कार बेच दी और रजिस्ट्रेशन ट्रांसफर नहीं कराया तो भुगतना पड़ेगा लाखों का खमियाजा

अगर आपने अपनी पुरानी कार किसी को बेची है तो इस बात को सुनिश्चित कर लीजिए कि कार का रजिस्ट्रेशन संबंधित व्यक्ति के नाम ट्रांसफर किया गया हो. अगर आप ऐसा नहीं करते हैं तो हाल ही में सुप्रीम कोर्ट के एक फैसले के आधार पर आपको भारी खमियाजा भुगतना पड़ सकता है. कार बेचने के समय ही उसका रजिस्ट्रेशन नए मालिक के नाम पर ट्रांसफर कर दिया जाना चाहिए नहीं तो एक्सीडेंट होने की स्थिती में पुराने मालिक को ही हर्जाना भरना पड़ेगा.

 

पिछले मंगलवार को एक कार हादसे के मामले में सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने ये फैसला दिया है.

 

दरअसल 12 जुलाई 2007 को विजय कुमार नाम के एक शख्स ने अपनी कार एक व्यक्ति को  बेच दी थी. उस व्यक्ति ने 18 सितंबर 2008 को वह कार नवीन कुमार नाम के एक शख्स को बेच दी. कुछ दिनों बाद नवीन कुमार ने उसी कार को मीर सिंह को बेच दी. इस दौरान 27 मई 2009 को कार एक दुर्घटना का शिकार हो जाती है. इस दुर्घटना में एक व्यक्ति की मौत हो गई और एक शख्स घायल हो जाता है.

 

इसके बाद यह मामला मोटर एक्सीडेंट क्लेम ट्रिब्युनल में जाता है. ट्रिब्युनल ने इस मामले में फैसला दिया कि पीड़ित को 3.85 लाख रुपये का मुआवजा दिया जाए. खास बात इसमें ये है कि ट्रिब्युनल ने कार के पहले मालिक विजय कुमार को यह हर्जाना भरने के लिए कहा, जबकि दुर्घटना के समय कार के मालिक मीर सिंह थे. ऐसा इसलिए ट्रिब्युनल ने कहा क्योंकि कार के रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट में विजय कुमार का नाम दर्ज था. कार के मालिक बदलते रहें लेकिन कार का रजिस्ट्रेशन ट्रांसफर नहीं किया गया.

 

इस आदेश के खिलाफ विजय कुमार ने पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट में अपील की. कोर्ट ने ये माना कि विजय ने कार बेच दी थी और उसे इस हर्जाने को नहीं भरना होगा. लेकिन ये मामला यहीं नहीं रुका. कार के एक मालिक ने वकील ऋषि मल्होत्रा के जरिए सुप्रीम कोर्ट में अपील की और कहा कि अदालत कानून के खिलाफ जा कर फैसला नहीं कर सकती है. सुप्रीम कोर्ट के तीन जजों की बेंच ने फैसला दिया कि चूंकि कार विजय के नाम पर रजिस्टर्ड है इसलिए मोटर वाहन अधिनियम, 1988 की धारा-2(30) के तहत दुर्घटना होने पर उन्हें ही हर्जाना भरना होगा. इस तरह कार बेचने पर रजिस्ट्रेशन ट्रांसफर कराना बेहद जरुरी है.

 

अगर आपने अभी तक अपना रजिस्ट्रेशन ट्रांसफर नहीं कराया है तो परिवहन विभाग से संपर्क कीजिए. ड्राइविंग लाइसेंस की तरह ही रजिस्ट्रेशन का ट्रांसफर भी ऑनलाइन हो रहा है. आपको परिवहन विभाग की वेबसाइट पर जा कर एक आवेदन फॉर्म भरना होगा. इसके बाद विभाग से जो भी तारीख दी जाती है उस तारीख पर विभाग में जा कर आप कार के रजिस्ट्रेशन को आसानी से ट्रांसफर करा सकते हैं.

POPULAR ON IBN7.IN