करणी सेना ने फिर दी संजय लीला भंसाली को धमकी

बॉलीवुड फिल्ममेकर संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती की शूटिंग के दौरान जयपुर पर उन पर हमला करने वाले और शूटिंग सेट पर तोड़फोड़ करने वाली करणी सेना ने एक बार फिर संजय को चेतावनी दी है। अंग्रेजी साइट डीएनए की रिपोर्ट के मुताबिक करणी सेना के संस्थापक लोकेंद्र सिंह कल्वि ने डेक्कन क्रॉनिकल्स को बताया- यदि पद्मावती फिल्म में कोई आपत्तिजनक सीन जोड़ा गया तो देश इसे कत्तई बर्दाश्त नहीं करेगा। उन्होंने बताया कि किस तरह उनके जैसे समुदाय आरक्षण के प्रति लड़ रहे हैं। उन्होंने कहा- महाराष्ट्र में मराठा, गुजरात में पाटीदार आरक्षण की मांग कर रहे हैं। हम ऐसे समुदायों के साथ हाथ मिलाने जा रहे हैं, ताकि सरकार को हमारी मौजूदगी का अहसास हो।

लोकेंद्र ने कहा- हम नहीं कह रहे कि आर्थिक आधार पर आरक्षण दिया जाना चाहिए। अभी हम आरक्षण पर पुनर्विचार किए जाने की मांग कर रहे हैं, ताकि मालूम किया जा सके कि समुदायों को इससे फायदा हो और उन लोगों के बारे में पता किया जा सके जो इससे वंचित रह गए हैं। गौरतलब है कि पद्मावती की शूटिंग किए जाने के बाद से अब तक कई बार शूटिंग शेट पर हमलों की घटनाएं हो चुकी हैं। पहला हमला जयपुर और दूसरा कोल्हापुर में किया गया। सबसे पहले जयपुर में करणी सेना द्वारा हमला किया गया था और जब लगा कि सब शांत हो गया है तो फिर उसी सेना ने कोल्हापुर में हमला कर दिया। यह फिर तब हुआ जबकि भंसाली के प्रोडक्शन हाउस ने आधिकारिक तौर पर यह साफ कर दिया था कि रानी पद्मावती और अलाउद्दीन खिलजी के बीच किसी तरह का कोई ड्रीम सीक्वेंस नहीं है।

बॉम्बे टाइम्स को दिए एक बयान में भंसाली ने कहा- मेरी फिल्म पद्मावती को लेकर बहुत सारी गलतफहमी और गलत धारणाएं बनी हुई हैं। मैं एक बार फिर से हमेशा के लिए इस बात को साफ कर देना चाहता हूं। पद्मावती एक श्रद्धेय राजपूत महारानी की कहानी है जो अपने आत्म सम्मान और मान मर्यादा की रक्षा के लिए लिए पराक्रम दिखाती है। यह एक ऐसी फिल्म है जिसे देखकर हर भारतीय गौरव महसूस करेगा। मेरी टीम और मैंने रानी पद्मावती के ऊपर फिल्म बनाने से पहले उनके बारे में उपलब्ध जानकारी पर हर तरह से शोध किया है।

  • Agency: IANS