करणी सेना ने दी धमकी, 'दीपिका पादुकोण का करेंगे वो हश्र जो लक्ष्‍मण ने शूर्पणखा का किया था'

 संजय लीला भंसाली की फिल्‍म 'पद्मावती' में रानी पद्मिनी का किरदार निभाने वाली एक्‍ट्रेस दीपिका पादुकोण को राजपूत करणी सेना के एक सदस्‍य ने नाक काटने की धमकी दे दी है. करणी सेना के महिपाल सिंह मकराना ने अपने द्वारा बनाए गए एक वीडियो में कहा है कि वैसे तो राजपूत महिलाओं पर हाथ नहीं उठाते, लेकिन हम दीपिका पादुकोण के साथ वहीं करेंगे जो लक्ष्‍मण ने शूर्पणखा के साथ किया था. 'पद्मावती' पर बढ़ते विवाद के चलते अभी तक संजय लीला भंसाली और दीपिका पादुकोण के खिलाफ बहुत कुछ कहा जा चुका है और कई जगह तो उनके पुतले भी फूकें गए हैं. करणी सेना समेत देश के कई हिस्‍सो में इस फिल्‍म का विरोध हो रहा है.

बता दें कि एएनआई की जानकारी के अनुसार इस फिल्‍म के चलते लगातार मिल रही धमकियों के बाद अब निर्देशक संजय लीला भंसाली के घर की सुरक्षा बढ़ा दी गई है.
 

padmavati protests 650


इसके अलावा सर्व ब्राह्मिन महासभा के सदस्‍यों ने भी इस फिल्‍म के खिलाफ आज जयपुर में प्रदर्शन किया है. यहां लोगों ने अपने खून से हस्‍ताक्षर कर सेंसर बोर्ड को भेजे हैं. ‘पद्मावती’ का विरोध करने वालों में आज राजस्थान की मंत्री किरण माहेवश्वरी भी शामिल हो गयीं जबकि श्री राजपूत करणी सेना ने फिल्म की रिलीज के खिलाफ एक दिसंबर को देशव्यापी बंद का आह्वान किया. फिल्म एक दिसंबर को रिलीज होने वाली है. राजस्थान भाजपा अध्यक्ष अशोक परनामी, उदयुपर के पूर्व शाही परिवार लक्ष्यराज सिंह मेवाड़ और कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य संजय सिंह उन लोगों में शामिल थे जिन्होंने कहा कि ऐतिहासिक तथ्यों से छेड़छाड़ करने की कोई भी कोशिश बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

 
padmavati protest pti


केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) के अध्यक्ष प्रसून जोशी ने कहा है कि उन्होंने अब तक संजय लीला भंसाली की फिल्म 'पद्मावती' नहीं देखी है और उनके फिल्म देखने की खबरें बिल्कुल निराधार और गलत है. मीडिया में ऐसी खबरे थीं कि सेंसर बोर्ड के प्रमुख ने 'पद्मावती' देख ली है और उन्होंने फिल्म में कुछ भी आपत्तिजनक नहीं पाया. राजस्थान राज्य महिला आयोग (आरएससीडब्ल्यू) ने भी सेंसर बोर्ड को पत्र लिखकर ‘कानून और व्यवस्था को लेकर’ भंसाली की फिल्म से जुड़े ‘संशय’ को खत्म करने की मांग की है.

POPULAR ON IBN7.IN