राफेल सौदे पर सरकार के साथ आए वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ, बोले- ज्यादा कीमत नहीं दी गई

जालंधर: वायुसेना ने गुरुवार को कहा कि राफेल खरीद सौदे में ज्यादा कीमत नहीं दी गई और सरकार ने फ्रांस के लड़ाकू विमान के सौदे के लिए बहुत अच्छा मोलभाव किया. वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ ने कहा कि इसके लिए ज्यादा कीमत नहीं दी गई है. हमने अनुबंध से भी कम दाम पर 36 फ्रेंच लड़ाकू विमान राफेल के लिए मोलभाव किया. सरकार ने सौदे में बहुत अच्छा मोलभाव किया.


उन्होंने जालंधर के पास के आदमपुर एयरफोर्स स्टेशन पर मीडिया से कहा कि यह सरकार से सरकार के बीच अनुबंध है. धनोआ ने कहा कि वायुसेना को अच्छे मोलभाव वाले दाम पर 36 लड़ाकू विमान मिल रहे हैं.

बता दें कि गुरुवार को 36 राफेल लड़ाकू विमानों के सौदे को लेकर कांग्रेस द्वारा नरेंद्र मोदी सरकार पर लगाए गए सभी आरोपों को फ्रांस ने खारिज कर दिया है. कांग्रेस का आरोप है कि नरेंद्र मोदी सरकार ने फ्रांस की कंपनी डसाल्ट एवियेशन के साथ राफेल लडाकू विमानों खरीदने को लेकर जो समझौता किया है उसमें ज्‍यादा पैसा दिए गए है. डसाल्ट एवियेशन ने भारतीय वायुसेना को 36 राफेल लड़ाकू विमान देने हैं. वहीं अनिल अंबानी के नेतृत्‍व वाली रिलायंस डिफेंस लिमिटेड ने कांग्रेस को कहा है कि वह अपने आरोप वापस ले नहीं तो वह उस पर मुकदमा करेंगे. कांग्रेस का आरोप है कि फ्रांस की कंपनी ने भारतीय पाटर्नर (रिलायंस डिफेंस) को गलत तरीके से चुना है.

POPULAR ON IBN7.IN