हर साल सड़क दुर्घटना में 1.5 लाख की मौत : गडकरी

नई दिल्ली:  हर साल भारतीय सड़कों पर करीब पांच लाख दुर्घटनाएं होती हैं। इन दुर्घटनाओं में करीब 1.5 लाख हर लोग मारे जाते है। केंद्रीय सड़क, परिवहन राजमार्ग एवं जहाजरानी मंत्री नितिन गडकरी ने यह बातें सोमवार को एक समारोह में कहीं। गडकरी ने कहा कि दुर्भाग्यपूर्ण बात यह है कि साल 2016 में सड़क दुर्घटना के मामलों में 4.6 फीसदी वृद्धि हुई है। केंद्रीय मंत्री गडकरी सोमवार को सोसाइटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्यूफैक्चर्स (सियाम) और सड़क, परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय द्वारा आयोजित सड़क सुरक्षा सप्ताह के एक कार्यक्रम में बोल रहे थे। इसके सहआयोजन में दिल्ली पुलिस भी शामिल रही। इस पहल के तरह 'सड़क सुरक्षा सप्ताह' और 'वॉक फार सेफ्टी' का आयोजन किया गया।

इस मौके पर केंद्रीय सड़क, परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री गडकरी ने कहा कि हर साल भारत की सड़कों पर पांच लाख दुर्घटनाएं होती हैं। इसमें हर साल 1.5 लाख अपनी जान गंवा देते हैं। उन्होंने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि साल 2015 के मुकाबले बीते साल 2016 में सड़क दुर्घटनाओं में 4.6 फीसद की बढ़ोतरी हुई है। सड़कों को ज्यादा सुरक्षित और बेहतर बनाने के लिए सरकार कई चीजों पर काम कर रही है। इसमें इंजीनियरिंग, सड़क के गड्ढों, सुरक्षित अवरोधक और सीमेंट व कंक्रीट की सड़कें बनाना शामिल हैं।

सड़क सुरक्षा सप्ताह की पहल पर बात करते हुए सियाम के कार्यकारी निदेशक के.के. गांधी ने कहा कि सियाम पूरी तरह से नागरिकों के बीच सड़क सुरक्षा के संदेश को प्रचारित करने लिए वचनबद्ध है। सियाम का पूरा सहयोग इस कार्य में रहेगा। इसके 4,200 ऑटोमोबाइल डीलर नेटवर्क इस कार्य में प्रमुख भूमिका निभाएंगे।

  • Agency: IANS