नींबू से ज्यादा काम आते हैं उसके छिलके, स्किन के अलावा होते हैं ये लाभ

Monday, 21 May 2018 10:45

नींबू में ऐसे कई तत्व पाए जाते हैं जो उसे गुणकारी बताते हैं, लेकिन नींबू के छिलके भी काफी लाभकारी होते हैं। नींबू के रस के फायदे तो हम सब जानते हैं। खाने का स्वाद बढ़ाना हो या एक्सट्रा फैट घटाना हो, हम रोजाना नींबू का इस्तेमाल करते हैं। नींबू का रस हमारी सेहत और ब्यूटी के लिए बहुत ही फायदेमंद होता लेकिन इसका छिलका भी बहुत काम की चीज है। स्किन प्रॉब्लम्स से निजात पाने के लिए नींबू के छिलकों का इस्तेमाल करते हैं लेकिन अक्सर लोग नींबू के छिलके को बेकार समझकर कूड़े में फेंक देते हैं। दरअसल, नींबू के छिलके में विटामिन ए, विटामिन सी, पोटैशियम, कैल्शियम, फाइबर समेत कई पोषक तत्व होते हैं। आइए आज हम आपको नींबू के छिलको के ऐसे फायदे के बारे में बताते हैं जिसे जानकर आप छिलको को फेंकने से पहले कई बार सोचेंगे। नींबू छिलके के फायदे इस प्रकार है-

हड्डियों के लिए : नींबू के छिलके हड्डियों के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। इसमें मौजूद कैल्शियम और विटामिन सी हमारी हड्डियों और दांतों को मजबूत रखता है। इसके इस्तेमाल से ऑस्टियोपोरोसिस, गठिया और पॉली आर्थराइटिस जैसे रोगों से बचाता है।

स्किन कैंसर : नींबू के छिलके में मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट गुण स्किन कैंसर जैसे रोग से बचाने का काम करता है। इससे हमारा इम्युनिटी सिस्टम मजबूत होता है।

 

पाचन क्रिया के लिए : इसके छिलको के इस्तेमाल से पाचन क्रिया दुरुस्त होती हैं। हमारा डाइजेशन मजबूत होता है। अगर हमारा डायजेशन सही है तो हम कई बीमारियों से बच सकते हैं।

मुंह के दुर्गंध : नींबू के छिलके मुंह से आने वाले स्मैल में भी काफी कारगर साबित होते हैं। इसके नियमित इस्तेमाल से पायरिया रोग से छुटकारा मिल सकता है।

ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल के लिए : ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल ठीक रहने से हार्ट प्रॉब्लम में फायदा होता है और नींबू के छिलको में मौजीद पॉलीफेनॉल्स तत्व की मदद से इन दोनों को कंट्रोल किया जा सकता है। इसके अलावा नींबू का छिलका डायबिटीज को भी कंट्रोल करता है।

वेनेजुएला : राष्ट्रपति चुनाव में मतदान केंद्र खाली नजर आए, अनियमितताओं की शिकायतें

Monday, 21 May 2018 10:42

वेनेजुएला के राष्ट्रपति चुनाव में कई मतदान केंद्रों पर मतदाताओं की कमी देखी गई तथा फिर से पद के लिए खड़े हुए राष्ट्रपति निकोलस मदुरो के विरोधी दलों ने अनियमितताओं की शिकायत की है। समाचार एजेंसी एफे के अनुसार, रविवार को मतदान के दौरान कराकस और देश के अंदरूनी भागों में सड़कें वीरान नजर आईं, जबकि कुछ ही मतदान केंद्रों में मतदाताओं की कतारें देखी गइर्ं।

रविवार को हुए चुनाव तथा पिछले चुनावों में सबसे बड़ा अंतर यह है कि इस बार प्रमुख विपक्षी गठबंधन एमयूडी ने अपना उम्मीदवार नहीं उतारने का फैसला किया तथा मतदाताओं से मतदान का बहिष्कार करने का आवाह्न किया। इस मांग का कई लोगों पर असर नजर आया।

इस बीच, मदुरो के दो प्रमुख विपक्षी, पूर्व गर्वनर हेनरी फाल्कन और पूर्व ईसाई पादरी जेवियर बेरटुकी ने मदुरो के प्रचार अभियान द्वारा मतदाताओं को खरीदे जाने समेत सैकड़ों स्थानों पर चुनाव के नियमों के उल्लंघन का आरोप लगाया। 

बेरटुकी ने कहा कि उनके पास चुनाव में 1,400 उल्लंघनों के दस्तावेजी सबूत हैं तथा सैंकड़ों वीडियो हैं। उन्होंने कहा कि वे इन सबूतों को मीडिया को सौंप देंगे।

--आईएएनएस

शेयर बाजारों के शुरुआती कारोबार में मिला-जुला रुख

Monday, 21 May 2018 10:40

 देश के शेयर बाजारों के शुरुआती कारोबार में सोमवार को मिला-जुला रुख है। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स सुबह 10.1 बजे 18.08 अंकों की मजबूती के साथ 34,866.38 पर और निफ्टी भी लगभग इसी समय 2.85 अंकों की गिरावट के साथ 10,593.55 पर कारोबार करते देखे गए। 

बम्बई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 24.86 अंकों की मजबूती के साथ 34873.16 पर, जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 20.3 अंकों की बढ़त के साथ 10,616.70 पर खुला।

--आईएएनएस

कर्नाटक : कांग्रेस MLA ने कहा, पत्नी को नहीं आया BJP से फोन, फर्जी टेप जारी करने वाले को 'धिक्कार'

Monday, 21 May 2018 09:34

कर्नाटक में चल रही उठापटक की राजनीति के बीच येल्लापुर से कांग्रेस के MLA शिवराम हेब्बर ने यह कहकर सभी को चौंका दिया है कि उनकी पत्नी को बीजेपी से किसी की कॉल नहीं आई थी. कांग्रेस ने जो ऑडियो टेप जारी किया था, वह फर्जी है. शिवराम हेब्बर ने अपने फेसबुक पेज पर एक पोस्ट लिखकर यह दावा किया है और कांग्रेस के उन दावों को झुठला दिया है, जिसमें वह कह रही थी कि बीजेपी बहुमत परीक्षण से पहले उनके विधायकों से संपर्क करने का प्रयास कर रही थी.अपनी पोस्ट में शिवराम हेब्बर ने लिखा है कि, 'मुझे देरी से पता चला कि न्यूज चैनलों में मेरी पत्नी और बीजेपी के लोगों के बीच संदेहास्पद बातचीत की चर्चा है. यह मेरी पत्नी की आवाज नहीं है. मेरी पत्नी ने कोई फोन रिसीव नहीं किया था. जिसने भी यह टेप रिलीज किया है उसपर 'धिक्कार' है. ऑडियो टेप फर्जी है और मैं इसकी निंदा करता हूं'. शिवराम हेब्बर ने अपनी पोस्ट में आगे लिखा है कि, 'मैं अपने क्षेत्र के लोगों को धन्यवाद देता हूं कि उन्होंने मुझे दोबारा मौका दिया. मैं उनके लिए काम करता रहूंगा'. 

आपको बता दें कि कर्नाटक विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 104 सीटें मिली थीं. वहीं कांग्रेस के खाते में 78 और जेडीएस के खाते में 38 सीटें गई थीं. जबकि 2 सीटों पर निर्दलीय उम्मीदवार जीते थे.बहुमत के लिए जरूरी 112 सीटों तक कोई भी पार्टी नहीं पहुंच पाई थी. इसके बाद राज्यपाल ने बीजेपी के बीएस येदियुरप्पा को सरकार बनाने और बहुमत साबित करने को कहा था. इसके लिए 15 दिन का वक्त दिया था, लेकिन सुप्रीम कोर्ट इसे घटा दिया था.इस बीच बहुमत साबित करने के लिए जोड़तोड़ की खबरें आती रहीं. कांग्रेस और जेडीएस ने दावा किया कि बीजेपी उनके विधायकों को तोड़ने का प्रयास कर रही है. कांग्रेस ने दो ऑडियो टेप भी जारी किये. हालांकि बहुमत परीक्षण यानी फ्लोर टेस्ट से पहले ही येदियुरप्पा ने इस्तीफा दे दिया था. अब कांग्रेस और जेडीएस मिलकर कर्नाटक में सरकार बनाने की तैयारी में हैं. 

कठुआ केस: 25,000 लोगों के साथ सड़क पर BJP विधायक

Monday, 21 May 2018 09:32

जम्मू-कश्मीर के कठुआ में बकरवाल समुदाय की 8 साल की बच्ची के साथ हुए गैंगरेप और इसमें हुई 8 लोगों की गिरफ्तारी के मामले को बीजेपी विधायक और सूबे के पूर्व वन मंत्री चौधरी लाल सिंह ने ‘डोगरा सम्मान’ से जोड़ दिया है। बशोरी से विधायक लाल सिंह ने रविवार को 25 हजार लोगों के साथ मार्च निकाला। यह मार्च लखनपुर से लेकर कठुआ जिले के हीरानगर इलाके स्थित कूटा मोड़ के बीच 35 किमी के रास्ते में निकाला गया। मार्च के बाद बीजेपी नेता ने कहा, ‘यह तो महज ट्रेलर है। अगर वे अपने तौर-तरीके नहीं बदलेंगे तो हमारा अगला कदम पूरा का पूरा जम्मू बंद कराना होगा।’

विधायक ने कहा, ‘हम जल्द ही जम्मू के प्रभावशाली लोगों की एक बैठक बुलाएंगे।’ वर्तमान विधायकों का अप्रत्यक्ष तौर पर जिक्र करते हुए विधायक ने कहा, ‘अगर आपके विधानसभा क्षेत्र में आपको कोई समर्थन नहीं देता या आपके संघर्ष में साथ नहीं देता तो यह योजना बनानी होगी कि उनके साथ क्या किया जाए।’ कश्मीर के सत्ताधारी और विपक्ष के नेताओं पर निशाना साधते हुए लाल सिंह ने कहा, ‘जब भी चार कश्मीरी इकट्ठे हो जाते हैं तो वे हो-हल्ला मचाना शुरू कर देते हैं। वे पत्थर फेंकते हैं और श्रद्दालुओं को मार डालते हैं। अगर आप कश्मीर के नेता हैं तो क्या आप वहां हमारी तरह रैली निकाल सकते हैं? मैंने जम्मू में 290 रैलियां की हैं।’

कठुआ गैंगरेप और मर्डर केस में सीबीआई जांच की मांग को लेकर भीड़ इकट्ठा करने का जिक्र करते हुए बीजेपी नेता ने पूछा, ‘क्या आप ऐसा कश्मीर में कर सकते हो?’ सिंह ने हिंदू एकता मंच का नाम बदलकर डोगरा एकता मंच कर दिया। उन्होंने हीरानगर सबडिविजन के सभी गांवों से अपील की कि वे 50 ऐसे लोगों की सूची बनाएं जो कूटा मोड़ पर 24 घंटे के धरने में बारी-बारी से बैठ सकें। लाल सिंह ने कहा, ‘हमने तब प्रदर्शन नहीं किया जब उन्होंने सरकारी नौकरियों में हमारे खिलाफ भेदभाव किया। हमने दूसरे मुद्दों पर भी प्रदर्शन नहीं किया। लेकिन अगर कोई डोगराओं को बलात्कारी या अपराधी कहेगा तो हम बर्दाश्त नहीं करेंगे। हमारा एक इतिहास है। जम्मू के लोगों का एक इतिहास है। उनका इतिहास काली स्याही से लिखा हुआ है। वे श्रद्धालुओं की हत्या करते हैं और घड़ियाली आंसू बहाते हैं।’

 

जम्मू, सांबा में पाकिस्तान ने संघर्षविराम का उल्लंघन किया

Monday, 21 May 2018 09:32

जम्मू और सांबा जिलों में अंतर्राष्ट्रीय सीमा (आईबी) पर पाकिस्तानी रेंजर्स ने संघर्षविराम का उल्लंघन किया। सीमा सुरक्षाबलों (बीएसएफ) सूत्रों के मुताबिक, पाकिस्तानी सेना ने रविवार देर रात जम्मू एवं कश्मीर के अर्निया, रामगढ़ और चामलियाल में बीएसएफ चौकियों पर अकारण गोलीबारी की।

सूत्रों ने बताया, "गोलीबारी रात 10 बजे शुरू हुई। बीएसएफ ने भी मुस्तैदी से इसका जवाब दिया। हमारी ओर से किसी तरह की जान एवं माल की हानि नहीं हुई है।"

पाकिस्तानी रेंजर्स और बीएसएफ अधिकारियों ने रविवार को सीमा पर शांति बनाए रखने पर सहमति जताई थी।

--आईएएनएस

क्यूबा विमान हादसा : 20 शवों की शिनाख्त हुई

Monday, 21 May 2018 09:20

क्यूबा में पिछले शुक्रवार हुई विमान दुर्घटना में मारे गए 110 लोगों में से 20 के शवों की शिनाख्त हो गई है और उन्हें उनके परिजनों को भेज दिया गया है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, हवाना के लीगल मेडीसिन इंस्टीट्यूट के निदेशक सर्गियो रैबल ने रविवार को एक संवाददाता सम्मेलन में संवाददाताओं को बताया कि अवशेषों की शिनाख्त के लिए विशेषज्ञों का दल लगातार प्रयासरत है।

उन्होंने कहा, "हमने अब तक 20 शवों की शिनाख्त कर ली है और उनके परिजनों को सूचित कर दिया गया है।"

हवाना के जोस मार्ती अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से शुक्रवार को उड़ान भरने के कुछ ही पलों के बाद विमान बोइंग 737 दुर्घटनाग्रस्त हो गया था और उसमें आग लग गई थी। बचाव कर्मियों ने घटनास्थल से 109 शव बरामद किए थे।

रैबल ने कहा, "कल रात हमने सभी 109 शवों और उनके सामानों का पुनरीक्षण पूरा किया। इससे हमें उनकी पहचान जल्दी करने में सहायता मिलेगी।"

हवाना से पूर्वी शहर होल्गुइन जाने वाले विमान में कुल 113 यात्री सवार थे जिनमें पायलट दल के छह मैक्सिकी भी शामिल थे।

दुर्घटना में तीन यात्री बच गए, लेकिन अभी उनकी स्थिति नाजुक है।

प्रशासन ने बताया कि उन्हें दो में से एक ब्लैक बॉक्स मिला है। इसकी जांच करने पर दुर्घटना के कारणों का पता चल सकेगा।

दुर्घटना के बाद क्यूबा में शनिवार से दो दिवसीय राष्ट्रीय अवकाश घोषित किया गया था।

ट्रंप ने एफबीआई द्वारा कथित जासूसी की जांच की मांग की

Monday, 21 May 2018 08:46

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के दबाव के चलते न्याय विभाग ने महानिरीक्षक से आकलन करने को कहा है कि क्या राजनीतिक कारणों से ट्रंप के प्रचार अभियान की जासूसी तो नहीं कराई गई थी। वाशिंगटन पोस्ट के मुताबिक, अधिकारियों ने उम्मीद जताई कि यह कदम ट्रंप और संघीय कानून प्रवर्तनालय अधिकारियों के बीच टकराव को दूर कर सकता है।

ट्रंप ने ट्वीट कर कहा, "मैं इस बात की जांच की मांग करूंगा कि कहीं राजनीतिक कारणों से ट्रंप चुनाव प्रचार अभियान की जासूसी तो नहीं की गई थी। क्या इस कदम के पीछे ओबामा प्रशासन का आदेश तो नहीं था।"

ट्रंप के ट्वीट के कुछ घंटों बाद न्याय विभाग ने कहा कि उन्होंने महानिरीक्षक को ट्रंप के चुनाव अभियान के एक पूर्व सलाहकार की जांच करने को कहा है कि कहीं एफबीआई ने जासूसी तो नहीं की थी। 

न्याय विभाग ने कहा कि यदि इसमें किसी तरह के आपराधिक आचरण के साक्ष्य पाए गए तो यूएस अटॉर्नी से सलाह ली जाएगी।

उप अटॉर्नी जनरल रॉड जे.रोसेनस्टेन ने जारी बयान में कहा, "यदि ट्रंप के प्रचार अभियान में किसी तरह की घुसपैठ या जासूसी के साक्ष्य पाए गए तो हमें इसकी तह तक जाने और उचित कदम उठाने होंगे।"

--आईएएनएस

चीन के युआन में डॉलर के मुकाबले कमजोरी

Monday, 21 May 2018 08:46

चीन की मुद्रा युआन में डॉलर के मुकाबले गिरावट दर्ज की गई। चीनी विदेशी मुद्रा विनिमय व्यापार प्रणाली में डॉलर के मुकाबले युआन 89 आधार अंक की कमजोरी के साथ 6.3852 पर रहा।

माचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के मुताबिक, चीन के हाजिर विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में युआन को प्रत्येक कारोबारी दिन केंद्रीय समता मूल्य से अधिकतम दो फीसदी कमजोर होने या मजबूत होने दिया जा सकता है।

डॉलर के मुकाबले युआन का केंद्रीय समता मूल्य प्रत्येक कारोबारी दिन अंतरबैंक बाजार खुलने से पहले बाजार के विविध घटकों द्वारा पेश मूल्य के भारित औसत के बराबर होता है।

--आईएएनएस

अमेरिका ने चीनी उत्पादों से अस्थाई तौर पर शुल्क हटाया

Monday, 21 May 2018 08:44

 अमेरिकी वित्त मंत्री स्टीवन नुचिन का कहना है कि अमेरिका और चीन के बीच हुए समझौते के बाद चीनी उत्पादों से अस्थाई रूप से शुल्क हटा दिया गया है। यह कदम द्विपक्षीय व्यापार घाटा कम करने के लिए उठाया गया है।

नुचिन ने रविवार को 'फॉक्स न्यूज संडे' शो में साक्षात्कार के दौरान कहा, "हम व्यापार युद्ध को रोकना चाहते हैं। फिलहाल, हमारे बीच उत्पादों पर लगाए गए आयात शुल्क को रोकने पर सहमति बनी है।"

हाल के कुछ सप्ताह में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने 150 अरब डॉलर के चीनी उत्पादों पर शुल्क लगाने की धमकी दी थी। 

वाशिंगटन में दोनों देशों के बीच दो दिन तक चली वार्ता में अमेरिका और चीन ने शनिवार को एक समझौते का ऐला किया, जिसके तहत चीन ने अमेरिकी सामानों को खरीदने पर सहमति जताई।

--आईएएनएस

दुनिया का छठा सबसे अमीर देश है भारत

Monday, 21 May 2018 08:38

भारत 8,230 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ विश्व का छठा सबसे धनी देश है। अमेरिका इस मामले में शीर्ष पर है। एक रपट, ‘अफ्रएशिया बैंक वैश्विक संपत्ति पलायन समीक्षा’ के अनुसार इस सूची में अमेरिका 62,584 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ शीर्ष स्थान पर है। इसके बाद 24,803 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ चीन दूसरे और 19,522 अरब डॉलर के साथ जापान तीसरे स्थान पर है। बैंक की समीक्षा में किसी देश के हर व्यक्ति की कुल निजी संपत्ति को आधार माना गया है। शीर्ष 10 में शामिल अन्य देशों में ब्रिटेन की कुल संपत्ति 9,919 अरब डॉलर, जर्मनी की कुल संपत्ति 9,660 अरब डॉलर, ऑस्ट्रेलिया की कुल 6,142 अरब डॉलर, कनाडा की कुल संपत्ति 6,393 अरब डॉलर, फ्रांस की कुल संपत्ति 6,649 अरब डॉलर और इटली की कुल संपत्ति 4,276 अरब डॉलर है।

रिपोर्ट के अनुसार, भारत में संपत्ति सृजन के कारणों में उद्यमियों की काफी संख्या, अच्छी शिक्षा प्रणाली, सूचना प्रौद्योगिकी का शानदार परिदृश्य, कारोबारी प्रक्रिया की आउटसोर्सिंग, रियल एस्टेट, हेलथकेयर और मीडिया क्षेत्र शामिल है। पिछले 10 वर्ष में इन क्षेत्रों के बिजनेस में 200 प्रतिशत की बढ़ोतरी होगी। रिपोर्ट के मुताबिक इन क्षेत्रों में नौकरी की अच्छी संभावनाएं भी पैदा होगी। बैंक ने कहा कि आने वाले दशक में चीन की संपत्ति में उल्लेखनीय वृद्धि होने वाली है। वर्ष 2027 तक चीन की संपत्ति बढ़कर 69,449 अरब डॉलर और अमेरिका की संपत्ति बढ़कर 75,101 अरब डॉलर हो जाएगी।

रिपोर्ट के अनुसार विश्व में अभी 1.52 करोड़ ऐसे लोग हैं जिनकी संपत्ति 10 लाख डॉलर से अधिक है। एक करोड़ डॉलर से अधिक की संपत्ति वाले लोगों की संख्या 5.84 लाख और एक अरब डॉलर से अधिक की संपत्ति वाले लोगों की संख्या 2,252 है। इस रिपोर्ट में मजेदार आंकड़े सामने आए हैं। रिपोर्ट के मुताबिक दुनिया भर में निजी संपत्ति 215 खरब डॉलर है।  रिपोर्ट के अनुसार 2027 तक भारत, ब्रिटेन और जर्मनी को पछाड़ विश्व का चौथा सबसे धनी देश बन जाएगा। अगले दस सालों में ऑस्ट्रेलिया संपत्ति के मामले में कनाड़ा को पीछे छोड़ देगा, यहीं नहीं ऑस्ट्रेलिया की अपनी बढ़ती जायदाद के बल पर जर्मनी और ब्रिटेन पर भी दबाव पैदा कर देगा।

 

हिंदी सिनेमा ने हॉरर शैली को ज्यादा नहीं आजमाया : तापसी पन्नू

Monday, 21 May 2018 08:35

नई दिल्ली, (आईएएनएस)| दक्षिण फिल्म जगत की कुछ डरावनी फिल्मों में काम कर चुकी अभिनेत्री तापसी पन्नू का कहना है कि हिंदी सिनेमा ने वास्तव में हॉरर शैली को ज्यादा नहीं आजमाया है। तापसी ने फोन पर आईएएनएस को बताया, "मैंने दक्षिण में दो बेहद सफल हॉरर फिल्मों में काम किया है। मेरी दक्षिण फिल्म उद्योग में अंतिम फिल्म 'आनंदो ब्रह्मा' थी जो एक हॉरर फिल्म थी। यह काफी अच्छी रही और 'कंचना 2' ने भी वैसा ही काम किया। मुझे लगता है कि हॉरर एक शैली है, जिसे हिंदी सिनेमा ने अभी तक ज्यादा नहीं आजमाया है।"

उन्होंने कहा, "मेरे पास स्क्रिप्ट के साथ दो निर्देशक आए हैं.. जो शैली को जानना चाहते हैं ..बहुत से लोग हैं जिन्होंने अब तक एरोटिका से अलग हॉरर नहीं देखा है। यही कारण है, मुझे लगता है कि हमारे पास हॉरर जैसी चीजों के बारे में बताने के लिए विकल्प नहीं है, जो एरोटिका से एकदम अलग है।"

दक्षिण फिल्म उद्योग में सक्रिय रूप से काम करने के बाद, तापसी ने कहा कि हिंदी फिल्म उद्योग के विपरीत, हॉरर दक्षिण में सबसे ज्यादा आजमाई गई शैली रही है।

उन्होंने कहा, "दक्षिण में हॉरर सबसे सफल शैली भी है। अगर दक्षिण में मेरी खुद की हॉरर फिल्में हिंदी में बनाई जाती हैं, तो मुझे वास्तव में उन फिल्मों में काम करना अच्छा लगेगा।" 

--आईएएनएस

पुतिन से वार्ता से द्विपक्षीय संबंध और मजबूत होंगे : मोदी

Monday, 21 May 2018 08:29

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कहा कि रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ उनकी वार्ता से दोनों देशों के बीच संबंधों में और मजबूती आएगी। प्रधानमंत्री सोमवार को पुतिन क साथ अनौपचारिक शिखर सम्मेलन के लिए रूस के सोची शहर जाएंगे। 

रूस के दौरे पर जाने से पहले मोदी ने कहा, "रूस के मित्रतापूर्ण लोगों का अभिनंदन। मैं कल (सोमवार) सोची के दौरे पर जाने और राष्ट्रपति पुतिन से अपनी मुलाकात का इंतजार कर रहा हूं। उनसे मिलना हमेशा सुखद होता है।"

मोदी ने कहा, "मेरा विश्वास है कि राष्ट्रपति पुतिन के साथ वार्ता से भारत और रूस के बीच विशिष्ट रणनीतिक साझेदारी में मजबूती आएगी।"

प्रधानमंत्री के दौरे से पहले राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल और विदेश सचिव विजय गोखले इसी महीने रूस गए थे। उन्होंने वहां रूसी कंपनियों पर अमेरिकी प्रतिबंध से बाहर निकलने के रास्ते पर विचार-विमर्श किया था। 

हथियारों का व्यापार करने वाली रूस की सरकारी कंपनी रोसेबोरोनेक्सपोर्ट समेत रूसी कुलीन तबके के कुछ लोगों और कंपनियों पर प्रतिबंध से मास्को से सैन्य साजो-सामान की खरीद पर संभावित प्रभाव को लेकर भारत की चिंता बढ़ गई है। 

विदेश मंत्रालय ने एक विज्ञप्ति में कहा कि मोदी का रूस दौरा एक अहम मौका होगा क्योंकि वह पुतिन से अंतर्राष्ट्रीय मसलों पर अपने विचारों का आदान-प्रदान करेंगे। साथ ही, विशेषाधिकृत रणनीतिक साझेदारी को मजबूती प्रदान करने के दीर्घकालीन परिप्रेक्ष्य में बातचीत करेंगे। 

मंत्रालय ने कहा कि भारत और रूस के बीच उच्चस्तर पर नियमित मंत्रणा की परंपरा के अनुरूप यह शिखर सम्मेलन होने जा रहा है। 

पुतिन भी इस साल वार्षिक द्विपक्षीय शिखर सम्मेलन के लिए भारत आने वाले हैं।

रूस और जापान दो ही ऐसे देश हैं जिनके साथ भारत वार्षिक द्विपक्षीय शिखर सम्मेलन आयोजित करता है।

पुतिन के इस साल मार्च में चौथी बार पद संभालने के बाद मोदी रूस की यात्रा पर जा रहे हैं। पुतिन करीब दो दशक से सत्ता में हैं।

--आईएएनएस

अरुणाचल सीमा के नजदीक चीन ने बड़े पैमाने पर शुरू की खुदाई

Monday, 21 May 2018 08:25

चीन ने एक बार फिर अरुणाचल प्रदेश पर नियंत्रण बढ़ाने की कोशिशें तेज कर दी हैं। यह तब है जब हाल के बीते दिनों में ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मुलाकात की है। चीन ने अपने मंसूबों को अंजाम देने के लिए अरुणाचल प्रदेश की सीमा के करीब बड़े पैमाने पर खनन कार्य शुरू किया है। मीडिया रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि चीन अपने क्षेत्र में खनन कार्य कर रहा है। रिपोर्ट्स के मुताबिक जिस जगह खनन कार्य चल रहा है, वहां सोना, चांदी और अन्य बहुमूल्य खनिजों का करीब 60 अरब डॉलर का भंडार पाया गया है। हांगकांग आधारित साउथ चाइना मार्निंग पोस्ट की खबर के मुताबिक खनन परियोजना भारत की सीमा से लगे चीनी क्षेत्र में पड़ने वाले लहुंजे काउंटी में चलाई जा रही है। गौरतलब है कि चीन अरूणाचल प्रदेश को दक्षिण तिब्बत का हिस्सा होने का दावा करता है। इसमें कहा गया है कि बुनियादी ढांचे में तीव्र विकास के साथ क्षेत्र के प्राकृतिक संसाधनों पर दावा करने का चीन का कदम इसे ‘एक और दक्षिण चीन सागर’ विवाद के रूप में तब्दील कर सकता है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि अरूणाचल प्रदेश को अपने नियंत्रण में करने के चीन के कदम के तहत खनन कार्य किया जा रहा। खबर के मुताबिक परियोजना से वाकिफ लोगों ने कहा है कि खनन कार्य दक्षिण तिब्बत पर फिर से दावा पेश करने की बीजिंग की महत्वाकांक्षी योजना का हिस्सा है। अखबार ने स्थानीय अधिकारियों, चीनी भूगर्भशास्त्रियों और रणनीतिक विशेषज्ञों से मिली जानकारी के आधार पर यह दावा किया है

बता दें कि एक महीने पहले ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच प्रथम अनौपचारिक बैठक हुई थी। इस बैठक का उद्देश्य पिछले साल के डोकलाम सैन्य गतिरोध जैसी घटनाओं को टालना था। गौरतलब है कि डोकलाम गतिरोध ने द्विपक्षीय संबंधों को तनावपूर्ण कर दिया था। बीजिंग स्थित चीन भूविज्ञान विश्वविद्यालय के प्राध्यापक झेंग युये के मुताबिक नये पाए गए अयस्क हिमालय क्षेत्र में चीन और भारत के बीच संतुलन को बिगाड़ सकते हैं।

--आईएएनएस

दवाओं की गड़बड़ी के लिए विक्रेता कंपनियों की जिम्मेदारी तय होगी

Monday, 21 May 2018 08:22

दवाओं की हर तरह की गड़बड़ी के लिए जल्द ही दवा विक्रेता कंपनियों की भी जवाबदेही तय की जाएगी। ड्रग एंड कॉस्मेटिक एडवाइजरी बोर्ड ने दवा निर्माताओं की तरह ही दवा की मार्केटिंग व ब्रांडिंग करने वाली कंपनियों को भी ड्रग एंड कॉस्मेटिक एक्ट 1940 के दायरे में लाने के ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। इसके साथ ही इस कानून में संशोधन का काम शुरू हो गया है। इसके लिए इस आशय का मसविदा तैयार कर लोगों की राय लेकर कानून में बदलाव किया जाएगा।

दवा संबंधी किसी गड़बड़ी के लिए अभी तक किसी भी दवा विक्रेता कंपनी को जिम्मेदार नहीं माना गया और न ही कोई कार्रवाई की गई क्योंकि कानून में ऐसा कोई प्रावधान नहीं था। लिहाजा दवा विक्रेता कंपनियां किसी भी गड़बड़ी का ठीकरा दवा निर्माता कंपनियों के सिर मढ़ कर साफ बच निकलती थीं। लेकिन अब केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अधीन दवाओं के क्षेत्र में काम करने वाली देश की सर्वोच्च संस्था ड्रग एंड कॉस्मेटिक एडवाइजरी बोर्ड इस दिशा में काम कर रही है। अब दवा की गुणवत्ता में खराबी होने, इसका नकारात्मक असर होने या फिर बिना मंजूरी दवा निर्माण के मामले में दवा निर्माता के साथ ही इसे बेचने वाली कंपनी को भी कानून के दायरे में लाया जाएगा।

इस कानून के जरिए दवा और कॉस्मेटिक उत्पादों की मार्केटिंग करने वाली कंपनियों पर भी शिकंजा कसा जाएगा, जिसके बाद दवा से लेकर क्रीम, पाउडर, हेयर डाई सहित तमाम सौंदर्य प्रसाधनों की गुणवत्ता खराब होने पर मार्केटिंग कंपनियों को भी दोषी माना जाएगा। स्वास्थ्य क्षेत्र में काम कर रहे नागरिक संगठनों की अपील पर ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने बोर्ड के सामने यह प्रस्ताव रखा था।

उम्रकैद की सजा तक का प्रावधान

बोर्ड की मंजूरी के बाद इस कानून का विस्तृत खाका तैयार किया जाएगा, जिसे जनता की राय के लिए सार्वजनिक किया जाएगा। जनता की राय के आधार पर मसविदे को दुरुस्त कर केंद्रीय मंत्रिमंडल के पास मंजूरी के लिए भेजा जाएगा। इसके बाद इस बारे में अधिसूचना जारी कर ड्रग एंड कॉस्मेटिक एक्ट 1940 में बदलाव कर दिया जाएगा। इसके तहत दवा विक्रेता कंपनियों को भी शामिल किया जाएगा। कानून का उल्लंघन करने पर छह महीने की जेल व अधिकतम उम्रकैद की सजा का प्रावधान है। जुर्माना भी लगाया जा सकता है।

--आईएएनएस

पाकिस्तान के लाहौर में लगेगा कृषि उत्पादों का मेला

Monday, 21 May 2018 08:21

इस्लामाबाद (आईएएनएस)| पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के कृषि विभाग लाहौर में कृषि उत्पादों के दो दिवसीय मेले का आयोजन करेगा। लाहौर में कृषि मेला-2018 का आयोजन 23 जून से होगा। विभाग के प्रवक्ता नजफ अब्बास ने रविवार को पाकिस्तान रेडियो को बताया कि कृषि मेला 2018 से किसानों, उत्पादकों, प्रसंस्करण कारोबार से जुड़े लोगों और निर्यातकों को राष्ट्री और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर नए व्यापारिक संबंध बनाने का मौका मिलेगा।

उन्होंने कहा कि मेले में अंतर्राष्ट्रीय हितधारकों को भी अपने कृषि उत्पादों को पाकिस्तान में प्रदर्शित करने का मौका मिलेगा। 

--आईएएनएस

कैफी आजमी अकादमी लखनऊ के लिए 15 लाख रुपये मंजूर

Monday, 21 May 2018 08:21

 उत्तर प्रदेश सरकार ने कैफी आजमी अकादमी लखनऊ के लिए निर्धारित धनराशि 30 लाख रुपये के सापेक्ष प्रथम किश्त के रूप में 15 लाख रुपये की वित्तीय स्वीकृति प्रदान कर दी है। इस संबंध में संस्कृति विभाग द्वारा शासनादेश जारी कर दिया गया है। 

शासनादेश के अनुसार निदेशक संस्कृति को स्वीकृत धनराशि का उपयोग नियमानुसार करने के निर्देश दिए गए हैं।

--आईएएनएस

भाजपा सरकार में आत्महत्या करने को मजबूर हो रहे हैं किसान : अखिलेश

Monday, 21 May 2018 08:19

 समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने रविवार को महोबा के करहरा कलां गांव में आत्महत्या करने वाले दलित किसान ठाकुर दास अहिरवाल पुत्र टुंडा और राजबहादुर श्रीवास पुत्र गजराज सिंह के परिजनों से मुलाकात की। 

अखिलेश ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि किसानों की उपज के मूल्य का समय से भुगतान न होने, पेंशन न मिलने और बढ़ते कर्ज के दबाव की वजह से भाजपा सरकार में किसान आत्महत्या करने को मजबूर हो रहे हैं। भाजपा शासन में किसानों के सामने जीवन यापन का संकट खड़़ा हो गया है। बीते एक साल में अन्नदाता की हालत बदहाल हो गई है। 

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार ने कर्जमाफी के नाम पर किसानों के साथ धोखा किया है। महोबा जिले में 37 किसान आत्महत्या कर चुके हैं। इन मौतों के लिए भारतीय जनता पार्टी की सरकार जिम्मेदार है। 

अखिलेश ने मृतक के परिजनों को तत्काल 12-12 लाख रुपये की मदद, आवास, सरकारी सुविधा सहित परिजनों के लिए पेंशन बहाली करने की प्रदेश सरकार से मांग की है। 

सपा प्रवक्ता के मुताबिक, अखिलेश ने समाजवादी पार्टी की ओर से मृतक के परिजनों को एक-एक लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है। इसके अतिरिक्त अखिलेश ने पार्टी कार्यकर्ताओं के सहयोग से 25-25 हजार रुपये की तत्काल मदद दी। 

--आईएएनएस

कर्नाटक में भाजपा को कांग्रेस की गलती से मिलीं 104 सीटें : मायावती

Monday, 21 May 2018 08:17

 बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने कर्नाटक विधानसभा चुनाव में भाजपा को 104 सीटें मिलने के लिए कांग्रेस की नीतियों को जिम्मेदार बताया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने अपने चुनावी भाषणों में जेडी-एस को यदि भाजपा की 'बी टीम' न बताया होता तो नतीजा कुछ और होता। 

मायावती ने कहा कि इस चुनाव में भाजपा के विधायकों की संख्या 104 भी नहीं होती, बल्कि इससे काफी नीचे चली जाती। कांग्रेस पार्टी ने थोड़ी सी भूल कर दी, जिसका फायदा भाजपा को मिल गया।

बसपा प्रमुख ने आईपीएन को भेजे अपने बयान में कहा, "कांग्रेस पार्टी को मैं सलाह देना चाहती हूं कि इनको आगे भविष्य में किसी भी चुनाव में अपनी चुनावी जनसभाओं में ऐसी भाषा का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए, जिससे उल्टे भाजपा व आरएसएस को ही फायदा पहुंच जाए।"

मायावती ने कहा कि कर्नाटक चुनाव में कांग्रेस ने अपने भाषणों में खासकर मुस्लिम बहुल क्षेत्रों में जेडी-एस को भाजपा की बी टीम बताकर इनके वोटों को और बांट दिया। यही कारण है कि ऐसे क्षेत्रों में भी अधिकांश भाजपा के उम्मीदवार कामयाब हो गए। 

--आईएएनएस 

 

आईपीएल-11: चेन्नई ने पंजाब को पांच विकेट से हराया

Monday, 21 May 2018 08:15

सुरेश रैना (नाबाद 61) के शानदार अर्धशतक से चेन्नई सुपर किंग्स ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें संस्करण के 56वें मैच में रविवार को किंग्स इलेवन पंजाब को पांच विकेट से हराकर उसे प्लेऑफ से बाहर कर दिया। यहां महाराष्ट्र क्रिकेट संघ स्टेडियम में चेन्नई ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करते हुए पंजाब को 19.4 ओवर में 153 रन पर समेट दिया और फिर 19.1 ओवर में पांच विकेट के नुकसान पर लक्ष्य हासिल कर लिया। 

चेन्नई के लिए रैना ने 48 गेंदों पर चार चौके और दो छक्के लगाए। दीपक चहर ने 20 गेंदों पर 39 रन में एक चौके और तीन छक्के लगाए। 

पंजाब की ओर से अंकित राजपूत और कप्तान रविचंद्रन अश्विन ने दो-दो जबकि 

मोहित शर्मा ने एक विकेट लिया। 

--आईएएनएस

कर्नाटक: शपथग्रहण से पहले आज दिल्ली में सोनिया-राहुल से मुलाकात करेंगे कुमारस्वामी

Monday, 21 May 2018 08:11

कर्नाटक के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने से पहले जेडीएस नेता एच डी कुमारस्वामी सरकार गठन से जुड़े मुद्दों पर चर्चा के लिए आज कांग्रेस नेताओं सोनिया गांधी और राहुल गांधी से दिल्ली में मुलाकात करेंगे. कुमारस्वामी ने रविवार को साफ किया कि मंत्रिपद आवंटन को लेकर अभी तक कोई चर्चा नहीं हुई है.
30-30 महीने सत्ता साझा करने की खबर फर्जी- कुमारस्वामी
कुमारस्वामी ने दोनों पार्टियों के बीच 30-30 महीने सत्ता साझा करने के फार्मूले की खबरों को फर्जी करार दिया है. उन्होंने बेंगलुरु में रविवार को कहा, ‘मैं सोमवार को दिल्ली जा रहा हूं. मैं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और पार्टी की वरिष्ठ नेता सोनिया गांधी से मुलाकात करूंगा. उन्होंने कहा कि उनके साथ चर्चा के निष्कर्ष के आधार पर इस पर निर्णय किया जाएगा कि कांग्रेस और जेडीएस विधायकों में से कितने मंत्री बनेंगे.
जरूरी बहुमत नहीं जुटा पाई बीजेपी
बी एस येदियुरप्पा ने शनिवार को विधानसभा में शक्तिपरीक्षण का सामना किये बिना ही मुख्यमंत्री पद से इस्तीफ दे दिया था, क्योंकि बीजेपी जरूरी बहुमत नहीं जुटा पायी. इसके बाद कुमारस्वामी ने राज्यपाल वजुभाई वाला से मुलाकात के बाद कहा कि उन्हें सरकार बनाने के लिए न्यौता मिला है. 12 मई को विधानसभा चुनाव के बाद 15 मई को आये नतीजे में बीजेपी 104 सीटों के साथ सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरी लेकिन यह संख्या बहुमत से कम थी.
अब 23 मई को होगा कुमारस्वामी का शपथग्रहण
कुमारस्वामी ने शनिवार को राज्यपाल से मुलाकात के बाद कहा था कि शपथग्रहण 21 मई को लगभग दोपहर 12 बजे से एक बजकर 50 मिनट के बीच कांतिवीरा स्टेडियम में होगा. उन्होंने हालांकि बाद में घोषणा की कि चूंकि 21 मई को पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पुण्यतिथि है कार्यक्रम 23 मई को होगा. कुमारस्वामी ने इस बात पर भी जोर दिया कि शपथग्रहण के 24 घंटे के भीतर वह सदन के भीतर बहुमत साबित कर देंगे. शपथग्रहण का स्थल भी अब बदलने की संभावना है, क्योंकि पार्टी सूत्रों ने अब कहा है कि यह अब विधान सौध में हो सकता है.

'सिविल सेवा आवंटन नियमों में बदलाव पर नहीं हुआ है अंतिम फैसला'

Sunday, 20 May 2018 22:00

अखिल भारतीय सिविल सेवा परीक्षा पास करने वालों को सेवा व राज्य कैडर आवंटित करने के मौजूदा नियमों में बदलाव पर सरकार ने अभी अंतिम फैसला नहीं लिया है। यह जानकारी रविवार को विश्वस्त सूत्रों से मिली। कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग के सूत्रों से यह जानकारी मिली है। एक वेबसाइट द प्रिंट की रिपोर्ट आई है जिसमें कहा गया है कि सरकार अखिल भारतीय सिविल सेवा परीक्षा पास करने वालों को सेवा व राज्य कैडर आवंटित करने के मौजूदा नियमों में अहम बदलाव करने पर विचार कर रही है। कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग के सूत्रों ने इसी का खंडन किया। 

सूत्रों ने बताया कि प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने प्रशिक्षुओं को उनके तीन महीने के बुनियादी कोर्स पूरे करने पर कैडर और सेवा का आवंटन करने के प्रस्ताव पर कैडर का नियंत्रण करने वाले मंत्रालयों से राय मांगी है। 

विभाग के सूत्रों ने स्पष्ट किया कि इसपर अभी अंतिम निर्णय नहीं लिया गया है और सुझाव पर विचार किया जा रहा है।

--आईएएनएस

POPULAR ON IBN7.IN