सोशल मीडिया के जरिये लोगों की शिकायतें दूर करेंगे : नायडू

केंद्रीय शहरी विकास, आवास एवं शहरी गरीबी उन्मूलन मंत्री वेंकैया नायडू ने कहा कि सोशल मीडिया के जरिये लोगों की शिकायतें दूर करना हमारी शीर्ष प्राथमिकताओं में से एक है। उन्होंने कहा कि डिजिटल भुगतान चैनलों के लिए अभियान और वित्तीय समावेश से भारतीयों को प्रत्यक्ष लाभ अंतरण सुनिश्चित होगा और उन्हें औपचारिक वित्तीय व्यवस्था के दायरे में लाएगा। वित्तीय समावेशी अभियान के तहत 28 करोड़ बैंक खाते खोले जा चुके हैं। हीरो एंटरप्राइजेज द्वारा स्थापित स्वतंत्र थिंक टैंक माइंडमाइन इंस्टीट्यूट द्वारा आयोजित विचार मंच माइंडमाइन समिट में वेंकैया नायडू ने कहा, " विमुद्रीकरण भ्रष्टाचार के खिलाफ एक लड़ाई है, वित्तीय लेनदेन का डिजिटलीकरण इससे सुनिश्चित हुआ है। जीएसटी एकल कर प्रणाली का एक क्रांतिकारी क्रियान्वयन है।"

माइंडमाइन समिट के 11वां संस्करण के दो दिवसीय सम्मेलन के पहले दिन 'अवरोध-भारत के लिए नई सामान्य चीज?' विषय पर परिचर्चा में वरिष्ठ मंत्री, उद्योगपति और विभिन्न क्षेत्रों के विशेषज्ञ शामिल हुए। इक दौरान हीरो एंटरप्राइज के अध्यक्ष सुनील कांत मुंजाल ने इंपैक्ट इनवेस्टिंग के क्षेत्र में आविष्कार भारत फंड में 100 करोड़ रुपये का निवेश करने की घोषणा की।

इस अवसर पर रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने कहा, "भारतीय रेल की भविष्य में महत्वाकांक्षी योजनाएं हैं। हम अगले पांच सालों में ढांचागत विकास में 140 अरब डॉलर का निवेश करने की संभावना तलाश रहे हैं। सभी मीटर गेज पटरियों को ब्रॉड गेज में परिवर्तित किया जाएगा। हम भारतीय रेल के संपूर्ण डिजिटलीकरण की दिशा में काम कर रहे हैं जिससे अरबों डॉलर की बचत होगी। सरकार रेलवे पटरियों के नवीकरण और पटरियों में टूट-फूट का पता लगाने को नवीनतम प्रौद्योगिकी अपनाने के लिए करीब 10,000 करोड़ रुपये खर्च करेगी जिससे दुर्घटना की दर शून्य स्तर पर लाने में मदद मिल सके।"

वाणिज्य एवं उद्योग राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) निर्मला सीतारमण ने कहा, "मुझे नहीं लगता है कि वैश्वीकरण पीछे हटने की राह पर है। निश्चित तौर पर कुछ चुनौतियां हैं क्योंकि वैश्वीकरण की वजह से संचित धन से ज्यादातर बहुराष्ट्रीय कंपनियों को लाभ हुआ है और इसका सभी में समान वितरण नहीं हुआ है। इसके परिणाम स्वरूप कुछ हद तक यह पीछे खिसका है। हमारे पास सेवाओं के व्यापार के लिए एक वैश्विक रूपरेखा नहीं है। भारत विश्व व्यापार संगठन में सेवाओं पर एक व्यापार सुगमता समझौता (टीएफए) पर इस बहुपक्षीय निकाय में सभी प्रमुख मुद्दों को लेकर अगली कार्ययोजना के लिए रणनीति तैयार करने की योजना बना रहा है। दुनियाभर में संतृप्त अर्थव्यवस्थाओं को भारत जैसी उभरती अर्थव्यवस्थाओं से सेवा के व्यापार की जरूरत पड़ेगी।"

नागरिक विमानन राज्यमंत्री जयंत सिन्हा ने कहा, "भारत में विमानन उद्योग एक उगता सूरज है। महानगरों और टियर 3 एवं टियर 4 शहरों जैसे शिमला, गोरखपुर, कानपुर आदि के बीच प्रभावी क्षेत्रीय हवाई संपर्क का निर्माण किया जा रहा है। प्रधानमंत्री मोदी 27 अप्रैल को उड़ान लांच करेंगे और हम एक साल में सभी छोटे शहरों में 33 नए हवाईअड्डे जोड़ेंगे। यह केवल 205 करोड़ रुपये की सब्सिडी से हासिल किया जाएगा।"

सुनील कांत मुंजाल ने कहा, "अत्यधिक आर्थिक मायूसी की इस दुनिया में भारत दुनिया के बाकी देशों के मुकाबले बेहतर कर रहा है। हालांकि, हमारे लिए इतना ही पर्याप्त नहीं है। आज व्यवस्था को दुरुस्त करने की जरूरत बढ़ रही है और यथास्थिति ज्यादा दिनों तक स्वीकार्य नहीं है। सरकार विमुद्रीकरण, जीएसटी के क्रियान्वयन, डिजिटल भुगतान जैसे विघ्नकारी उपायों के जरिये ऐसे निर्णय कर रही है जिसका परिणाम आने वाले 10-20 साल या 50 साल में दिखाई देगा। जिस तरह के बदलाव और सुधार किए जा रहे हैं, वे संभवत: किसी को भी नहीं सुहा रहे। यह कहा जा सकता है कि अगर हमें दुनिया की रफ्तार से कदम से कदम मिलाना है और लाखों भारतीयों के लिए एक बेहतर जीवन की आकांक्षा करनी है तो भारत में अवरोध बहुत जरूरी है।"

  • Agency: IANS