तनाव के बीच अमेरिका ने भारत-चीन से की अपील, कहा- बिना जोर-जबरदस्‍ती के सामने आकर बात करें

Saturday, 22 July 2017 14:14

पेंटागन ने भारत एवं चीन से सीधी वार्ता करने की अपील की है। रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता गैरी रोस ने कहा, ‘‘हम भारत एवं चीन को तनाव घटाने की खातिर प्रत्यक्ष वार्ता करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं जिसमें किसी प्रकार की जोर जबरदस्ती नहीं हो।’’ अमेरिका के विदेश मंत्रालय ने भी पिछले सप्ताह इसी प्रकार के बयान दिए थे। पेंटागन ने यह बयान ऐसे समय में दिया है जब पिछले कुछ वर्षों में चीन के लगभग सभी पड़ोसी बीजिंग पर सीमा विवादों के समाधान के लिए बल प्रयोग करने की रणनीति अपनाने का आरोप लगा रहे हैं। सिक्किम सेक्टर में महीने भर से चल रहे भारत-चीन सीमा गतिरोध को यथास्थिति बदलने के लिए चीन की बल प्रयोग करने की रणनीति के तौर पर देखा जा रहा है। भारत ने चीन के ऐसे कदम के खिलाफ कड़ा रुख अपनाया है। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल इस महीने के अंत में ब्रिक्स की बैठक में भाग लेने के लिए बीजिंग जाएंगे। इस यात्रा के दौरान डोभाल इस मामले पर चीनी समकक्ष के साथ संभवत: वार्ता करेंगे। पेंटागन ने इस मामले में किसी का पक्ष लेने से इनकार कर दिया।

यह पूछे जाने पर कि क्या पेंटागन भारत एवं चीन के बीच तनाव बढ़ने को लेकर चिंतित है, रोस ने कहा, ‘‘हम इस संबंध में और सूचना लेने के लिए आपसे भारत एवं चीन की सरकारों से बात करने को कहेंगे। हम भारत एवं चीन को तनाव कम घटाने की खातिर प्रत्यक्ष वार्ता करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं। हम इन मामलों पर किसी प्रकार की अटकलें नहीं लगाएंगे।’’

चीन की कम्युनिस्ट पार्टी द्वारा संचालित अखबार ग्लोबल टाइम्स में कहा गया है कि चीन के साथ भारतीय सेना की तुलना हास्यास्पद है। यदि युद्ध होता है तो भारत तबाह हो जाएगा। अखबार ने कहा कि चीनी सेना द्वारा तिब्बत में युद्धाभ्यास और क्षेत्र में भारी सैन्य आपूर्ति करना दिखावे के लिए नहीं है। सुषमा का जिक्र करते हुए लेख में कहा गया है, “वह संसद में झूठ बोल रही थीं।”

लेख में कहा गया है, “पहला सच्चाई यह है कि भारत ने चीनी क्षेत्र में घुसपैठ की है। भारत की अविवेकपूर्ण कार्रवाई से अंतर्राष्ट्रीय समुदाय सन्न है। कोई अन्य देश भारत की आक्रामता का समर्थन नहीं करेगा।” लेख में कहा गया है, “दूसरी बात भारत की सैन्य मजबूती चीन से बहुत पीछे है। यदि भारत और चीन के बीच संघर्ष तेज होता है तो इस विवाद को सेना के जरिए सुलझाया जाएगा, और भारत की हरहाल में हार होगी।”

जाम्बिया ने फुटबाल टूर्नामेंट के आयोजन से हाथ खींचा

Saturday, 22 July 2017 13:51

जाम्बिया ने 2019 अंडर-23 अफ्रीका कप ऑफ नेशंस फुटबाल टूर्नामेंट की मेजबानी से हाथ खींच लिया है। देश के फुटबाल संघ ने कहा है कि वह वित्तीय रूप इस टूर्नामेंट के आयोजन की स्थिति में नहीं है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक फुटबाल एसोसिएशन ऑफ जाम्बिया ने कहा है कि उसने खेल मंत्रालय से सलाह के बाद इस मेजबानी से हाथ खींचा है।

जाम्बिया फुटबाल संघ ने मेजबानी का मौका दिए जाने के लिए एशियाई फुटबाल परिसंघ का धन्यवाद किया।

राहुल गांधी ने मोदी को बताया ‘हिटलर’ तो स्मृति बोलीं- शुक्रिया, बताने के लिए 42 साल लेट हो गए

Saturday, 22 July 2017 13:50
राहुल गांधी के पीएम मोदी और राजग सरकार पर आक्रामक तेवर के बाद केंद्रीय मंत्री स्‍मृति ईरानी ने पलटवार किया है. . राहुल गांधी  ने शुक्रवार को बेंगलुरू में भीमराव अंबेडकर इंटरनेशल कांफ्रेंस में बोलते हुए पीएम मोदी पर निशाना साधा था. उसके बाद एक के एक कई ट्वीट कर उन्‍होंने पीएम मोदी की तुलना 'हिटलर' से भी की थी. उन्‍होंने एक ट्वीट में लिखा,  "हिटलर ने एक बार कहा था कि सच्चाई पर मजबूत पकड़ बनाए रखिए, जिससे कि आप कभी भी उसको तोड़-मरोड़कर पेश करें. आज हमारे आसपास यही हो रहा है.''




इसके साथ ही राहुल ने शुक्रवार को रोहित वेमुला सुसाइड केस, दादरी कांड और नोटबंदी के फैसले पर मोदी सरकार की सख्त आलोचना की. राहुल ने यह भी कहा, "देश के राजा के आसपास मौजूद किसी की भी हिम्मत नहीं है कि उनसे सही बात कह सके."


इस पर ट्विटर के जरिये तीखी प्रतिक्रिया देते हुए केंद्रीय मंत्री स्‍मृति ईरानी ने कहा, 'आप इस मुद्दे पर 42 साल लेट हो गए हैं. यह बताने की जरूरत नहीं कि कौन हिटलर से प्रेरित थे. किसने देश में इमरजेंसी लगाई और किसने लोकतंत्र का गला घोंटा.' दरअसल स्‍मृति ईरानी का इशारा पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की 1975 में आपातकाल की घोषणा की तरफ था.


@OfficeOfRG u r 42 yrs late on this 1.No prizes for guessing who was inspired by Hitler, imposed the emergency & trampled over democracy.

 स्मृति ईरानी ने अपने एक और ट्वीट में कहा, "एक निराशाजनक भविष्य कांग्रेस के लिए इंतजार कर रहा है, न कि देश के लिए." इसके अलावा उन्‍होंने राहुल के ट्विटर अकाउंट को टैग करते हुए लिखा, " आपने जो किया है, उसके लिए थैंक्यू. खासतौर पर बीजेपी की तरफ से!"



पहली बार थम सकते सकते हैं दिल्ली मेट्रो के पहिए, इन 5 मांगों पर अड़े हैं कर्मचारी

Saturday, 22 July 2017 13:12

नई दिल्ली: पिछले कुछ साल में मेट्रो दिल्ली की लाइफलाइन  के रूप में बनकर सामने आई है. ऐसे में जरा सोचिए किसी एक दिन दिल्ली मेट्रो के पहिए थम जाए तो क्या हाल होगा. संभावना जताई जा रही है कि सोमवार को  दिल्ली मेट्रों के पहिए थम सकते हैं. दरअसल, 24 जुलाई को डीएमआरसी के कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर पूरी तरह काम बंद रखने का ऐलान किया है. विरोध की छुटपुट मामले लगातार आ रहे हैं. शुक्रवार को भी  DMRC (दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन) के कर्मचारियों ने कुछ स्टेशनों पर विरोध जताकर अपनी मांगों को जल्द पूरा करने की मांग की थी. हालांकि अभी तक किसी भी बड़े अधिकारी ने कर्मचारियों को शांत कराने की कोशिश नहीं की है.

बंद की ये है वजह: डीएमआरसी के स्टॉफ काउंसिल के सचिव अनिल महतो ने बताया कि 29 मई 2015 को DMRC ने कर्मचारियों के साथ एक समझौता किया था, जिसके तहत कर्मचारियों को बढ़े हुए पे-स्केल पर सैलरी देने की बात कही गई थी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. विरोध करने पर उलटा एक कर्मचारी को टर्मिनेट कर दिया गया. अनिल महतो का दावा है कि ऑपरेशन कंट्रोल रूम में फोटो खिंचावाने के आरोप में चार्जशीट दी गई है. आरोप है कि कई कर्मचारियों को नेगेटिव प्वाइंट दिए गए और कुछ को नोटिस थमा दिया गया. 

'नौकरियों की परीक्षा के प्रश्न पत्र लीक करते हैं अधिकारी': मीडिया रिपोर्ट्स में अनिल महतो ने आरोप लगाया है कि डीएमआरसी में ज्वाइनिंग के लिए होने वाली परीक्षा के प्रश्नपत्र लीक किए जाते हैं, यह काम यहां के बड़े अधिकारी ही करते हैं. काउंसिल का दावा है कि उनकी शिकायत पर इस मामले में विजिलेंस विभाग जांच कर रही है.
ये मांगें मानी गई तभी वापस होगी हड़ताल

  1. डीएमआरसी के कर्मचारियों की मांग है कि उनकी सैलरी बढ़ाई जाए. 29 मई 2015 के समझौते के तहत कर्मचारियों को एक समान वेतन दिया जाए.
  2. 12 साल की नौकरी के बाद हटाए गए विनोद शाह को वापस लिया जाए. 
  3. अनिल महतो और काउंसिल के सदस्य रवि भारद्वाज को दी गई चार्जशीट खत्म की जाए. 
  4. जिन कर्मचारियों को नेगेटिव मार्किंग दी गई है, पॉजिटिव किया जाए.
  5. नौकरियों के प्रश्नपत्र लीक मामले की सीबीआई जांच हो.

क्या कहते हैं DMRC के अधिकारी: दिल्ली मेट्रो के प्रवक्ता अनुज दयाल का कहना है कि कर्मचारियों की सैलरी बढ़ोत्तरी की मांग को एचआर विभाग को सौंप दिया गया है. साथ ही ये भी बताया कि तीसरे वेतन आयोग की सिफारिशों को सरकार मान चुकी है. आदेश जल्द जारी हो सकते हैं, इसलिए सैलरी के मुद्दे जल्द सुलझा लिए जाएंगे. हालांकि उन्होंने कर्मचारियों पर की गई कार्रवाई को अनुशासनहीनता से जुड़ा बताया, इसलिए इसपर कदम फैसला लेने का सवाल ही नहीं है.

मालूम हो कि शुक्रवार को बदरपुर, विश्वविद्यालय, कुतुब मीनार, शाहदरा समेत 7 मेट्रो स्टेशनों पर कर्मचारियों ने विरोध किया गया. दिल्ली एनसीआर में करीब 300 मेट्रो ट्रेनें चलती हैं.  इनमें करीब 30 से 35 लाख यात्री रोजाना सफर करते हैं. 
 

कंगना रनौट का ओपन लेटर में ऐलान, 'अगर सैफ अली खान सही होते, तो मैं किसान होती

Saturday, 22 July 2017 13:02

आईफा अवॉर्ड्स के मंच पर एक मजाक से शुरू हुई 'भाई-भतीजावाद' की बहस में अभी तक काफी कुछ बोला जा चुका है. आईफा के मंच से कंगना रनौट का मजाक उड़ाने और भई-भतीजावाद की तारीफ करने को  लेकर वरुण धवन, करण जौहर और सफै अली खान की जमकर आलोचना भी हो चुकी है और इसपर यह तीनों ही अपने-अपने तरीके से माफी भी मांग चुके हैं. लेकिन शुक्रवार को सैफ अली खान ने एक ओपन लेटर लिखकर इस पूरे विवाद को सोशल मीडिया और मीडिया से जोड़ दिया. हफ्ते भर से चल रहे इस विवाद में सबसे ज्‍यादा नाम कंगना रनौत का खींचा गया लेकिन अभी तक कंगना रनौत की इस विषय पर कोई टिप्‍पणी सामने नहीं आई थी.

आखिरकार.  कंगना रनौत ने अपनी चुप्‍पी तोड़ी  है और कंगना ने कुछ ऐसा कह दिया है कि शनिवार को सुबह से ही कंगना रनौट सोशल मीडिया पर छा गईं. दरअसल सैफ अली खान के ओपन लेटर के जवाब में अब फिल्‍म 'रंगून' की उनकी को-स्‍टार कंगना ने अपना ओपन लेटर जारी किया है.

सैफ को दिया कंगना ने जवाब: मिड-डे में प्रकाशित इस ओपन लेटर में कंगना रनौट ने सैफ अली खान  की टिप्‍पणी पर कंगना ने अपने ओपन लेटर की शुरुआत में कहा, ' पिछले कुछ समय से नेपोटिज्‍म (भाईभतीजावाद) पर काफी बहस हो रही है पर यह स्‍वस्‍थ्‍य बहस है. जहां कुछ नजरिए इस बात पर मुझे काफी पसंद आए तो कुछ बातें सुन कर थोड़ी परेशान हूं. आज सुबह मेरी नींद एक ऐसे लेटर से खुली जो सुबह से इंटरनेट पर घूम रहा है, जिसे सैफ अली खान ने लिखा है.' कंगना ने लिखा,  'आखिर बार मैं तब परेशान हो गई थी जब मैंने करण जौहर का ब्‍लॉग इस विषय पर पढ़ा था.. और यहां तक की एक इंटरव्‍यू में फिल्‍म बिजनेस में रहने के लिए कई जरूरी चीजें बताई गईं. उसमें टैलेंट कहीं नहीं था.'

koffee with karan kangna ranaut


करण जौहर के शो 'कॉफी विद करण' में कंगना के साथ नजर आए थे सैफ.

'नेपोटिज्‍म' सिर्फ मेरा विषय नहीं: कंगना ने  अपने इस लेटर में लिखा, 'सैफ अपने अपने ओपन लेटर में लिखा था कि 'मैंने कंगना से माफी मांग ली और अब मुझे किसी को कोई स्‍पष्‍टीकरण देने की जरूरत नहीं है.' लेकिन यह मेरे अकेले का विषय नहीं है. 'भाई-भतीजावाद' एक प्रैक्टिस है जहां लोग तार्किक सोच की जगह मानवीय भावनाओं के आधार काम करते हैं. कोई व्‍यापार जो मानवीय भावनाओं से चले, न कि मूल्‍यों पर, वह सतही लाभ पा सकता है लेकिन वह कभी भी वास्‍तविक तौर पर रचनात्‍मक नहीं हो सकता. वह 1.3 बिलियन लोगों के इस देश की क्षमता पर रोक लगा देता है.' कंगना ने अपने इस ओपन लेटर में विवेकानंद, आइंस्‍टाइन और शेक्‍सपीयर का उदाहरण भी दिया है.

rangoon


फिल्‍म 'रंगून' में कंगना और सैफ साथ आ चुके हैं नजर.

... तो मुझे किसान होना चाहिए था: बता दें कि. सैफ अली खान ने एक दिन पहले लिखे  अपने लेटर में स्‍टार किड्स के जेनेटिक्‍स की बात की थी. इस पर जवाब देते हुए कंगना ने कहा, 'मैंने अपने जीवन का एक हिस्‍सा जेनेटिक्‍स पढ़ते हुए निकाला है, लेकिन मुझे समझ नहीं आया कि आपने हाइब्रिड रेस के घोड़ों की तुलना कलाकारों से कैसे कर सकते हो! क्‍या आप यह साबित करना चाह रहे हैं कि रचनात्‍मकता, परिश्रम, अनुभव, ध्‍यान, जोश, जानने की इच्‍छा, अनुशासन और प्‍यार जैसे गुण परिवार से जीन्‍स के माध्‍यम से मिल सकते हैं? अगर आपका पोइंट सही है, तो मुझे एक किसान होना चाहिए था.'

सैफ ने अपने लेटर में मीडिया को भी 'भाईभतीजावाद' का सबसे बड़ा प्रवर्तक बताया था. इससे कंगना ने सच से काफी दूर की बात कहा है. कंगना ने कहा, 'नेपोटिज्‍म दरअसल मानवीय व्‍यवहार की एक कमजोरी कहा है. इससे निपटने के लिए इच्‍छाशक्ति और ताकत की जरूरत होती है, जो कभी हम कर पाते हैं और कभी नहीं.'

सैफ ने की थी जेनेटिक्‍स की बात: हाल ही में अपने एक इंटरव्‍यू में बॉलीवुड में 'भाई-भतीजावाद' जैसे विषय पर 'आनुवांशिकी और युजनिक्‍स' की बात कर सोशल मीडिया पर आलोचनाओं का शिकार होने के बाद सैफ ने अपने ओपन लेटर में लोगों की भाषा की समझ पर ही सवाल उठा दिया है. सैफ ने अपने इस लेटर में कहा, ' मुझे माफ करें कि आप लोगों को 'युजनिक्‍स' शब्‍द 'भाई-भतीजावाद' के संदर्भ में अटपटा लगा. मुझे लगता है कि आपको अपना दिमाग एक्‍ट्रेस के कपड़ों से हटा कर किताबों में लगाना चाहिए, ताकि आपका भाषा ज्ञान ठीक हो जाए.'

घूस नहीं दी तो BJP विधायक के घर में लड़की की इज्जत लूटने की कोशिश, आरोपी गनर गिरफ्तार

Saturday, 22 July 2017 12:55

उत्तर प्रदेश में वाराणसी छावनी के बीजेपी विधायक सौरभ श्रीवास्तव के पुलिस गनर और घरेलु काम करने वाली के पति को शुक्रवार को 18 साल की एक लड़की के साथ दुष्कर्म करने की कोशिश के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। आरोपियों ने इस वारदात को हजरतगंज थाना क्षेत्र के बटलर पैलेस कॉलोनी में विधायक के घर पर अंजाम दिया गया। पुलिस का कहना है कि जिस समय इस वारदात को अंजाम दिया गया उस समय विधायक सौरभ घर पर मौजूद नहीं थे। पीड़िता द्वारा पुलिस थाने में दर्ज कराई गई शिकायत के अनुसार विधायक के घर काम करने वाली महिला के पति ने पीड़िता और उसकी मां को गनर से मिलने के लिए विधायक के घर पर बुलाया था।

पीड़िता का भाई स्ट्रीटलाइट की चोरी के आरोप में जेल में बंदा था। इसी मामले को लेकर उस शख्स ने दोनों को विधायक के गनर से मिलने के लिए बुलाया था। आरोपी गनर ने पीड़िता के भाई को जेल से रिहा कराने के लिए उसकी मां से दस हजार रुपए घूस मांगी। पीड़िता ने उससे कहा कि उनके पास देने के लिए इतने पैसे नहीं है। इसके बाद गनर ने पीड़िता की मां को घर से बाहर निकाला और उसने पीड़िता के साथ जबरदस्ती करना शुरु कर दिया लेकिन किसी तरह लड़की उसके चंगुल से निकलने में कामयाब हो गई। विधायक सौरभ को पड़ोसियों ने इस मामले की जानकारी दी जिसके बाद वे तुरंत पुलिस को लेकर अपने फ्लैट पर पहुंचे।

सौरभ ने कहा कि जैसे ही मुझे इस मामले की जानकारी मिली मैंने एसएसपी को फोन कर दिया था। मौके पर पहुंची पुलिस ने तुरंत ही दोनों आरोपियों को गिरफ्तार किया। बता दें कि प्रदेश में महिलाओं के प्रति आपराधिक घटनाएं बढ़ती जा रही है। इन घटनाओं को लेकर सरकार द्वारा कोई ठोस कदम नहीं उठाए जा रहे है। सूबे की सरकार तो बदल गई लेकिन ऐसी घटनाओं को लेकर कोई अहम कानून नहीं बनाया जा रहा है।

अक्षय कमार की ‘गोल्ड’ के सेट पर कुणाल कपूर के साथ हुई लूटपाट, चुराया वॉलेट

Saturday, 22 July 2017 12:51

रीमा कागती की फिल्म गोल्ड की शूटिंग यूके के ब्रैडफोर्ड में शुरु हो चुकी है। सभी लीड एक्टर्स शूट के लिए वहां मौजूद हैं। लेकिन फैंस के लिए एक बुरी खबर है। दरअसल, सेट पर कुणाल कपूर का वॉलेट चोरी हो गया। मुंबई मिरर की रिपोर्ट के अनुसार कुणाल कपूर के साथ सेट्स पर लूटपाट हुई है। लेकिन एक्टर ने अपने यूके में रहने वाले दोस्तों की मदद से किसी तरह फिल्म की शूटिंग खत्म की। एक सूत्र ने बताया- शूट पर एक्टर को अहसास हुआ कि उनका वॉलेट चोरी हो चुका है जिसमें उनके कार्ड्स और पैसे थे। जब उन्होंने इसकी जानकारी अपने दोस्तों को दी तो वे तुरंत उनकी मदद के लिए आगे आए।

कुछ दिनों बाद कुणाल की पत्नी नैना बच्चन शूटिंग लोकेशन पर पहुंची। इसके बाद कपूर भारत लौट आए। हालांकि इस खबर को कंफर्म करने से एक्टर या उनके स्पोकपर्सन ने इंकार कर दिया। गोल्ड की बात करें तो इस फिल्म को फरहान अख्तर और रितेश सिधवानी मिलकर प्रोड्यूस कर रहे हैं। यह एक स्पोर्ट्स ड्रामा वाली फिल्म है जो 1948 में हुए लंदन ओलंपिक्स पर आधारित है। कहानी स्वतंत्र हुए भारत को हॉकी में मिले अपने पहले गोल्ड की है। इसमें कुणाल कपूर और अमित साध भी अहम भूमिका में होंगे। अक्षय कुमार के किरदार का नाम बलबीर सिंह है। वहीं मौनी रॉय उनकी प्रेमिका के रोल में हैं।

कुणाल कपूर की बात करें तो वीरम के लिए किए गए अपने ट्रांसफोर्मेशन की वजह से उन्होंने सुर्खिया बटोरी थीं। अपने इस लुक को लेकर एक्टर ने डीएनए से बातचीत में कहा था- मैं 6 महीने तक जानवरों की तरह ट्रेनिंग कर रहा था। मैं शुरू से ही फिट रहा हूं, लेकिन यह मेरा अब तक का सबसे फिट और मस्कुलर रूप है। मैंने फिल्म में एक योद्धा का किरदार निभाया है और मैं यह तस्दीक करना चाहता था कि मैं उस योद्धा की तरह महसूस कर पाऊं और दिख पाऊं।

असल में कुणाल ने फिल्म वीरम के लिए एक दम मस्कुलर और हंक लुक लिया है। इस कोलाज तस्वीर के कैप्शन में कुणाल ने लिखा- 6 महीने, 23 दिन, 12 घंटे और 232 प्रोटीन शेक्स लेने के बाद। जाहिर है कि कुणाल को ऐसा लुक लेने के लिए 6 महीने 23 दिन तक जबरदस्त वर्कआउट करना पड़ा और स्ट्रिक्ट डाइट फॉलो करनी पड़ी।

आईएसएल के लिए नीलामी रविवार को, 200 भारतीय खिलाड़ियों की लगेगी बोली

Saturday, 22 July 2017 12:50

इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के आगामी 2017-18 संस्करण के ड्रॉफ्ट में 200 से ज्यादा भारतीय खिलाड़ी हिस्सा लेंगे। इस संस्करण से आईएसएल 10 टीमों की लीग होगी। जमशेदपुर एफसी और बेंगलुरू एफसी आगामी संस्करण से लीग में पदार्पण करेंगी।

आईएसएल के नियम के मुताबिक, एक टीम कम से कम 15 और अधिकतम 18 खिलाड़ियों को अपने साथ जोड़ सकती है। 18 खिलाड़ियों में से दो अंडर-21 खिलाड़ियों को चुनना जरूरी है।

आईएसएल के नियम के मुताबिक, एक क्लब पिछले संस्करण की टीम में से अधिकतम दो खिलाड़ियों को अपने साथ बनाए रख सकता है। इसके अतिरिक्त क्लब अंडर-21 के तीन खिलाड़ियों को भी अपने साथ बनाए रख सकता है।

नौ में से आठ टीमों ने 22 घरेलू खिलाड़ियों को रखते हुए खिलाड़ियों को बनाए रखने के नियम का अधिकतम उपयोग कर लिया है जबकि दिल्ली डायनामोज इस संस्करण में नए तरीके से शुरुआत करना चाहती है।

जमेशदपुर एफसी को नई टीम होने के नाते पहले और दूसरे राउंड की नीलामी में पहला खिलाड़ी चुनने का मौका मिलेगा। दिल्ली पहले राउंड में अपने अधिकार की उपयोग करने वाला दूसरा क्लब होगा।

एफसी पुणे सिटी ने सिर्फ एक खिलाड़ी को ही अपने साथ बनाए रखा है। वह इन दोनों क्लबों के साथ दूसरे राउंड में जुड़ेगी। चेन्नयन एफसी को छोड़कर बाकी के छह क्लब तीसरे राउंड से ड्राफ्ट में कदम रखेंगे। चेन्नयन की टीम चौथे राउंड में शिरकत करेगी।

चेन्नयन ने जैरी लालरिनजुआला को अपने साथ बनाए रखा है। वहीं उसने अंडर-21 के दो और खिलाड़ियों को भी अपने साथ ही रखा है, इसलिए वह पहले तीन राउंड में हिस्सा नहीं लेगी।

ड्राफ्ट 15 राउंड तक चलेगा। शनिवार शाम को होने वाले ड्रॉ के मुताबिक ही ड्रॉफ्ट में क्लबों का क्रम तय होगा।

क्लब ने जिन खिलाड़ियों को अपने साथ बनाए रखा :

एटलेटिको दे कोलकाता : देबजीत मजूमदार, प्रबीर दास।

बेंगलुरू एफसी: सुनील छेत्री, उदांता सिंह, निशु कुमार, मालसाव्मजुआला।

चेन्नयन एफसी : जेजे लालफेख्लुआ, करणजीत सिंह, जैरी लालरिनजुआला, अनिरुद्ध थापा।

एफसी गोवा : लक्ष्मीकांत काट्टीमानी, मंदार राव देसाई।

एफसी पुणे सिटी : विशाल कैथ, अशिके कुरुनियान।

केरला ब्लास्टर्स : सीके. वीनिथ, संदेश झिंगान, प्रशांत कारुथाडाकुनी।

मुंबई सिटी: अमरिंदर सिंह, सेहनाज सिंह, राकेश ओरम।

नार्थईस्ट युनाइटेड : रावलिन बोर्जेस, टीपी रेहेनेश।

PM मोदी के डिनर में नीतीश कुमार होंगे शामिल, राहुल गांधी से भी करेंगे मुलाकात

Saturday, 22 July 2017 12:47

बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार शनिवार को पीएम नरेंद्र मोदी के डिनर आमंत्रण पर शिरकत करने के लिए दिल्‍ली आ रहे हैं. इस यात्रा के दौरान बिहार में महागठबंधन में जारी तनातनी के बीच वह कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी से भी मुलाकात करेंगे. बिहार में महागठबंधन की सरकार में कांग्रेस भी एक सहयोगी है. दरअसल शनिवार को दिल्‍ली के हैदराबाद हाउस में राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी की विदाई के उपलक्ष्‍य में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा आयोजित डिनर में बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को भी आमंत्रित किया गया था. उसी में हिस्‍सा लेने के लिए नीतीश कुमार दिल्‍ली आ रहे हैं. नवनिर्वाचित राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद, पीएम मोदी के मंत्री और एनडीए के सहयोगी दलों के नेता भी इस डिनर में मौजूद रहेंगे.

डिनर में बीजेडी और एआईएडीएमके जैसे अन्‍य पार्टियों के नेताओं को भी आमंत्रित किया गया है जिन्‍होंने राष्‍ट्रपति चुनाव में रामनाथ कोविंद का साथ दिया. गुरुवार को राष्ट्रपति चुनाव के तहत वोटों की गिनती हुई जिसमें कोविंद की जीत हुई.

विपक्ष से अलग होकर बिहार के पूर्व राज्‍यपाल रामनाथ कोविंद को समर्थन देने का फैसला करने वाले नीतीश कुमार पहले ही पुष्टि कर चुके हैं कि वे मंगलवार को उनके शपथ ग्रहण समारोह में मौजूद रहेंगे. राष्‍ट्रपति चुनाव में विपक्ष की साझा उम्‍मीदवार मीरा कुमार की जगह बीजेपी के उम्‍मीदवार रामनाथ कोविंद का समर्थन कर नीतीश कुमार ने कांग्रेस और सहयोगी लालू यादव की पार्टी आरजेडी के साथ अपनी साझेदारी को खतरे में डाल दिया है.

महागठबंधन में गांठ
नीतीश कुमार बिहार सरकार में अपने सहयोगी लालू यादव के परिवार के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोपों की जांच को लेकर असहज महसूस कर रहे हैं. . तनाव महागठबंधन को लेकर है.  मुख्यमंत्री ने भ्रष्टाचार के मामले में आरोपी लालू यादव के पुत्र तेजस्वी यादव को उप मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के लिए कहा है. यादव इस सुझाव से नाखुश हैं. कांग्रेस इस मामले में तनाव खत्म करने के लिए मध्यस्थता करना चाहती है, लेकिन हवा का रुख ऐसा नहीं है.

बीजेपी से बढ़ती नजदीकी
नीतीश कुमार के मौजूदा रुख में अपने पुराने सहयोगी बीजेपी और मोदी से समीपता बढ़ती दिखाई दे रही है. पिछले साल मोदी ने भ्रष्टाचार समाप्त करने के लिए नोटबंदी का ऐलान किया. उनके इस कदम का विपक्ष में सिर्फ नीतीश कुमार ने समर्थन किया. यदि नीतीश अपने मौजूदा सहयोगियों से नाता तोड़ते हैं तो बीजेपी की ओर से पहले ही बिहार सरकार को बाहर से समर्थन देने की पेशकश की जा चुकी है.    

नीतीश कुमार ने जोर देकर कहा है कि रामनाथ कोविंद को उनका समर्थन केवल इस 71 वर्षीय नेता की साख के कारण है. कोविंद की निर्विवाद तटस्थता बिहार के राज्यपाल के रूप में उनके कार्यकाल के दौरान देखी गई है. अगले महीने होने वाले उप राष्ट्रपति के चुनाव में नीतीश की पार्टी ने विपक्ष के उम्मीदवार गोपाल कृष्‍ण गांधी को समर्थन देने का वादा किया है.

यू/ए सर्टिफिकेट से खुश हूं : इम्तियाज अली

Saturday, 22 July 2017 12:37

फिल्मकार इम्तियाज अली का कहना है कि उनकी आगामी फिल्म 'जब हैरी मेट सेजल' के कुछ दृश्यों में थोड़ा बदलाव किया गया, लेकिन उनकी फिल्म के संवादों में कोई कट नहीं लगाया गया। उन्होंने कहा कि फिल्म की टीम सेंसर बोर्ड द्वारा फिल्म को यू/ए सर्टिफिकेट दिए जाने से खुश है। फिल्म के मिनी ट्रेलर में इसके प्रमुख कलाकार शाहरुख खान ने 'इंटरकोर्स' शब्द का प्रयोग किया है। ट्रेलर रिलीज होने के बाद केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) के अध्यक्ष पहलाज निहलानी ने इस शब्द पर आपत्ति जताई थी।

इम्तियाज ने शुक्रवार को मुंबई में फिल्म के ट्रेलर लॉन्च के दौरान मीडिया को बताया, "हम यू/ए सर्टिफिकेट दिए जाने से खुश हैं और सीबीएफसी ने किसी शब्द को डिलीट करने को नहीं कहा।"

उन्होंने कहा, "कुछ दृश्यों में थोड़ा बदलाव किया गया, लेकिन उनकी फिल्म के संवादों में कोई कट नहीं लगाया गया।"

'जब हैरी मेट सेजल' चार अगस्त को रिलीज की जाएगी।

एली मिलान से जुड़े बिगलिया

Saturday, 22 July 2017 12:37

इटली के अग्रणी फुटबाल क्लब-एसी मिलान क्लब ने अर्जेटीना के दिग्गज मिडफील्जर लुकास बिगलिया के साथ करार की घोषणा की है। मिलान साथ बिगलिया ने 1.7 करोड़ यूरो (1.94 करोड़ डॉलर) में तीन सत्र के लिए करार किया है।

इटली के फुटबाल क्लब ने एक बयान में कहा, "बिगलिया के साथ करार की घोषणा कर मिलान क्लब काफी खुश महसूस कर रहा है।"

मिलान ने कहा, "31 वर्षीय बिगलिया का तीन साल कर क्लब के साथ करार हुआ है और इसके तहत वह 30 जून, 2020 तक क्लब में बने रहेंगे।"

समाचार एजेंसी एफे की रिपोर्ट के अनुसार, बिगलिया ने अपने पिछले चार सत्र सेरी-ए लीग क्लब लाजियो के साथ बिताए।

अर्जेटीना की राष्ट्रीय टीम के लिए बिगलिया ने 50 मैच खेले हैं। इसके अलावा अर्जेटीना लीग में वह 66 मैच खेल चुके हैं, जिसमें उन्होंने एक गोल किया।

लाजियो के साथ 2013 में जुड़े बिगलिया ने उडिनेसे के खिलाफ अपना पहला मैच खेला था। उन्होंने चार सत्रों में क्लब के लिए कुल 16 गोल किए।

सरकार स्वच्छ राजनीतिक अनुदान की दिशा में काम कर रही : जेटली

Saturday, 22 July 2017 12:34

केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने शनिवार को कहा कि सरकार स्वच्छ राजनीतिक अनुदान की प्रणाली विकसित करने के लिए सक्रियता से काम कर रही है। जेटली ने यहां वित्त मंत्रालय की ओर से आयोजित दिल्ली इकॉनोमिक्स कॉन्क्लेव 2017 में कहा, "जब हम इस विषय पर विचार करते हैं कि राजनीतिक प्रणाली में अनुदान कैसे पहुंचे तो हम उम्मीद करते हैं कि भविष्य में यह स्वच्छ धन हो। हम इसके लिए सक्रियता से काम कर रहे हैं।"

जेटली ने कहा कि पिछले 70 वर्षो में भारतीय लोकतंत्र में राजनीतिक अनुदान 'अदृश्य धन' से मिलता रहा।

वित्त मंत्री ने कहा कि नोटबंदी के साथ ही वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) प्रणाली लागू किए जाने से यह लक्ष्य हासिल करने में मदद मिलेगी।

उन्होंने कहा, "प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष करदाता आधार के विस्तार से डिजिटलीकरण के बढ़ने के संकेत पहले ही दिखाई देने लगे हैं।"

भाई-भतीजावाद जैसी चीज का सामना नहीं करना पड़ा : अनुष्का शर्मा

Saturday, 22 July 2017 12:32

अभिनेत्री अनुष्का शर्मा का कहना है कि उन्हें बॉलीवुड में भाई-भतीजावाद जैसी किसी चीज का सामना नहीं करना पड़ा। अनुष्का को 2008 में यशराज बैनर ने लॉन्च किया था। अनुष्का ने कहा, "मुझे यश राज फिल्म्स जैसे बैनर ने लॉन्च किया था। वे नई प्रतिभा से अधिक किसी चीज को महत्व नहीं देते। वे इसी को प्राथमिकता देते हैं। इसलिए मुझे भाई-भतीजावाद जैसी किसी चीज का सामना नहीं करना पड़ा। मुझे लगता है कि लोगों के साथ एक ही उद्योग में अलग-अलग तरह का व्यवहार हो सकता है। और हमें उसका सम्मान करना चाहिए।"

अनुष्का ने शुक्रवार को अपनी आगामी फिल्म 'जब हैरी मेट सेजल' के ट्रेलर लॉन्च के मौके पर यह कहा।

फिल्म के निर्देशक ने इस मुद्दे पर कहा, "मुझे लगता है कि हम दोनों, बल्कि हम तीनों (अनुष्का, शाहरुख खान और इम्तियाज)..फिल्म उद्योग में नहीं होते, अगर हमें भाई-भतीजावाद का सामना करना पड़ता।"

उन्होंने कहा, "मुझे लगता है कि मैं यहां इसलिए पहुंचा हूं, क्योंकि जब मैं बॉलीवुड में आया, तो फिल्म उद्योग में मौजूद लोगों ने प्यार और समर्थन से मेरा स्वागत किया।"

'जब हैरी मेट सेजल' चार अगस्त को रिलीज होगी।

कोटिन्हो को लीवरपूल से नहीं जाने देंगे : क्लोप

Saturday, 22 July 2017 12:31

इंग्लिश प्रीमियर क्लब लीवरपूल के मुख्य कोच जुर्गेन क्लोप ने कहा है कि वह अपनी टीम के आक्रामक मिडफील्डर फिलिपे कोटिन्हो को कहीं नहीं जाने देंगे। ऐसी अटकलें लगाई जा रही हैं कि कोटिन्हो को आठ करोड़ यूरो (9.325 करोड़ डॉलर) में दिग्गज स्पेनिश क्लब बार्सिलोना स्थानांतरित कर दिया जाएगा।

लीवरपूल की आधिकारिक वेबसाइट पर जारी बयान के अनुसार, क्लोप से जब इन अटकलों के बारे में पूछा गया, तो उन्होंने कहा, "मैं किसी अन्य क्लब के कोटिन्हो में रुचि रखने से हैरान नहीं हूं। कई लोग देख सकते हैं कि हमारे क्लब के पास कुछ ही अच्छे खिलाड़ी हैं और हम सबको यही संदेश देना चाहते हैं कि कोटिन्हो कहीं नहीं जा रहे।"

क्लोप ने कहा, "हम साथ काम करने और साथ विकास करने पर यकीन करते हैं। हम साथ मिलकर अगला कदम उठाना चाहते हैं और इसलिए, हमें साथ रहने की जरूरत है।"

क्लोप ने यह भी बताया कि कोटिन्हो अब तक पूरी तरह फिट नहीं हो पाए हैं।

सादे कपड़ों में जवानों ने जम्मू एवं कश्मीर के 6 पुलिसकर्मियों को पीटा

Saturday, 22 July 2017 12:29

जम्मू एवं कश्मीर के गांदेरबल जिले में कुछ जवानों ने एक सहायक सब इंस्पेक्टर समेत छह पुलिसकर्मियों के साथ मारपीट की। वे सादे परिधानों में थे। जवान अमरनाथ यात्रा पूरी करके लौट रहे थे, जब श्रीनगर से 62 किलोमीटर की दूरी पर गुंड इलाके में पुलिस चौकी पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने उन्हें रुकने को कहा।

सूत्रों के मुताबिक, "गुस्साए जवानों ने छह पुलिसकर्मियों के साथ मारपीट की और गुंड पुलिस स्टेशन में तोड़फोड़ भी की।"

घायलों को अस्पताल में दाखिल कराया गया है।

घटना की प्राथमिकी दर्ज कराए जाने के बारे में पूछे जाने पर पुलिस सूत्रों ने कहा कि सेना ने घटना की जांच का आदेश दिया है। इस मामले में अन्य कानूनी औपचारिकताएं भी पूरी की जाएंगी।

संजय कोठारी बने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के सचिव, भारत लाल को बनाया गया संयुक्त सचिव

Saturday, 22 July 2017 12:07

20 को हुई वोटों की गिनती के बाद रामनाथ कोविंद नए राष्ट्रपति निर्वाचित हुए  और भारत सरकार ने संजय कोठारी को नए राष्ट्रपति का सचिव बनाया है. समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक भारत लाल को संयुक्त सचिव और अशोक मलिक को राष्ट्रपति का प्रेस सचिव बनाया गया है. बता दें कि एनडीए उम्मीदवार कोविंद ने विपक्षी उम्मीदवार मीरा कुमार को भारी वोटों के अंतर से चुनाव हराया है.

कोविंद के पक्ष में 522 वोट : चुनाव में कोविंद को 65.65 प्रतिशत तो मीरा कुमार को  34.35 फीसदी मत मिले. इस चुनाव में कोविंद के पक्ष  में क्रॉस वोटिंग भी  खूब हुई. जबकि 37 (21 सांसद और 16 विधायक) के वोट अमान्य घोषित हुए. कोविंद के पक्ष में 522 तो मीरा के पक्ष में 225 सांसदों ने वोट डाले थे. 

जानकारी के लिए बता दें कि कोविंद 25 जुलाई को राष्ट्रपति पद की शपथ लेंगे. अभी तक की सूचना के अनुसार वह 12.15 मिनट पर शपथ लेंगे.

यूपी: विधायक, सांसद को VIP ट्रीटमेंट, ट्रैफिक से बचाने के लिए टोल पर बनेगी अलग लेन

Saturday, 22 July 2017 12:04

एक तरफ तो जहां पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीवीआईपी कल्चर खत्म करने की बात करते हैं वहीं बीजेपी शासित राज्य उत्तर प्रदेश में वीवीआईपी लोगों के लिए टोल प्लाजा पर अलग से लेन की सुविधा दी जाने वाली। यह सुविधा विधायकों और सांसदों को दी जाएगी ताकि वे ट्रैफिक जाम से बच सकें। राज्य के सभी टोल प्लाजा के साथ-साथ इन वीवीआईपी लोगों को यह सुविधा नेशनल हाइवों पर भी दी जाएगी। सभी जिला अधिकारियों को इस मामले को लेकर निर्देश दिए जा चुके हैं कि उनके अंतर्गत आने वाले टोल प्लाजा पर सांसदों और विधायकों के लिए एक लेन अलग से रखी जाए।

इस मामले को लेकर उच्च अधिकारियों का कहना है कि एक तरफ तो सरकार प्रदेश में वीआईपी कल्चर खत्म करने के लिए गाड़ियों से नीली बत्ती हटाने का निर्देश देती है। वहीं दूसरी तरफ वीआईपी लोगों के लिए टोल पर अलग से लेन बनाने के निर्देश जारी कर फिर से वीआईपी कल्चर लाने के लिए जोर दे रही है। टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार इस प्रकार का निर्देश टोल प्लाजा ऑपरेटर्स के लिए परेशानी खड़ा करेगा। कई बार ऐसा देखा गया है कि विधायक टोल प्लाजा कर्मचारियों से टोल न देने को लेकर बहसबाजी करते है।

एडिशनल जिला अधिकारी ने बताया कि जब लखनऊ और दिल्ली जाते है तो विधायक और सांसद के साथ काफिले में अक्सर चार से पांच गाड़ियां होती है। ये गाड़ियां उन राज्य और नेशनल हाइवे से निकलती हैं जहां पर टोल प्लाजा बने हुए होते है। जब टोल कर्मचारी उनसे टोल मांगते हैं तो ये विधायक और सांसद उनके साथ अभद्र व्यवहार करते है। कई बार तो यह भी देखा गया है कि कर्मचारी टोल मांग जाने पर इन लोगों द्वारा उनकी पिटाई कर दी जाती है। इस तरह के मामलों से कानून व्यवस्था पर भी असर पड़ता है।

आपको बता दें कि प्रदेश में हाल के दिनों में विधायकों और सांसदों द्वारा टोल कर्मचारियों के साथ मारपीट व बदतमीजी करने के कई मामले सामने आए है। विधायक और सांसदों को छोड़ दें तो राज्य की पुलिस भी टोल कर्मचारियों के साथ मारपीट करती है। एक घटना की बात करें तो बाराबंकी जिले के अहमदपुर में एक टोल पर 100 नंबर डायल वाली पुलिस की गाड़ी को रोका गया तो पुलिसवाले ने बेरहमी से टोल कर्मचारी की पिटाई कर दी थी। यह घटना एक सीसीटीवी में कैद हुई जिसके बाद पुलिसवाले को सस्पेंड कर जांच के निर्देश दिए गए थे।

इन मशहूर ब्रैंड्स के जूते पहनते हैं ये भारतीय क्रिकेटर्स, कीमत सुनकर उड़ जाएंगे होश

Saturday, 22 July 2017 11:58

क्रिकेटर्स के रिकॉर्ड के बाद अगर किसी चीज की सबसे ज्यादा बात होती है तो वह है उनकी स्टाइलिंग। वह क्या पहनते हैं, क्या खाते हैं, उसके पास कौन की गाड़ियां हैं। उसकी कीमत कितनी है। फैन्स सब जानना चाहते हैं। इन खिलाड़ियों की कमाई खेल के अलावा एन्डॉर्समेंट और विज्ञापनों से होती है। बड़ी-बड़ी कंपनियां करोड़ों रुपये खर्च कर उन्हें अपना ब्रैंड एंबेसडर बनाती हैं और खिलाड़ी करार की हुई कंपनी के सामान को ही इस्तेमाल करते हैं। आइए आपको बताते हैं कि भारतीय खिलाड़ियों के जूते के ब्रैंड और उसकी कीमत के बारे में:

रोहित शर्मा: टीम इंडिया के हिटमैन रोहित शर्मा वनडे में दो बार दोहरा शतक जड़ने वाले इकलौते खिलाड़ी हैं। जितना वह सोशल मीडिया पर एक्टिव रहते हैं, उतना ही मैदान पर चौके-छक्कों की बारिश करते हैं। रोहित शर्मा स्पोर्ट्स कंपनी एडिडास के जूते पहनते हैं, जिसकी कीमत 7000 से शुरू होकर 22000 रुपये तक है।

 

अजिंक्य रहाणे: टीम इंडिया के स्टार ओपनर रहाणे का बल्ला वेस्टइंडीज सीरीज में खूब चला था। आगामी श्रीलंकाई दौरे पर भी उनसे शानदार प्रदर्शन की उम्मीद होगी। यूं तो रहाणे जुबान से खामोश रहते हैं, लेकिन उनका बल्ला सब बोलता है। रहाणे स्पोर्ट्स कंपनी नाइकी के जूते इस्तेमाल करते हैं। इसकी कीमत 15000 से 25000 तक है।

युवराज सिंह: टी20 विश्वकप 2007 में एक ओवर में 6 छक्के जड़ने वाले युवराज सिंह ने पिछले साल प्यूमा कंपनी से 4 करोड़ रुपये का करार दिया था। आईपीएल में भी उन्होंने प्यूमा के ही रंगीन स्पोर्ट्स शूज पहने थे। इतना ही नहीं उनके बल्ले पर भी प्यूमा का स्टिकर लगा रहता है। इस कंपनी के जूते की कीमत 15000-20000 रुपये तक होती है।

महेंद्र सिंह धोनी: भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने हाल ही में अपने गृहनगर रांची में सेवन नाम का स्टोर खोला है। धोनी का बड़े-बड़े बैंड्स के साथ करार हैं। लेकिन जब बात जूतों की आती है तो उनका भरोसा अॉस्ट्रेलियाई कंपनी सीसीएस (कस्टम क्रिकेट शूज) के जूते पहनते हैं, जिसकी कीमत 20000 रुपये या उससे ज्यादा है।

विराट कोहली: भारतीय क्रिकेट टीम के मौजूदा कप्तान। कुछ समय पहले स्पोर्ट्स कंपनी प्यूमा ने उनसे 100 करोड़ रुपये का करार किया था। विराट इस कंपनी के ब्रैंड एंबेसडर भी हैं और टीशर्ट, जूते, ट्रेनिंग शूज से लेकर हर चीज इसी कंपनी की इस्तेमाल करते हैं। इन सभी की अलग-अलग कीमत है। इस कंपनी के जूते की कीमत ज्यादातर 20000 तक होती है।

 

मुंबई में हाईटाइड की आशंका, सुबह से हो रही है बारिश

Saturday, 22 July 2017 11:40

मौसम विभाग के मुताबिक मुंबई में शनिवार को हाई टाइड की आसार नजर आ रहे हैं. ऊंची लहरें 11.20 बजे के बाद कभी भी उठ सकती हैं.  इसका असर भी समुद्र के किनारे दिखाई दे रहा है.  इस दौरान शहर के कई हिस्सों में भारी बारिश होती रहेगी. आपको बता दें कि मुंबई में शुक्रवार से ही भारी बारिश हो रही है. जिसकी वजह से कई ट्रैफिक जाम की समस्या से पूरे शहर को जूझना पड़ रहा है. हालांकि ज्यादातर लोकल ट्रेनें अपने टाइम से चल रही हैं. एक-दो ट्रेनों को ही लेट होने की खबर है. 

शुक्रवार को हुई दिन भर बारिश में  बोरिवली और मलाड के बीच भारी जाम लगा रहा. जिसकी वजह से लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा. वहीं  जलभराव की वजह से अंधेरी, दादर में भी भारी जाम लगा रहा है. यहा गुरुवार को भी जमकर बरसात हुई थी. इसके बाद शनिवार सुबह से ही बारिश हो रही है और जाम की वजह से हालात खराब हैं.

राजस्थान में सड़क दुर्घटना, 9 मरे

Saturday, 22 July 2017 11:39

राजस्थान में उदयपुर के पास शनिवार सुबह एक बस पलट गई, जिससे नौ लोगों की मौत हो गई, जबकि 22 अन्य घायल हो गए। मरने वालों में छह महिलाएं हैं। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने फोन पर आईएएनएस को बताया कि घटना सुबह करीब नौ बजे हुई, जब अहमदाबाद से हरिद्वार जा रही बस अहमदाबाद-उदयपुर मार्ग पर पलट गई।

अधिकारी ने बताया कि पांच लोगों की मौत घटनास्थल पर ही हो गई, जबकि चार अन्य ने अस्पताल में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया।

उन्होंने बताया कि घायलों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इनमें से कुछ की हालत गंभीर है।

कतर पर से प्रतिबंध हटाएं अरब देश : टिलरसन

Saturday, 22 July 2017 11:29

अमेरिका के विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन ने चार अरब देशों से कतर के खिलाफ लगा प्रतिबंध हटाने की अपील की है। उन्होंने कहा कि कतर आतंकवाद के खिलाफ 'सकारात्मक प्रगति कर रहा है।' टिलरसन ने अमेरिका दौरे पर पहुंचे ओमान के विदेश मंत्री यूसुफ बिन अलावी बिन अब्दुल्ला से यहां मुलाकात से पहले संवाददाताओं से कहा कि कतर आतंकवाद के खिलाफ हुए एक समझौते को लागू करने की दिशा में 'तेजी से बढ़ रहा है।'

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, टिलरसन ने यह भी कहा कि कतर ने उस पर प्रतिबंध लगाने वाले चार देशों के साथ वार्ता और 'उनकी मांगों पर चर्चा' की 'इच्छा' के संकेत दिए हैं।

अमेरिकी विदेश मंत्री ने कतर पर प्रतिबंध लगाने वाले चार देशों से सकारात्मक कदम उठाने की अपील की।

टिलरसन पिछले सप्ताह मध्य-पूर्व के दौरे पर गए थे। इस दौरान उन्होंने आतंकवाद के खिलाफ संघर्ष को लेकर कतर से एक समझौता किया था, जिसका उद्देश्य क्षेत्र में तनाव कम करना था।

इससे पहले पिछले महीने सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात, मिस्र तथा बहरीन ने कतर पर चरमपंथ व आतंकवाद को बढ़ावा देने का आरोप लगाते हुए उससे सभी तरह के संबंध तोड़ लिए थे और उस पर कई प्रतिबंध लगाए थे।

कतर ने हालांकि खुद पर लगे आरोपों से इनकार किया है।

इन चारों देशों ने स्थिति में बदलाव के लिए 23 जून को 13 सूत्री मांगें सामने रखी थीं, जिनमें अल-जजीरा टेलीविजन को बंद करना और कतर-ईरान कूटनीतिक संबंधों को समाप्त करना भी शामिल है।

पीएम मोदी और आरएसएस चाहते हैं कि भारत अपनी आवाज ‘सरेंडर’ कर दे : राहुल गांधी

Saturday, 22 July 2017 11:27

बेंगलुरु: केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर तीखा हमला बोलते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री,  नौकरशाही और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की ओर से लोकतांत्रिक संस्थाओं पर ‘‘व्यवस्थित तरीके से कब्जा’’ करके संविधान के जरिए वह भारतीय संविधान को ‘‘तहस-नहस’’ कर रही है. उन्होंने कहा कि मोदी और आरएसएस चाहते हैं कि भारत अपनी आवाज ‘सरेंडर’ कर दे.

मोदी और  आरएसएस को आड़े हाथ लेते हुए   राहुल ने कहा,‘ ‘हिटलर नाम का एक शख्स था और उसने एक बार लिखा - हकीकत पर बहुत मजबूत पकड़ रखो ताकि आप किसी भी वक्त इसका गला घोंट सको. आज हमारे चारों ओर यही हो रहा है. हकीकत का गला घोंटा जा रहा है.’’ राहुल ने कहा कि मोदी और आरएसएस चाहते हैं कि भारत अपनी आवाज ‘सरेंडर’ कर दे.

कर्नाटक सरकार की ओर से यहां आयोजित तीन दिवसीय बीआर आंबेडकर अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन के उद्घाटन अवसर पर अपने संबोधन में राहुल ने कहा, ‘‘उनका मकसद भारतीय संविधान को तहस-नहस करना है, जो हमें श्री आंबेडकर की ओर से दिया गया था. वही मकसद है, श्री आंबेडकर की ओर से हमें दिए गए संविधान को तहस-नहस करना.’’ राहुल ने कहा कि भारत ने अपनी आजादी इसलिए गंवाई थी, क्योंकि जब अंग्रेज जब इसकी सरजमीं पर आए तो लाखों-करोड़ों लोग चुप रहे और अंग्रेजों को ऐसे सारे काम करने दिए जिनमें उन्हें आनंद आता था, क्योंकि वे शक्तिशाली थे.

राहुल ने कहा, ‘‘आज ठीक वैसी ही चीजें हो रही हैं. जब पत्रकार अपनी आंखों के सामने हो रही हिंसा के बारे में नहीं लिखता है, जब किसी जज पर कोई फैसला देने के लिए दबाव बनाया जाता है......ठीक वही सारी चीजें हो रही हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘भारत की आजादी अंग्रेजों ने यूं ही नहीं ले ली. कुछ भारतीयों ने उन्हें यह सौंप दी थी......हमने अपनी आवाज खो दी, क्योंकि हमने इसे ‘सरेंडर’ कर दिया.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मोदी और आरएसएस यही चाहते हैं. वे चाहते हैं कि भारत अपनी आवाज ‘सरेंडर’ कर दे.’’

बिहार में आंशिक बदली

Saturday, 22 July 2017 11:20

बिहार में राजधानी पटना तथा इसके आसपास के क्षेत्रों में शनिवार को आंशिक बदली छाई है तथा शुक्रवार को हुई बारिश के बाद तापामन में भी गिरावट दर्ज की गई है। पटना का शनिवार को न्यूनतम तापमान 26.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विभाग ने अपने पूर्वानुमान में कहा है कि अगले 24 घंटों के दौरान पटना तथा इसके आसपास के क्षेत्रों में तथा राज्य के कुछ क्षेत्रों में हल्की बारिश होने के आसार हैं।

पटना मौसम विज्ञान केन्द्र के मुताबिक, शनिवार को भागलपुर का न्यूनतम तापमान 27.4 डिग्री, पूर्णिया का 24.9 डिग्री तथा गया का 26.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

पटना का शनिवार को अधिकतम तापमान 32 डिग्री सेल्सियस के करीब रहने का अनुमान है।

पटना का शुक्रवार को अधिकतम तापमान 30.4 डिग्री, गया का 30.1 डिग्री, भागलपुर का 29.6 डिग्री तथा पूर्णिया का 32.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। पिछले 24 घंटे के दौरान पटना में 49.1 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई।

POPULAR ON IBN7.IN