येदियुरप्पा के बेटे विजयेंद्र वरुणा सीट से नहीं लड़ेंगे चुनाव

Monday, 23 April 2018 20:31

बेंगलुरु: भाजपा की कर्नाटक इकाई के अध्यक्ष बीएस येदियुरप्पा ने घोषणा की कि उनके बेटे बीवाई विजयेंद्र मैसुरू की वरुणा विधानसभा सीट से मुख्यमंत्री सिद्धारमैया के बेटे यतिंद्र के खिलाफ चुनाव नहीं लड़ेंगे. येदियुरप्पा ने मैसुरू के पास नंजनागुड में पार्टी द्वारा आयोजित एक बैठक में यह घोषणा की. इसके बाद भाजपा कार्यकर्ताओं ने व्यापक स्तर पर विरोध प्रदर्शन किया और स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को लाठी चार्ज करना पड़ा.

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, 'विजयेंद्र नामांकन दायर नहीं करेंगे. एक आम आदमी (पार्टी कार्यकर्ता) को उतारा जाएगा और वह नामांकन दायर करेगा.' उन्होंने कहा, 'मैं आपसे हाथ जोड़कर उस उम्मीदवार का समर्थन करने, उसे आर्शीवाद देने और जिताने का अनुरोध करता हूं.' वरुणा सीट की लड़ाई को पूर्व एवं मौजूदा मुख्यमंत्रियों के बेटों के बीच लड़ाई के तौर पर पेश किया गया था.

भाजपा ने अब तक वरुणा के लिए उम्मीदवार की आधिकारिक रूप से घोषणा नहीं की है. पार्टी के उम्मीदवार की घोषणा ना करने के बावजूद येदियुरप्पा के दूसरे बेटे विजयेंद्र को उम्मीदवार के रूप में पेश किया गया था. विजयेंद्र एक पखवाड़े से ज्यादा समय से विधानसभा क्षेत्र में प्रचार कर रहे थे. यहां तक कि वहां उन्होंने एक घर भी किराये पर ले लिया था. पार्टी सूत्रों के अनुसार वह आज ही नामांकन दायर करने वाले थे. येदियुरप्पा के मंच से जाते ही गुस्साए पार्टी कार्यकर्ता मंच पर चढ़ गए और फर्नीचर तोड़ दिया. 

उन्होंने विजयेंद्र और पार्टी के दूसरे नेताओं की कारें रोकने की भी कोशिश की और विजयेंद्र को टिकट ना देने का कारण पूछा. इसके बाद स्थिति नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज किया. येदियुरप्पा के बड़े बेटे बीवाई राघवेंद्र शिवमोगा जिले के शिकारीपुरा सीट से निवर्तमान विधायक हैं. शिकारीपुरा सीट से इस बार येदियुरप्पा खुद चुनाव लड़ रहे हैं. कर्नाटक विधानसभा चुनाव 12 मई को होंगे और 15 मई को मतगणना होगी. 

दुष्कर्म दोषियों के लिए मौत की सजा पर 76 फीसदी लोग सहमत : सर्वे

Monday, 23 April 2018 20:30

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा बच्चों से दुष्कर्म के दोषियों के लिए मौत की सजा का प्रावधान करने वाले अध्यादेश पर मुहर लगाने के एक दिन बाद एक सर्वेक्षण में सामने आया कि 76 फीसदी लोगों का कहना है कि बच्चों से दुष्कर्म करने वालों को मौत की सजा मिलनी चाहिए। लोकलसर्किल द्वारा कराए गए सर्वे के मुताबिक, 18 फीसदी लोगों ने दुष्कर्म दोषियों को बिना पैरोल के जीवन भर उम्रकैद की सजा देने पर सहमति जताई जबकि तीन फीसदी लोगों ने कहा कि सात साल जेल की सजा (जैसा अभी कानून है) होनी चाहिए।

यौन अपराधों से बच्चों की सुरक्षा (पॉस्को) अधिनियम, पर नागरिकों की नब्ज टटोलने के लोकलसर्किल ने छह राष्ट्रव्यापी सर्वे किए, जिसमें उसे 40 हजार से ज्यादा उत्तर प्राप्त हुए।

दूसरे सर्वे में 89 फीसदी लोगों ने अपने-अपने राज्यों में एक ऐसा कानून पारित करने की इच्छा जताई जिसमें छह महीने के भीतर मौत की सजा सुनाई जाए। 

मध्य प्रदेश, राजस्थान, हरियाणा और अरुणाचल प्रदेश बाल दुष्कर्म के लिए मौत की सजा वाला कानून पारित कर चुके हैं।

यौन उत्पीड़न के मामलों को दर्ज करने के लिए अधिक महिला अधिकारियों को जोड़ने वाले अन्य सर्वे में पाया गया कि 78 फीसदी नागरिक प्रत्येक जिला स्तर पुलिस थाने में कम से कम एक महिला अधिकारी तैनात करने के समर्थन में हैं।

नाबालिग से दुष्कर्म मामलों में पुलिस द्वारा आरोपपत्र दायर करने में लगने वाले समय के चौथे सर्वे में केवल 28 फीसदी लोगों ने कहा कि इसे 30 दिनों के भीतर पूरा किया जाना चाहिए जबकि 25 फीसदी ने इसे 45 दिनों के भीतर करने को कहा।

पांचवे सर्वे में पाया गया कि 65 फीसदी लोग चाहते हैं कि पॉस्को न्यायाधीश केवल नाबालिग से यौन दुर्व्यव्हार से संबंधित मामलों को संभालें। 

पॉस्को अधिनियम के तहत नाबालिग से दुष्कर्म के मामलों में न्याय के लिए समय सीमा पर हुए अंतिम सर्वे में 85 फीसदी नागरिकों ने कहा कि छह महीने में न्याय दिया जाना चाहिए।

सड़क दुर्घटनाओं की संख्या आधी करने का लक्ष्य : गडकरी

Monday, 23 April 2018 18:13

केंद्रीय सड़क परिवहन तथा राजमार्ग, जहाजरानी, जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि उन्होंने कार्यभार संभालने के बाद देश में दुर्घटनाओं में होने वाली 1.5 लाख मौतों को घटाकर आधा करने का लक्ष्य तय किया है। गडकरी ने कहा कि इस दिशा में प्रगति हुई है, लेकिन अभी भी वह संतुष्ट नहीं हैं और इस दिशा में कार्य करने की इच्छा रखते हैं। गडकरी ने कहा कि देश में राजमार्ग सूचना प्रणाली लागू करने के लिए दक्षिण कोरिया के साथ समझौते की संभावना तलाशी जा रही है। राजमार्ग सूचना प्रणाली दक्षिण कोरिया के एक्सप्रेस हाईवे इंफोर्मेशन कॉरपोरेशन द्वारा चलाई जा रही प्रणाली की तर्ज पर होगी और इसमें केंद्रीकृत नियंत्रण कक्ष से एकीकृत रूप में राजमार्गो की निगरानी की जा सकेगी।

गडकरी ने यहां विज्ञान भवन में 29वें राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह का उद्घाटन करते हुए देश में सड़क का उपयोग करने वालों की सुरक्षा सुनिश्चित करने में मंत्रालय की प्राथमिकताओं का जिक्र किया। 

मंत्रालय सामान्य लोगों में जागरूपकता पैदा करने और सड़क इस्तेमाल करने वालों की सुरक्षा में सुधार के लिए प्रत्येक वर्ष सड़क सुरक्षा सप्ताह आयोजित करता है। इस वर्ष सड़क सुरक्षा सप्ताह 23 से 29 अप्रैल तक मनाया जा रहा है और स्कूलों तथा वाणिज्यिक चालकों पर फोकस किया गया है।

गडकरी ने विद्यार्थियों से अनुरोध किया कि वे अपने परिवार और समाज के लिए सड़क सुरक्षा के राजदूत बनें।

उन्होंने सड़क सुरक्षा पर राष्ट्रीय स्तर की लेखन प्रतियोगिता के 15 विजेता स्कूली बच्चों को पुरस्कार प्रदान किए। शीर्ष तीन विजेताओं को क्रमश: 15 हजार रुपये, 10 हजार रुपये और पांच हजार रुपये के नकद पुरस्कार और प्रमाण-पत्र दिए गए। गडकरी ने इस अवसर पर लोगों को सड़क सुरक्षा की शपथ दिलाई।

गडकरी ने कहा कि "लोकसभा द्वारा पारित मोटर वाहन (संशोधन) विधेयक, 2017 के राज्यसभा में पारित किए जाने की प्रतीक्षा की जा रही है। यह विधेयक व्यापक रूप से सड़क सुरक्षा को प्रोत्साहित करता है। विधेयक एक सक्षम, बाधा रहित और एकीकृत मल्टीमोड सार्वजनिक परिवहन प्रणाली के विकास को प्रोत्साहन देगा।"

उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय राजमार्गो पर 789 संभावित दुर्घटना स्थलों को चिन्हित किया गया है, जिनमें से 139 स्थानों को ठीक किया गया है, और 233 स्थानों के लिए ठेके दिए गए हैं और कार्य प्रगति पर है।

गडकरी ने भारतीय सड़क सुरक्षा अभियान (आईआरएसी) द्वारा सड़क सुरक्षा पर तैयार पत्र भी जारी किया। आईआरएसी युवा नेतृत्व वाला राष्ट्रीय मिशन है, जिसका उद्देश्य सड़क सुरक्षा को बढ़ावा देना है। अभियान का नेतृत्व आईआईटी, दिल्ली के विद्यार्थियों और पूर्ववर्ती विद्यार्थियों द्वारा किया जा रहा है। 

'मवेशियों की तस्करी के कारण बंगाल को हर महीने 100 करोड़ का घाटा'

Monday, 23 April 2018 17:55

मवेशियों का व्यापार करने वाली एक संस्था ने सोमवार को उत्तर बंगाल के कुछ जिलों में पुलिस के एक हिस्से पर मवेशियों को बांग्लादेश ले जाने वाले तस्करों को सुरक्षित मार्ग मुहैया कराने का आरोप लगाया। संस्था का कहना है इससे सरकार को प्रत्येक महीने करीब 100 करोड़ रुपये के राजस्व का नुकसान हुआ है। अखिल भारतीय पशुधन व्यापारी एवं ट्रांसपोर्टर संघ के पदाधिकारियों ने 'वैध व्यापारियों के उत्पीड़न को रोकने के लिए' पश्चिम बंगाल सरकार और पुलिस अधिकारियों से पुलिस और तस्करों के बीच कथित सांठगांठ को तोड़ने के लिए कदम उठाने की मांग की है।

संगठन के अध्यक्ष अरुण लिंगदोह ने यहां संवाददाताओं को बताया, "मवेशियों और सुअरों के लाइसेंसधारी ट्रांसपोर्टरों को विभिन्न नाकों पर उत्पीड़न का शिकार होना पड़ता है। लेकिन, मवेशियों की तस्करी कर उन्हें बांग्लादेश ले जाने वाले तस्कर सुरक्षित मार्ग को लेकर सुनिश्चित रहते हैं क्योंकि दलालों ने पुलिस को भारी भरकम कमीशन चुकाई होती है।"

उन्होंने कहा कि इस अवैध गतिविधि के कारण सरकार को हर महीने करीब 100 करोड़ रुपये का घाटा हो रहा है।

उन्होंने दावा किया कि मवेशी व्यापारी मवेशियों को राजस्थान, बिहार, झारखंड और हरियाणा जैसे राज्यों से खरीद कर लाते हैं और खेती बाड़ी में प्रयोग के लिए पूर्वोत्तर राज्यों में बेचते हैं।

संगठन के सचिव मुन्ना सैकिया ने आरोप लगाया, "हमें डीएसपी पद के नीचे वाले पुलिसकर्मियों और तस्करों द्वारा उत्तर दिनाजपुर, दार्जिलिंग, जलपाईगुड़ी, अलीपुरद्वार और कूचबिहार के नाकों, विशेष रूप से फासीदेवा इलाके में प्रताड़ित किया जाता है।"

देश का मसाला निर्यात 20 फीसदी बढ़ा

Monday, 23 April 2018 17:54

देशी मसालों और मसाला उत्पादों के निर्यात में साल 2017 के अप्रैल-दिसंबर अवधि के दौरान 20 फीसदी वृद्धि दर्ज की गई और कुल 7,97,145 टन मसालों का निर्यात हुआ, जिसकी कीमत 13,167.89 करोड़ रुपये थी। सोमवार को जारी आंकड़ों से यह जानकारी मिली। साल 2016 की समान अवधि में कुल 6,63,247 टन मसालों का निर्यात किया गया था, जिनका कुल मूल्य 12,607.46 करोड़ रुपये था। 

निर्यात किए गए मसालों में छोटी इलायची (इसे मसालों की रानी के नाम से जाना जाता है), जीरा, लहसुन, हींग, हल्दी और अन्य बीज शामिल हैं, जिनकी मात्रा के साथ मूल्य भी बढ़ा है। इन मसालों की बिक्री से देश को बहुमूल्य विदेशी मुद्रा की कमाई होती है। 

वहीं, मूल्यवर्धित उत्पादों जैसे करी पाउडर, पुदीना उत्पाद, मसालों का तेल और ओलियोरेसीन्स के निर्यात की मात्रा भी बढ़ी है तथा निर्यात मूल्य भी बढ़ा है, जबकि मिर्ची, धनिया, सौंफ और जायफल और जावित्री की सिर्फ मात्रा बढ़ी है, उनका मूल्य नहीं बढ़ा है।

स्पाइस बोर्ड के अध्यक्ष ए. ए. जयतिलक ने कहा, "भारत कड़ी प्रतिस्पर्धा और कड़े खाद्य सुरक्षा नियमों के बीच अंतर्राष्ट्रीय बाजार में अपने ट्रेडमार्क मसालों की मांग बनाए रखने में सक्षम रहा है और अब अंतर्राष्ट्रीय वस्तु व्यापार को परिभाषित कर रहा है।"

नेमार को सर्वश्रेष्ठ बनने के लिए मेड्रिड जाना होगा : रिवाल्डो

Monday, 23 April 2018 17:50

 ब्राजील के महान खिलाड़ी रिवाल्डो का मानना है कि अगर नेमार को विश्व का सर्वश्रेष्ठ फुटबाल खिलाड़ी बनना है, तो उन्हें पेरिस सेंट जर्मेन (पीएसजी) क्लब को छोड़ना होगा। समचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, नेमार पिछले वर्ष अगस्त में 22.2 करोड़ यूरो की रिकॉर्ड ट्रांसफर फीस पर एफसी बार्सिलोना से फ्रांस के क्लब पेरिस सेंट जर्मेन से जुड़े थे।  

नेमार पहले भी कह चुके है कि वह विश्व के सर्वश्रेष्ठ फुटबाल खिलाड़ी बनना चाहते हैं लेकि वर्ष 1999 में विश्व का सर्वश्रेष्ठ फुटबाल खिलाड़ी चुने जाने वाले रिवाल्डो मानते है कि अगर नेमार को ऐसा करने के लिए रियल मेड्रिड से जुड़ना होगा।

ग्लोबो ईस्पोर्टे ने रविवार को रिवाल्डो के हवाले से बताया, "मै मानता हूं कि अगर वह पीएसजी में रहेंगे तो विश्व के सर्वश्रेष्ठ फुटबाल खिलाड़ी नहीं बन पाएंगे।"

रिवाल्डो ने कहा, "उन्हें पीएसजी छोड़ना होगा। उन्हें सबसे बेहतरीन खिलाड़ी बनने के लिए स्पेन में खेलना होगा। अगर आप विश्लेषण करें तो इंग्लैंड, स्पेन, इटली और जर्मनी में फुटबाल अलग है।"

रिवाल्डो ने आगे कहा, "उनके लिए बार्सिलोना वापस जाना मुश्किल होगा लेकिन मेरे पास जो जानकारी है, उसके मुताबिक वह रियल से खेल सकते हैं। अगर नेमार वहां जाते हैं, तो हां मैं समझता हूं कि वह सबसे बेहतरीन खिलाड़ी बन सकते हैं।"

फरवरी में पांव में चोट लगने से पहले नेमार ने सभी प्रतियोगिताओं में पीएसजी के लिए 28 गोल दागे थे।

विदेशों में देश में पैसा मंगाने में पहले नंबर पर भारतीय

Monday, 23 April 2018 17:49

विदेश में बसे अपने देश के लोगों से धन प्राप्त करने में भारत शीर्ष स्थान पर कायम रहा है। विश्व बैंक ने आज कहा कि 2017 में विदेश में बसे भारतीयों ने अपने घर – परिवार के लोगों को 69 अरब डॉलर भेजे ( रेमिटेंस ) जो इससे पिछले साल की तुलना में 9.9 प्रतिशत अधिक है। विश्व बैंक की रपट में कहा गया है कि 2017 में विदेश में बसे भारतीयों ने देश में 69 अरब डॉलर भेजे। यह इससे पिछले साल की तुलना में अधिक है , लेकिन 2014 में प्राप्त 70.4 अरब डॉलर के रेमिटेंस से कम है।  रपट में कहा गया है कि यूरोप , रूस और अमेरिका में वृद्धि से रेमिटेंस में उल्लेखनीय इजाफा हुआ है। यहां गौरतलब है कि कई गरीब देशों की अर्थव्यवस्थाओं के लिए रेमिटेंस बड़ा सहारा होता है।

विश्व बैंक का कहना है कि कच्चे तेल के ऊंचे दाम तथा यूरो और रूबल में आई मजबूती से रेमिटेंस बढ़ा है। रपट में बताया गया है कि समीक्षाधीन अवधि में जहां भारत को 69 अरब डॉलर का रेमिटेंस मिला , वहीं 64 अरब डॉलर के साथ चीन दूसरे स्थान पर रहा। फिलिपींस को 33 अरब डॉलर , मेक्सिको को 31 अरब डॉलर , नाइजीरिया को 22 अरब डॉलर और मिस्र को 20 अरब डॉलर रेमिटेंस से मिले।

भारत को 2015 में 68.91 अरब डॉलर का रेमिटेंस मिला था , जो 2016 में घटकर 62.74 अरब डॉलर पर आ गया था। विश्व बैंक का अनुमान है कि आधिकारिक रूप से कम और मध्यम आय वाले देशों को 2017 में 466 अरब डॉलर का रेमिटेंस मिला। यह 2016 के 429 अरब डॉलर से 8.5 प्रतिशत अधिक है। वैश्विक स्तर पर रेमिटेंस 2017 में सात प्रतिशत बढ़कर 613 अरब डॉलर पर पहुंच गया , जो 2016 में 573 अरब डॉलर रहा था।
रपट में कहा गया है कि कम और मध्यम आय वाले देशों को रेमिटेंस 2018 में 4.1 प्रतिशत बढ़कर 485 अरब डॉलर पर पहुंचने का अनुमान है। वहीं वैश्विक स्तर पर यह 4.6 प्रतिशत बढ़कर 642 अरब डॉलर पर पहुंच जाएगा।

डैंड्रफ और बालों के झड़ने की समस्या से निजात दिलाता है विटामिन ई से भरपूर बादाम का तेल

Monday, 23 April 2018 17:48

प्रदूषण और पोषक तत्वों की कमी की वजह से बालों का कमजोर होकर टूटना एक आम समस्या है। बालों में धूल-मिट्टी जमा होने की वजह से भी बाल कमजोर होते हैं। इसके अलावा रूखै स्कैल्प की वजह से बालों में होने वाले डैंड्रफ भी बाल झड़ने के लिए जिम्मेदार होते हैं। ऐसे में बालों की ठीक तरह से देखभाल न की जाए तो देखते-देखते आपका सिर बालों से खाली भी हो सकता है। बादाम का तेल आपके बालों की बेहतर सेहत के लिए काफी फायदेमंद हो सकता है। यह विटामिनस ई, प्रोटीन, ओमेगा-3 फैटी एसिड, एंटीऑक्सीडेंट और मिनरल्स से भरपूर होता है जो बालों को सेहतमंद रहने में मदद करता है। आइए जानते हैं कि बालों में बादाम का तेल लगाने के और क्या-क्या फायदे होते हैं।

लंबे और घने बाल – बादाम के तेल में मैग्नीशियम उच्च मात्रा में पाया जाता है। यह बालों को जड़ से मजबूत बनाता है। इस वजह से बालों के झड़ने की समस्या कम हो जाती है। इसके अलावा इसमें विटामिन-ई भी होता है जो बालों के विकास में मदद करता है।

दोमुहें बालों से छुटकारा – बादाम के तेल में एंटीऑक्सीडेंट्स, विटामिन और जरूरी मिनरल्स मौजूद होते हैं। ये हेयर फॉलिकल्स को पुनर्जीवित करते हैं। इससे दोमुंहें बालों की समस्या कम हो जाती है और बाल जड़ से मजबूत बनते हैं।

मॉइश्चराइजर – फैटी एसिड और विटामिन ई होने की वजह से बादाम का तेल बालों को मॉइश्चराइज रखता है। जिससे बाल रूखे और बेजान नहीं होते। बादाम का तेल एक बेहतरीन मॉइश्चराइजिंग एजेंट की तरह काम करता है और बालों का स्वस्थ रखता है।

डैंड्रफ से निजात – बादाम का तेल एक बेहतरीन एमोलिएंट की तरह काम करता है। यह स्कैल्प्स से डेड सेल्स को हटाकर डैंड्रफ की समस्या को कम करने में मदद करता है। इसके अलावा यह स्कैल्प की साफ-सफाई में भी काफी असरदार है।

स्कैल्प की सुरक्षा – स्कैल्प में धूल-मिट्टी और गंदगी जमा हो जाने की वजह से खुजली और जलन की समस्या होने लगती है। कई बार इसकी वजह से स्कैल्प में इंफेक्शन भी हो जाता है। लेकिन बादम का तेल इसके लिए बहुत प्रभावी होता है क्योंकि इसमें फैटी एसिड और एंटीऑक्सीडेंट मौजूद होता है। जो संक्रमण रोकने में मददगार होता है।

2010 में महाभियोग के खिलाफ थे और आज समर्थन में खड़े हैं कपिल सिब्‍बल

Monday, 23 April 2018 16:50

कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता कपिल सिब्‍बल सुप्रीम कोर्ट के प्रधान न्‍यायाधीश दीपक मिश्रा के खिलाफ महाभियोग लाने के विपक्ष के कदम का नेतृत्‍व कर रहे हैं। आज विपक्ष में बैठे सिब्‍बल जब सत्‍ता में हुआ करते थे, तब जजों के खिलाफ ऐसी कार्रवाई पर उनके विचार पूरी तरह अलग थे। तब सिब्‍बल ने एनडीटीवी से बातचीत में कहा था, ”मुझे लगता है कि अगर राजनेता जजों की किस्‍मत तय करने लगें तो यह देश के प्रति सबसे बड़ा अपकार होगा।” 2010 में सिब्‍बल ने इस पूरी प्रक्रिया को ‘असंवैधानिक’ बताया था क्‍योंकि पार्टियों को सदन में सदस्‍यों की मौजूदगी सुनिश्चित कराने के लिए व्हिप जारी करना पड़ता।

2010 में कलकत्‍ता हाई कोर्ट के जज सौमित्र सेन के खिलाफ महाभियोग की प्रक्रिया शुरू की गई थी। उन पर वित्‍तीय अनियमितताओं के आरोप लगे थे। प्रस्‍ताव राज्‍यसभा से पास हो चुका था और उसपर लोकसभा में मतदान होने वाला था मगर तभी जस्टिस सेन ने खुद ही पद छोड़ दिया। अगर वह ऐसा न करते तो संसद द्वारा महाभियोग के जरिए हटाए जाने वाले पहले जज बन जाते।

बीते शुक्रवार (20 अप्रैल) को कांग्रेस के नेतृत्‍च में विपक्ष ने भारत के प्रधान न्‍यायाधीश के खिलाफ महाभियोग चलाने का नोटिस दिया था। इस पर 7 पार्टियों के 64 सांसदों ने हस्‍ताक्षर कर समर्थन दिया था। हालांकि राज्‍यसभा सभापति व उप-राष्‍ट्रपति वेंकैया नायडू ने सोमवार को नोटिस खारिज कर दिया। अब विपक्षी दलों ने फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाने का फैसला किया है।

सिब्‍बल ने 2010 में कहा था, ”अगर आप एक व्हिप जारी करते हैं तो आप एक सदस्‍य को उसका न्‍यायिक निर्णय करने से रोकते हैं, क्‍योंकि अगर आप संसद में महाभियोग प्रक्रिया के दौरान मौजूद हैं तो आप जज हैं।” कांग्रेस ने सत्‍ता में रहते हुए पहले भी महाभियोग प्रस्‍ताव का विरोध किया था।

1993 में जब संसद में सुप्रीम कोर्ट जज वी रामास्‍वामी के खिलाफ महाभियोग की कार्रवाई शुरू की गई तो कपिल सिब्‍बल ने ही सदन में उनका बचाव किया। यह महाभियोग प्रस्‍ताव सदन में गिर गया था।

 

 

व्यापारी को किडनैप कर फिरौती में बिटकॉइन मांग रहा था एसपी

Monday, 23 April 2018 16:47

गुजरात में अपहरण और फिरौती का नया मामला सामने आया है। इस मामले को किसी और ने नहीं, बल्कि गुजरात पुलिस ने ही अंजाम दिया है। अमरेली के पुलिस अधीक्षक (एसपी) जगदीश पटेल को हिरासत लिया गया है। इससे पहले सीआईडी ने उनके आवास पर रात में छापा भी मारा था। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, सूरत के रियल एस्‍टेट कारोबारी शैलेष भट्ट को अगवा कर लिया। फिरौती के तौर पर 12 करोड़ रुपये मूल्‍य के 200 बिटकॉइन (डिजिटल करेंसी) और पांच करोड़ नकद लिए गए थे। इस मामले में रज्‍य के 10 पुलिसकर्मियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। अमरेली के वरिष्‍ठ पुलिस अधीक्षक जगदीश पटेल के खिलाफ भी जांच चल रही थी, जिन्‍हें सीआईडी (क्राइम) ने पूछताछ के बाद हिरासत में ले लिया गया है। आरोप है कि पटेल ने बिल्‍डर शैलेष भट्ट से करोड़ों रुपये के बिटकॉइन वसूलने में शामिल थे। अपराध शाखा में पुलिस इंस्‍पेक्‍टर अनंत पटेल को भी इसमें संलिप्‍त बताया जा रहा है। वह फिलहाल फरार हैं। डीजीपी (सीआईडी क्राइम) आशीष भाटिया ने बताया कि इस मामले में तीन अन्‍य आरोपी पुलिसकर्मियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

सीबीआई अधिकारी के शामिल होने का आरोप: इस हाईप्रोफाइल अपहरण कांड में गुजरात में तैनात सीबीआई के अधिकारी सुनील नायर को भी शामिल बताया गया है। शैलेष भट्ट द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत में एसपी जगदीश पटेल, इंस्‍पेक्‍टर अनंत पटेल, बिटकॉइन की जानकारी रखने वाले किरीट पलाडिया और पूर्व विधायक नलिन कोटडिया को मुख्‍य अरोपी बनाया गया है। शैलेष की शिकायत के अनुसार, अमरेली पुलिस और स्टेट सीबीआई अधिकारी ने उन्‍हें एनकाउंटर करने की धमकी देकर 17 करोड़ रुपये वसूल लिए। उनका आरोप है कि इनमें से 5 करोड़ सीबीआई अधिकारी सुनील नायर ने लिए हैं। वहीं, बारह करोड़ रुपये मूल्‍य के 200 बिटकॉइन इंस्पेक्टर अनंत पटेल और एसपी जगदीश पटेल ने लिए थे। शैलेष भट्ट का आरोप है कि इस मामले में उनका पूर्व पार्टनर किरीट पालडिया भी पुलिस के साथ मिले हुए थे। शैलेष का आरोप है कि पूर्व विधायक नलिन कोटडिया से जब उन्‍होंने मदद मांगी थी तो राजनीतिज्ञ ने उलटे पुलिस को फिरौती की रकम देने के लिए दबाव बनाया था।

‘पालडिया ने दी थी बिटकॉइन में पैसा गाने की सलाह’: बिल्‍डर शैलेष भट्ट ने बताया कि नवंबर, 2016 में नोटबंदी के बाद उनके सामने नकदी को निवेश करने का सवाल पैदा हो गया था। उसी वक्‍त वह सूरत के किरीट पालडिया के संपर्क में आए थे। पालडिया ने शैलेष को बिकॉइन में पैसे लगाने की सलाह दी थी। धीरे-धीरे शैलेष के पास 200 बिटकॉइन इकट्ठा हो गए थे। शैलेष ने सीबीआई अधिकारी सुनील नायर पर कार्यालय में बुलाकर मारपीट करने का भी आरोप लगाया है।

जातिसूचक शब्द के इस्तेमाल पर सलमान को राहत, SC ने मुकदमों पर लगाई रोक

Monday, 23 April 2018 16:46

फिल्म 'एक था टाइगर' के प्रमोशन के दौरान सलमान खान पर अनुसूचित जाति के अपमान के आरोप में राजस्थान में मुकदमे दर्ज कराए गए थे जिनमें अब उन्हें राहत मिलती नजर आ रही है. सुप्रीम कोर्ट ने इन मुकदमों पर रोक लगा दी है. सुप्रीम कोर्ट ने राजस्थान समेत देश के दूसरे हिस्सों में दर्ज मुकदमों पर भी रोक लगाई है. इस मामले में अगली सुनवाई 23 जुलाई को होगी.

दरअसल, एक शब्द का ग़लत इस्तेमाल सलमान खान और शिल्पा शेट्टी पर भारी पड़ गया था. वाल्‍मीकि समाज ने सलमान और शिल्पा की आपत्तीजनक टिप्पणी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवा दी थी. दिल्ली की वाल्मीकि समाज एक्शन कमेटी ने शिकायत की थी और उसकी कॉपी फेसबुक पर पोस्ट भी की थी.

फिल्म ‘टाइगर जिंदा है’ का प्रमोशन करने के दौरान सलमान खान ने अपने डांस के टैलेंट को नापते हुए आपत्तीजनक शब्द का इस्तेमाल किया था. जिसके बाद उनके खिलाफ शिकायत दर्ज करवा दी गई थी. इसके साथ ही शिल्पा शेट्टी ने भी यह बताने के लिए कि वह घर पर कैसी दिखती हैं, इस आपत्तीजनक जातिसूचक शब्‍द का इस्‍तेमाल किया.

टीसीएस 100 अरब डॉलर मूल्य की पहली भारतीय कंपनी बनी

Monday, 23 April 2018 16:45

आईटी दिग्गज, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसिस (टीसीएस) सोमवार को पहली ऐसी भारतीय सूचीबद्ध कंपनी बन गई, जिसकी बाजार पूंजी (एम-कैप) 100 अरब डॉलर से अधिक है। बीएसई (बम्बई स्टॉक एक्सचेंज) पर करीब 11.00 बजे पूर्वाह्न् कंपनी का एम-कैप 6,75,934.95 करोड़ रुपये या 101.60 अरब डॉलर था। 

वहीं, कंपनी ने शेयरों में चार फीसदी की तेजी दर्ज की गई और यह 3,557 रुपये प्रति शेयर की नई ऊंचाई पर पहुंच गई। 

शुक्रवार को टीसीएस के शेयरों में सात फीसदी की तेजी दर्ज की गई थी और यह 3,419.80 पर बंद हुआ था तथा कंपनी का मार्केट कैप 6.50 लाख करोड़ रुपये या 98 अरब डॉलर तक पहुंच गया था। 

कंपनी के तिमाही नतीजों की घोषणा करने के बाद सोमवार को शेयरों में फिर तेजी दर्ज की गई। कंपनी को पिछले वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में कुल 6,925 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ है, जोकि वित्त वर्ष 2016-17 की समान तिमाही की तुलना में 4.6 फीसदी अधिक है। कंपनी को वित्त वर्ष 2016-17 की चौथी तिमाही में 6,622 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ है। 

कंपनी ने वित्त वर्ष 2017-18 के लिए निवेशकों को एक रुपये के फेस वैल्यू पर प्रति शेयर के साथ एक शेयर का लाभांश देने का फैसला किया है। 

पर्रिकर के स्वास्थ्य पर आरटीआई डालने के कारण गिरफ्तारी हुई : व्यापारी

Monday, 23 April 2018 16:44

गोवा के मुख्यमंत्री अस्वस्थ मनोहर पर्रिकर की मौत की घोषणा की झूठी फेसबुक पोस्ट को अपलोड करने पर गिरफ्तार होने और फिर जमानत पर रिहा होने वाले व्यवसायी केनेथ सिल्विरा ने कहा कि गोवा के मुख्यमंत्री की सेहत के बारे में मुख्यमंत्री कार्यालय में आरटीआई अर्जी दायर करने के दो दिन बाद उन्हें गिरफ्तार किया गया था। 35 वर्षीय व्यवसायी को पिछले सप्ताह गिरफ्तार किया गया था। अब वह जमानत पर रिहा हैं। सोमवार को उन्होंने एक सोशल मीडिया पोस्ट में पुलिस कार्रवाई की जानकारी दी। 

पर्रिकर के खिलाफ 2017 में पणजी विधानसभा क्षेत्र से चुनाव भी लड़ चुके सिल्विरा से सोमवार को आरोप लगाया कि 'अपराध शाखा को मुख्यमंत्री कार्यालय से उनकी गैरकानूनी गिरफ्तारी का आदेश मिला था।'

सिल्विरा ने अपनी फेसबुक पोस्ट में लिखा, "भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) मुझसे डरती है और मेरा मुंह बंद करना चाहती है। मेरी अवैधानिक गिरफ्तारी के कारणों में से एक यह भी है।"

उन्होंने कहा, "आरटीआई अर्जी मेरे द्वारा सीधे मुख्यमंत्री कार्यालय में भेजी गई था जिसके बाद मुझे सारहीन बातों के आधार पर गिरफ्तार किया गया था।" 

यहां से 35 किलोमीटर दूर वास्को बंदरगाह कस्बे के निवासी ने कहा, "मेरी वजह से भाजपा सरकार बेनकाब हो गई है.. मुझे चुप करने का एकमात्र तरीका मुझे मारना है।"

सूचना का अधिकार अधिनियम के तहत दायर आवेदन, जिसकी एक प्रति भी फेसबुक पर अपलोड की गई है, में पर्रिकर की अनुपस्थिति में प्रशासन से संबंधित अन्य चीजों के प्रबंधन की जानकारी, मुख्यमंत्री के इलाज पर राज्य सरकार द्वारा किए जाने वाले खर्च का ब्योरा, उनके मेडिकल बिलों की प्रतियां और पार्रिकर की वापसी की अपेक्षित तारीख के बारे में जानकारी मांगी गई थी। 

18 अप्रैल को गोवा पुलिस की अपराध शाखा ने केनेथ को गिरफ्तार कर लिया था, जिसके एक दिन पहले उन्होंने सोशल मीडिया साइट पर पर्रिकर के निधन का दावा करने वाली पोस्ट डाली थी। गोवा भाजपा के एक पदाधिकारी के शिकायत दर्ज कराने के बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था।

20 अप्रैल को, सामाजिक संगठनों के कुछ सदस्यों ने राज्य पुलिस मुख्यालय के बाहर विरोध प्रदर्शन किया और पुलिस पर अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता को दबाने की कोशिश करने का आरोप लगाया।

दक्षिण कोरिया ने उत्तर कोरिया के खिलाफ दुष्प्रचार के प्रसारण बंद किए

Monday, 23 April 2018 16:43

दक्षिण कोरिया ने इस सप्ताह के अंत में प्रस्तावित कोरियाई नेताओं की शिखर बैठक से पहले कोरियाई प्रायद्वीप में सुलह को बढ़ावा देने के लिए सोमवार को देश की सीमा पर प्योंगयांग के खिलाफ दुष्प्रचार का प्रसारण बंद कर दिया है। समाचार एजेंसी एफे के अनुसार, दक्षिण कोरिया के रक्षा मंत्रालय ने कहा कि इस कदम का उद्देश्य दक्षिण और उत्तर के बीच के "सैन्य तनाव को कम करना और शांतिपूर्ण वार्ता का माहौल बनाना है।" 

सियोल उत्तर कोरिया के साथ जुड़ी अपनी सीमा पर लाउडस्पीकर के माध्यम से प्योंगयांग शासन के खिलाफ प्रचार करता था और लाउडस्पीकर की आवाज उत्तर कोरियाई सीमा क्षेत्र के साथ ही सीमा के 25 किलोमीटर तक सुनी जाती थी। 

इन लाउडस्पीकरों का उपयोग दोनों देशों द्वारा 'मनोवैज्ञानिक युद्ध' के नियमित उपकरण के रूप में किया जाता है, और पिछले सप्ताह तक ये उपयोग में थे।

यह निर्णय प्योंगयांग द्वारा 21 अप्रैल को परमाणु परीक्षणों और अंतरमहाद्वीपीय मिसाइल लॉन्च को बंद करने की घोषणा के बाद लिया गया है, जिसे किम जोंग-उन और दक्षिण कोरिया व अमेरिकी नेताओं की प्रस्तावित शिखर बैठक के पहले एक महत्वपूर्ण कदम के रूप में देखा जा रहा है।

सेंसेक्स में 35 अंकों की तेजी

Monday, 23 April 2018 16:42

देश के शेयर बाजारों में सोमवार को तेजी दर्ज की गई। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 35.19 अंकों की तेजी के साथ 34,450.77 पर और निफ्टी 20.65 अंकों की तेजी के साथ 10,584.70 पर बंद हुआ। बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 78.11 अंकों की तेजी के साथ 34,493.69 पर खुला और 35.19 अंकों या 0.10 फीसदी की तेजी के साथ 34,450.77 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार में सेंसेक्स ने 34,663.95 के ऊपरी और 34,259.27 के निचले स्तर को छुआ। 

बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांकों में भी तेजी रही। मिडकैप सूचकांक 82.17 अंकों की तेजी के साथ 16,881.11 पर और स्मॉलकैप सूचकांक 96.17 अंकों की तेजी के साथ 18,274.20 पर बंद हुए।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी सुबह 28.75 अंकों की तेजी के साथ 10,592.80 पर खुला और 20.65 अंकों या 0.20 फीसदी की तेजी के साथ 10,584.70 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार में निफ्टी ने 10,638.35 के ऊपरी और 10,514.95 के निचले स्तर को छुआ। 

बीएसई के 19 में से 15 सेक्टरों में तेजी रही। रियल्टी (1.78 फीसदी), स्वास्थ्य (1.29 फीसदी), सूचना प्रौद्योगिकी (0.67 फीसदी), प्रौद्योगिकी (0.64 फीसदी)फीसदी) और उपभोक्ता गैन-अनिवार्य वस्तु एवं सेवाएं (0.60 फीसदी) में सर्वाधिक तेजी रही। 

बीएसई के गिरावट वाले शेयरों में - धातु (0.90 फीसदी), तेज खपत उपभोक्ता वस्तुएं (0.43 फीसदी), आधारभूत सामग्री (0.23 फीसदी) और उपभोक्ता वस्तुएं (0.01 फीसदी) शामिल रहे।

उत्तर कोरिया : बस दुर्घटना में 36 लोगों की मौत

Monday, 23 April 2018 16:41

उत्तर कोरिया में एक बस दुर्घटना में 32 चीनी पर्यटकों समेत कम से कम 36 लोगों की मौत हो गई। चीन के विदेश मंत्रालय ने सोमवार को इस बात की जानकारी दी। समाचार एजेंसी एफे के मुताबिक, मृतकों में 32 चीनी नागरिकों के अलावा उत्तर कोरिया के चार मजदूर भी शामिल हैं। दो अन्य चीनी नागरिक हादसे में गंभीर रूप से घायल हुए हैं।

चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने अपनी वेबसाइट पर कहा कि उसने उपकरणों और दवाओं के साथ चार चिकित्सा विशेषज्ञों की एक टीम उत्तर कोरिया भेजी है।

मोदी सरकार पर बरसे राहुल गांधी

Monday, 23 April 2018 16:37

दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में आयोजित संविधान बचाओ रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार, बीजेपी और आरएसएस पर जमकर हमला बोला. राहुल ने संविधान बचाओ अभियान की शुरुआत के दौरान कहा कि हम बीजेपी और आरएसएस को संविधान के साथ छेड़छाड़ करने, उसे बर्बाद करने की इजाजत नहीं देंगे. हम बीजेपी को संविधान को छूने तक नहीं देंगे. 

'संविधान बचाओ' अभियान की शुरुआत करने के दौरान राहुल गांधी ने कहा कि जो टॉयलेट साफ करता है, जो गंध उठाता है, उसकी क्या आध्यात्मिकता होती है, किसी ने वो आध्यात्मिकता महसूस की है, जो बाल्मीकि समाज का आदमी महसूस करता है? सभा में मोदी मुर्दाबाद के नारे लगता देख राहुल गांधी ने बीच में टोकते हुए कहा कि हम कांग्रेस वाले किसी के बारे में मुर्दाबाद नहीं बोलते हैं. राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि अब हर कोई जान गया है कि पीएम मोदी के दिल में दलितों, महिलाओं, कमजोरों के लिए कोई जगह नहीं है. 

राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी और अंबेडकर जी ने संविधान को लिखा और देश को दिया है. जो भी संवैधानिक बॉडी हैं, चाहे लोकसभा हो, राज्यसभा और आईआईटी हो, सब हमारे संविधान ने दिया है. संविधान के बिना न लोकसभा, न राज्य सभा बनते और न ही आईआईटी और न ही बेंगलुरु बनता. संविधान है तो देश है.

राहुल गांधी ने  हमला बोलते हुए कहा कि हमारे सभी संस्थानों में आरएसएस के विचारधारा वाले लोगों को डाला जा रहा है. पहली बार हिंदुस्तान के इतिहास में हुआ है कि चार जज जनता के पास जाकर न्याय मांग रहे हैं. हमेशा जनता जज के पास जाती है, मगर यहां उल्टा हो रहा है. यहां उनलोगों ने ससंद को बंद कर रखा है. पीएम मोदी संसद में खड़े होने से घबराते हैं.

उन्होंने कहा कि नीरव मोदी, ललित मोदी और माल्या का मामला है, जिसमें सरकार बचती नजर आ रही है. मेरी 15 मिनट मोदी जी के सामने स्पीच करा दो, मैं नीरव मोदी, माल्या, राफेल की बात करुंगा ,मोदी जी वहां खड़े नहीं हो पाएंगे. पूरा देश जानता है कि राफेल में घोटाला हुआ. नीरव मोदी इतना पैसा लेकर भाग जाता है, मगर उनके दोस्त कुछ नहीं बोल रहे हैं. प्रेस को दबाया जाता है. 

राहुल ने कहा कि मोदी जी ने अपने मंत्रियों से कहा कि तुम मीडिया वाले को मसाला देते हो. चुप हो जाओ, देश सिर्फ मेरी मन की बात सुनेगा. बीजेपी के एमपी नहीं बोलेंगे, जेटली जी नहीं बोलेंगे, कोई भी नहीं बोलेगा, सिर्फ नरेंद्र मोदी बोलेगा. रेप की घटनाओं पर राहुल ने कहा कि महिलाओं से रेप होता है, 8 साल की बच्ची से रेप होता है, उन्नाव में रेप होता है, मगर मोदी जी ने एक बार भी कुछ नहीं बोला. मोदी जी लंदन गये और आईएमएफ के चीफ ने कहा कि मोदी जी आ प देश के महिलाओं का सम्मान नहीं कर रहे हो.

 
 
राहुल ने कहा कि यह सिर्फ हिंदुस्तान की बात नहीं है, कोई भी प्रधानमंत्री हो, उससे 70 साल पहले इतिहास में ऐसा किसी ने नहीं बोला है. पूरा देश समझता है कि हमारे मोदी जी को सिर्फ मोदी जी में इंटरेस्ट है. नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री कैसे ब रहे, बस यह एक बात वह जानते हैं. 

राहुल ने कहा कि पहले बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ नारा था, मगर अब सिर्फ बेटी बचाओ है. अब बेटी बचाओ सिर्फ बीजेपी के नेताओं से बचाओ. बेटी के माता-पिता ही बेटी को बचाएंगे, यह है हिंदुस्तान की सच्चाई. राहुल ने रोजगार के मुद्दे पर भी पीएम मोदी पर निशाना साधा.  

राहुल ने कहा कि 70 साल में कांग्रेस पार्टी ने देश को संविधान दिया, इंस्टीट्यूशन बनाए. हम भाजपा और आरएसएस को संविधान छूने नहीं देंगे. 2019 चुनाव में जनता पीएम मोदी से अपने मन की बात कहेगी. अब जनता कहेगी कि मोदी जी आपने नोटबंदी और जीएसटी लाकर लोगों को मार दिया. आपने किसानों को आत्महत्या पर मजबूर कर दिया. 

राहुल गांधी ने कहा कि मुझे खुशी है कि आप सभी यहां आए, हमारा यह जो संविधान की रक्षा करने का जो कैंपेन है, वह कांग्रेस पार्टी जोरों से चलाएगी. मैं भी इसमें शामिल रहूंगा. जहां भी बीजेपी के लोग हिंदुस्तान की जनता पर आक्रमण करेंगे, वहां आपको कांग्रेस पार्टी का झंटा और कांग्रेस पार्टी का कार्यकर्ता दिखाई देगा. 

उन्होंने कहा कि पूरी दुनिया भर में देश की प्रतिष्ठा को पीएम मोदी ने बर्बाद कर दिया. 70 साल में कांग्रेस पार्टी ने पूरी दुनिया में हिंदुस्तान की साख को बनाया, मगर मोदी जी ने इसे बर्बाद कर दिया और हमारी इमेज पर चोट मारी है. हमें अपने संविधान की रक्षा करनी है. 
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी आज दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में संविधान बचाओ अभियान की शुरुआत की. कांग्रेस की योजना के मुताबिक़ ये अभियान देश भर में अगले एक साल तक चलाया जाएगा.

 


 

चेक बाउंस केस में राजपाल यादव को 6 महीने जेल की सजा

Monday, 23 April 2018 16:36

बॉलीवुड कलाकार राजपाल यादव की मुश्किलें बढ़ गई हैं। चेक बाउंस मामले में सोमवार (23 अप्रैल) को अदालत ने उन्हें सजा का ऐलान किया है। दिल्ली की कड़कड़डूमा कोर्ट ने उन्हें छह महीने की जेल की सजा सुनाई है। हालांकि, अदालत ने इसके बाद एक्टर को जमानत दे दी। यादव के खिलाफ सात मामले दर्ज हैं, जिनमें प्रत्येक मामले के हिसाब से उन्हें 1.60 करोड़ रुपए जुर्माने के रूप में चुकाने होंगे। 

चेक बाउंस मामले में 14 अप्रैल को भी सुनवाई हुई थी। कड़कड़डूमा अदालत के अतिरिक्त मुख्य न्यायाधीश अमित अरोड़ा ने फिल्म बनाने के नाम पर पांच करोड़ रुपए की धोखाधड़ी के मामले में उन्हें शुक्रवार को दोषी करार दिया था। सोमवार को भी इसी पर सुनवाई हुई, जिसमें अदालत ने उन्हें किसी प्रकार की भी राहत नहीं दी। 

अदालत ने धोखाधड़ी के मामले में एक्टर के साथ उनकी पत्नी को भी दोषी ठहराया था। अदालत ने सोमवार को उनकी पत्नी राधा यादव पर प्रति केस 10 लाख रुपए जुर्माना लगाया है। अगर एक्टर और उनकी पत्नी ने जुर्माने की रकम नहीं अदा की तो छह महीनों में उनकी सजा में और भी इजाफा कर दिया जाएगा। बता दें कि यादव को इससे पहले जेल जाना पड़ा था। साल 2013 में फर्जी दस्तावेज जमा करने के कारण उन्हें तिहाड़ जेल की हवा खानी पड़ी थी।

क्या है मामला?: लक्ष्मी नगर में मुरली प्रोजेक्ट्स प्राइवेट लिमिटेड नाम की कंपनी ने एक्टर के खिलाफ शिकायत दी थी। उसका कहना है कि यादव ने अप्रैल 2010 में अता पता लापता फिल्म की शूटिंग पूरी करने के लिए आर्थिक सहायता मांगी थी, जिसके बाद यादव को उसने पांच करोड़ रुपए बतौर लोन दिए थे। दोनों पक्षों में इस संबंध में एक एग्रीमेंट भी हुआ था। एक्टर को उसके मुताबिक आठ फीसदी ब्याज के साथ रकम लौटानी थी। 

राजपाल पहले मौके में पैसा चुकाने में नाकाम रहे। तीन बार इसके बाद एग्रीमेंट रीन्यू हुआ। आखिरी एग्रीमेंट के अनुसार, पीड़ित ने तकरीबन 11 करोड़ रुपए लौटाने के लिए कहा था, मगर एक्टर ये रकम नहीं चुका पाए थे। 

राजपाल बॉलीवुड फिल्मों में अपने कॉमिक रोल्स के लिए जाने जाते हैं। चुप-चुप के, हंगामा, फिर हेराफेरी, ढोल, मुझसे शादी करोगी, हेल्लो हम लल्लन बोल रहे हैं, भागम भाग, चल चला चल, मैं माधुरी दीक्षित बनना चाहती हूं, भूल भुलैया और मैं मेरी पत्नी और वो सरीखी फिल्मों में शानदार रोल्स के लिए आज भी फैंस इन्हें याद करते हैं।

पाकिस्‍तान: घर में घुसकर ट्रांसजेंडर को पीटा, फिर मार दी गोली

Monday, 23 April 2018 16:35

पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वाह प्रांत में सशस्त्र लोगों के एक समूह ने एक ट्रांसजेंडर की पिटाई करने के बाद उसकी गोली मार कर हत्या कर दी। मीडिया रपट से सोमवार को यह जानकारी मिली। ट्रांसजेंडर समुदाय की जरूरतों और मुद्दों को उठाने वाले एक संगठन, ट्रांस एक्शन पाकिस्तान के अनुसार, “इस समूह ने रविवार रात खान उल्लाह ऊर्फ शीना के घर में घुसकर पहले उसकी पिटाई की और फिर गोली मारकर हत्या कर दी।”

डॉन की रपट के अनुसार, “संगठन ने इस प्रांत में समुदाय की सुरक्षा करने में पूरी तरह असफल रहने का आरोप लगाया और कहा कि 2015 के बाद अबतक 56 ट्रांसजेंडरों की हत्या की गई है।”

आरोपियों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज की गई है और मामले की जांच चल रही है। हालांकि इस हत्या के उद्देश्य के बारे में पता नहीं चल पाया है।

डॉन की रपट के अनुसार, 2017 में कराई गई घरेलू जनगणना में पाकिस्तान में ट्रांसजेंडरों की कुल संख्या 10,418 है। पंजाब प्रांत में ही अकेले ट्रांसजेंडरों की आबादी 6,709 है, वहीं खबर पख्तूनख्वाह में 913 ट्रांसजेंडर रहते हैं।

फर्जी अभियान चला रहे राहुल गांधी : अमित शाह

Monday, 23 April 2018 16:34

केंद्र सरकार पर राहुल गांधी के आरोपों को लेकर पलटवार करते हुए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने आज कहा कि कांग्रेस पार्टी ने संविधान की भावना को खत्म करने का काम किया है जो लोकतंत्र के बजाए वंशवाद का शासन कायम रखना चाहती है और इसके लिये कांग्रेस अध्यक्ष फर्जी अभियान चला रहे हैं ।
भाजपा अध्यक्ष ने ट्वीट किया, ‘‘ संविधान से निकली हमारी संस्थाओं को आज कांग्रेस के हमलों से बचाये जाने की जरूरत है। कांग्रेस पार्टी ने किसी भी संस्थान को निशाना बनाना नहीं छोड़ा और वह क्षुद्र राजनीतिक फायदे के लिये चुनाव आयोग, उच्चतम न्यायालय, सेना को निशाना बना रही है। ’’ उन्होंने कहा कि राहुल गांधी बार बार यह कह कर डा. अंबेडकर को अपमानित करने की पारिवारिक परंपरा को ही आगे बढ़ा रहे हैं कि कांग्रेस ने संविधान बनाया है । नेहरू..गांधी परिवार ने उन्हें :अंबेडकर को : तब अपमानित किया जब वे जीवित थे और अब भी पार्टी उनका अपमान कर रही है।

अमित शाह ने कहा कि अगर कोई एक पार्टी है जिसने संविधान की भावना को खत्म किया है, तो वह कांग्रेस है । वह लोकतंत्र का शासन नहीं चाहती बल्कि वंशवाद के शासन को कायम रखना चाहती है और इसलिये उसके अध्यक्ष का यह फर्जी आंदोलन है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का ‘संविधान बचाओ’ अभियान लोकतंत्र के शासन पर वंशवाद के शासन को कायम रखने की चाल है।

शाह ने कहा कि प्रधान न्यायाधीश पर महाभियोग का कांग्रेस का कदम हर उस संस्थान को कमजोर करने की प्रवृति का हिस्सा है जो अपनी वैयक्तिक पहचान को अक्षुण्ण बनाये रखने के लिए प्रयासरत है। अमित शाह ने राहुल के भाषण पर कहा कि जिन्हें सेना, उच्चतम न्यायालय, चुनाव आयोग, ईवीएम, आरबीआई पर विश्वास नहीं है, वे अब कह रहे हैं कि लोकतंत्र खतरे में है। इससे पहले राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर उच्चतम न्यायालय को दबाने और संसद को ठप करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि आरएसएस हर लोकतांत्रिक ढांचे की हत्या कर रहा है। राहुल गांधी ने कहा कि उन्हें अगर संसद में 15 मिनट तक बोलने दिया गया तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संसद छोड़ कर भाग जाएंगे ।

एक्‍ट्रेस तनिष्का कपूर से शादी करने जा रहे युजवेंद्र चहल? क्रिकेटर ने हाथ जोड़कर कही ये बात

Monday, 23 April 2018 16:30

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) सीजन 11 में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) के प्लेयर क्रिकेटर युजवेंद्र चहल को लेकर काफी दिनों से खबरें आ रही हैं कि वह एक एक्ट्रेस को डेट कर रहे हैं। खबरों के मुताबित, एक्ट्रेस तनिष्का कपूर और क्रिकेटर युजवेंद्र एक दूसरे को डेट कर रहे हैं। इतना ही नहीं खबरें तो यहां तक भी हैं कि जल्द ही दोनों शादी भी करने वाले हैं। इसको लेकर अब युजवेंद्र खुद सामने आए हैं। युजवेंद्र ने अपने ट्विटर अकाउंट से एक पोस्ट किया है जिसमें वह अपने और तनीषा के बारे में बात करते नजर आ रहे हैं।

युजवेंद्र अपने पोस्ट में लिखते हैं- ‘आप सभी को हेलो, यह एक मैसेज है, जिसे मैं अपनी तरफ से आप सभी को देना चाहता हूं। मैं बताना चाहता हूं कि मेरी लाइफ में ऐसा कुछ नहीं चल रहा है जैसा आप लोग सोच रहे हैं। तनिष्का और मैं, हम दोनों बहुत अच्छे दोस्त हैं। इसलिए मेरी सभी मीडिया हाउस से दरख्वास्त है कि वह इस तरह की खबरें चलाना बंद करें। दोस्तों से भी रिक्वेस्ट है कि वह अफवाह न फैलाएं। मुझे आशा है कि आप मेरी प्राइवेसी का ध्यान रखेंगे। इन रूमर्स पर रोक लगाएं। मेरी मैरेज के बारे में पोस्ट करना प्लीज बंद करें। इन बातों का कोई आधार नहीं है। ऐसा कुछ भी पोस्ट करने से पहले खबर कन्फर्म करें।

बता दें, खिलाड़ी युजवेंद्र चहल को कई बार एक्ट्रेस तनिष्का के साथ देखा गया। वहीं सोशल मीडिया पर भी दोनों की तरफ से एक दूसरे को खास रिस्पॉन्स देते हुए दिखाई दिए। ऐसे में अंदाजे लगाए जाने लगे कि दोनों एक दूसरे को डेट कर रहे हैं और आईपीएल के बाद तनिष्का और युजवेंद्र चहल शादी भी कर सकते हैं। लेकिन युजवेंद्र चहल के ट्विटर से आए इस पोस्ट के सामने आने के बाद उन्होंने इस तरह की खबरों पर विराम लगा दिया है।

बिहार: दोस्तों संग दारू पार्टी करते हुए बीजेपी सांसद का बेटा गिरफ्तार

Monday, 23 April 2018 13:09

बिहार में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के सांसद का बेटा अपने दोस्तों के साथ शराब की पार्टी करते हुए पकड़ा गया है। पुलिस ने उसे इसके बाद जेल भेज दिया। गिरफ्तारी के वक्त वह भीषण नशे में था। पुलिस मेडिकल जांच कराने के बाद उसे पास की अदालत में ले गई थी, जहां से उसे जेल भेजा गया।

आपको बता दें कि सूबे में शराब पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा हुआ है। फिर भी इस तरह शराबबंदी का उल्लंघन किया जा रहा है। बीजेपी नेता के बेटे की गिरफ्तारी से पहले सत्तारूढ़ दल और विपक्ष के कई नेता शराब पीने के आरोप में जेल जा चुके हैं। पूर्व सीएम जीतन राम मांझी के परिवार के कई सदस्य शराब पीते या शराब के साथ गिरफ्तार किए जा चुके हैं।

ताजा मामला यहां के गया जिले से बीजेपी सांसद हरि मांझी से जुड़ा है। शनिवार (21 अप्रैल) की शाम को उनका बेटा राहुल अपने दोस्तों के साथ पार्टी कर रहा था। उसने और उसके दोस्तों ने इस दौरान काफी शराब भी पी रखी थी। पुलिस को इस बारे में गुप्त सूचना मिली, जिसके बाद बोधगया थाने के नीम गांव से उसे नशे में गिरफ्तार किया गया।

हरि मांझी गया से बीजेपी सांसद हैं। शनिवार शाम उनका बेटा बोधगया से भीषण नशे में पकड़ा गया। (फोटोः india.gov.in)

पुलिस ने इसके बाद ब्रेथ ऐनलाइजर से उसकी जांच की थी। फिर मेडिकल टेस्ट कराने के बाद उसे अदालत ले जाया गया, जहां जज ने बीजेपी सांसद के बेटे को जेल भेजने का आदेश दे दिया।

बेटे की गिरफ्तारी पर सांसद ने कहा, “मैं शराबियों का समर्थन नहीं करता हूं। बेटे को मेरे राजनीतिक करियर पर कीचड़ उछालने के लिए साजिश में फंसाया जा रहा है। उसने शराब नहीं पी थी।” सांसद के 18 वर्षीय बेटे ने बीते साल 13 दिसंबर को मेडिकल कॉलेज के गेट पर नशे में बवाल मचाया था, जिसके बाद उसे पुलिस ने पकड़ लिया था।

बिहार में शराबबंदी कानून का उल्लंघन करने से जुड़े अब तक तकरीबन आठ हजार से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं, जिनमें आरोपियों को जेल भेजा गया था। वहीं, बीते दो सालों का आंकड़ा देखें तो अब तक कुल एक लाख 20 हजार से ज्यादा लोग सलाखों के पीछे भेजे जा चुके हैं।

‘मेरी स्कर्ट खींच बोलने लगे- दिखाओ इसके नीचे क्या है’

Monday, 23 April 2018 13:06

देशभर में इन दिनों रेप को लेकर एक आक्रोश का माहौल है। इसी गुस्से के माहौल को देखते हुए सरकार ने पॉक्सो एक्ट में भी तब्दीली कर इसे और सख्त बना दिया है। अब यदि कोई शख्स 12 साल तक की बच्ची के साथ रेप करता है तो उसे सजा-ए-मौत सुनाई जाएगी। जहां एक तरफ बलात्कार को रोकने का हरसंभव प्रयास किया जा रहा है वहीं आए दिन सोशल मीडिया में इस तरह की बातें भी सामने आती रहती हैं जिसे देख कोई भी सोचने पर मजबूर हो जाए। सोशल मीडिया के जरिए पिछले काफी समय से महिलाएं अपने साथ हो रही यौन दुर्व्यवहारों का खुलासा करती रही हैं। इसी कड़ी में इंदौर की एक मॉडल ने सोशल मीडिया के जरिए ही अपने साथ हुई बेहद शर्मनाक हरकत को बयां किया है। इस मॉडल ने अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर बताया है कि कैसे इंदौर में दिन दहाड़े दो मनचले उसे छेड़ रहे थे। मॉडल ने ये भी बताया कि इसके बाद मेरे पास आए एक बुजुर्ग ने ये तक कह दिया कि तुमने स्कर्ट पहनी है इसिलिए वो लोग तुम्हें छेड़ रहे थे।

इस महिला मॉडल ने अपने ट्विटर अकाउंट से अपने जख्मी पैर की तस्वीर शेयर करते हुए लिखा- ये मेरे साथ आज हुआ। मैं स्कूटी से कहीं जा रही थी तभी बीच सड़क दो लड़के मेरी स्कर्ट खींचने लगे। वो लड़के स्कर्ट खींचते हुए कह रहे थे कि दिखाओ इसके नीचे क्या है। मैंने उनसे बचने की कोशिश की और स्कूटी लेकर गिर पड़ी।

पीड़िता मॉडल के ट्वीट का स्क्रीनशॉट।

मॉडल ने ये अपने अगले ट्वीट में लिखा कि ये सबकुछ मेरे साथ इंदौर की एक भीड़-भाड़ वाली सड़क पर हुआ लेकिन कोई मेरी मदद को सामने नहीं आया। ये बदमाश जब भीड़-भाड़ वाली जगह पर मेरी स्कर्ट खींच सकते हैं तो सुनसान सड़क पर पता नहीं क्या कर देंगे।

महिला ने आगे लिखा कि वहां सड़क से जख्मी हालत में मेरे कुछ दोस्त मुझे पास के एक रेस्टोरेंट ले गए। हम लोग वहां बैठे ही थे कि एक बुजुर्ग अंकल मेरे पास आए और कहने लगे कि तुमने स्कर्ट पहन रखी है इसीलिए तुम्हारे साथ ऐसा हुआ।

पीड़िता मॉडल के ट्वीट का स्क्रीनशॉट।

 

POPULAR ON IBN7.IN