इन तीन कारणों से ज्यादातर लोगों को बदलनी पड़ती है अपनी नौकरी

नई दिल्ली: नौकरी बदलने से पहले हर किसी को दो बार जरूर सोच लेना चाहिए, क्योंकि कई बार नौकरी बदलने का फैसला खुद पर ही भारी पड़ता है. लोगों के पास वैसे तो नौकरी बदलने की ढेरों वजह होती हैं, लेकिन कुछ कारण ऐसे भी होते हैं, जोकि ज्यादातर कर्मचारियों के मामलों में एक से ही होते हैं. जानिए क्या हैं वो कारण जिसकी वजह से ज्यादातर लोग बदलते हैं अपनी नौकरी...

बॉस से मतभेद 
अक्‍सर दो लोगों की अलग सोच भी नौकरी बदलने का बड़ा कारण हो सकती है. भले ही कहा जाता है कि 'बॉस इस ऑलवेज राइट', लेकिन जरूरी नहीं कि हर कर्मचारी की सोच अपने बॉस के काम करने के तरीके से  मेल खा सके. ऐसे में कई कर्मचारी खुद को बॉस के अनुसार ढाल लेते हैं, तो कई करियर बदलने को ही एकमात्र रास्‍ता मानते हैं. इसके अलावा अक्‍सर बॉस का गलत रवैया, दोनों के बीच संवाद की कमी, बॉस का गलत व्‍यवहार या पक्षपातपूर्ण रवैया भी लोगों को अच्‍छी भली नौकरी बदलने पर मजबूर कर सकता है.

सैलरी कम होना
हर किसी फील्ड में ज्यादातर लोगों को सैलरी कम होने के कारण अपना करियर बदलते देखा जाता है. अच्छी सैलरी पाने की चाह हर कर्मचारी में होते है, लेकिन सभी की ये चाह पूरी नहीं होती. बहुत से लोगों को अपनी नौकरी में उनके काम के मुताबिक सैलरी नहीं मिलती या वो अंडरपेड होते हैं. जिस कारण उनके पास नौकरी बदलने के अलावा कोई ऑप्शन नहीं बचता है.

नौकरी से बोर हो जाना
बहुत से लोगों को ये शिकायत करते देखा गया है कि वे अपनी जॉब से बोर हो गए हैं और करियर में कुछ नया ट्राई करना चाहते हैं. ऐसा ज्यादातर तब होता है, जब किसी कर्मचारी को एक ही जगह पर काम करते हुए काफी साल हो जाते हैं और उसकी लाइफ में कुछ भी नयापन नहीं रह जाता.

POPULAR ON IBN7.IN