शादी में फिजूलखर्च पर बिल लाने वाली सांसद रंजीत रंजन अपनी शादी में आई थीं चार्टेड प्लेन से

लोकसभा में शादी में फिजूलखर्च को लेकर निजी विधेयक पेश करने वाली कांग्रेस सांसद और बिहार की जन अधिकार पार्टी के नेता पप्पू यादव की पत्नी रंजीत रंजन के बारे में एक अहम जानकारी मिली है। भले ही वह फिजूल खर्च के खिलाफ विधेयक लाई हैं, लेकिन उनकी खुद की शादी शाही अंदाज में हुई थी। अपनी शादी में वह अपने परिवार के साथ जालंधर से पूर्णिया चार्टेड प्लेन से पहुंची थीं। मधेपुरा से सांसद पप्पू यादव और रंजीत रंजन की शादी 6 फरवरी 1994 को पूर्णिया में हुई थी। दोनों का यह प्रेम विवाह था। न्यूज18 हिंदी की रिपोर्ट के मुताबिक पप्पू यादव की शादी में पूरा शहर आमंत्रित था। इस शादी में मौजूद देवाशीष पासवान ने बताया था कि इसमें एक लाख से ज्यादा लोग शामिल हुए थे।पासवान के मुताबिक शहर के सारे होटल और गेस्ट हाउस सब बुक थे। इस शादी में लालू यादव, चौधरी देवीलाल, डीपी यादव, मुलायम सिंह और राज बब्बर भी शामिल हुए थे।

पूर्णिया नगर निगम के डिप्टी मेयर संतोष यादव ने न्यूज चैनल को बताया कि इस शादी के लिए पूर्णिया कॉलेज और हवाई अड्डा ग्राउंड के लगभग 200 एकड़ में व्यवस्था की गई थी। उन्होंने बताया कि हर कोई इस शादी में शामिल होने पहुंच रहा था। पूरा शहर गाड़ियों से भर गया था।

हाथी-घोड़े भी थे मौजूद: उन्होंने कहा कि गाड़ियों के अलावा शादी में सैकड़ों हाथी और घोड़े थे। शहर का हर चौक-चौराहा सजा हुआ था। खाना बनाने वाले लोग बाहर से आए थे और लोगों खाने-पीने की पूरी व्यवस्था थी। वहीं जब रंजीत से इस बारे में बात की गई तो उन्होंने कहा कि मेरी शादी एक रैली थी और चार्टेड प्लेन का इंतजाम वर पक्ष ने किया था। मेरे परिवार का राजनीति से कोई ताल्लुक नहीं है। उन्होंने कहा कि जब मैं लोकसभा में इस विधेयक के बारे में चर्चा करूंगी तो अपनी शादी का भी जिक्र करूंगी। बता दें कि हाल ही में वह संसद अपनी लाखों की हार्ले डेविडसन बाइक से पहुंची थीं।

यह है उनके बिल में: रंजन के निजी बिल के मुताबिक अगर शादी में कोई 5 लाख से ज्यादा खर्च करता है तो खर्च का 10 फीसदी गरीबों को या गरीबी रेखा से नीचे रह रहे लोगों को देना होगा। उन्होंने कहा था कि शादियों में धन के अनावश्यक खर्च पर रोक लगाना अति आवश्यक है। अनावश्यक खर्च करना समाज के लिए अच्छा नहीं है। सांसद के अनुसार शादियों में आजकल दिखावा ज्यादा होता है। जिस पर रोक लगाने की जरुरत है।

Poker sites http://gbetting.co.uk/poker with all bonuses.