भारत-म्यांमार सीमा पर बम विस्फोट, तनाव

म्यांमार की सीमा से सटे पूर्वोत्तर के राज्य मणिपुर के मोरे में शनिवार सुबह बम विस्फोट हुआ, जिसके बाद कस्बे में तनाव की स्थिति है। यह विस्फोट मोरे के 'नो मैन्स लैंड' इलाके में हुआ। स्वतंत्रता दिवस से ठीक पहले हुए इस विस्फोट में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। मोरे पुलिस थाने के एसएचओ हिजाम चाओबा ने आईएएनएस को बताया कि सुबह 5.20 बजे के करीब सीमा के दोनों ओर सक्रिय संदिग्ध उग्रवादियों ने यह विस्फोट किया।

विस्फोट स्थल पर बड़ा सा गड्ढा हो गया।

मोरे में सन राइज क्लब के ठीक सामने रिमोट संचालित बम लगाया गया था। विस्फोट के बाद पुलिस और असम राइफल्स की 11वीं वाहिनी के सुरक्षाकर्मी घटनास्थल पर पहुंचे। हालांकि अब तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है।

पिछले सप्ताह सीमा पर स्थित खंभा नंबर 79 के पास एक रिमोट संचालित बम पाया गया था। हालांकि बम स्थानीय निवासियों की नजर में आ गया और उन्होंने पुलिस को इसकी सूचना दे दी थी। लेकिन कई घंटे बाद जब इम्फाल से बम निरोधक दस्ता पहुंचा, तब जाकर बम को निष्क्रिय किया गया।

म्यांमार की सीमा से बिल्कुल सटे इस गांव में आए दिन बम विस्फोट की घटनाएं होती रहती हैं। इसके अलावा दो महीने पहले इसी गांव में एक महिला की गोली लगने से मौत हो गई थी। इस मामले में भी कोई गिरफ्तारी नहीं हुई।

बम विस्फोटों और हत्याओं के खिलाफ हड़ताल और विरोध प्रदर्शन होते रहते हैं। लेकिन पुलिस का कहना है कि इन विरोध प्रदर्शनों का कोई असर नहीं पड़ता, क्योंकि संदिग्ध उग्रवादी हिंसक वारदातों को अंजाम देते रहे हैं।

मुख्यमंत्री एन. बिरेन सिंह ने आईएएनएस से कहा कि सरकार सीमावर्ती इलाकों में बढ़ रही हिंसा को लेकर चिंतित है।

उन्होंने कहा, "हाल ही में घात लगाकर किए गए हमलों में राज्य और केंद्रीय सुरक्षाबलों के कई जवानों की जानें गईं। पुलिस और अर्धसैनिक बलों ने सीमावर्ती इलाकों में गश्त और संयुक्त अभियान बढ़ा दिए हैं।"

POPULAR ON IBN7.IN