महिला यात्री का दावा: एअर एशिया स्‍टाफ ने मुझे आतंकी जैसा महसूस कराया, बलात्‍कार की धमकी दी

 

इंडिगो कर्मचारियों द्वारा एक यात्री से बदसलूकी का मामला अभी ठंडा भी नहीं हुआ था कि एक महिला यात्री ने एयर एशिया के स्टाफ पर बदतमीजी करने का आरोप लगाया है। 28 वर्षीय महिला का आरोप है कि एयर एशिया के 3 कर्मचारियों ने 3 नवंबर को रांची से बेंगलुरु जा रही फ्लाइट में उसके साथ गलत व्यवहार किया। उसने यह भी कहा कि ग्राउंड स्टाफ ने बेंगलुरु एयरपोर्ट पर उसे रेप करने की भी धमकी दी। महिला ने कहा, ”वह मेरे बोर्डिंग पास की तस्वीरें ले रहे थे, मुझे एेसा लग रहा था कि मैं आतंकवादी हूं। यह रात एक बजे की घटना है। बाकी पैसेंजर्स को अंदर जाने दिया गया, लेकिन मुझे नहीं।” वहीं एयरलाइंस ने कहा, ”महिला ने वरिष्ठ स्टाफ को गालियां दी और केबिन क्रू के साथ बदतमीजी की।” वहीं एयर एशिया के कर्मचारियों-सन्मिट करंदीकर, कैजाद सुन्तोक और जतिन रविंद्रन पर यौन उत्पीड़न सहित कई अन्य आरोपों के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है।

महिला रांची से एयर एशिया की फ्लाइट संख्या 1585 में रात 9.15 बजे बैठी थी और अगले दिन 4 नवंबर को बेंगलुरु पहुंच गई। सेंट्रल बेंगलुरु के न्यू बेल रोड की रहने वाली महिला ने घटना के 4 दिनों बाद शिकायत दर्ज कराई। महिला ने कहा कि जब उसने विमान में टॉयलेट गंदा होने की बात कही तो एयरलाइंस स्टाफ ने यात्रा के दौरान उसके साथ छेड़छाड़ की। महिला ने कहा, ”जब मैं बेंगलुरु एयरपोर्ट पहुंची तो ग्राउंड स्टाफ ने मुझसे कैप्टन और केबिन क्रू से माफी मांगने को कहा और एेसा नहीं करने पर पुलिस के हवाले करने की धमकी दी। तीन लोग मुझे घेरकर खड़े हो गए और कहने लगे कि तुम हमें जानती नहीं हो।” महिला के मुताबिक उन्होंने कहा, ”तुम्हें बाहर ले जाकर दिखाएंगे कि हम क्या हैं। यह एक तरह से बलात्कार की धमकी ही थी।”