अंग्रेजी भाषी बच्चों के बीच बाहरी जैसा महसूस होता था : श्रेयस

अभिनेता इरफान खान की शुक्रवार को रिलीज हो रही फिल्म 'हिंदी मीडियम' की विशेष स्क्रीनिंग में अभिनेता श्रेयस तलपड़े ने बताया कि बचपन के दिनों में वह अपने साथ पढ़ने वाले बच्चों के बीच बाहरी जैसा महसूस करते थे क्योंकि उनके सहपाठी अंग्रेजी में काफी निपुण थे। लेकिन जब वह बड़े हुए तो उनकी यह हीनभावना खुद ही दूर हो गई। इरफान खान और पाकिस्तानी अभिनेत्री सबा कमर द्वारा अभिनीत 'हिंदी मीडियम' में शिक्षा प्रणाली के हिंदी व अंग्रेजी के बीच के बंटवारे को दर्शाया गया है।

फिल्म में इरफान के अभिनय की प्रशंसा करते हुए श्रेयस ने गुरुवार को यहां कहा, "इरफान खान लगातार अद्भुत फिल्में कर रहे हैं और जब वह किसी फिल्म में अभिनय करते हैं तो उसे अपनेआप एक अच्छी फिल्म माना जाता है। हिंदी हमारी राष्ट्रीय भाषा है। अपने देश की भाषा बोलने में हमें कोई हिचकिचाहट नहीं होनी चाहिए।"

उन्होंने कहा, "बचपन में जब दूसरे बच्चे अंग्रेजी में बोलते थे तो मुझे बाहरी जैसा महसूस होता था। लेकिन जब बड़े होने के साथ आपको यह अहसास होता है कि भाषा को लेकर ऐसी कोई दिक्कत नहीं है। आज की पीढ़ी को इसे लेकर कोई दिक्कत नहीं है। वे अपनी भाषा को लेकर अधिक आत्मविश्वास महसूस कर रहे हैं।"

अपनी आगामी फिल्मों के बारे में श्रेयस ने कहा, "मैं 'पोस्टर बॉयज' में सनी देओल और बॉबी देओल के साथ अभिनय और निर्देशन कर रहा हूं। इसके साथ में 'गोलमाल अगेन' में भी काम कर रहा हूं।"

साकेत चौधरी द्वारा निर्देशित 'हिंदी मीडियम' 19 मई को रिलीज हो गई।

POPULAR ON IBN7.IN