‘बढ़ो बहू’ एक्‍ट्रेस का खुलासा- इंडस्‍ट्री के 99 फीसदी मर्द छेड़ते हैं, सेट पर पिटती हैं महिला कर्मचारी

 

एंड टीवी के सीरियल बढ़ो बहू की एक्ट्रेस रायताशा राठौर ने टीवी इंडस्ट्री को लेकर बेहद ही चौंकाने वाला खुलासा किया है। ह्यूमन्स ऑफ बॉम्बे फेसबुक पेज के एक पोस्ट के मुताबिक रायताशा का कहना है कि इंडस्ट्री में 99 फीसदी मर्द महिलाओं को छेड़ते हैं और सेट पर महिलाओं को पीटा भी जाता है। रायताशा ने अपनी हेयर स्टाइलिस्ट के बारे में बात करते हुए कहा कि उन्हें सेट पर एक लड़के ने कई बार पीटा था। रायताशा ने बताया, ‘मैं बढ़ो बहू में बढ़ों का किरदार निभाती हूं, जिसमें मुझे 100 किलो की एक लड़की का रोल निभाना होता है। यह शो भारत के छोटे से गांव को दर्शाता है। मैं जिस माहौल में पली बढ़ी हूं, उससे यह शो काफी अलग है। मेरे सेट में मेरे अलावा 3 महिलाएं काम करती हैं और 100 आदमी काम करते हैं। इन तीन महिलाओं में एक मेरी हेयर दीदी भी हैं, जो 21 साल के आसपास की हैं।’

उन्होंने बताया कि पिछले कुछ दिनों से उस लड़की को सेट पर एक लड़के द्वारा काफी पीटा जा रहा था। रायताशा ने कहा, ‘पिछले कुछ महीनों से बहुत से आदमियों द्वारा, विशेषकर एक आदमी द्वारा उस लड़की को पीटा जा रहा था और उसका शोषण किया जा रहा था। उस आदमी ने कई बार मेरी हेयर दीदी के सामने प्रेम प्रस्ताव रखा था, लेकिन हर बार उस लड़की ने उसे मना ही किया था। लड़की के इस बर्ताव से गुस्साए उस आदमी ने अपना हाथ जला लिया था और उस लड़की के पास जाकर उसने कहा था, ‘हर जलने के निशान के लिए मैं तुम्हें मारूंगा और उतनी बार मारूंगा जितनी बार तुमने मेरे प्रेम प्रस्ताव को खारिज किया।’

 

रायताशा ने बताया कि इस बात की शिकायत सीरियल के अधिकारियों को भी की गई, लेकिन कुछ एक्शन लिया जाता उससे पहले ही उस लड़की ने सीरियल छोड़ दिया और वह आदमी उसी तरीके से काम करता रहा जैसे कुछ हुआ ही ना हो। बढ़ो बहू एक्ट्रेस ने कहा, ‘इस घटना ने मुझे काफी प्रभावित किया। मुझे लगा कि मुझे जिस बुलबुले के अंदर बड़ा किया गया था वह अचानक से फूट गया हो। हमें बचपन से यही कहा जाता रहा था कि लड़के-लड़कियां सब एक बराबर होते हैं, लेकिन पिछले कुछ सालों में मैंने यह जान लिया कि ऐसा कुछ नहीं होता। साथ में काम करने वाले करीब 99 फीसदी पुरुष आज भी महिलाओं को खुद से कम समझते हैं।’

रायताशा ने सेट में हुई एक और घटना का जिक्र करते हुए कहा, ‘मुझे याद है कि मेरी एक कलीग को अपने पति के सामने एक सीन के लिए काफी लंबा डायलॉग बोलना था। इस सीन के बाद उस व्यक्ति ने डायरेक्टर से कहा, ‘ये कितना बोलती है’, जिसके बाद डायरेक्टर ने मजाकिया अंदाज में कहा- एक चपाट मार दे चुप हो जाएगी। उसे लगा कि उसने बहुत मजाकिया बात कही होगी, लेकिन आज का मजाक कल की सच्चाई बनता है।’

बढ़ो बहू एक्ट्रेस ने कहा कि औरतों को आज भी कमजोर समझा जाता है। उन्होंने कहा, ‘औरतों के बारे में लोगों की सोच को केवल एक ही तरीके से बदला जा सकता है, इसके लिए मुझे ही शुरुआत करनी होगी। क्यों सुंदरता का पैमाना मोटे बाल, अच्छी काया से होता है? मैं पहले सोचती थी कि मैं अपने मोटापे की वजह से आकर्षक नहीं हूं, लेकिन अब मुझे खुद से प्यार हो गया है और मैं दुनिया के नजरिए से खूबसूरती का पैमाना तय नहीं करूंगी। एक पत्रकार ने एक बार मुझ से कहा था कि मुझे मेरे मोटापे की वजह से ये सीरियल मिला है। मैंने तब सोचा- क्या इतने सारे साल स्कूल ड्रामा में बर्बाद करने का कोई फायदा मुझे नहीं मिला? अब सही वक्त आ गया है कि हमें खुद पर गर्व करना होगा और खुद से प्यार करना होगा।’

 

 

Media

POPULAR ON IBN7.IN