वित्त मंत्री अरुण जेटली बोले - महाभियोग का उद्देश्य CJI और दूसरे जजों का डराना था

केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि महाभियोग प्रस्ताव अपुष्ट आधारों पर रखा गया था. उन्होंने कहा कि इसका एकमात्र उद्देश्य मुख्य न्यायाधीश व दूसरे जजों को डराना था. उन्होंने कहा कि देश के मुख्य न्यायधीश के खिलाफ गलत सोच से लाया गया महाभियोग प्रस्ताव इस बात का उदाहरण है कि वकालत करने वाले सांसद न्यायालय के भीतर के झगड़े को खींच कर संसद तक ला रहे हैं.

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा, संसद अपने कार्य क्षेत्र में सर्वोच्च है. संसद की प्रक्रिया को समीक्षा के लिए न्यायालय में नहीं ले जाया जा सकता.
 
गौरतलब है कि उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने एक दिन पहले ही कांग्रेस सहित सात विपक्षी पार्टियों की ओर से चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के खिलाफ दिए गए महाभियोग प्रस्ताव के नोटिस को खारिज कर दिया था.  

POPULAR ON IBN7.IN