मोदी, आरएसएस ने देश की संस्थाओं को कमजोर किया : राहुल

नई दिल्ली:  कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) पर राजग के ढाई साल के शासन में देश की 'हर संस्था को दुर्बल' करने को लेकर निशाना साधा। राहुल ने कांग्रेस के जन वेदना सम्मेलन में कहा, "कांग्रेस ने पिछले 70 सालों में संस्थाओं, न्यायपालिका, आरबीआई (रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया) और प्रेस, सभी का सम्मान किया है।"

राहुल ने कहा, "लेकिन, नरेंद्र मोदी सरकार और आरएसएस के तहत भाजपा ने पिछले ढाई सालों में आरबीआई, न्यायपालिका, निर्वाचन आयोग समेत हर संस्था को कमजोर किया है, जिन्हें हमने खड़ा किया था।"

उन्होंने कहा, "उन्होंने (आरएसएस और मोदी) ने ढाई सालों में इस सब कुछ को उलट दिया।"

राहुल ने कहा, "अब देश का संचालन केवल दो लोग, नरेंद्र मोदी और (आरएसएस प्रमुख) मोहन भागवत ही करते हैं।"

राहुल ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, "और जब लोग उनसे सवाल करते हैं, तो वे कहते हैं, तुम कौन हो?"

राहुल ने कहा, "हम देश को बताना चाहते हैं कि हम देश की संस्थाओं को बचाएंगे।"

राहुल ने कहा कि केवल कांग्रेस ही देश की 'आवाज को बचाएगी।'

कांग्रेस की योजनाओं की मोदी द्वारा निंदा पर बरसते हुए राहुल ने कहा, "प्रधानमंत्री ने देश की अर्थव्यवस्था की रीढ़ नष्ट कर दी है। प्रधानमंत्री से पूछा जाना चाहिए कि मनरेगा में अब अचानक इतनी बढ़ोतरी क्यों हुई है, जिसकी पहले वह आलोचना करते रहे हैं।"

राहुल ने पार्टी कार्यकर्ताओं की भूमिका की भी प्रशंसा की।

उन्होंने कहा, "कांग्रेस के लोगों ने देश के लिए अपना पसीना और खून दिया है। मैं भाजपा और उनके सहयोगियों से पूछना चाहता हूं कि क्या उनकी पार्टियों में से भी किसी ने यह किया है?"

  • Agency: IANS