भाजपा के 'शत्रु' ने पीएम मोदी पर फिर साधा निशाना, कहा- 'खुशामदीदों की टोली' है सरकार के मंत्री

Thursday, 23 November 2017 17:41

भाजपा के 'शत्रु' शत्रुघ्न सिन्हा ने एक बार फिर पीएम मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पर जमकर हमला बोला है. बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने सरकार एवं संगठन चला रही व्यवस्था को 'एक आदमी की सेना' और 'दो आदमी का शो' करार दिया.पटना साहिब से लोकसभा सांसद सिन्हा ने मोदी सरकार पर करारा हमला बोलते हुए कहा कि इसके मंत्री 'खुशामदीदों की टोली' हैं. इनमें से 90 फीसदी को कोई नहीं जानता.

एक कार्यक्रम में अपने 'दिल की बात' बताते हुए सिन्हा ने कहा, 'किसी और ने 'मन की बात' पेटेंट करा रखी है. आजकल ऐसा माहौल है कि या तो आप एक शख्स का समर्थन करें या देशद्रोही कहलाने के लिए तैयार रहें.' मोदी सरकार की नीतियों की अक्सर आलोचना करने वाले सिन्हा माकपा महासचिव सीताराम येचुरी और जदयू के बागी नेता शरद यादव सहित विपक्ष के कई शीर्ष नेताओं के साथ मंच साझा करते हुए जमकर बरसे.

भ्रष्टाचार के खिलाफ मोदी के बहुचर्चित नारे 'ना खाऊंगा, ना खाने दूंगा' पर कटाक्ष करते हुए सिन्हा ने कहा, 'आजकल हो ये रहा है कि 'ना जियूंगा, ना जीने दूंगा.' जदयू के बागी सांसद अली अनवर की किताब के विमोचन के अवसर पर सिन्हा ने अपने विरोधियों के इस दावे को खारिज कर दिया कि वह मंत्री नहीं बनाए जाने से नाराज हैं. उन्होंने कहा कि उनकी कभी ऐसी आकांक्षा नहीं थी.

मोदी सरकार के मंत्रियों का मजाक उड़ाते हुए सिन्हा ने कहा, 'उनमें से 90 फीसदी को कोई नहीं जानता. उन्हें भीड़ में कोई नहीं पहचानेगा. वे खुशामदीदों की टोली हैं. वे वहां कुछ बनाने के लिए नहीं हैं, बस बने रहने की कोशिश में लगे हैं.' सिन्हा नोटबंदी और जीएसटी जैसे सरकार के आर्थिक फैसलों पर बोलने के कारण उनकी आलोचना करने वालों पर भी बरसे. संभवत: केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली, सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी और प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, 'यदि एक वकील वित्त मंत्री बन सकता है, एक टीवी अदाकारा मानव संसाधन विकास मंत्री बन सकती है और एक चाय वाला.....फिर मैं इन मुद्दों पर क्यों नहीं बोल सकता?' 

गौरतलब है कि स्मृति पहले मानव संसाधन विकास मंत्री थीं. सिन्हा ने आरोप लगाया, 'बुद्धिजीवियों की हत्या हो रही है और अब तो जजों को भी मारा जा रहा है.' भाजपा सांसद ने कहा कि इन मुद्दों को मीडिया में पर्याप्त जगह नहीं मिल रही है, क्योंकि 'जनतंत्र' पर 'धनतंत्र' हावी हो रहा है.

NOKIA 2 की सेल, साथ में फ्री एक्सीडेंटल डेमेज बीमा और डेटा का भी ऑफर, जानें कीमत और फीचर्स

Thursday, 23 November 2017 17:33

 

Nokia ने हाल ही में अपना सबसे सस्ता स्मार्टफोन NOKIA 2 लॉन्च किया था, लेकिन इसकी कीमत का खुलासा नहीं किया गया था। अब इसकी कीमत सामने आ गई है। इस फोन की सेल कल यानी शुक्रवार 24 नवंबर से शुरू होगी। इस स्मार्टफोन को ऑफलाइन सेल किया जाएगा। Nokia 2 को पीटर-ब्लैक, पीटर-व्हाइट और कॉपर-ब्लैक कलर में खरीदा जा सकता है। इस फोन के साथ कई ऑफर्स भी दिए जा रहे हैं। नोकिया 2 के साथ लॉन्चिंग ऑफर में जियो यूजर्स को 45GB एक्स्ट्रा डेटा दिया जा रहा है। 31 अगस्त 2018 तक 309 रुपये या इससे ज्यादा के 9 रीचार्ज पर हर बार 5GB एक्स्ट्रा डेटा मिलेगा। इसके अलावा नोकिया 2 खरीदने वालों को कोटक महिंद्रा बैंक का 811 सेविंग अकाउंट खुलवाने और शुरुआत में 1,000 रुपये जमा कराने पर 12 महीने का एक्सीडेंटल डैमेज इंश्योरेंस भी फ्री दिया जा रहा है। इस स्मार्टफोन की भारत में कीमत 6,999 रुपए रखी गई है।

NOKIA 2 फीचर्स: नोकिया 2 में 5 इंच की एलटीपीएस डिस्प्ले दी गई है। डिस्प्ले का रिजॉल्यूशन 720 x 1280 पिक्सल का है। इस स्मार्टफोन की बॉडी 6000 सीरीज एल्यूमीनियम की बनी हुई है। स्क्रीन पर गोरिल्ला ग्लास 3 की प्रोटेक्शन दिया गया है। वहीं इसका बैक पैनल पॉलीकार्बोनेट का बना हुआ है। इसमें 1.3 गीगाहर्ड्ज का क्वाडकोर क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 212 प्रोसेसर दिया गया है। फोन को स्पीड देने के लिए इसमें 1GB की रैम दी गई है। इसकी इंटरनल मैमोरी 8GB की है, जिसे माइक्रोएसडी कार्ड से 128GB तक बढ़ाया जा सकता है।

कैमरे की बात करें तो नकियो 2 स्मार्टफोन में 8 मेगापिक्सल का ऑटो फोकस रियर कैमरा दिया गया है। इसके साथ एलईडी फ्लैश भी दी गई है। वहीं सेल्फी और वीडियो कॉलिंग के लिए 5 मेगापिक्सल का फिक्स्ड फोकस फ्रंट कैमरा दिया गया है। फोन को पावर देने के लिए इसमें 4,100mAH की बैटरी दी गई है। यह फोन गूगल के लेटेस्ट एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम नूगा 7.1.1 पर काम करेगा। इस स्मार्टफोन को एंड्रॉयड ओरियो का अपडेट भी मिलेगा।

गुजरात BJP की जागीर नहीं, राहुल गांधी के साथ कोई रैली नहीं करूंगा : हार्दिक पटेल

Thursday, 23 November 2017 14:13

अहमदाबाद: गुजरात के युवा नेता हार्दिक पटेल ने भले ही अगले माह होने जा रहे विधानसभा चुनाव में कांग्रेस का पक्ष लेने का मन बना लिया हो, लेकिन यह भी साफ है कि वह कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के साथ नज़र नहीं आने जा रहे हैं. हार्दिक पटेल ने   अहमदाबाद में हुई एक्सक्लूसिव बातचीत में साफ कहा कि संविधान के तहत पाटीदारों को आरक्षण मिले, तो अच्छी बात है, और वह हर उस पार्टी का विरोध करेंगे, जो इस दिशा में नहीं सोच सकती. इसी संदर्भ में उन्होंने यह भी कहा कि गुजरात BJP की जागीर नहीं है.


विधानसभा चुनाव में कांग्रेस का समर्थन करने के मुद्दे पर हार्दिक पटेल ने कहा, मैं अपने लोगों (पटेल या पाटीदार समुदाय) की बात करता हूं, जो सबको पसंद नहीं आता. संविधान के मुताबिक पटेलों को आरक्षण मिले, तो काफी अच्छी बात है, और मैं उन सभी दलों का विरोध करूंगा, जो दूसरी तरह सोचते हैं. हार्दिक ने कहा, मैं जो भी करूंगा, अपने लोगों के भविष्य को ध्यान में रखकर करूंगा.
 
उन्होंने कहा, मुझ पर कांग्रेस की 'बी टीम' होने का आरोप लगाया जाता है, लेकिन मैं सिर्फ जनता की 'बी टीम' हूं. उन्होंने यही भी कहा कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के साथ कोई रैली करने का प्लान नहीं है. हार्दिक पटेल ने जानकारी दी कि राहुल गांधी कल (शुक्रवार को) यहां (अहमदाबाद) आ रहे हैं, और मेरा उनसे मुलाकात करने का कोई इरादा नहीं है. मैं उन्हें सिर्फ शुभकामनाएं दे सकता हूं.
 
पटेलों को आरक्षण के मुद्दे पर हार्दिक पटेल ने कहा, मैंने एक फॉर्मूला दिया है, और अगर BJP कहती है, उसे लागू नहीं किया जा सकता, तो उन्हें मुझे वजह बताते हुए समझाना होगा. सिर्फ विरोध करते रहने से काम नहीं चलेगा.
 
हार्दिक ने 22 साल से लगातार राज्य में सत्तासीन BJP पर आरोप लगाते हुए कहा, BJP सिर्फ पैसे और प्रबंधन की पार्टी है, जो संगठित भी नहीं है. अगर कांग्रेस अच्छा काम करेगी, तो लोग उन पर भरोसा करेंगे.
 
पाटीदार अनामत आंदोलन समिति के नेता ने कहा कि BJP ढेरों पैसा खर्च कर रही है, तो मैं जानना चाहता हूं कि यह पैसा कहां से आ रहा है. गुजरात के उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल को हार्दिक पटेल ने निर्दोष बताया और कहा कि वह वही कहते हैं, जो (BJP प्रमुख) अमित शाह उनसे कहने के लिए कहते हैं. हार्दिक पटेल ने साफ कहा कि इस वक्त BJP के खिलाफ लड़ना ही उनका एजेंडा है.

नीतीश के पास ही रहेगा 'तीर' का चुनाव चिन्‍ह, HC को बताया- गुजरात में उतारे उम्‍मीदवार

Thursday, 23 November 2017 14:10

जनता दल (यूनाइटेड) के   'तीर' के चुनाव चिन्‍ह पर बिहार के सीएम नीतीश कुमार के पास ही रहेगा. दिल्ली हाईकोर्ट ने इस मामले में गुजरात के विधायक छोटू भाई की याचिका को खारिज कर दिया है. याचिका में छोटू भाई ने चुनाव आयोग के आदेश को खारिज करने की मांग की थी. 
चुनाव आयोग ने 17 नवंबर को अपने आदेश में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व वाले गुट को असली जदयू बताया था.

न्यायमूर्ति इंदरमीत कौर ने कहा बुधवार को कहा था कि अदालत के पास अंतरिम आदेश देने के लिए‘प्रथम दृष्टया कुछ नहीं है’ क्योंकि चुनाव आयोग ने अभी अपने फैसले की वजहों को नहीं बताया है. अदालत ने चुनाव आयोग के वकील को ये निर्देश लेने के लिए कहा था कि निर्वाचन आयोग कारण बताने वाला आदेश कब देगा. अदालत गुजरात से विधायक छोटूभाई वसावा की याचिका पर सुनवाई कर रही है जो जदयू के यादव गुट के कार्यकारी अध्यक्ष हैं.

विधायक के वकील ने अदालत को बताया कि गुजरात चुनाव के लिए नामांकन दायर करने का पहला चरण मंगलवार को समाप्त हो गया है और दूसरा चरण अन्य 10 दिनों में पूरा किया जाएगा और इससे पहले यह तय किया जाना चाहिए कि चुनावों के दौरान कौन इस चिह्न का इस्तेमाल करेगा.

बहरहाल, नीतीश गुट के वकीलों ने अदालत को बताया कि निर्वाचन आयोग का फैसला उनके पक्ष में आने के साथ ही उसके सदस्य पहले ही ‘तीर’ चिह्ल के साथ नामांकन दायर कर चुके हैं. उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग के आदेश से यादव गुट के दावे को खारिज करने का कारण मिलता है क्योंकि आयोग ने कहा है कि नीतीश गुट के पास विधानसभा में बहुमत है.

नीतीश के जुलाई में भाजपा में शामिल होने के बाद बिहार के मुख्यमंत्री और यादव ने अपनी राह जुदा कर ली थी और इसके बाद दोनों के बीच पार्टी के नियंत्रण को लेकर लड़ाई शुरू हो गई.

मिशन गुजरात में टीम बीजेपी, पीएम मोदी के साथ 50 मंत्री प्रचार के लिए उतरेंगे चुनावी मैदान में

Thursday, 23 November 2017 13:42

 गुजरात चुनाव के  पहले चरण की वोटिंग नौ दिसंबर को होनी है और चुनाव जीतने के लिए बीजेपी ने कमर कस ली है. पीएम नरेंद्र मोदी, 50 मंत्री समेत कई वरिष्‍ठ नेता 26 नवंबर से प्रचार अभियान शुरू करेंगे. 

बीजेपी के नेता और मंत्री 26 और 27 नवंबर को पूरे राज्य में जनसभाएं और जनसंपर्क करेंगे. गुजरात चुनाव में बीजेपी ने पूरी ताकत झोंक दी है और मैदान में स्टार प्रचारकों की फौज खड़ी कर दी है. 

पीएम मोदी 27 नवंबर से गुजरात में चुनाव प्रचार का आगाज करेंगे. 27 को पीएम मोदी भुज, जसदण, अमरेली, सूरत में रैली करेंगे. 29 नवंबर को मोरबी, सोमनाथ, भावनगर और नवसारी में पीएम की जनसभाएं हैं. प्रधानमंत्री गुजरात में चुनाव से पहले 32 से 35 रैलियां कर सकते हैं.

इस बीच राहुल गांधी भी शुक्रवार से दो दिन के चुनावी दौरे पर गुजरात पहुंच रहे हैं. शुक्रवार को वह पोरबंदर और अहमदाबाद में रैलियां करेंगे. शनिवार को राहुल के गांधीनगर, अरावली, महिसागर और दाहोद में कई कार्यक्रम हैं. 

गुजरात विधानसभा के लिए नौ दिसम्बर को होने वाले प्रथम चरण के चुनाव में 1703 उम्मीदवारों ने नामांकन दाखिल किया है. पहले चरण में 89 सीटों पर चुनाव होना है. अधिकांशत: सौराष्ट्र और दक्षिण गुजरात के 19 जिले में प्रथम चरण में चुनाव हो रहा है.

गुजरात के मुख्य निर्वाचन अधिकारी बी बी स्वैन ने बताया कि इन उम्मीदवारों में से 788 निर्दलीय, 523 भाजपा और कांग्रेस जैसे राष्ट्रीय दलों के उम्मीदवार हैं.

हॉनर 8 लाइट स्मार्टफोन की कीमत में हुई भारी कटौती

Thursday, 23 November 2017 13:39

स्मार्टफोन बनाने वाली चीनी कंपनी हुवाई ने अपने हॉनर ब्रांड के स्मार्टफोन की कीमत में कटौती कर दी है। हॉनर ने इस स्मार्टफोन को इसी साल मई में लॉन्च किया था। इस स्मार्टफोन में 4GB की रैम के साथ 64GB की इंटरनल मैमोरी दी गई है। इस फोन की कीमत में पहली बार कटौती की गई है। कंपनी ने हॉनर 8 लाइट को 17,999 रुपये में लॉन्च किया था। हॉनर 8 लाइट की सबसे अहम खासियत है इसमें मौजूद ईएमयूआई 3.0 ओएस जो एंड्रॉयड 7.0 नूगा पर बेस्ड है। इस स्मार्टफोन को फरवरी में सबसे पहले फिनलैंड में लॉन्च किया गया था। हॉनर 8 लाइट स्मार्टफोन, हॉनर 8 का ही सस्ता वेरिएंट है। इस स्मार्टफोन की कीमत में 2,000 रुपए की कटौती की गई है। अब इस स्मार्टफोन को 15,999 रुपए में खरीदा जा सकता है।

Honor 8 Lite फीचर्स: हॉनर 8 लाइट में 5.2 इंच की फुल-एचडी डिस्प्ले दी गई है। इसका रिजॉल्यूशन 1080×1920 पिक्सल का है। डिस्प्ले पर 2.5डी कर्व्ड ग्लास की प्रोटेक्शन दी गई है। इसमें कंपनी के अपने किरिन 655 ऑक्टा-कोर सीपीयू का इस्तेमाल किया है। इसमें 64GB की इंटरनल मैमोरी दी गई है जिसे माइक्रोएसडी कार्ड से 128GB तक बढ़ाया जा सकता है। कैमरे की बात करें तो हॉनर 8 लाइट में 12 मेगापिक्सल का रियर कैमरा दिया गया है। यह  F/2.2 अपर्चर और ऑटोफोकस के साथ आता है। वहीं इसके सेल्फी और वीडियो कॉलिंग के लिए 8 मेगापिक्सल का कैमरा दिया गया है।

फोन को पावर देने के लिए इसमें 3,000 mAH की बैटरी दी गई है। फोन में वॉल्यूम रॉकर और पावर बटन राइट साइड में दिए गए हैं, जबकि लेफ्ट साइड में हाइब्रिड डुअल-सिम स्लॉट दिया गया है। यूजर दो नैनो सिम या एक नैनो सिम और एक माइक्रोएसडी कार्ड विकल्प चुन सकते हैं।  हॉनर 8 लाइट के निचले हिस्से पर दो स्पीकर ग्रिल हैं और इसमें ऊपर की तरफ एक 3.5mm का ऑडियो जैक दिया गया है। फोन का वजन 147 ग्राम है।

 

इस मामले में भारत ने पूरी दुनिया को छोड़ा पीछे, अब डरेंगे चीन और पाक

Thursday, 23 November 2017 13:36

भारत ने लड़ाकू विमान से ब्रह्मोस का सफल परीक्षण कर इतिहास रच दिया. आज तक कोई भी देश सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल को किसी फाइटर जेट से लांच नहीं कर पाया है. लेकिन भारतीय वायुसेना ने ऐसा कर दिखाया है.

 

रक्षा मंत्रालय की प्रवक्ता के मुताबिक, आज विश्व की सबसे तेज सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल ने भारतीय वायुसेना के प्रमुक युद्धक विमान, सुखोई-30 एमकेआई से सफलतापूर्वक उड़ान भर इतिहास रच दिया. मिसाइल ने टारगेट बंगाल की खाड़ी में एक जहाज पर भेद कर किया पूरा किया.

 

वायुसेना के प्रवक्ता विंग कमांडर अनुपम बैनर्जी के मुताबिक, भारतीय वायुसेना दुनिया की पहली ऐसी एयरफोर्स है जिसने 2.8 मैक यानि आवाज की स्पीड से 2.8 गुना तेज रफ्तार से हवा से जमीन पर मार करने वाली मिसाइल का टेस्ट किया है.

 

इस सुखोई विमान ने पश्चिम बंगाल के कलाईकुंडा एयरबेस से उड़ान भर थी. इस मिसाइल की रेंज 400 किलोमीटर से ज्यादा है और भार करीब 2.5 टन है. सुखोई विमान की रेंज ही करीब तीन हजार किलोमीटर है.

 

आज के सफल परीक्षण से भारत जमीन, समुद्र और आकाश में सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल को लांच करने वाला पहला देश बन गया है. ब्रह्मोस को भारत ने रशिया के साथ मिलकर तैयार किया है. सबसे पहले वर्ष 2005 में नौसेना को ये क्रूज मिसाइल मिली थी.

 

नौसेना के सभी डेस्ट्रोयर और फ्रीगेट युद्धपोतों में ये ब्रह्मोस मिसाइल लगी हुई हैं. थलसेना के पास भी ब्रहमोस मिसाइल की 03 रेजीमेंट हैं. जिनमे से 02 चीन सीमा पर तैनात हैं और एक पाकिस्तान सीमा पर है.

 

रक्षामंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने इस शानदार उपलब्धि के लिए डीआरडीओ को बधाई दी. डीआरडीओ के अध्यक्ष और रक्षा विभाग (अनुसंधान एवं विकास) के सचिव डॉ एस क्रिस्टोफर ने ब्रह्मोस के निर्माण में संलग्न वैज्ञानिकों और इंजिनियरों को बधाई दी.

पहनावे पर प्रतिबंध: CM योगी आदित्यनाथ के कार्यक्रम में काला कोट, काली जैकेट पहनकर आए तो नहीं मिलेगी एंट्री

Thursday, 23 November 2017 11:56

 

गुरुवार (23 नवंबर) को यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ की फिरोजाबाद में प्रस्तावित सभा से पहले पुलिस ने अजीबोगरीब आदेश जारी किये हैं। फिरोजाबाद पुलिस ने सीएम आदित्यनाथ के आगमन से पूर्व कार्यक्रम स्थल के समीप मकानों में रह रहे लोगों और छोटे बच्चों को कमरे में बद कर दिया है। पुलिस ने दूसरी मंजिल पर रहने वालों को कमरों में बंद कर बाहर से दरवाजा बंद कर दिया है। इसके अलावा फिरोजाबाद एसपी ने आदेश दिया है कि सीएम के कार्यक्रम में जाने वाले लोगों की बारीकी से चेकिंग की जाए। इस दौरान अगर कोई शख्स काला कोट, काली जैकेट और काला स्वेटर पहने नजर आता है तो उसे प्रोग्राम में जाने की अनुमति नहीं दी जाएगी। पुलिस के आदेश के मुताबिक ऐसे शख्स को बाहर से ही लौटा दिया जाएगा। बता दें कि योगी आदित्यनाथ सीएम बनने के बाद पहली बार फिरोजाबाद में हैं। सीएम निकाय चुनाव में मेयर, पार्षद, अध्यक्ष, सभासद पद के प्रत्याशियों के समर्थन में रैलियां कर रहे हैं। फिरोजाबाद के पीडी जैन इंटर कालेज मैदान में सीएम की सभा हो रही है।

बता दें कि इस वक्त उत्तर प्रदेश में नगर निकाय के चुनाव चल रहे हैं। विधानसभा चुनाव में प्रंचड बहुमत हासिल करने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ और बीजेपी के लिए इन चुनावों सरकार की लोकप्रियता का लिटमस टेस्ट माना जा रहा है। सीएम योगी आदित्यनाथ इन चुनावों में खुद चुनाव प्रचार कर रहे हैं। बता दें कि उत्तर प्रदेश के कुल 16 नगर निगमों, 198 नगर पालिकाओं और 438 नगर पंचायतों में चुनाव हो रहे हैं। पहले चरण का मतदान 22 नवबंर को हो चुका है। इस दौरान राज्य के 24 जिलों में वोट डाले गये। दूसरे चरण का मतदान 25 जिलों में 26 नवंबर को होगा। तीसरे चरण के लिए 29 नवंबर को वोटिंग है। तीसरे चरण में 26 जिलों में वोटिंग होगी। नगर निकाय चुनाव में  3.32 करोड़ मतदाता 36,269 बूथ पर वोट डालेंगे जिसके लिए कुल 11,389 मतदान केंद्र बनाए गये हैं।

 

जनधन बैंक खातों, आधार और मोबाइल से कम हुआ भ्रष्‍टाचार: पीएम मोदी

Thursday, 23 November 2017 11:14

नई दिल्‍ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साइबर स्पेस पर ग्लोबल कॉन्फ्रेंस का उद्घाटन करने के मौके पर कहा कि जन धन बैंक खातों, आधार और मोबाइल फोन  से भ्रष्‍टाचार कम हुआ है और पारदर्शिता लाने में काफी मदद मिली है. उन्‍होंने कहा कि तकनीक बाधाओं को तोड़ती है और यह भारतीय परंपरा 'वसुधैव कुटुम्बकम' को मान्‍यता प्रदान करती है और दुनिया एक परिवार है.

उन्‍होंने कहा कि हम अपने नागरिकों को सशक्त बनाने के लिए मोबाइल पावर या एम-पावर का इस्तेमाल कर रहे हैं.डिजिटल टेक्‍नोलॉजी बहुत से काम करने में सक्षम है. यह कुशल सेवा वितरण और प्रशासन के लिए रास्ता बनाती है.

 

Bigg Boss 11: अर्शी खान से जुड़े हैरान कर देने वाले 5 सच, शादी से उम्र तक सब का हुआ खुलासा

Thursday, 23 November 2017 10:03

अर्शी खान इन दिनों जितना हॉट टॉपिक घर के अंदर  बनी हुई हैं, उतना ही दर्शकों और मीडिया में भी हैं. उन पर आए दिन तरह-तरह के आरोप लग रहे हैं और उनकी मजाक में कही बात भी खबर बन जाती है, और उसे लेकर पड़ताल शुरू हो जाती है. अर्शी खान के मैनेजर और पब्लिसिस्ट फ्लिन रेमेडियोज ने उन पर लग रहे आरोपों का खुलकर जवाब दिया है. उन्होंने अर्शी खान की शादी, शिक्षा, दादा और उम्र को लेकर सारी बातें साफ कर दी हैं. उन्होंने कहा है कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि मीडिया अर्शी खान के बारे में बिना किसी पुष्टि के कुछ भी छापे जा रहा है. उनके मुताबिक
 
शादी के बारे में
फ्लिन ने बताया है, “अर्शी खान की शादी कभी नहीं हुई है. उनके कई बॉयफ्रेंड हो सकते हैं ऐसा किसी भी लड़की के मामले में संभव है. जहां तक बुकी हज्बैंड की बात है तो उनका कोई पति नहीं है. अर्शी ने 2015 में पाकिस्तान के एक बुकी के खिलाफ धमकाने का केस दर्ज कराया था लेकिन वह उसका पति नहीं है.”
 
दादा की 18 शादियां
फ्लिन ने कहा, “अर्शी ने बिग बॉस के घर में जो भी अपने दादा के बारे में कहा है वह सिर्फ एक मजाक था. यह तो घर में किया गया सिर्फ एक जोक था. न जाने क्यों मीडिया ने इतनी गंभीरता से ले लिया. जबकि वे तो घर के बाकी सदस्यों की तरह मजाक ही कर रही थीं.”
 
इतनी है अर्शी की उम्र
जहां तक बात अर्शी खान की उम्र की है तो उनके कागजों में उम्र में कुछ दिक्कत थी. जिसमें बदलाव के लिए प्रक्रिया की गई थी और इसको दुरुस्त भी करा लिया गया है. जब वे बिग बॉस के घर से आएंगी तो उनकी उम्र के बारे में भी सब साफ हो जाएगा. जहां तक बात उनके लीग एफिडेविट की है तो उनकी उम्र 29 या 30 साल होनी चाहिए.
 
इतनी की है पढ़ाई
फ्लिन कहते हैं, “जहां तक मैं अर्शी को जानता हूं उन्होंने फिजियोथैरेपी में कोर्स कर रखा है और वे एक ट्रेंड फिजियोथेरेपिस्ट हैं. वे कॉरेस्पोंडेंस के जरिये लॉ का कोर्स भी कर रही है.”

गहना वशिष्ट के आरोपों पर
फ्लिन कहते हैं, “मैंने पहले ही गहना पर एक करोड़ का मुकदमा कर दिया है. यह अर्शी खान पर लगाए गए झूठे आरोपों को लेकर है. मामला कोर्ट में है और गहना को इस संबंध में नोटिस भेज दिया गया है.”

प्रद्युम्‍न हत्‍याकांड: कंडक्‍टर अशोक की पत्‍नी ने कहा, गुनाह कबूलने के नशा भी दिया

Thursday, 23 November 2017 09:13

गुड़गांव: रेयान स्कूल के सात साल के छात्र प्रद्युम्न ठाकुर की हत्या के सिलसिले में गिरफ्तार स्कूल बस कंडक्टर अशोक कुमार बुधवार को जेल से रिहा हो गया. अशोक ने घर लौटने पर मीडिया को धन्‍यवाद कहा. आपको बता दें कि गुड़गांव की एक अदालत ने उसकी जमानत मंजूर की थी.

भोंडसी जेल से रिहा किये जाने के बाद अशोक वहां से सीधे सोहना के घांबरोज गांव में अपने घर गया. उसके साथ उसके वकील मोहित वर्मा और परिवार के सदस्य थे. अशोक की पत्‍नी ने एएनआई ने कहा कि पुलिस ने उसके पति को उल्टा लटकाकर मारा और टॉर्चर किया. उसने बताया कि अशोक से गुनाह कबूलने के लिए नशा भी दिया.

खबरों के मुताबिक ग्राम प्रधान और अन्य निवासियों ने अशोक के पिता अमीरचंद को 50 हजार रुपये की जमानत राशि जुटाने में मदद की.

सीबीआई ने पिछले दिनों इस मामले में रेयान स्कूल के ही 16 वर्ष के एक छात्र को गिरफ्तार किया था जिसके बाद वर्मा ने अशोक की जमानत के लिए अदालत में अर्जी दी थी.
 

मेट्रो स्टेशनों के बीच बनेगा एलिवेटेड बाजार, मुसाफिरों को सड़क पर उतरने की जरूरत नहीं

Thursday, 23 November 2017 09:11

नोएडा शहर के पहले एलिवेटेड वाणिज्यिक परिसर को सेक्टर- 51 और सेक्टर- 71 मेट्रो स्टेशन के बीच बनाया जाएगा। इस परिसर के डिजाइन को इस तरह से तैयार किया जा रहा है, ताकि सेक्टर- 51 मेट्रो स्टेशन पर उतरने वाले मुसाफिरों को सड़क पर जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। वे वाणिज्यिक परिसर से होते हुए सेक्टर- 71 मेट्रो स्टेशन तक पहुंच सकेंगे। करीब 200 मीटर लंबे इस वाणिज्यिक परिसर के निर्माण लागत को तैयार होने वाली दुकानों, शोरूम आदि बेचकर की जाएगी। 29.7 किलोमीटर लंबी नोएडा- ग्रेटर नोएडा मेट्रो का ट्रायल जनवरी, 2018 से किए जाने की तैयारी है। नोएडा- ग्रेटर नोएडा मेट्रो के कोच चीन से रवाना हो चुके हैं। जो मध्य दिसंबर तक गुजरात के मुंद्रा बंदरगाह पहुंचेंगे। जहां से सड़क के रास्ते यहां लाए जाएंगे।

नोएडा से ग्रेटर नोएडा जाने वाली मेट्रो को मौजूदा सेक्टर- 32 सिटी सेंटर से सेक्टर- 62 तक जाने वाली लाइन से जोड़ा जाना है। ऐसे में सेक्टर- 51/71 पर बड़ा इंटरचेंज होगा। जहां से गाजियाबाद (वैशाली लाइन) और दिल्ली जाने की सीधी सुविधा मिलेगी। इस इंटरचेंज पर काफी भीड़ होने के चलते इसे वाणिज्यिक परिसर के निर्माण के लिए चुना गया है। परिसर के लिए नोएडा प्राधिकरण ने नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (एनएमआरसी) को जमीन आबंटित कर दी है। जहां पर 200 मीटर लंबे वाणिज्यिक परिसर को बनाया जाएगा। इस परिसर में शोरूम, रेस्तरां, दुकानें आदि खोली जाएंगी। एनएमआरसी अधिकारियों का दावा है कि यह प्रदेश का पहला एलिवेटेड वाणिज्यिक परिसर होगा। परिसर की डिजाइन करने की तैयारी है कि कम जगह में पार्किंग समेत अन्य सुविधाएं भी उपलब्ध हो सकें। वाणिज्यिक परिसर में खरीदारी की सभी तरह की सुविधाएं मिलेंगी। साथ ही सेक्टर- 51 और 71 के बीच जाने के लिए सड़क पर नहीं आना पड़ेगा। परिसर बनाने के लिए सेक्टर- 32/62 मेट्रो के संचालन से पहले पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। सर्वेक्षण के मुताबिक नोएडा-ग्रेटर नोएडा मेट्रो पर पीक आवर (व्यस्त समय) पर करीब 65 हजार मुसाफिर सफर करेंगे। इतनी ही संख्या सिटी सेंटर से सेक्टर- 62 जाने वाली मेट्रो में सफर करने वालों की होने की उम्मीद है। जिसके चलते वाणिज्यिक परिसर मुसाफिरों को बाजार की सुविधा देगा।

 

सुप्रीम कोर्ट ने जेपी वालों से कहा-अच्छे बच्चे बनकर 2000 करोड़ जमा करा दीजिए, वरना आपकी निजी संपत्ति होगी जब्त

Thursday, 23 November 2017 09:09

 

सर्वोच्च न्यायालय ने बुधवार को जेपी एसोसिएट्स को दो किस्तों में 31 दिसंबर तक 275 करोड़ रुपये जमा करने को कहा। इसके साथ ही अदालत ने जेपी एसोसिएट्स को फटकार लगाते हुए ‘एक अच्छे बच्चे की तरह व्यवहार’ करने की नसीहत दी। अदालत के इस आदेश को जेपी एसोसिएट्स के लिए राहत के तौर पर देखा जा रहा है। प्रधान न्यायाधीश न्यायमूर्ति दीपक मिश्रा, न्यायमूर्ति ए.एम. खानविलकर और न्यायमूर्ति डी.वाई.चंद्रचूड़ की पीठ ने रियल एस्टेट की दिग्गज कंपनी को 275 करोड़ रुपये की अतिरिक्त राशि जमा कराने को कहा है। इससे पहले भी अदालत ने 275 करोड़ रुपये जमा करने को कहा था। अदालत ने जेपी एसोसिएट्स को 14 दिसंबर तक 150 करोड़ रुपये व अन्य 125 करोड़ रुपये 31 दिसंबर तक जमा करने का निर्देश दिया। अदालत ने मामले की सुनवाई की अगली तारीख 10 जनवरी निर्धारित की है। अदालत ने कहा कि संरक्षक निदेशकों व स्वतंत्र निदेशकों में से कोई भी अपनी निजी संपत्ति को हस्तांतरित नहीं करेगा।

2 मई 2016 को, राष्ट्रीय उपभोक्ता विवाद निवारण आयोग (एनसीडीआरसी) ने जयप्रकाश एसोसिएट्स को फ्लैटों के वास्तविक अधिकार सौंपने की अंतिम तिथि तक 10 फ्लैट खरीदारों द्वारा जमा किए गए धन पर 12 प्रतिशत ब्याज का भुगतान करने का आदेश दिया था। इसके अलावा, एनसीडीआरसी ने जयप्रकाश एसोसिएट्स को 10 फ्लैट खरीदारों में प्रत्येक को 50,000 रुपये का भुगतान करने का निर्देश दिया था। जयप्रकाश एसोसिएट्स ने 2007 में कल्यापसो कोर्ट के प्रोजेक्ट की शुरुआत की थी, जिसमें 16 आवासीय फ्लैट बनाए जाने थे। इसे 2011 तक पूरा करने का प्रस्ताव था।

6 नवंबर को सुनवाई के दौरान सर्वोच्च न्यायालय ने जेपी एसोसिएट्स से अगली सुनवाई तक दो हजार करोड़ रुपये तैयार रखने के लिए कहा था। कंपनी ने 400 करोड़ रुपये की किश्त जमा करने की अनुमति मांगी थी जिसे अदालत ने नहीं माना और सीधे अगली सुनवाई तक दो हजार करोड़ की रकम का बंदोबस्त करने का आदेश दिया था।

जज बंदगी से कोर्टरुम में फ्लर्ट करते दिखे पुनीश, कहा-जो हमारे बीच आया उसे मार दूंगा

Thursday, 23 November 2017 09:03

बिग बॉस के अंदर इन दिनों बंदगी कालरा और पुनीश शर्मा का प्यार काफी सुर्खियां बटोर रहा है। दोनों को एक-दूसरे के साथ समय बिताते हुए देखा जाता रहता है। इनका प्यार घरवालों के लिए बातचीत का मुद्दा बन गया है। दोनों भी अपने प्यार का इजहार करने से चूकते नहीं है। अब वूट एप्लिकेशन पर एक ‘अनसीन-अनदेखा’ वीडियो शेयर किया गया है। जिसमें बंदगी जज के तौर पर बैठी हुई हैं और विकास वकील के कपड़ो में हैं। वहीं पुनीश जज बंदगी से फ्लर्ट करते हुए दिखाई दे रहे हैं।

पुनीश जज से कहते हैं कि तो क्या बनेगी बात हमारी, इसपर बंदगी कहती हैं कि नया बताइए तो हो सकता है। यह बातचीत सुनकर विकास कहता है ये देखों मेरा भाई जज के साथ ही लगा पड़ा है। इसपर बंदगी कहती हैं कि भाई ही हरामी है। पुनीश कहता है कि मैं इनके पास पहले आया था एक अर्जी लेकर कि एक लड़की है आप उसके पिता से बात कीजिए। दोनों की बात सुनकर विकास कहते हैं कि तुमने अपना साइड ट्रैक जो मेन ट्रैक बना रखा है, फ्लर्टिंग चालू है।

इसके बाद पुनीश कहते हैं कि मैंने जज से कहा कि लड़की के पिता को एक छोटी सी एप्लिकेशन दे दो कि मैं उनकी लड़की को बहुत पसंद करता हूं। इसपर इन्होंने कहा कि तुम तो लड़के ही बहुत बुरे हो और अपनी खूबियां बताओ। तो मैंने कहा कि मैं उससे प्यार करता हूं तो इन्होंने कहा वो तो सारी दुनिया करती है। इसके बाद पुनीश कहते हैं कि मुझे पता चला कि ये भी कुंवारी है। इसलिए आज मैं कोर्ट में दूसरी अर्जी लेकर आया हूं कि मैं उस लड़की को छोड़ चुका हूं।

यह सुनकर बंदगी कहती है कि दूसरी लड़की को छोड़ सकते हैं तो मुझे भी छोड़ सकते हैं। दोनों की लड़ाई होते देख विकास कहते हैं कि दिल्ली का बिजनेसमैन इसी तरह प्यार करता है। विकास के जाने के बाद पुनीश बंदगी से कहते हैं कि वो अपने और बंदगी के बीच आने वाले शख्स को मार देंगे। इससे पहले वो तीन खून कर चुके हैं। पुनीश कहते हैं जज अगर तू मेरे और बंदगी के बीच आया तो तू गया, अत्ता माजी सटक ली।

तेज प्रताप यादव ने सुशील मोदी को दी घर में घुसकर मारने की धमकी, बोले- बेटे की शादी में तोड़फोड़ करेंगे

Thursday, 23 November 2017 09:02

पटना: बिहार की राजनीति का  स्तर दिनों-दिन गिरता जा रहा है. लोग अब मारने-काटने तक आ गये हैं. मंगलवार को राबड़ी देवी ने पीएम मोदी को लेकर विवादित टिप्पणी कीं, तो बुधवार को लालू यादव के बड़े बेटे पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव ने बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी को घर में घुस कर मारने की धमकी दे दी. बता दें कि तेज प्रताप बिहार के औरंगाबाद में सभा को सम्बोधित कर रहे थे.

औरंगाबाद में तेज प्रताप ने कहा कि ''सुशील मोदी कॉल कर रहे हैं अपन को. माननीय मंत्री जी हैं, पूर्व स्वास्थ्य मंत्री जी से बात कराइये. बोले हम का बात है. उसका लड़का का बिआह है, उत्कर्ष मोदी का, बुला रहा है, बेइज्जत कर रहा है, बुलाया तो वहीं हम पोल खोल देंगे पूरा जनता के बीच में. लड़ाई जारी है, हम थोड़े मानेंगे, वार करेंगे... चूंकि हम उसके घर मे घुस के मारेंगे. हम रुकने वाले हैं, उस शादी में वहीं हम सभा करेंगे, तोड़-फोड़ करेंगे, पोल खोलेंगे उसका. जो-जो गेस्ट को बुलायेगा हु जट आदमी है. हम लालू यादव की तरह मुंह पर बोलने वाले हैं."

गौरतलब है कि सुशील मोदी के बेटे उत्कर्ष की शादी दिसंबर में होने वाली है. सुशील मोदी ने बेटे की शादी में न बैंड बाजा न किसी तामझाम का ऐलान किया है. सुशील कुमार के ऐलान के बाद बिहार में इस शादी की खूब चर्चा अभी से ही हो रही है. 

मंगलवार को राबड़ी देवी ने बिहार भाजपा अध्यक्ष नित्यानंद राय पर निशाना साधते वक्त पीएम मोदी को लेकर विवादित बयान दिया था. राबड़ी ने पीएम नरेंद्र मोदी का नाम लेते हुए कहा था कि जो लोग हाथ काटने की बात कर रहे हैं वो अपना गर्दन कटवाने के लिए तैयार रहें. 

सीएम शिवराज का ऐलान, अगले साल से एमपी के स्कूलों में पढ़ाई जाएगी 'पद्मावती' की गाथा

Thursday, 23 November 2017 09:01

भोपाल: मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने  बुधवार को घोषणा की है कि चित्तौड़ की रानी पद्मावती के पाठ को अगले शैक्षणिक सत्र से राज्य में स्कूल के पाठ्यक्रम में शामिल किया जाएगा. चौहान ने यह घोषणा समग्र राजपूत समाज द्वारा उज्जैन में आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए की. राजपूत समाज के नेताओं ने यह कार्यक्रम फिल्म निर्माता संजय लीला भंसाली की विवादास्पद फिल्म 'पद्मावती' को मध्यप्रदेश में प्रतिबंध लगाने के लिए मुख्यमंत्री चौहान को सम्मानित करने के लिए आयोजित किया था.

उन्होंने कहा कि राजमाता पद्मावती का पूरा जीवन चरित्र, उनके त्याग, तपस्या एवं वीरता को आने वाली पीढ़ियां जान सके, इसलिए अगले सत्र से स्कूल के पाठ्यक्रम में उनका चरित्र सम्मिलित किया जाएगा, ताकि सही इतिहास आने वाली पीढ़ी और लोग जान सकें. इससे पहले सोमवार को शिवराज सिंह चौहान ने राजधानी भोपाल में घोषणा की थी कि यदि ऐतिहासिक तथ्यों के साथ खिलवाड़ कर रानी पद्मावती के सम्मान के खिलाफ फिल्म 'पद्मावती' में दृश्य रखे गये तो इसे मध्यप्रदेश में प्रदर्शन की अनुमति नहीं दी जाएगी.

इसके साथ ही चौहान ने कहा था कि देश के वीरों की स्मृति में भोपाल में प्रस्तावित वीरभूमि प्रकल्प में रानी पद्मावती का भी स्मारक बनाया जाएगा. इस फिल्म में बॉलीवुड अभिनेत्री दीपिका पादुकोण चित्तौड़ की रानी पद्मावती की भूमिका निभा रही हैं.

अयोध्‍या मुद्दे पर राहुल गांधी तोड़ें 'चुप्‍पी' और रुख करें स्‍पष्‍ट: भाजपा

Thursday, 23 November 2017 08:55

राजकोट: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने अयोध्या मुद्दे को सुलझाने के लिए उत्तर प्रदेश शिया वक्फ बोर्ड के प्रस्ताव को ‘‘अच्छा’’
 बताया और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी  से अपनी ‘‘चुप्पी’’ तोड़कर पार्टी का रूख स्पष्ट करने को कहा.


उत्तर प्रदेश शिया वक्फ बोर्ड ने सोमवार को राम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद विवाद को सुलझाने के लिए अयोध्या में विवादित
भूमि से अपना अधिकार छोड़ने और लखनऊ में ‘‘मस्जिद ए अमन’’ बनाने का प्रस्ताव दिया था. शिया वक्फ बोर्ड द्वारा
इस मुद्दे को सुलझाने के लिए तैयार मसौदा 18 नवंबर को उच्चतम न्यायालय को सौंपा गया.

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘शिया वक्फ बोर्ड ने सुप्रीम कोर्ट में
एक हलफनामा दायर करके एक अच्छा सुझाव दिया कि अयोध्या में राम मंदिर और लखनऊ में मस्जिद बने. इस मुद्दे को
सुलझाने के लिए यह एक अच्छा सुझाव दिया.’’ वह भाजपा के विधानसभा चुनावों के उम्मीदवारों के लिए प्रचार के
सिलसिले में शहर में थे.

राव ने कहा, ‘‘भाजपा की साफ राय है कि अयोध्या में भगवान राम का भव्य मंदिर बने लेकिन कांग्रेस क्या कहना चाहती
है? हम मांग करते हैं कि राहुल गांधी इस मुद्दे पर चुप्पी तोड़कर अपनी पार्टी का रूख स्पष्ट करें.’’ उन्होंने कहा कि भाजपा
शिया वक्फ बोर्ड के सुझाव का समर्थन करती है लेकिन कांग्रेस से भी जवाब सुनना चाहती है.

जब फ्लाइट में देरी की वजह से केंद्रीय मंत्री केजे अल्फोंस पर फूटा महिला डॉक्टर का गुस्सा

Wednesday, 22 November 2017 17:20

केंद्रीय मंत्री केजे अल्फोंस को मणिपुर की राजधानी इंफाल में उस समय एक महिला यात्री के गुस्से का सामना करना पड़ा, जब वीआईपी मूवमेंट की वजह से उसकी फ्लाइट में देरी हो रही थी. पेशे से डॉक्टर यह महिला इस बात को लेकर मंत्री पर चीख पड़ी. इस पूरी घटना को किसी ने मोबाइल फोन में रिकॉर्ड कर लिया. प्राप्त जानकारी के मुताबिक महिला अपने किसी करीबी के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए समय पर घर पहुंचना चाह रही थी. मंत्री अल्फोंस को यहां विमान पकड़ना था और इसकी वजह से महिला की फ्लाइट समेत अन्य उड़ानों में कथित रूप से देर हो रही थी.

महिला ने जब मंत्री को वहां आते देखा तो वह फौरन उनके पास पहुंच गई. उसने तेज आवाज में कहा, 'मैं एक डॉक्टर हूं, कोई नेता नहीं. मुझे 2:45 बजे पटना जाना था, यह तय समय था. मैंने अपने परिवारवालों को भी इसकी जानकारी दे दी थी.' महिला ने कंपकंपाती आवाज में कहा, 'मेरे घर में जो शव है, वह ज्यादा देर होने पर खराब हो जाएगा और इससे बदबू आएगी.' मंत्री अल्फोंस ने महिला को शांत करने की कोशिश की, लेकिन महिला का गुस्सा शांत नहीं हुआ. महिला ने कहा कि उसे लिखित में यह आश्वासन दिया जाए कि आगे इस तरह से उड़ान में देरी नहीं की जाएगी. वहीं केजे अल्फोंस का कहना है कि उड़ान में उनकी वजह से देरी नहीं हुई. उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति की फ्लाइट उतरने वाली थी और प्रोटोकॉल का पालन होना था.

वहीं, एयरपोर्ट के निदेशक ने स्वीकार किया कि पिछले कुछ दिनों में एक त्योहार, एक डेवलपमेंट समिट और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की यात्रा के चलते एयरपोर्ट पर 'वीआईपी मूवमेंट' था. उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति के विमान की उड़ान की वजह से तीन फ्लाइटों में करीब दो घंटे की देरी हुई.'

उन्होंने कहा, हमें मालूम चला है कि एक महिला यात्री जो इंफाल से पटना जा रही थी, उनकी केंद्रीय मंत्री केजे अल्फोंस से कुछ बहस हुई.'

इंडिगो के खिलाफ देशद्रोह की शिकायत, कंपनी ने यह दी सफाई

Wednesday, 22 November 2017 16:23

 

एयरलाइंस कंपनी इंडिगो के लिए मंगलवार को नई मुश्किल खड़ी हो गई। कंपनी के खिलाफ एक यात्री ने देशद्रोह की शिकायत दर्ज कराई है, जिसमें कहा गया कि कंपनी ने भारतीय मुद्रा लेने से इन्कार कर दिया। बुधवार को इसी मामले में कंपनी की ओर से सफाई जारी की गई है। कंपनी का कहना है कि वह अंतर्राष्ट्रीय फ्लाइट्स पर ऑन बोर्ड सेल्स में भारतीय मुद्रा नहीं स्वीकार करती है। ऐसा उसने नियमों के तहत किया है। दिल्ली के रहने वाले प्रमोद कुमार जैन ने कंपनी के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 124 (ए) के तहत शिकायत दी थी। आरोप था कि उन्होंने जब खाना ऑर्डर किया, तो कंपनी के स्टाफ ने भारतीय मुद्रा लेने से इन्कार कर दिया। पीड़ित शख्स ने इसके बाद सरोजिनी नगर पुलिस थाने में इस बाबत शिकायत दी। शिकायतकर्ता के मुताबिक, यह मामला 10 नवंबर का है। वह तब बेंगलुरू से फ्लाइट नंबर 6E95 से दिल्ली जा रहे थे। चूंकि उनकी फ्लाइट के टिकट में खाना शामिल नहीं था, लिहाजा उन्होंने वह अलग से ऑर्डर किया। वह खाने के बदले में भारतीय मुद्रा दे रहे थे, लिहाजा इंडिगो के स्टाफ ने उसे लेने से मना कर दिया। आरोप है कि स्टाफ ने कहा कि उन्हें सिर्फ विदेशी मुद्रा लेने के लिए कहा गया है।

एक टीवी चैनल से हुई बातचीत में उन्होंने कहा कि इंडिगो के स्टाफ ने नियम की बात कहते हुए भारतीय मुद्रा लेने से मना कर दिया। हालांकि, मानक कहते हैं कि यात्री उस देश की मुद्रा में रकम चुका सकते हैं, जहां से वे चढ़े होते हैं और जहां वे उतरते हैं।

IndiGo, IndiGo Pilot, Passengers,Chennai-Madurai flight, flight 6E-859, Chennai ATC, cockpit, इंडिगो पायलट, विमान, सह-पायलटउधर, इंडिगो का इस मामले पर कहना है कि कंपनी अंतर्राष्ट्रीय फ्लाइट्स के ऑन बोर्ड सेल्स में भारतीय मुद्रा नहीं स्वीकारती है। ऐसा फॉरेन एक्सचेंज मैनेजमेंट एक्ट (फेमा) के नियम 3 के तहत किया जाता है। यह बात साफ तौर पर हमारे ऑन बोर्ड सेल्स मीन्यू में भी लिखी हुई है।

11 लोगों को ले जा रहा अमेरिकी नेवी का विमान प्रशांत महासागर में क्रैश

Wednesday, 22 November 2017 16:21

अमेरिकी नौसेना का एक विमान फिलीपीन सागर में दुर्घटनाग्रस्त हो गया। इसमें 11 लोग सवार थे। अमेरिका ने बुधवार को बताया कि पूर्वी एशिया में यह हालिया दुर्घटना है जिसमें उसका सशस्त्र बल प्रभावित हुआ है। नौसेना ने एक बयान में बताया है, ‘‘ओकिनावा के दक्षिण पूर्व में सागर में चालक दल और यात्रियों सहित 11 लोगों को ले जा रहा अमेरिकी नौसेना का एक विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया।’’ बयान में बताया गया है कि लोगों का पता लगाने और उन्हें निकालने का काम प्रगति पर है। उनकी स्थिति का मूल्यांकन यूएसएस रोनाल्ड रीगन मेडिकल स्टाफ द्वारा किया जाएगा। यह विमान अमेरिकी विमानवाहक पोत यूएसएस रोनाल्ड रीगन की ओर जा रहा था जो इस समय फिलीपीन सागर में है।
यूएसएस रोनाल्ड रीगन तलाश और बचाव अभियान चला रहा है। दुर्घटना के कारण का तत्काल पता नहीं चल सका है। पश्चिमी प्रशांत में अमेरिकी सेना की भारी उपस्थिति है। इसके अलावा जापान और दक्षिण कोरिया में हजारों की संख्या में अमेरिकी सैनिक तैनात हैं।

 

नॉर्थ कोरिया में महिला सैनिकों की आपबीती: रेप होना आम बात, असमय ठहर जाते हैं पीरियड्स

Wednesday, 22 November 2017 16:18

 

नॉर्थ कोरिया में रहना जितना आम नागरिकों के लिए कठिन है, उतना ही सैनिकों के लिए मुश्किल है। दुनिया की चौथी सबसे बड़ी सेना में महिलाओं की जिंदगी इतनी कठिन है कि यहां उनका रेप होना मामूली बात है। हालात के चलते असमय उनके पीरियड्स ठहर जाते हैं। ये बातें ली सो यियोन (41) नाम की पूर्व सैनिक ने बताई हैं। उनके घर से कई लोग सेना में थे, जिसके बाद 1990 में वह भी इसमें शामिल हुईं। तब उन्हें रोजाना एक वक्त का खाना देने का वादा किया गया था। वह 10 साल तक ऐसे कमरे में रहीं, जहां उन्हें दो दर्जन महिलाओं के साथ कमरा साझा करना पड़ा। हर किसी को सामान रखने के लिए दराज दी जाती थी, जिसके ऊपर वे वहां के नेता किम-II संग और उनके बेटे किम जोंग इल की तस्वीरें रखी रहती थीं। सेना छोड़े दशक भर से अधिक वक्त हो गया, मगर कड़वी यादें आज भी उन्हें झकझोर देती हैं।

वह बताती हैं कि सोने के लिए चावल के छिलके की दरी/गद्दा मिलता था। हर जगह उसी की दुर्गंध आती थी। ऊपर से यहां ठीक से नहाने की व्यवस्था भी नहीं थी। गर्म पानी नहीं मिलता है। नल की लाइन पहाड़ियों से आने वाले पानी से जुड़ी होती थी, जिससे कभी-कभार मेंढक और सांप भी आ जाते थे। ‘नॉर्थ कोरियाज हिडेन रेवोल्यूशन’ के लेखक जियून बेक ने बताया कि सेना में शामिल हुई महिलाओं में से बहुत से श्रमिक वर्ग के तौर पर काम लिया गया। जबकि अन्य को दुराचार, शोषण और सेक्सुअल हिंसा का शिकार होना पड़ा।

17 साल की उम्र के दौरान ली सेना की जिंदगी का आनंद ले रही थीं। रोज के कामों में तब उन्हें और बाकी महिला सैनिकों को खाना पकाना और सफाई जैसे काम भी करने पड़ते थे। जबकि पुरुषों इन कामों से छूट पा जाते थे। ‘नॉर्थ कोरिया इन 100 क्योस्चंस’ की लेखिका जूलिएट मोरिलट का कहना है कि यहां का समाज पुरुषवादी मानसिकता का जोर रहा है। महिलाएं को यहां रसोई तक सीमित कर दिया जाता है। यही नहीं, महिला सैनिकों को राशन की बोरियां भी ढोनी पड़ती हैं। 

ली के मुताबिक, कुपोषण और तनावपूर्ण माहौल के कारण उन्हें और बाकी महिला साथियों को नौकरी के छह महीने से साल भर के बाद असमय पीरियड्स ठहर जाते थे। महिला सैनिक इस हाल को अच्छा ही समझती थीं। उनका मानना था कि अगर उन्हें समय पर पीरियड्स होते, तो स्थितियां और विकराल हो सकती थीं। मजबूरी में कई बार ली और उनकी साथियों को कई बार इस्तेमाल किए हुए सैनिट्री पैड्स का प्रयोग करना पड़ा। ली को एक 20 साल की लड़की ने बताया था कि उसे इतनी ट्रेनिंग कराई गई कि दो साल तक उसे पीरियड्स ही नहीं हुए।

ली मर्जी से सेना में शामिल हुई थीं। लेकिन 2015 मे यहां सभी महिलाओं के लिए 18 साल के बाद न्यूनतम सात साल तक की मिलिट्री सेवा करना अनिवार्य हो गया। किताबों के लेखकों का मानना है कि यहां सेक्सुअल हैरसमैंट भी बुरी तरह फैला है। मोरिलोट ने जब इस मसले पर महिला सैनिकों से पूछा तो उन्होंने दूसरों के साथ वैसा होने की बात कही। कंपनी कमांडर घंटों तक महिलाओं के कमरे में रहते और उनके साथ जबरस्ती करते।

उधर, सेना का कहना है कि वह ऐसे मामलों को गंभीरता से लेती है। दोषी पाए जाने पर सात साल तक की जेल की सजा सुनाई जाती है। लेकिन बहुत सारे मामलों में पुरुष बच जाते हैं। ली साउथ कोरिया के बॉर्डर पर बतौर सार्जेंट तैनात थीं। 28 साल की उम्र में उन्होंने सेना छोड़ दी। 2008 में उन्होंने वहां से भागने का फैसला किया। पहली कोशिश में वह चीन से सटे बॉर्डर के पास पकड़ी गईं, जिसके बाद उन्हें एक साल की जेल हुई। दूसरी कोशिश में उन्होंने जेल से भागकर ट्यूमेन नदी पार की और चीन पहुंचीं। वहां वह एक शख्स से मिली थीं, जिसने उन्हें साउथ कोरिया वाया चीन से निकालने का बंदोबस्त किया था।

मिलिट्री परेड में हिस्सा लेतीं उत्तर कोरिया की महिला सैनिक।

SC और HC के जजों को मिलेगा 7वें वेतन आयोग का लाभ, पढ़ें कैबिनेट के फैसले

Wednesday, 22 November 2017 16:15

नई दिल्‍ली: वित्‍त मंत्री अरुण जेटली और कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बुधवार को केंद्रीय मंत्रिमंडल द्वारा लिए गए फैसलों की जानकारी दी. अरुण जेटली ने बताया कि केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 15वां वित्त आयोग बनाने को मंजूरी दी है. उन्‍होंने कहा कि इसके नियम व शर्तें समय आने पर अधिसूचित होंगी.

केंद्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने बताया कि सुप्रीम कोर्ट, हाईकोर्ट के न्यायाधीशों के वेतन बढ़ोतरी प्रस्ताव को भी मंत्रिमंडल ने मंजूरी दे दी है. अब जजों को सातवें वेतन आयोग का लाभ मिलेगा. इसका लाभ 31 सुप्रीम कोर्ट के, 1000 हाईकोर्ट के और 2500 रिटायर जजों को मिलेगा. 

रविशंकर प्रसाद ने बताया कि हमने रूस के साथ आतंकवाद से मुकाबला करने और संगठित अपराध का मुकाबला करने के साथ एक महत्वपूर्ण समझौता किया है.

कैबिनेट ने केंद्र सरकार के उपक्रमों को अपने कर्मचारियों से वेतन बढ़ाने के लिए बातचीत शुरू करने की अनुमति दे दी है. इतना ही नहीं यूरोपीय पुनर्गठन एवं विकास बैंक में भारत की सदस्यता को भी मंजूरी दे दी है. 

जेटली ने बताया कि संसद का शीतकालीन सत्र 15 दिसंबर से शुरू होगा और पांच दिसंबर तक चलेगा. रविशंकर प्रसाद ने बताया कि प्रधानमंत्री महिला शक्ति केन्‍द्र को भी मंजूरी दी गई है. 

मार्क जकरबर्ग से चीनी ने छीनी बादशाहत, ”पोनी” मा बने सोशल मीडिया के नए किंग, दान दे दिए 125 अरब रुपए

Wednesday, 22 November 2017 16:12

पिछले एक दशक में चीन और चीनियों ने पूरी दुनिया में सफलता के नए कीर्तिमान बनाए हैं। इस कड़ी में नया नाम जुड़ गया है मा हुआतेंग का। पोनी मा के नाम से चर्चित 46 वर्षीय मा हुआतेंग ने अमीरी के मामले में फेसबुक के सह-संस्थापक मार्क जकरबर्ग को पीछे छोड़ दिया है। सीएनएन के अनुसार जकरबर्ग को पीछे छोड़ने के साथ ही हुआतेंग इस समय दुनिया के सबसे बड़े सोशल मीडिया कारोबारी बन गये हैं। उनकी संपत्ति करीब 42 अरब ( करीब 27 हजार करोड़ रुपये) डॉलर आंकी गयी है। हुआतेंग केवल जेब के ही नहीं दिल के भी अमीर हैं। आपको ये जानकर खुशी होगी कि इस युवा चीनी कारोबारी ने दो अरब डॉलर (करीब 1200 करोड़ रुपये) दान दिए हैं। हुआतेंग ने स्नैपचैट और टेस्ला जैसी अमेरिकी कंपनियों में निवेश भी कर रखा है।

हुआतेंग टेनसेंट नामक चीनी कंपनी के चेयरमैन और सीईओ हैं। उनकी कंपनी मीडिया, सोशल मीडिया आर्टिफीशियल इंटेलीजेंस इत्यादि के क्षेत्र में कारोबार करती है। हाल ही में उनकी कंपनी का कुल मूल्य फेसबुक से ज्यादा आंका गया। जकरबर्ग को ही नहीं हुआतेंग ने अपने हमवतन और अलीबाबा के संस्थापक जैक मा को भी इस मामले में पीछे छोड़ दिया है। 1993 में शेनझेन विश्वविद्लाय से कम्प्यूटर साइंस में स्नातक उत्तीर्ण करने वाले हुआतेंग ने कॉलेज की पढ़ाई पूरी करने के पांच साल बाद टेनसेंट (टीसीएचवाई) नामक कंपनी शुरू की थी। शुरुआत में टेनसेंट की पहचान पश्चिमी दुनिया के प्रोडक्ट का चीनी संस्करण तैयार करने को लेकर थी। लेकिन वीचैट की स्थापना की साथ ही उनकी कंपनी के भाग्य बदल गये। व्हाट्सऐप की तरह मैसेजिंग सेवा देने वाले वीचैट के करीब एक अरब यूजर हैं।

टेनसेंट ने मोबाइल गेमिंग में भी जरबदस्त सफलता हासिल की। इसके बनाए “क्लैश ऑफ क्लैन्स” और “ऑनर ऑफ किंग्स” जैसे गेम काफी लोकप्रिय हुए। हुआतेंग की टेनसेंट में 8.6 प्रतिशत हिस्सेदारी है। पिछले एक साल में उनकी कंपनी का बाजार मूल्य और शेयरों के भाव करीब दोगुने हो चुके हैं। लेकिन दौलत बढ़ने के साथ ही हुआतेंग समाज के प्रति अपनी प्रतिबद्धता भी नहीं भुले हैं। उन्होंने चीन में स्वास्थ्य और शिक्षा के क्षेत्र से जुड़े सामाजिक कार्यों को 1200 करोड़ रुपये दान देने की घोषणा की है। हुआतेंग कारोबार के साथ ही राजनीति से भी जुड़ाव रखते हैं। वो चीन की सत्ताधारी कम्युनिस्ट पार्टी के नेशनल पीपल्स कांग्रेस में डिप्टी रह चुके हैं।

 

ऑनलाइन कारोबार से दुनिया में नाम कमाने वाले जैक मा के उलट हुआतेंग सुर्खियों में रहना पसंद नहीं करते। उन्हें मीडिया को इंटरव्यू देना भी ज्यादा पसंद नहीं। चुपचाप सतह से नीचे रहकर काम करने वाले हुआतेंग की टेनसेंट ने मंगलवार (21 नवंबर) को फेसबुक और अलीबाबा को कुल मूल्य के मामले में पीछे छोड़ दिया।

 

POPULAR ON IBN7.IN