जयललिता के निधन की सीबीआई जांच की मांग

 

नई दिल्ली:  ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (एआईएडीएमके) के लोकसभा सदस्य पी. आर. सुंदरम ने मंगलवार को तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री जे. जयललिता के निधन की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से कराने की मांग की। जवाब में केंद्र सरकार ने कहा कि वह तमिलनाडु सरकार की जांच के नतीजे आने के बाद ही इस मामले में एक अन्य जांच का आदेश दे सकती है।

तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री ओ. पन्नीरसेल्वम के खेमे से ताल्लुक रखने वाले सुंदरम ने यह मांग लोकसभा में उठाई।

उन्होंने कहा कि जयललिता जब अस्पताल में भर्ती थीं तो उनसे किसी को मिलने नहीं दिया गया। पहले बताया गया कि उन्हें बुखार व डिहाइड्रेशन की समस्या है और फिर 'अचानक' घोषणा की गई कि दिल का दौरा पड़ने से उनका निधन हो गया।

जवाब में केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार ने कहा कि यह एक चिंतनीय मुद्दा है।

उन्होंने कहा, "हम सभी एक बड़ी नेता के निधन से दुखी हैं। यह सदन और पूरे देश के लिए गंभीर चिंता का कारण है।"

मंत्री ने कहा कि ऐसा 'माना' जा रहा है कि जयललिता का निधन 'रहस्यमयी परिस्थितियों' में हुआ।

जयललिता का निधन पांच दिसंबर को हुआ था। वह लंबे समय तक अस्पताल में रही थीं। पार्टी के कुछ नेताओं ने उनके निधन की परिस्थितियों को लेकर सवाल उठाए हैं।

POPULAR ON IBN7.IN