इस वजह से निर्माताओं को पहली बाहुबली से नहीं मिला कोई मुनाफा

एसएस राजमौली की बाहुबली-2 6500 स्क्रिन्स पर रिलीज होगी। ऐसा माना जा रहा है कि यह बॉक्स ऑफिस पर कई रिकॉर्ड तोड़ेगी। फिल्म में राणा दग्गुबाती और प्रभाष मुख्य भूमिका में हैं। यह साल की बहुप्रतीक्षित फिल्मों में से एक है। जिस तरह से बाहुबली को लेकर चर्चा हैं उससे यह साफ है कि फिल्म पहले पार्ट की तरह ही बेहद दिलचस्प होगी। वैसे आपको बता दें कि कमाई के रिकॉर्ड तोड़ने और दुनियाभर से 600 करोड़ रुपए कमाने के बावजूद भी पहली बाहुबली ने कोई मुनाफा नहीं कमाया है। फिल्म के एक्जिबिटर अक्षय राठी ने बताया कि किस तरह से प्रोड्यूसर्स ने बाहुबली द बिगिनिंग से कोई मुनाफा नहीं कमाया है।

अक्षय राठी से हुई बातचीत के दौरान बताया- दोनों ही फिल्मों का बजट जिसमें कि प्रोडक्शन और मार्केटिंग भी शामिल है कुल मिलाकर 450 करोड़ रुपए का है। बाहुबली फ्रेंचाइची में दो फिल्में बनाई गई हैं। निर्माताओं ने सेट बनाने पर बहुत बड़ी राशि का निवेश किया है। बाहुबली की रिलीज से पहले ही निर्मातओं ने इसकी दूसरी फिल्म का एक अहम हिस्सा शूट कर लिया था। ऐसे में निर्माताओं ने दोनों ही फिल्मों में काफी पैसा लगाया है। इसी वजह से वो अब इससे आने वाली आय की तरफ देख रहे हैं। दोनों ही फिल्म के थिएटर राइट से करीब 600 करोड़ रुपए मिले हैं। ऐसे में निर्माताओं को दोनों फिल्मों से 150-200 करोड़ रुपए का मुनाफा मिलेगा।

 

जब अक्षय से पूछा गया कि क्या पहली बाहुबली से मुनाफा कमाने वाले करण जौहर अकेले शख्स हैं तो उन्होंने कहा कि करण ने केवल हिंदी वर्जन को डिस्ट्रिब्यूट किया था। इसीलिए उन्हें एक निश्चित राशि दे दी गई और उन्हें फिल्म से राजस्व मिल गया। निश्चित तौर पर करण और अनिल थंठानी ने पैसा कमाया है। अगर बाहुबली 2 रिलीज होती है तो इससे निर्माता बेशक मुनाफा कमाएंगे। फेंचाइजी से जुड़ा हर शख्स पैसा कमाएगा।

 

अक्षय ने कहा कि बाहुबली 2 बहुत बड़ी ट्रेंडसेटर फिल्म बनने वाली है। बाहुबली को बनाना काफी रिस्क लेने जैसा था। निर्माता बाहुबली की दुनिया को थिएटर, सैटेलाइट और डिजिटल से बाहर ले जाना चाहते हैं। यह वो अनुभव है जिसे बड़ी स्क्रिन के लिए बनाया गया है।

  • Agency: IANS