बैडमिंटन संघ ने मानद महासचिव को बर्खास्त किया

 

बेंगलुरू:  भारतीय बैडमिंटन संघ (बीएआई) ने सोमवार को कार्यकारी समिति की बैठक में मानद महासचिव विजय सिन्हा को बर्खास्त कर दिया। गौरतलब है कि सिन्हा के खिलाफ भ्रष्टाचार और खिलाड़ियों के शोषण के आरोप में न्यायिक जांच चल रही है।

बीएआई ने सोमवार को एक वक्तव्य जारी कर कहा, "कार्यकारी समिति की बैठक में सर्वसम्मति से विजय सिन्हा को मानद महासचिव के पद से हटाए जाने का फैसला लिया गया।"

वक्तव्य में आगे कहा गया है, "बीएआई के अध्यक्ष अखिलेश दास गुप्ता ने इस मामले में अपनी आपात शक्तियों का इस्तेमाल किया, जिसे सर्वसम्मति से स्वीकार कर लिया गया।"

बीएआई ने बताया कि सिन्हा की जगह अनूप नारंग को मानद महासचिव पद के लिए नामांकित किया गया है और वह आधिकारिक तौर पर इस पद का कार्यभार संभालेंगे।

बीएआई के अनुसार, सिन्हा के खिलाफ गबन, दुरुपयोग, फर्जीवाड़ा, भाई-भतीजावाद, पक्षपात, दुर्व्यवहार और खिलाड़ियों के शोषण मामलों में न्यायिक जांच चल रही है।

बीएआई ने बैडमिंटन के हित में खिलाड़ियों की बेहतरी के लिए कई और प्रस्ताव पारित किए। इनमें से एक प्रस्ताव वर्ष के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों, प्रशिक्षकों, अंपायरों, अधिकारियों और सहायक कर्मचारियों को पुरस्कृत करने के लिए वर्ष में एक बार 'बैडमिंटन स्टार नाइट' कार्यक्रम के आयोजन का प्रस्ताव भी पारित किया गया।

कार्यकारी समिति की बैठक में भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ियों द्वारा पिछले वर्ष किए गए प्रदर्शन की सराहना की गई और खिलाड़ियों तथा प्रशिक्षकों को दी जाने वाली पुरस्कार राशि को स्वीकृति भी दे दी।

राष्ट्रीय बैडमिंटन कोच पुलेला गोपीचंद को इससे पहले 15 लाख रुपये का पुरस्कार दिए जाने की घोषणा की गई थी, जिसे बढ़ाकर 25 लाख रुपये कर दिया गया।

बैठक में 'कोच द कोचेस' और 'शटल टाइम' कार्यक्रमों को आगे भी जारी रखने का फैसला किया गया।

  • Agency: IANS
Poker sites http://gbetting.co.uk/poker with all bonuses.