उप्र में महिला उत्पीड़न के खिलाफ भाजपा का जुलूस आज

Monday, 18 March 2013 14:14

लखनऊ ,16 मार्च (आईएएनएस)| उत्तर प्रदेश में महिलाओं के बढ़ते उत्पीड़न को देखते हुए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की महिला मोर्चा शनिवार को दीपक जुलूस निकालकर अपना विरोध दर्ज कराएगी। भाजपा प्रदेश महिला मोर्चा की ओर से शाम पांच बजे सुषमा स्वराज के नेतृत्व में जुलूस निकाला जाएगा, जिसमें हजारों महिलाएं शामिल होंगी।

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकांत वजापेयी ने कहा कि महिलाओं का यह जुलूस समाजवादी पार्टी के शासनकाल में महिलाओं के साथ हो रहे उत्पीड़न का पुरजोर विरोध करने के लिए निकाला जा रहा है। यह जुलूस पार्टी कार्यालय से शुरू होगा और हजरतगंज चौराहा, परिवर्तन चौक होते हुए झूलेलाल पार्क पहुंचेगा। भाजपा की वरिष्ठ नेता सुषमा स्वराज झूलेलाल पार्क में एक विशाल जनसभा को सम्बोधित करेंगी।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

पटना में सड़क दुर्घटना में 4 की मौत

Monday, 18 March 2013 14:13

पटना, 16 मार्च (आईएएनएस)| बिहार के पटना जिले के पालीगंज थाना क्षेत्र में शुक्रवार देर रात एक बोलेरो की मोटरसाइकिल से भिड़त के बाद बोलेरो के पलट जाने की घटना में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के एक नेता सहित चार लोगों की मौत हो गई, जबकि तीन अन्य घायल हो गए। पुलिस ने शनिवार को बताया कि पटना-औरंगाबाद मार्ग पर कुरकुरी पुल के समीप महाबलीपुर की ओर से आने वाली एक बोलेरो सामने से आ रही एक बाइक से टकरा गई, जिससे बोलेरो के चालक ने वाहन पर नियंत्रण खो दिया और दो लोगों को कुचलते हुए बोलेरो पलट गई।

हादसे में भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं पालीगंज के पूर्व मंडल अध्यक्ष उदय सिंह और बोलेरो चालक सहित चार लोगों की मौत हो गई, जबकि तीन अन्य लोग घायल हो गए। घायलों को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां से तीनों को पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल भेज दिया गया।

घटना से आक्रोशित लोगों ने कई घंटे तक पटना-औरंगाबाद मार्ग जाम कर दिया। पुलिस अधिकारियों द्वारा काफी देर तक समझाने के बाद आक्रोशित लोग सड़क से हटे जिसके बाद आवागमन शुरू हो सका।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

टाइम्स इंटरनेशनल के पहले गैर-अमेरिकी सम्पादक बने बॉबी घोष

Monday, 18 March 2013 14:11

वाशिंगटन, 16 मार्च (आईएएनएस)| प्रसिद्ध पत्रकार बॉबी घोष को टाइम्स इंटरनेशनल का सम्पादक नियुक्त किया गया है। घोष भारतीय नागरिक हैं।

टाइम इंक के प्रधान सम्पादक मार्था नेलसन और टाइम के प्रबंध सम्पादक रिक स्टेंजल ने अपने कर्मचारियों के लिए शुक्रवार को की गई घोषणा में कहा, "बॉबी एक तेजस्वी पत्रकार हैं, जिन्होंने इतने उच्चस्तर का काम किया है, जिसे कोई व्यक्ति हमारे पेशे करने की इच्छा रख सकता है।"

घोष, फिलहाल टाइम्स के डिप्टी इंटरनेशनल एडिटर हैं, जो अब जिम फ्रेडरिक का स्थान लेंगे।

कम्पनी द्वारा जारी विज्ञप्ति के मुताबिक, उनकी रुचि की विशालता और दक्षता की गहराई उनके हालिया अंतर्राष्ट्रीय खबरों में दिखी है चाहे वो फुटबॉल खिलाड़ी लियो मेसी पर बनाई खबर हो या बॉलीवुड नायक आमिर खान या फिर मिस्र के राष्ट्रपति मोहम्मद मुर्सी के व्यक्तित्व को प्रदर्शित करना हो।

टाइम्स के लगभग 80 साल के इतिहास में पहली बार कोई गैर-अमेरिकी वर्ल्ड एडिटर के पद पर नियुक्त हो रहा है। घोष ने अपने करियर की शुरुआत विशाखापटनम में डेक्कन क्रॉनिकल से की थी। इसके बाद वह कोलकाता स्थित बिजनेस स्टैंडर्ड और मुम्बई एवं दिल्ली में बिजनेस वर्ल्ड के साथ काम कर चुके हैं।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

 

भारत के लिए निर्मित युद्धपोत का रूस में समुद्री परीक्षण

Monday, 18 March 2013 14:10

मास्को, 16 मार्च (आईएएनएस)| रूस द्वारा भारत के लिए निर्मित किए जा रहे तीन युद्धपोतों की श्रृंखला के अंतिम पोत, त्रिकंद का कम्पनी द्वारा किया जाने वाला समुद्री परीक्षण पूरा हो गया है और अब इसके सरकारी समुद्री परीक्षण की तैयारी शुरू हो गई है।

समाचार एजेंसी आरआईए नोवोस्ती के अनुसार, यह युद्धपोत कालिनिनग्राद एक्सक्लेव स्थित यंतार गोदी में निर्मित किया जा रहा है। यह जानकारी गोदी के एक प्रवक्ता सर्जेई मिखलोव ने दी है।

मिखलोव ने कहा कि त्रिकंद युद्धपोत का बाल्टिक सागर में परीक्षण पांच फरवरी को शुरू हुआ था और यह 14 मार्च को पूरा हो गया।

मिखलोव ने कहा, "इस अवधि के दौरान पोत ने बाल्टिक सागर में पांच यात्राएं की। हर यात्रा में कई दिन लगे।"

त्रिकंद फिलहाल बाल्टिस्क बंदरगाह पर है, और इसके राजकीय समुद्रीय परीक्षण की तैयारी चल रही है। इसे 2013 की गर्मियों में भारतीय नौसेना में शामिल होना है।

रूस और भारत ने तीन संशोधित क्रिविक-3 श्रेणी (तलवार श्रेणी) के मिसाइल युक्त पोत के निर्माण के लिए 2006 में 1.6 अरब डॉलर के ूएक करार पर हस्ताक्षर किए थे।

पहला युद्धपोत, आईएनएस तेग 27 अप्रैल, 2012 को भारतीय नौसेना में शामिल हो गया था और दूसरा तरकश युद्धपोत 30 दिसम्बर, 2012 को मुम्बई पहुंचा था।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

सेंसेक्स, निफ्टी में एक फीसदी से अधिक गिरावट (साप्ताहिक समीक्षा)

Monday, 18 March 2013 14:09

मुम्बई, 16 मार्च (आईएएनएस)| देश के शेयर बाजारों में गत सप्ताह गिरावट देखने को मिली। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स और निफ्टी में एक फीसदी से अधिक गिरावट रही। बम्बई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स गत सप्ताह 1.30 फीसदी या 255.67 अंकों की गिरावट के साथ 19,427.56 पर बंद हुआ और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी इसी अवधि में 1.23 फीसदी गिरावट के साथ 73.1 फीसदी गिरावट के साथ 5,872.60 पर बंद हुआ।

गत सप्ताह सेंसेक्स के 30 में से नौ शेयरों में तेजी रही। हिंदुस्तान यूनिलीवर (4.52 फीसदी), टाटा पॉवर (3.14 फीसदी), महिंद्रा एंड महिंद्रा (2.80 फीसदी), एसबीआई (2.61 फीसदी) और सन फार्मा (1.78 फीसदी) में सर्वाधिक तेजी रही। गिरावट वाले शेयरों में प्रमुख रहे बजाज ऑटो (7.95 फीसदी), आईसीआईसीआई बैंक (6.28 फीसदी), हिंडाल्को इंडस्ट्रीज (5.39 फीसदी), गेल (5.12 फीसदी) और भेल (4.46 फीसदी)।

गत सप्ताह बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांकों में भी गिरावट रही। मिडकैप 1.56 फीसदी या 101.02 अंकों की गिरावट के साथ 6,386.13 पर और स्मॉलकैप 2.44 फीसदी या 154.25 अंकों की गिरावट के साथ 6,179.53 पर बंद हुआ।

गत सप्ताह बीएसई के 13 में से दो सेक्टरों- तेज खपत वाली उपभोक्ता वस्तु (1.48 फीसदी) और स्वास्थ्य सेवा (0.01 फीसदी) में तेजी रही। गिरावट वाले सेक्टरों में प्रमुख रहे उपभोक्ता टिकाऊ वस्तु (3.91 फीसदी), बैंकिंग (2.96 फीसदी), वाहन (2.30 फीसदी), धातु (2.08 फीसदी) और प्रौद्योगिकी (1.73 फीसदी)।

गत सप्ताह के प्रमुख घटनाक्रमों में मंगलवार को केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) द्वारा जारी आंकड़े के मुताबिक देश के औद्योगिक उत्पादन में जनवरी 2013 में 2.4 फीसदी वृद्धि दर्ज की गई। दिसम्बर 2012 में उत्पादन में 0.6 फीसदी गिरावट रही थी।

बिजली उत्पादन आलोच्य अवधि में 6.4 फीसदी बढ़ा और विनिर्माण क्षेत्र में उत्पादन 2.7 फीसदी बढ़ा, जबकि खनन उत्पादन 2.9 फीसदी कम रहा।

औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (आईआईपी) के मुताबिक अप्रैल 2012 से जनवरी 2013 तक की अवधि में औद्योगिक उत्पादन में कुल एक फीसदी तेजी रही।

मौजूदा कारोबारी साल के पहले 10 महीने में बिजली क्षेत्र में 4.7 फीसदी और विनिर्माण क्षेत्र में 0.9 फीसदी तेजी रही, जबकि खनन क्षेत्र में 1.9 फीसदी गिरावट रही।

आंकड़े के मुताबिक बुनियादी वस्तु क्षेत्र में 3.4 फीसदी, इंटरमीडिएट वस्तु क्षेत्र में दो फीसदी और उपभोक्ता गैर-टिकाऊ वस्तु क्षेत्र में 5.3 फीसदी तेजी रही है।

पूंजीगत वस्तु क्षेत्र में हालांकि 1.8 फीसदी और उपभोक्ता टिकाऊ वस्तु क्षेत्र में 0.9 फीसदी गिरावट रही है।

मंगलवार को ही केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक देश की उपभोक्ता महंगाई दर फरवरी में बढ़कर 10.91 फीसदी हो गई, जो जनवरी में 10.79 फीसदी थी। सब्जियों, खाद्य तेल और प्रोटीन आधारित भोज्य पदार्थो की कीमतें बढ़ने से यह वृद्धि हुई।

ताजा उपभोक्ता मूल्य सूचकांक पर आधारित उपभोक्ता महंगाई दर में यह लगातार पांचवें महीने की वृद्धि है।

नवम्बर में यह 9.90 फीसदी थी, जो दिसम्बर में 10.56 फीसदी हो गई थी।

आंकड़े के मुताबिक ग्रामीण क्षेत्रों में उपभोक्ता महंगाई दर फरवरी में बढ़कर 11.01 फीसदी रही, जो जनवरी में 10.79 फीसदी थी। शहरी क्षेत्रों में ताजा उपभोक्ता महंगाई दर बढ़कर 10.84 फीसदी रही, जो एक महीने पहले 10.73 फीसदी थी।

आलोच्य अवधि में सब्जियां 21.29 फीसदी, अनाज 17.04 फीसदी और तेल एवं वसा 14.56 फीसदी महंगे हुए।

अंडे, मछली और मांस की कीमत 15.72 फीसदी बढ़ी और दलहन की कीमत 12.39 फीसदी बढ़ी।

वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय द्वारा गुरुवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक देश की थोक मूल्य सूचकांक पर आधारित महंगाई दर फरवरी में बढ़कर 6.84 फीसदी दर्ज की गई, जो जनवरी में 6.62 फीसदी थी। ईंधन, खाद्य और सब्जियों की कीमतें बढ़ने का महंगाई दर में वृद्धि में सर्वाधिक योगदान रहा।

आलोच्य महीने में साल दर साल आधार पर प्याज की कीमत 154.33 फीसदी, आलू की कीमत लगभग दो गुना और मोटे तौर पर सभी सब्जियों की कीमत 12.11 फीसदी बढ़ी। अनाजों और ईंधन मूल्य में भी काफी वृद्धि हुई।

पिछले साल फरवरी में थोक मूल्य सूचकांक पर आधारित यह दर 7.56 फीसदी थी। दिसम्बर के लिए इस दर को 7.18 फीसदी से संशोधित कर 7.31 फीसदी कर दिया गया है।

मौजूदा कारोबारी साल में अब तक की औसत महंगाई दर 5.71 फीसदी दर्ज की गई, जो पिछले कारोबारी साल की समान अवधि में 6.56 फीसदी थी। अनाज 19.19 फीसदी महंगा हुआ। चावल 18.84 फीसदी, गेहूं 21.63 फीसदी और दाल 14.96 फीसदी महंगे हुए। ईंधन और बिजली 10.47 फीसदी महंगे हुए। रसोई गैस 26.21 फीसदी और डीजल 19.19 फीसदी महंगा हुआ।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

लेबनानी आतंकी ठिकानों पर हमले की सीरिया की चेतावनी

Monday, 18 March 2013 14:08

बेरूत, 16 मार्च (आईएएनएस)| सीरिया के विदेश मंत्रालय ने लेबनान को चेतावनी दी है कि यदि बेरूत सीमा पर घुसपैठ रोकने और सुरक्षा बढ़ाने में नाकाम रहता है तो सीरिया, लेबनानी धरती पर स्थित आतंकी ठिकानों पर हमला करेगा। समाचार एजेंसी आरआईए नोवोस्ती के अनुसार, सीरियाई विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा है, "सीरियाई सेना संयम से काम ले रही है और सीरिया में घुसपैठ रोकने के लिए अब तक लेबनानी क्षेत्रों पर हमला नहीं किया गया है। लेकिन यह संयम हमेशा नहीं बरता जा सकेगा।"

सीरिया का कहना है कि लेबनान से आतंकवादी गुट ने कई बार सीरिया में घुसपैठ किया है, और सीमावर्ती इलाकों में सीरियाई सेना को उनसे निपटना पड़ा है।

दूसरी तरफ सीरिया की सरकारी समाचार एजेंसी साना ने महीने के प्रारम्भ में दावा किया था कि अमेरिकी सेना ने लेबनान और जार्डन की सीमा से सीरिया में घुसपैठ के उद्देश्य से हमले किए और अमेरिकी सेना सीरियाई विद्रोहियों की मदद के लिए आतंकवादी हमलों की तैयारी कर रही है।

लेकिन अमेरिका ने सीरिया के विद्रोही गुटों को किसी तरह की सैन्य मदद उपलब्ध कराने से इंकार किया है।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

 

भारत को रूस से 10 विमान इंजनों की आपूर्ति मार्च अंत तक

Monday, 18 March 2013 14:08

मास्को, 16 मार्च (आईएएनएस)| रूस की उफा स्थित इंजन निर्माता कम्पनी एसयू-30एमकेआई फ्लैकर-एच लड़ाकू विमानों के लिए मार्च अंत तक भारत को 920 एएल-31एफपी इंजनों में से 10 इंजनों की आपूर्ति कर देगी।

समाचार एजेंसी आरआईए नोवोस्ती के अनुसार, भारत के साथ यह करार अक्टूबर 2012 में हुआ था, और इन इंजनों की आपूर्ति 2022 तक पूरी होनी है। सोवियत युग के बाद के इतिहास में किसी विदेशी ग्राहक के साथ हुआ यह एक सबसे बड़ा करार है।

140 एसयू-30एमकेआई लड़ाकू विमानों व एएल-31एफपी इंजनों के अधिकृत विनिर्माण के लिए 2000 के एक सामान्य करार के तहत भारत के पास अतिरिक्त विमान इंजनों को खरीदने का एक विकल्प भी है।

2007 में भारतीय वायु सेना ने 40 अतिरिक्त एमकेआई के आर्डर दिए थे। जनवरी 2013 में वायु सेना के पास 157 एसयू-30एमकेआई सेवा में थे और वायु सेना की योजना 272 ऐसे विमानों का बेड़ा बनाने की है।

उफा इंजन विनिर्माण संघ, रूस का सबसे बड़ा इंजन निर्माता है।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

बुंदेलखंड पैकेज में धांधली पर योजना आयोग सख्त

Monday, 18 March 2013 14:07

भोपाल, 16 मार्च (आईएएनएस)| बुंदेलखंड की हालात बदलने के लिए मंजूर विशेष पैकेज की बंदरबांट का खुलासा होने के बाद योजना आयोग का रुख सख्त हो चला है। उसके तल्ख तेवरों के चलते ही मध्य प्रदेश के राज्य योजना आयोग ने पन्ना में हुई धांधली की शिकायतों की जांच के लिए वन विभाग को समिति गठित कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं।

बुंदेलखंड क्षेत्र में मध्य प्रदेश के छह जिले छतरपुर, टीकमगढ़, पन्ना, सागर, दमोह व दतिया आते हैं। केंद्र सरकार द्वारा मंजूर किए गए विशेष पैकेज से इन जिलों में विकास कार्य कराए जा रहे हैं, मगर इनमें बड़े पैमाने पर गड़बड़ी की शिकायतें आ रही हैं। एक शिकायत तो योजना आयोग तक पहुंच गई है।

यहां बता दें कि पन्ना में जिले के उत्तर वन मंडल को वन क्षेत्रों में जल संरक्षण के लिए मंजूर की गई 12 करोड़ रुपये की राशि में गड़बड़ी के मामले चर्चा में हैं। भास्कर जन विकास स्वास्थ्य व शिक्षा विकास समिति ने सूचना के अधिकार अधिनियम के तहत जो दस्तावेज हासिल किए हैं वे सभी को चौंकाने वाले थे। जिन वाहनों से टनों पत्थर और मिट्टी ढोना दिखाया गया था, उनके नंबर दोपहिया वाहनों के निकले।

समिति के अध्यक्ष श्रीकांत दीक्षित ने पूरे प्रकरण को राज्यसभा सदस्य सत्यव्रत चतुर्वेदी के सामने लाया। चतुर्वेदी ने इस मामले से योजना आयोग को अवगत कराया। चतुर्वेदी के जरिए पहुंची शिकायत को आयोग ने गंभीरता से लिया और आयोग की सचिव सिंधुश्री खुल्लर ने एक अर्ध शासकीय पत्र राज्य योजना आयोग को लिखा और जांच की बात कही।

योजना आयोग के रुख को ध्यान में रखते हुए राज्य योजना आयोग के उपसचिव एल. एल. राजपूत ने वन विभाग के प्रमुख सचिव से जांच के लिए समिति बनाकर रिपोर्ट सौंपने के निर्देश दिए हैं।

यहां बताना लाजिमी होगा कि राज्य में पैकेज में गड़बड़ियों के कई मामले सामने आ रहे हैं। रेन फेड अथारिटी ऑफ इंडिया के दो तकनीकी सदस्यों का दल नहर निर्माण पर सवाल उठा चुका है और उसने ग्रामीण अभियांत्रिकी सेवा को नया काम न देने तक की अनुशंसा की है।

इसी तरह निर्माण कार्य में उपयोग में लाए गए लोहे का 52 हजार रुपये प्रति किलोग्राम की दर से भुगतान तक किया गया है। यह हालात उस मंशा को पलीता लगा रहे हैं, जो समस्याग्रस्त इस इलाके को खुशहाल बनाना चाहती है।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

 

अब मादा गंध से पकड़े जाएंगे नर कीट

Monday, 18 March 2013 14:06

लखनऊ, 16 मार्च (आईएएनएस/आईपीएन)। हानिकारक कीटों से फसलों की सुरक्षा के लिए किसानों को अब कीटनाशकों के छिड़काव की जरूरत नहीं पड़ेगी। अब फसलों के असली दुश्मन नर कीटों को खेतों में फेरोमेन ट्रैप लगाकर पकड़ा जा सकता है।

फेरोमेन ट्रैप को नर पतंगों को फंसाने के काम में लाया जाता है। यह ट्रैप प्लास्टिक का बना होता है, जिसमें कीप के आकार के मुख्य भाग पर लगे ढक्कन के बीच में मादा कीट की गंधयुक्त ल्यूर लगाया जाता है। इसी गंध से आकर्षित होकर नर पतंगे कीप के निचले हिस्से में लगे पॉलीथिन में फंस जाते हैं।

अभी तक फसल को हानि पहुंचाने वाले कीटों से बचाने के लिए अमूमन कीटनाशक रसायनों का ही छिड़काव किया जाता रहा है। लेकिन ये फसलों के साथ-साथ मानव के लिए भी हानिकारक है।

उत्तर प्रदेश में कुछ जगहों पर फेरोमेन ट्रैप को आजमाया जा चुका है। फेरोमेन ट्रैप में नर कीट फंस जाते हैं और इस तरह कीटों की वंशवृद्धि रुक जाती है।

विभिन्न प्रकार के नर कीटों, जैसे चने की फली का बेधक, तंबाकू कीट, भिंडी का चित्तीदार कीट, कपास का गुलाबी कीट, धान का तनाबेधक, बैंगन का फली व कलंकी का बेधक और फलमक्खी को आकर्षित करने के लिए ल्यूर बाजार में उपलब्ध है।

फेरोमेन ट्रैप को खेत में फसल की ऊंचाई से लगभग दो फीट ऊपर रखते हुए एक लकड़ी के डंडे में ट्रैप के हत्थे को बांध दिया जाता है। ल्यूर को ट्रैप के ढक्कन में लगा दिया जाता है। ल्यूर को 25 दिन बाद बदला जाता है। खेत में हानिकारक पतंगों की उपस्थिति का पता लगाने के लिए 5-6 ट्रैप, और अधिक संख्या में नर कीट पतंगों को पकड़ने के लिए 15-20 ट्रैप प्रति हेक्टेयर लगाए जाते हैं।

विशेषज्ञों के मुताबिक, कीट पतंगों से फसलों को बचाने के लिए फेरोमेन ट्रैप एक बेहतर उपाय है। इससे उपज भी प्रदूषित नहीं होती।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

 

स्विस ओपन बैडमिंटन : सायना सेमीफाइनल में पहुंचीं

Monday, 18 March 2013 14:04

बासेल, 16 मार्च (आईएएनएस)| भारत की स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी सायना नेहवाल 125,000 डॉलर इनामी स्विस ओपन ग्रां पी गोल्ड टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंच गई हैं। सायना 2011 और 2012 में यह खिताब जीत चुकी हैं। सायना ने शुक्रवार को खेले गए क्वार्टर फाइनल मुकाबले में चीनी ताइपे के झू यिंग ताओ को 21-11, 21-12 से पराजित किया। यह मैच 30 मिनट चला।

सायना को इस टूर्नामेंट में शीर्ष वरीयता मिली है जबकि ताओ को छठी वरीय खिलाड़ी हैं। इन दोनों के बीच अब तक सात बार भिड़ंत हुई है, जिनमें से पांच मौकों पर सायना चार बार जीती हैं जबकि दो बार ताओ की जीत हुई है।

लंदन ओलम्पिक में कांस्य पदक जीत चुकीं सायना मौजूदा चैम्पियन की हसियत से यहां खिताब बचाने के लिए कोशिश कर रही हैं और अब वह इसमें सफलता हासिल करने से मात्र दो कदम दूर हैं।

इस क्रम में अब उनका सामना टूर्नामेंट की चौथी वरीय खिलाड़ी चीन की शिजियान वांग से होगा। वांग ने क्वार्टर फाइनल मैच में दक्षिण कोरिया की इयोन जू बेई को 16-21, 21-13, 23-21 से हराया।

सायना और वांग के बीच अब तक कुल पांच बार भिड़ंत हुई है, जिनमें से चार बार सायना विजेता रही हैं जबकि वांग को एक बार जीत मिली है। स्विस ओपन में दोनों की दूसरी भिड़ंत होगी।

अंतिम बार दोनों का सामना एक सप्ताह पहले ऑल इंग्लैंड बैडमिंटन चैम्पियनशिप के तहत हुआ था, जिसमें सायना ने जीत हासिल की थी। 2010 के बाद सायना एक बार भी वांग से हारी नही हैं।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

तिब्बती महिलाओं दिल्ली में शुरू किया विरोध अभियान

Thursday, 14 March 2013 20:54

नई दिल्ली, 12 मार्च (आईएएनएस)| तिब्बती महिलाओं के एक अधिकार समूह ने तिब्बत में चीन के दमनकारी शासन के खिलाफ जंतर-मंतर पर जमकर प्रदर्शन किया। मंगलवार को शुरू हुआ यह प्रदर्शन तीन दिन चलेगा। तिब्बती महिला संघ ने 'तिब्बती दुख और आनंद में एक साथ खड़े होते हैं' नाम से चलाई जा रही इस मुहिम की शुरुआत जंतर-मंतर पर पर प्रदर्शन के साथ की। इसके तहत सार्वजनिक बैठक, शांति रैली, प्रार्थनासभा और मौन विरोध प्रदर्शन होगा जो गुरुवार तक जारी रहेगा।

संघ ने अपने बयान में कहा, "हम बताना चाहते हैं कि तिब्बती तिब्बत के कब्जे और वहां लागू कठोर नीतियों को लेकर बेहद असंतुष्ट हैं।"

तिब्बत में संयुक्त राष्ट्र संघ के हस्तक्षेप और आत्मदाह को विरोध का वैध हथियार के रूप में स्वीकार करने के लिए जोरदार मुहिम छेड़ी जाएगी। तिब्बत में मानवाधिकारों के अनुमोदन के लिए चीन की सरकार पर अंतर्राष्ट्रीय दबाव के लिए भी अभियान चलाया जाएगा।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

सपा ने 3 लोकसभा उम्मीदवारों का किया ऐलान

Thursday, 14 March 2013 20:53

लखनऊ, 12 मार्च (आईएएनएस)| समाजवादी पार्टी (सपा) ने आगामी लोकसभा चुनाव के लिए मंगलवार को अपने तीन नए उम्मीदवारों का ऐलान किया। सपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता एवं महासचिव राम गोपाल यादव ने एक प्रेस नोट जारी कर इस फैसले की जानकारी दी। प्रेस नोट के मुताबिक, पार्टी ने बिजनौर से अनुराधा चौधरी और संभल से जावेद अली खान को उम्मीदवार बनाने का फैसला किया है, जबकि बुलंदशहर से पूर्व घोषित उम्मीदवार रवि गौतम के स्थान पर सुनीता चौहान को प्रत्याशी बनाया गया है।

उल्लेखनीय है कि सपा अब तक उत्तर प्रदेश में 71 लोकसभा उम्मीदवारों का ऐलान कर चुकी है।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

उप्र में 10 देसी बम के साथ 3 गिरफ्तार

Thursday, 14 March 2013 20:52

लखनऊ, 12 मार्च (आईएएनएस/आईपीएन)। उत्तर प्रदेश में इलाहाबाद पुलिस ने सोमवार की रात तीन लोगों को 10 देसी बम के साथ गिरफ्तार किया।

डीजीपी मुख्यालय से मिली जानकारी के अनुसार, अतरसुइया और शाहगंज पुलिस ने सोमवार की रात मुखबिर की सूचना पर तीन संदिग्ध लोगों को पकड़ा। तलाशी में पुलिस को तीनों के पास से 10 देस बम मिले। पूछताछ में पकड़े गए लोगों ने अपना नाम इलाहाबाद निवासी सीमू, सोनू और अरविंद बताया।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

यूरोप में पशुओं पर सौंदर्य प्रसाधनों का परीक्षण प्रतिबंधित

Thursday, 14 March 2013 20:52

लंदन, 12 मार्च (आईएएनएस)| यूरोपीय संघ के सभी देशों में उन सौंदर्य प्रसाधनों की बिक्री पर प्रतिबंध लगा दिया गया है जिनका परीक्षण पशुओं पर किया गया है। प्रतिबंध लगने से प्रसाधन सामग्री के सुरक्षित होने की जांच के लिए पशुओं का इस्तेमाल किए जाने के खिलाफ दशकों से प्रदर्शन कर रहे पशु प्रेमियों को जीत मिली है।

डेली एक्सप्रेस के मुताबिक यूरोपीय संघ नियामकों ने प्रतिबंध की घोषणा करते हुए इसे दुनिया के अन्य हिस्सों, जैसे चीन आदि में भी लागू कराकर और प्रभावी बनाने की अपील की है।

यूरोपीय यूनियन में स्वास्थ्य एवं उपभोक्ता नीति के आयुक्त टोनिओ बोर्ग ने कहा कि शीघ्र ही लागू होने वाला प्रतिबंध पशुओं के कल्याण से जुड़े यूरोप के मूल्यों के लिए महत्वपूर्ण संकेत है।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

इंजीनियर ने महिला सहकर्मी को पीटा

Thursday, 14 March 2013 20:51

रायपुर, 12 मार्च (आईएएनएस/वीएनएस)। छत्तीसगढ़ के रायगढ़ में लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) एसडीओ के एक इंजीनियर ने एक सहयोगी महिला सब इंजीनियर की पिटाई कर दी। घायल महिला इंजीनियर का जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है। पुलिस आरोपी इंजीनियर को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

यह घटना सोमवार की शाम करीब छह बजे की है। धनागर-भूपदेवपुर मार्ग के निर्माण कार्य के कागजात को रिसीव करने को लेकर पीडब्ल्यूडी की 32 वर्षीया महिला इंजीनियर निलाद्रि साहू और 36 वर्षीया सब इंजीनियर दुष्यंत डडसेना के बीच विवाद हो गया।

तीखी नोकझोंक के बाद निलाद्रि सहयोगी इंजीनियर की शिकायत करने के लिए विभाग के आला अधिकारी व एसडीओ बी.पी. अग्रवाल के घर गई। एसडीओ अग्रवाल ने पूछताछ करने को लेकर दुष्यंत को अपने घर बुलाया। वहां विभाग के दोनों इंजीनियर जब आमने-सामने हुए तो एक बार फिर विवाद शुरू हो गया।

इस बीच दुष्यंत ने महिला सहयोगी इंजीनियर की बाल पकड़कर पिटाई शुरू कर दी। एसडीओ व उनकी पत्नी ने बीच-बचाव किया, तब तक दुष्यंत निलाद्रि को घायल कर चुका था।

महिला अधिकारी की सूचना पर उनका भाई एसडीओ के घर आया और घायल बहन को लेकर चक्रधर नगर थाने पहुंचा। पुलिस ने घटना की जांच शुरू कर दी है। पीड़ित महिला को देर रात इलाज के लिए जिला अस्पताल ले जाया गया।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

गॉल टेस्ट में लगे रिकार्ड 8 शतक

Thursday, 14 March 2013 20:50

गॉल (श्रीलंका), 12 मार्च (आईएएनएस)| श्रीलंका और बांग्लादेश की क्रिकेट टीमों के बीच गॉल अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम में खेले गए पहले टेस्ट मैच में रिकार्ड 8 शतक लगे। यह दूसरा मौका है, जब किसी टेस्ट मैच में इतने शतक लगे हैं। श्रीलंका के बल्लेबाजों ने गॉल में 5 शतक लगाए गए जबकि बांग्लादेश की ओर से 3 शतक लगे। श्रीलंका के कुमार संगकारा ने दोनों पारियों में शतक लगाया। संगकार ने पहली पारी में 142 और दूसरी पारी में 105 रन बनाए। इसके अलावा तिलकरत्ने दिलशान (126), लाहिरु थिरिमाने (155) और दिनेश चांदीमल (नाबाद 116) ने शतक जड़े।

दूसरी ओर, बांग्लादेश की ओर से कप्तान मुशफिकुर रहीम ने 200 रनों की ऐतिहासिक पारी खेली। वह बांग्लादेश के लिए पहला दोहरा शतक लगाने वाले बल्लेबाज बने। साथ ही उन्होंने बांग्लादेश के लिए सबसे बड़ा व्यक्तिगत योग खड़ा किया। इसके अलावा मोहम्मद अशरफुल (190) और नासिर हुसैन (100) ने शतकीय पारियां खेलीं।

मुशफिकुर और अशरफुल की शानदार पारियों की मदद से बांग्लादेश ने टेस्ट इतिहास में अपनी सबसे बड़ी पारी खड़ी की और पहली बार 600 रनों के आंकड़ो को पार किया।

इससे पहले, वर्ष 2005 में एंटिगा में वेस्टइंडीज और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेले गए मैच में भी आठ शतक लगे थे। दोनों टीमों की ओर से चार-चार शतक लगे थे।

वेस्टइंडीज के क्रिस गेल (317) ने इस मैच में तिहरा शतक जड़ा था। दक्षिण अफ्रीका की ओर से अब्राहम डिविलियर्स (114), ग्रीम स्मिथ (120), जैक्स कैलिस (147) और एश्वेल प्रिंस (131) शतकीय पारियां खेली थीं। वेस्टइंडीज की ओर से गेल के अलावा रामनरेश सरवन (127), शिवनारायण चंद्रपॉल (127) और ड्वेन ब्रावो (107) ने शतक जड़ा था।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

दुष्कर्म के बाद हत्या के आरोपी चाचा को मृत्युदंड

Thursday, 14 March 2013 20:49

इंदौर, 12 मार्च (आईएएनएस)| छह माह पूर्व इंदौर में मासूम बच्ची से दुष्कर्म के बाद उसकी हत्या करने के आरोपी चाचा राजेश सेंगर को न्यायालय ने फांसी की सजा सुनाई है। वहीं राजेश की पत्नी को उम्रकैद की सजा दी गई है। लसूडिया थाना क्षेत्र के राजीव आवास विकास नगर में रहने वाले राजेश सेंगर ने सितंबर 2013 को गोद ली गई भतीजी को ही अपनी हवस का शिकार बनाते हुए उसे मौत के घाट उतार दिया था। राजेश ने उत्तर प्रदेश में रहने वाले अपने बड़े भाई की बेटी को गोद लिया था।

पांच वर्षीय बच्ची की हत्या के आरोप में स्थानीय लोगों के दवाब के बाद राजेश को गिरफ्तार किया था। इस प्रकरण की सुनवाई करते हुए त्वरित अदालत की न्यायाधीश सरिता दुबे ने मंगलवार को आरोपी को मृत्युदंड और उसकी पत्नी बेबी सेंगर को सह आरोपी मानते हुए उम्रकैद की सजा सुनाई है।

न्यायाधीश ने अपने फैसले में राजीव नगर के स्थानीय लोगों के साहस को सराहा है और कहा है कि अगर स्थानीय लोग बच्ची से बलात्कार व हत्या का मसला नहीं उठाते तो शायद बच्ची को न्याय नहीं मिल पाता।

राजेश को फांसी की सजा सुनाए जाने से राजीव नगर के लोग खुश हैं और उन्होंने न्यायालय के फैसले पर आतिशबाजी भी की है। उन लोगों का कहना है कि राजेश और उसकी पत्नी बेबी लगातार बच्ची को प्रताड़ित करते थे।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

मप्र विधानसभा में गूंजा टेलीफोन टैपिंग का मामला

Thursday, 14 March 2013 20:46

भोपाल, 12 मार्च (आईएएनएस)| मध्य प्रदेश में पुलिस द्वारा राजनेताओं और अफसरों के कथित तौर पर टेलीफोन टैप कराए जाने का मामला विधानसभा में गूंजा। कांग्रेस ने टेलीफोन टैपिंग के पीछे सत्तापक्ष की साजिश का आरोप लगाया है। विधानसभा में शून्य काल के दौरान कांग्रेस के उपनेता चौधरी राकेश सिंह ने मंगलवार को राज्य में कुछ नेताओं व अफसरों के टेलीफोन टैप कराने का मामला उठाया। उन्होंने यह जानना चाहा कि सरकार इस बात का खुलासा करे कि टेलीफोन टैप क्यों कराए जा रहे हैं।

सदन के बाहर चौधरी ने कहा कि समाज विरोधी तत्वों के तो टेलीफोन टैप कराए जाते हैं, मगर नेताओं व अफसरों के टेलीफोन टैप कराया जाना सवाल उठाता है। यह पूरी तरह निजता पर हमला है। उनका आराप है कि साजिश के तहत टेलीफोन टैप कराए जा रहे हैं।

गृहमंत्री उमाशंकर गुप्ता ने टेलीफोन टैप कराने का सीधा जवाब नहीं दिया मगर इतना जरूर कहा कि कई बार गुप्तचर एजेंसियों के परामर्श पर टेलीफोन टैप कराए जाते हैं। नेताओं व अफसरों के टेलीफोन टैप कराए जाने की बात पर वे अफसरों से चर्चा के बाद ही कुछ कह सकेंगे।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

अभिनेत्री के लिए शादीशुदा होना अपराध नहीं : करीना कपूर

Thursday, 14 March 2013 20:43

मुम्बई, 12 मार्च (आईएएनएस)| करीना कपूर का कहना है कि एक अभिनेत्री के लिए शादीशुदा होना कोई अपराध नहीं है और फिल्म और शादी दो अलग चीजें हैं। फिक्की फ्रेम्स के पहले दिन करीना ने कहा 'अगर एक लड़ीक किसी से प्रेम करती है या शादी कर लेती है तो इसका मतलब यह नहीं कि लोग उसे प्यार करना बंद कर देंगे या पिर उसका किरदार पर्दे पर पसंद नहीं करेंगे।' करीना ने दीप प्रज्ज्वलित कर इस तीन दिवसीय समारोह का शुभारंभ किया।

करीना ने इस मामले में कई अभिनेत्रियों के उदाहरण दिए जिन्होंने शादी के बाद भी काम किया। 'वहीदा जी और शर्मिला जी ने शादी के बाद 'दाग', 'अमर प्रेम' और 'गाइड' जैसी फिल्मों में काम किया। आप प्रेम और फिल्म की तुलना नहीं कर सकते।' करीना ने पिछले साल 16 अक्टूबर को सैफ अली खान से शादी की थी।

इस बीच करीना ने कहा कि उनका निर्देशक या निमार्ता बनने का कोई इरादा नहीं है और वह मरते दम तक फिल्में करती रहेंगी। करीना इन दिनों प्रकाश झा की सत्याग्रह और करन जौहर की 'गोरी तेरे प्यार में' की शूटिंग कर रही हैं।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

प्रकृति प्रेमियों के आकर्षण का केंद्र बना 'ग्रीन कुतुब' का टुकड़ा

Thursday, 14 March 2013 20:41

देहरादून, 12 मार्च (आईएएनएस)| दिल्ली के महरौली में 12वीं सदी के अंत में जब गुलाम वंश के विजय के प्रतीक ऐतिहासिक कुतुबमीनार की नींव रखी जा रही थी, ठीक उसी समय आज के उत्तराखण्ड और उस समय के टिहरी गढ़वाल की पहाड़ियों पर देवदार के एक बीज ने अंगड़ाई लेनी शुरू की थी। अगले 700 सालों में यह शिशु पौधा विशालकाय वृक्ष बन गया।

इन वर्षो में उसकी ऊंचाई गुलाम वंश के सबसे प्रतापी शासक कुतुबुद्दीन ऐबक की विजय मीनार के बराबर 72.5 मीटर हो गई। इस भीमकाल वृक्ष को 'ग्रीन कुतुब' या हरित कुतुब नाम दिया गया और इसी वृक्ष का एक टुकड़ा यहां के संग्रहालय में प्रकृति प्रेमियों को आकर्षित कर रहा है।

दुर्लभ देवदार का यह वृक्ष 1919-20 के आसपास धराशायी हुआ। उस समय इसकी उम्र 704 वर्ष हो चुकी थी। उस समय इसके घेरे का व्यास लगभग 2.75 मीटर था, जो कि कुतुबमीनार की शीर्ष के व्यास के बराबर है।

इसी वृक्ष का एक टुकड़ा केंद्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्रालय के अंतर्गत आने वाले वन अनुसंधान संस्थान (एफआरआई) के काष्ठ संग्रहालय में सुरक्षित रखा गया है। इस टुकड़े का अर्धव्यास 140 सेंटीमीटर है। इसे देखने के लिए संग्रहालय में लागों का तांता लगा रहता है।

एफआरआई के निदेशक पी.पी भोजवैद ने आईएएनएस को बताया, "इस वृक्ष के घेरे की प्रदर्शनी सचमुच देखने लायक है। देश में इसके समान आकार, उम्र और आयाम की शायद ही कोई ज्ञात चीज मौजूद हो।"

इस दुर्लभ वृक्ष के गिरने का कारण ज्ञात नहीं है। अंग्रेजों के जमाने का यह संस्थान केवल इतना खुलासा करता है, इसके गिरने के बाद हाथियों और खच्चरों की मदद से इसके अवशेषों को ढोकर संस्थान तक लाया गया।

संग्रहालय के अधिकारी ने बताया, " एक यूरोपवासी वृक्ष को चार खंडों में अलग-अलग करने के बाद यहां लेकर आया क्योंकि संपूर्ण वृक्ष को लाने मे परेशानी होती। आज जो चीज हम यहां देखते है वह इन चार खंडों को मिलाकर एक गोलाकार लकड़ी का रूप दे दिया गया है।"

भोजवैद बताते है कि 1920 के दशक में एफआरआई में काम करने वाले यूरोपीय विशेषज्ञों ने वृक्ष की उम्र की गणना की थी। विशेषज्ञों ने इसके तने में पड़े छल्लों के आधार पर इसकी उम्र तय की थी। तने का एक छल्ला एक वर्ष का प्रतिनिधित्व करता है। देवदार के इस वृक्ष में 700 से अधिक छल्ले हैं।

एफआरआई के वन पैथॉलजी खंड के प्रधान एन.एस.के. हर्ष के अनुसार, "यह वृक्ष सचमुच विशालकाय होगा। इसका फैलाव शानदार रहा होगा और यह देखने में अत्यंत आकर्षक होगा। यह 60-70 मीटर ऊंचा होगा। यह कुतुबमीनार अथवा एक 15 मंजिली इमारत जितना ऊंचा रहा होगा।"

संग्रहालय में 330 वर्ष पुराने सागौन की लकड़ी का भी एक तना रखा गया है। इसे केरल के पराम्बीकुलम से लाया गया है। इसके अलावा यहां दो हजार वर्ष पुराने काष्ठ का जीवाश्म को भी रखा गया है। इसे एक ब्रिटेनवासी मध्य प्रदेश के उज्जैन से लेकर आया था।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

प्रतिव्यक्ति खाद्य, गैरखाद्य खर्च में गुजरात आगे : एसोचैम

Thursday, 14 March 2013 20:40

कोलकाता, 12 मार्च (आईएएनएस)| देश में खाद्य, गैर खाद्य खपत तथा तेज खपत वाली उपभोक्ता वस्तुओं पर होने वाले प्रति व्यक्ति खर्च में वृद्धि दर के मामले में गुजरात देश में अव्वल है, जबकि इसी श्रेणी में पश्चिम बंगाल सबसे पीछे है। यह खुलासा एसोसिएटेड चैम्बर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री ऑफ इंडिया (एसोचैम) के एक अध्ययन से हुआ है। एसोचैम द्वारा जारी '2004-05 से 2009-10 के दौरान भारतीय ग्रामीण बाजारों का विकास' नामक अध्ययन रिपोर्ट में कहा गया है कि गुजरात में आलोच्य अवधि में प्रति व्यक्ति खाद्य वस्तुओं और गैर खाद्य खपत वस्तुओं पर होने वाले खर्च की वृद्धि दर क्रमश: 28 फीसदी और 33 फीसदी रही है।

गुजरात, प्रत्येक घर में तेज खपत वाली उपभोक्ता वस्तुओं (एफएमसीजी) पर खर्च में भी अव्वल रहा, जहां पांच वर्षो में इसकी वृद्धि दर 24.69 फीसदी रही।

अध्ययन के मुताबिक इसी अवधि में प्रति व्यक्ति खाद्य और गैर खाद्य खपत वस्तुओं पर खर्च की वृद्धि दर पश्चिम बंगाल में क्रमश: 1.6 फीसदी और लगभग आठ फीसदी रही।

एसोचैम के राष्ट्रीय महासचिव डी.एस. रावत ने कहा, "प्रति व्यक्ति खाद्य और गैर खाद्य खपत वस्तुओं पर होने वाले खर्च में वृद्धि दर सम्पूर्ण भारत के लिए क्रमश: 14 फीसदी और 17 फीसदी से अधिक रही।"

बयान के मुताबिक रावत ने कहा, "प्रत्येक घर में एफएमसीजी पर होने वाले खर्च की वृद्धि दर आलोच्य अवधि में 11 फीसदी रही।"

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

पिछले वर्ष चिकित्सकीय परीक्षणों में गईं 436 जानें

Thursday, 14 March 2013 20:40

नई दिल्ली, 12 मार्च (आईएएनएस)| संसद में मंगलवार को बताया गया कि वर्ष 2012 में देश में चिकित्सकीय परीक्षणों के दौरान 436 लोगों की मृत्यु हुई।

राज्यसभा में एक प्रश्न का जवाब देते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री गुलाम नबी आजाद ने कहा कि चिकित्सकीय परीक्षणों के दौरान 2011 में 438 तथा 2010 में 668 जानें गईं थीं।

उन्होंने कहा कि 2012 में हुई कुल 436 मौतों में से 16 मौतें चिकित्सकीय परीक्षण के कारण हुईं। शेष मौतें कैंसर, हृदय रोग एवं एड्स से गंभीर रूप से पीड़ित मरीजों से संबंधित हैं, जिनकी मौत बीमारी के कारण हुई या चिकित्सकीय परीक्षण के दौरान दी गई दवाओं के दुष्प्रभावों के कारण हुई।

आजाद ने कहा कि चिकित्सकीय परीक्षण के कारण हुई मौतों के मामलों में मुआवजा प्रदान किया गया।

उन्होंने आगे बताया कि औषधि एवं प्रसाधन सामग्री नियम, 1945 में संशोधन किए गए हैं, जिसमें चिकित्सकीय परीक्षण के दौरान गंभीर दुष्परिणामों के लिए रिपोर्ट तैयार करने की प्रक्रिया तथा चिकित्सकीय परीक्षण के दौरान दुर्घटना होने या मृत्यु होने पर निर्धारित समयसीमा के अनुसार मुआवजा प्रदान करने की प्रक्रिया को निर्दिष्ट किया गया है।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

पेटीएम ने बस ट्रैकिंग सेवा लांच की

Thursday, 14 March 2013 20:39

हैदराबाद, 12 मार्च (आईएएनएस)| मोबाइल समाधान कम्पनी पेटीएम ने एक नई सेवा लांच की, जिसके सहारे यात्री अपने घर से ही बस के टिकट कटा सकते हैं और यह भी जान सकते हैं कि बस कितने बजे अपने पड़ाव पर पहुंचेगी। नोएडा की ई-कॉमर्स कम्पनी ने मंगलवार को एक बयान जारी कर सेवा शुरू करने की घोषणा की। बसों के लिए इस तरह की सेवा देने वाली यह देश की पहली कम्पनी है। यात्री इंटरनेट पर बस की ताजा स्थिति जान सकते हैं और यह सेवा मोबाइल पर भी ले सकते हैं।

कम्पनी ने मंगलवार को हैदराबाद, गुंटूर, विजयवाड़ा, बेंगलुरू, चेन्नई तथा दक्षिण भारत के कई अन्य शहरों के बड़े बस संचालकों की बसों पर यह सेवा लांच की।

कम्पनी देश के 100 शहरों में यह सेवा शुरू करना चाहती है।

सेवा के तहत बसों पर जीपीएस प्रणाली लगी होगी। टिकट बुक करा चुके यात्री को बसों के पड़ाव पर पहुंचने के एक घंटे पहले बस की ताजा स्थिति की जानकारी मिल जाएगी। उपभोक्ता कभी भी बस की ताजा स्थिति की जानकारी भी ले सकता है।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

प्रधानमंत्री का संयुक्त अरब अमीरात दौरा रद्द

Thursday, 14 March 2013 20:37

नई दिल्ली, 12 मार्च (आईएएनएस)| प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) की प्रस्तावित यात्रा तय कार्यक्रमों के बीच तारीखों के टकरा जाने के कारण नहीं हो सकेगी। प्रधानमंत्री 26 से 27 मार्च तक डरबन में होने वाले ब्रिक्स शिखर सम्मेलन के बीच यूएई के दौरे पर जाने वाले थे। एक सूत्र ने आईएएनएस को बताया, "हम प्रधानमंत्री की इस यात्रा की तैयारियां कर रहे थे। आधिकारिक रूप से इसकी घोषणा नहीं की गई थी, लेकिन अब यह दौरा नहीं होगा।"

मनमोहन सिंह की यह प्रस्तावित यात्रा पिछले तीन दशकों से किसी भारतीय प्रधानमंत्री की पहली यूएई यात्रा होती।

सरकारी सूत्र ने बताया कि डरबन की लम्बी हवाई यात्रा के कारण समय एवं रसद की समस्या के चलते यह दौरा रद्द किया गया।

पूर्व भारतीय प्रधानमंत्री स्वर्गीय इंदिरा गांधी की 1981 की यूएई यात्रा के बाद कोई भी भारतीय प्रधानमंत्री यूएई दौरे पर नहीं गया है। हालांकि भारत के पूर्व राष्ट्रपति ए.पी.जे. अब्दुल कलाम ने अक्टूबर 2003 में तथा प्रतिभा पाटिल ने 2010 में यूएई का दौरा किया था।

यूएई में 17.5 लाख भारतीय कामगार प्रवासी रहते हैं।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

 

POPULAR ON IBN7.IN