुझे-बुझे से रहते थे। अपने अकेलेपन और उदासी के साए में आकर ही उन्होंने इस गाने को लिखा था।

यह गाना सबसे पहले हंगरियन भाषा में लिखा गया था। थोड़ा मशहूर होने के बाद इसे अन्य भाषाओं में अनूदित किया गया था। ग्लूमी संडे को जिस किसी ने भी सुना, यह उसके दिल के सबसे उदास हिस्सों को करीब से छू गया। नतीजतन उन लोगों ने अपनी जिंदगी को खत्म करना ही ठीक समझा और खुदकुशी कर ली थी।

संगीत की दुनिया में थोड़ी शोहरत और सफलता पाने के बाद रेज्रो अपनी जिंदगी में पूर्व प्रेमिका में वापस लाना चाहते थे। लेकिन किस्मत को कुछ और ही मंजूर था। गीतकार को बाद में पता लगा कि उनकी पूर्व प्रेमिका ने खुदकुशी कर ली। उसकी लाश के पास एक कागज पड़ा था, जिस पर रेज्रो का लिखा हुआ गाना था।

गाना लॉन्च होने के तकरीबन दो साल बाद हंगरी में सिलसिलेवार ढंग से 100 से अधिक लोगों के खुदकुशी करने की खबरें आईं। अपनी जान लेने के ये सभी मामले ग्लूमी संडे से जुड़े थे, जिन्होंने अंतिम क्षणों में इस गाने को सुना था।

यही कारण है कि इस गाने पर कई देशों में प्रतिबंध लगा दिया गया था, जिसमें ग्रेट ब्रिटेन भी शामिल था। यहां लगभग 60 सालों तक यह गाना बैन रहा। आगे चलकर इस गाने को हंगरियन सुसाइड सॉन्ग कहा जाने लगा था। सुनिए इसका असली वर्जन-

एसबीआई को 7,718 करोड़ का घाटा, फंसे हुए कर्जे बढ़े

Tuesday, 22 May 2018 17:10

सरकारी बैंकों पर लगातार दवाब का जिक्र करते हुए भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने मंगलवार को मार्च में खत्म हुई तिमाही में 7,718 करोड़ रुपये के नुकसान की जानकारी दी है। बैंक ने शेयर बाजार फाइलिंग में यह जानकारी दी है। 

देश के सबसे बड़े कर्जदाता ने पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 2,815 करोड़ रुपये पीएटी (कर चुकाने के बाद मुनाफा) दर्ज किया था। 

समीक्षाधीन तिमाही में एसबीआई को इसकी पिछली तिमाही की तुलना में तीन गुणा अधिक नुकसान हुआ है। वित्त वर्ष 2017-18 की तीसरी तिमाही में बैंक का घाटा 2,416 करोड़ रुपये रहा था। 

समीक्षाधीन तिमाही में बैंक का सकल एनपीए (फंसे हुए कर्जे) 2,23,427 करोड़ रुपये रहा, जोकि 10.91 फीसदी अधिक है, जबकि पिछली तिमाही में इसमें 10.35 फीसदी की वृद्धि हुई थी। जबकि एक साल पहले समान तिमाही में बैंक के एनपीए में 6.9 फीसदी की वृद्धि हुई थी। 

जनवरी-मार्च तिमाही में बैंक का शुद्ध एनपीए अनुपात 5.73 फीसदी रहा, जबकि इसकी पिछली में यह 5.61 फीसदी था। 

ईडी ने डाबर इंडिया के निदेशक की 21 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की

Tuesday, 22 May 2018 17:08

प्रवत्र्तन निदेशालय (ईडी) ने मंगलवार को विदेशी मुद्रा प्रबंधन अधिनियम (फेमा) के तहत विदेश में संपत्ति रखने को लेकर डाबर इंडिया लि. के निदेशक से संबंधित 20.87 करोड़ रुपये की संपत्तियां जब्त की है। ईडी के अधिकारियों के मुताबिक, जब्ती का आदेश एक जांच के बाद जारी किया गया है, जिसमें पता चला कि कंपनी के निदेशक प्रदीप बर्मन ने 32.1 लाख डॉलर की रकम जुरिक के एचएसबीसी (हांगकांग एंड शंघाई बैंकिंग कॉरपोरेशन) खाते में जमा किया था। 

बर्मन ने आयकर विभाग के समक्ष इस रकम का खुलासा किया था, लेकिन 2007-08 के आईटी रिटर्न में इसे नहीं दिखाया था। 

जांच के बाद आईटी विभाग ने महानगरीय दंडाधिकारी की अदालत में मुकदमा किया था, जिसकी सुनवाई चल रही है।

--आईएएनएस

सपा 82 करोड़ रुपये की आय के साथ सबसे अमीर क्षेत्रीय पार्टी

Tuesday, 22 May 2018 17:07

समाजवादी पार्टी (सपा) 82.76 करोड़ रुपये की घोषित आय के साथ भारत की 32 क्षेत्रीय पार्टियों में सबसे धनी पार्टी है। हालांकि समाजवादी पार्टी ने आय से 64.34 करोड़ अधिक खर्च की बात कही है। एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स की एक रिपोर्ट में मंगलवार को यह जानकारी दी गई।

सपा के बाद 72.92 करोड़ रुपये के साथ तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) है व इसके बाद अन्नाद्रमुक है, जिसकी आय 48.88 करोड़ रुपये है।

वित्तीय वर्ष 2016-17 में 32 क्षेत्रीय पार्टियों की कुल आय 321.03 करोड़ रुपये रही।

इनमें से 14 पार्टियों का दावा है कि उनकी आय में गिरावट आई है और 13 ने आय में वृद्धि की बात कही है।

पांच क्षेत्रीय दलों ने निर्वाचन आयोग में अपना आयकर रिटर्न जमा नहीं किया है। इसमें भारतीय राष्ट्रीय लोकदल, महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी, जम्मू एवं कश्मीर पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी, ऑल इंडिया युनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट व केरल कांग्रेस मणि शामिल हैं।

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन व जनता दल सेक्युलर ने घोषणा की कि उनकी संबंधित आय का 87 फीसदी से ज्यादा खर्च नहीं हुआ है, जबकि तेदेपा ने कहा कि उसकी आय का 67 फीसदी बचा हुआ है।

द्रमुक ने अपनी आय से 81.88 करोड़ रुपये ज्यादा खर्च होने की घोषणा की जबकि समाजवादी पार्टी व अन्नाद्रमुक ने अपने आय से क्रमश: 64.34 करोड़ रुपये व 37.89 करोड़ रुपये ज्यादा खर्च होने की जानकारी दी है।

इन 32 के अलावा 16 क्षेत्रीय पार्टियों की लेखा रिपोर्ट उपलब्ध नहीं है। इसमें आम आदमी पार्टी, नेशनल कांफ्रेंस व राष्ट्र जनता दल शामिल हैं।

--आईएएनएस

चलती कार से बाहर निकलकर पढ़ाई कर रही थी लड़की, पीछे की वजह है हैरान करने वाली

Tuesday, 22 May 2018 17:05

इंडोनेशिया के सबसे सक्रिय ज्वालामुखी माउंट मेरापी से 3,500 मीटर ऊंचाई तक राख निकलने के बाद आसपास के इलाकों से लोगों की निकासी जारी है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन एजेंसी के एक प्रवक्ता के हवाले से बताया कि ज्वालामुखी एजेंसी ने दूसरे उच्चतम स्तर की चेतावनी जारी की है। 

एजेंसी के अनुसार, "ज्वालामुखी के मुख से तीन किलोमीटर के दायरे में शोध कारणों को छोड़कर चढ़ाई की अन्य सभी गतिविधियां प्रतिबंधित कर दी गई हैं।"

उन्होंने कहा, "लगभग 660 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया है। पिछली रात से इस क्षेत्र से सुरक्षित स्थानों की ओर रुख करने वालों की संख्या बढ़ रही है।" 

--आईएएनएस

जीवन के हर रिश्ते को महत्व देती हूं : करीना कपूर

Tuesday, 22 May 2018 17:04

अभिनेत्री करीना कपूर खान का कहना है कि दोस्त उनके जीवन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। अभिनेत्री ने अपारशक्ति खुराना के साथ बातचीत के दौरान यह बात कही, जब वह दो घंटे के विशेष शो 'क्रिकेट फाइनल पार्टी तो बनती है' का हिस्सा बनीं। आईएएनएस को दिए गए एक बयान में बताया गहया है कि 'क्रिकेट फाइनल पार्टी तो बनती है' शो आईपीएल के 27 मई को होने वाले फाइनल से ठीक पहले प्रसारित किया जाएगा।

करीना ने आईएएनएस को दिए बयान में कहा, "मैं जीवन में हर रिश्ते को महत्व देती हूं, विशेष रूप से दोस्तों को। वे मेरे लिए महत्वपूर्ण हैं।"

उन्होंने कहा, "यहां तक कि अगर वे लोग न होते तो मैं शादी नहीं करती। उन्होंने मुझे हमेशा प्यार और समर्थन दिया और जीवन में मेरे साथ रहे। वे हमेशा मेरे जीवन का महत्वपूर्ण हिस्सा बने रहेंगे।"

पाकिस्तान व विश्व बैंक ने किशनगंगा बांध पर वार्ता शुरू की

Tuesday, 22 May 2018 17:03

पाकिस्तान और विश्व बैंक ने जम्मू एवं कश्मीर में किशनगंगा जल विद्युत परियोजना के संबंध में वार्ता शुरू कर दी है, जिसका हाल ही में उद्घाटन हुआ है। इस्लामाबाद ने नई दिल्ली पर यह बांध बनाकर सिंधु जल संधि का उल्लंघन करने का आरोप लगाया है। अटॉर्नी जनरल अश्तर औसफ के नेतृत्व में एक चार सदस्यीय पाकिस्तानी प्रतिनिधिमंडल रविवार को इस संबंध में तीन दिवसीय वार्ता के लिए यहां पहुंचा। इनका उद्देश्य इस मामले को सुलझाने के लिए विश्व बैंक अधिकारियों को एक मध्यस्थ अदालत गठित करने के लिए राजी करना है। इस्लामाबाद को डर है कि इस भारतीय परियोजना से उसके भूभाग में पानी का प्रवाह कम हो जाएगा। विश्व बैंक सिंधु जल संधि का केंद्रीय निकाय (नॉडल बॉडी) है।

पाकिस्तान सरकार ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा, "पाकिस्तान और विश्व बैंक ने वाशिंगटन में भारत अधिकृत कश्मीर में नीलम नदी पर किशनगंगा हाइड्रोपॉवर परियोजना पर वार्ता शुरू कर दी है। अटॉर्नी जनरल अश्तर औसफ प्रतिनिधिमंडल की अगुवाई कर रहे हैं और पाकिस्तान इस विवाद को सुलझाने के लिए मध्यस्थ अदालत की मांग कर रहा है।"

पाकिस्तान ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा जम्मू एवं कश्मीर के बांदीपोरा जिले में19 मई को 330 मेगावाट के किशनगंगा हाइड्रोइलेक्ट्रिक परियोजना के उद्घाटन के बाद चिंता व्यक्त की थी।

पाकिस्तानी विदेश कार्यालय ने इस परियोजना के उद्घाटन से पहले कहा था, "पाकिस्तान का मानना है कि विवाद को सुलझाने से पहले परियोजना का उद्घाटन सिंधु जल संधि का उल्लंघन है।"

सेंसेक्स में 35 अंकों की तेजी

Tuesday, 22 May 2018 17:03

देश के शेयर बाजारों में मंगलवार को तेजी दर्ज की गई। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 35.11 अंकों की तेजी के साथ 34,651.24 पर और निफ्टी 20.00 अंकों की तेजी के साथ 10,536.70 पर बंद हुआ। 

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 14.64 अंकों की गिरावट के साथ 34,601.49 पर खुला और 35.11 अंकों या 0.10 फीसदी की तेजी के साथ 34,651.24 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार में सेंसेक्स ने 34,754.60 के ऊपरी और 34,550.22 के निचले स्तर को छुआ। 

बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांकों में भी तेजी रही। मिडकैप सूचकांक 102.36 अंकों की तेजी के साथ 15,738.11 पर और स्मॉलकैप सूचकांक 110.51 अंकों की तेजी के साथ 17056.89 पर बंद हुए।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी सुबह 1.75 अंकों की तेजी के साथ 10,518.45 पर खुला और 20.00 अंकों या 0.19 फीसदी की तेजी के साथ 10,536.70 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार में निफ्टी ने 10,558.60 के ऊपरी और 10,490.55 के निचले स्तर को छुआ।

बीएसई के 19 में से 15 सेक्टरों में तेजी रही, जिनमें वाहन (1.73 फीसदी), धातु (1.58 फीसदी), रियल्टी (1.26 फीसदी) स्वास्थ्य (1.13 फीसदी) और उद्योग (1.10) शामिल रहे। 

बीएसई के गिरावट वाले सेक्टरों में तेल और गैस (0.41 फीसदी), ऊर्जा (0.28 फीसदी), तेज खपत उपभोक्ता वस्तुएं (0.10 फीसदी) और उपभोक्ता सेवाएं (0.09 फीसदी) शामिल रहे।

--आईएएनएस

फीफा विश्व कप: इंग्लैंड की कमान हैरी केन के हाथों में

Tuesday, 22 May 2018 16:42

 टोटेनहम हॉटस्पर के स्ट्राइकर हैरी केन को रूस में होने वाले फीफा विश्व कप के लिए इंग्लैंड फुटबाल टीम का कप्तान बनाया गया है। इंग्लैंड के कोच गैरेथ साउथगेट ने मंगलवार को ट्विटर पर एक वीडियो में इसकी घोषणा की। इंग्लिश प्रीमियर लीग (ईपीएल) में दो बार के गोल्डन बूट विजेता केन लुगो लोरियस के उपकप्तान भी हैं। 

साउथगेट ने कहा, " कल रात हमने बाकी खिलाड़ियों के नामों की घोषणा की थी और अब हैरी विश्व कप में टीम के कप्तान होंगे। मुझे लगता है कि हैरी का यह एक बहुत बड़ा सम्मान है और वह इसके हकदार हैं। उनमें नेतृत्व करने की गजब की क्षमता है।" 

केन ने कहा कि टीम का कप्तान चुना जाना बड़े सम्मान की बात है। निश्चित रूप से, इंग्लैंड के लिए खेलना हमेशा से सपना रहा है और कप्तान होना तो और बड़ी बात है।" 

उन्होंने कहा, "टीम का नेतृत्व करना बेहद अहम होगा। लेकिन मेरे लिए कुछ भी नहीं बदला है। मैं वही इंसान और वही खिलाड़ी हूं। यह केवल टीम के लिए है। एक टीम के रूप में हमसे जितना हो सकता है, हम कर सकते हैं।"

--आईएएनएस

परमाणु परीक्षण स्थल को बंद करेगा उत्तर कोरिया

Tuesday, 22 May 2018 16:40

उत्तर कोरिया इस हफ्ते के अंत में अपने परमाणु परीक्षण स्थल को बंद कर देगा। इसे कवर करने के लिए विदेश पत्रकारों ने देश में डेरा जमाना शुरू कर दिया है। शुरूआत में दक्षिण कोरिया के मीडिया को भी यहां आना था लेकिन मंगलवार को उन्हें बीजिंग से चार्टर्ड विमान में सवार होने की इजाजत नहीं दी गई। प्योंगयांग मीडिया र्किमयों के छोटे समूह को ही परीक्षण स्थल तक जाने की इजाजत दे रहा हैं। वह चाहता है कि भूमिगत परीक्षण और अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल के प्रक्षेपण को रोक देने के उसके वायदा का प्रचार हो।
किम जोंग उन और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच 12 जून को होने वाली शिखर बैठक से पहले उत्तर कोरिया ने परमाणु कार्यक्रम पर स्थगन की यह एकतरफा घोषणा की है ।
लेकिन दक्षिण कोरिया और अमेरिका के बीच सैन्य अभ्यास को लेकर उत्तर कोरिया ने सोल के साथ उच्च स्तरीय संबंध खत्म कर दिए हैं। शिखर बैठक की कामयाबी को लेकर चिंताओं के बीच दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जेई – इन आज वाशिंगटन में ट्रंप से मुलाकात करेंगे।

वहीं दूसरी ओर उत्तर कोरिया और दक्षिण कोरिया के नेताओं की पिछले महीने हुई मुलाकात के बाद से दोनों देशों के बीच की सीमा के नजदीक स्थित सुरक्षा संबंधी स्थलों पर पर्यटन में तेजी आई है। समाचार एजेंसी योनहाप की रिपोर्ट के मुताबिक सीमा के समीप स्थित पर्यटन स्थलों पर पर्यटकों की संख्या में 30 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई है। पिछले साल प्रति दिन यहां 1,200 से 2,300 पर्यटक पहुंचते थे, वहीं अब इनकी संख्या बढ़कर 1,500 से 3,000 तक पहुंच गई है।

 

इन स्थलों में दक्षिण में घुसपैठ के लिए उत्तर कोरिया द्वारा निर्मित एक सुरंग और डोरा वेधशाला शामिल है, जिससे उत्तर कोरिया का केसोंग गांव दिखाई देता है। स्थानीय सरकार ने पर्यटकों की संख्या में तेजी आने का श्रेय पिछले साल राजनयिक मनमुटाव के बाद चीनी शहरों द्वारा पैकेज टूर्स पर लगाए गए प्रतिबंधों को हटाए जाने को भी दिया है। दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे इन और उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन ने 27 अप्रैल को असैन्य क्षेत्र (डिमिलिटराइज्ड जोन) के संयुक्त सुरक्षा इलाके में एक ऐतिहासिक मुलाकात की थी। शिखर सम्मेलन में दोनों नेता प्रायद्वीप के पूर्ण परमाणु निरस्त्रीकरण पर सहमत हुए थे।