बॉलीवुड में नाम कमाने से पहले कास्टिंग काउच का सामना कर चुकी हैं ये मशहूर एक्ट्रेसेज

बॉलीवुड के गलियारों में संघर्ष की सैकड़ों हजारों कहानियां हैं। तमाम छोटे-बड़े शहरों से लोग अपने सपनों को पूरा करने मायानगरी मुंबई आते  हैं। कड़े कंपीटिशन के जाल में फंसकर कुछ तो वापस चले जाते हैं लेकिन कुछ ऐसे भी होते हैं जिन्हें अपनी प्रतिभा पर पूरा भरोसा होता है और उन्हे अपनी कामयाबी से नीचे कुछ भी मंजूर नहीं होता। हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में अभिनेताओं के मुकाबले अभिनेत्रियों का संघर्ष ज्यादा चुनौतीपूर्ण होता है। उन्हें महज अपनी प्रतिभा के लिए एक मौके की जद्दोजहद नहीं करनी पड़ती बल्कि इसके अलावा भी उन्हें अनेक मुसीबतों से निपटना पड़ता है। आज इंडियन टेलीविजन और फिल्म इंडस्ट्री में ऐसी तमाम अदाकाराएं मौजूद हैं जिन्हे काम न मिलने की, अभिनेत्री बनने के लिए घर से अनुमति न मिलने की और यहां तक कि इंडस्ट्री में संघर्ष करते हुए शारीरिक और मानसिक शोषण तक की चुनौतियों से दो चार होना पड़ा है।
फिल्म उद्योग में कास्टिंग कॉउच एक बड़ा ही सनसनीखेज शब्द है। मोटे तौर पर काम मांगने के दौरान हुए यौन शोषण के लिए फिल्म इंडस्ट्री इसी शब्द का प्रयोग करती है। बॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्री कंगना रनौत ने अपने संघर्ष के दिनों में सबसे मुश्किल और खराब दौर के बताते हुए खुलासा किया था कि फिल्म इंडस्ट्री में इस मुकाम तक पहुँचने के लिए उन्हे भी शारीरिक शोषण का शिकार होना पड़ा था। कंगना ने कहा कि वह शख्स जिसने उनका शारीरिक शोषण किया था वह फिल्म इंडस्ट्री से ही था।
हाल ही में हिंदी फिल्म निल बटे सन्नाटा में मुख्य किरदार में नजर आईं फिल्म अभिनेत्री स्वरा भाष्कर के साथ भी कास्टिंग कॉउच की दुर्घटना उनके बॉलीवुड में संघर्ष के दौरान हो चुकी है और स्वरा के लिए यह संघर्षों का सबसे बुरा दौर था। स्वरा ने कहा कि एक बार ऑडीशन के दौरान उनसे पूछा गया कि आप क्या-क्या कर सकती हैं तो उन्होने अपनी सारी खूबियां गिना दीं लेकिन उसके बाद भी उनसे पूछा गया कि कुछ और.. तो स्वरा ने पूछने वाले के इरादे भांप लिए और बड़ी ही बेबाकी के साथ जवाब भी दे दिया कि मैं सेक्स नहीं कर सकती।
इसके अलावा अभिनेत्री पायल रोहतगी ने निर्देशक दिबाकर बनर्जी पर तब छेड़छाड़ और शारीरिक शोषण करने का आरोप लगाया था जब उन्होने उनसे शंघाई में रोल देने के लिए अप्रोच किया था। 90 के दशक की मशहूर अभिनेत्री ममता कुलकर्णी ने भी निर्देशक राजकुमार संतोषी पर कास्टिंग कॉउच का आरोप लगाया था। मशहूर अभिनेत्री राधिका आप्टे ने एक हिंदी वेब पोर्टल को इंटरव्यू देते हुए खुलासा किया था कि साउथ की फिल्मों में काम मांगने वो चेन्नई जा पहुंची थीं जहां एक होटल में राधिका की किसी प्रोड्यूसर से मीटिंग थी। होटल के उस कमरे में बातों के दौरान प्रोड्यूसर ने राधिका को शारीरिक संबंध बनाने का न्यौता दे दिया जिसके बाद वो किसी तरह से वहां से भाग निकलीं।
ये सारी घटनाएँ इन अभिनेत्रियों के जेहन में संघर्ष के दिनों की सबसे बुरी यादों के रुप में दर्ज है। आज ये सभी अभिनेत्रियां कामयाबी की उड़ान भर रही हैं। इन्होने अपने साथ हुए इन अनैतिक व्यवहारों पर खुलकर बात की है। ऐसे में यह बॉलीवुड में आने वाली नई नस्लों के संघर्ष के दौरान इस तरह की संभावित घटनाओं से निपटने में सहायक होगी।

POPULAR ON IBN7.IN