पुलिस के हाथ अब तक नहीं लगा ओम पुरी का मोबाइल

ओम पुरी की मौत की घटना धीरे-धीरे उलझती दिखती रही है। एक तरफ जहां पुलिस फोरेंसिक और हिस्टोपैथोलोजी की रिपोर्ट का इतजार कर रहे हैं। ताकि मौत की असल वजह तक पहुंचा जा सके। ओम पुरी के करीबियों से पूछताछ की जा रही है। वहीं दूसरी तरफ उनकी मौत के बाद से उनका मोबाइल फोन गायब है। वह मोबाइल जो जांच में एक अहम सुराग साबित हो सकता है वह अभी तक पुलिस की पहुंच से दूर है।

ओशीवारा पुलिस स्टेशन के एक अफसर का कहना है कि ओम पुरी का फोन उनकी पत्नी नंदिता के पास है। इस वक्त ओम पुरी का परिवार मौत के बाद होने वाले कर्मकांड में उलझे हैं। इसलिए इस वक्त उन्हें परेशान करना ठीक नहीं होगा। सही समय देखकर फोन उनसे ले लिया जाएगा। पुलिस में दर्ज बयानों को देखा जाए तो पुलिस ओम पुरी के फोन से उनका कॉल रिकॉर्ड देखना चाहते हैं। साथ ही वह यह भी देखना चाहते हैं कि दिल का दौरा पड़ते वक्त क्या उन्हें इतना मौका मिला कि वह किसी को कॉल कर सकें।

ओम पुरी की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सामने आया है कि उनके सिर में चोट के निशान, कॉलर बोन और लेफ्ट आर्म पर हेयरलाइन फ्रैक्चर था। ओम पुरी की सामान्य मौत को लेकर कई लोगों ने आशंका भी जताई थी। ओम पुरी शुक्रवार को अपने घर में मृत पाए गए थे और दिल का दौरा पड़ना उनकी मौत का कारण बताया जा रहा था। ओशिवारा पुलिस सूत्रों के अनुसार, ओम पुरी की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट पुलिस को मिल चुकी है। रिपोर्ट के मुताबिक, पुरी के सिर के ऊपरी हिस्से में डेढ़ इंच गहरा और 4 सेंटीमीटर लंबा जख्म था। सिर में कई जगह क्लॉटिंग थी। कॉलर बोन और लेफ्ट अपर आर्म पर हेयरलाइन फ्रैक्चर था।

इस बाबत ओशिवारा थाने के सीनियर इंस्पेक्टर सुभाष खानविलकर ने कहा,’हम हर ऐंगल से मामले की जांच कर रहे हैं। पुरी जिस बिल्डिंग में रहते थे, वहां का विजिटर्स रजिस्टर और सीसीटीवी कैमरे जब्त किए हैं।

  • Agency: IANS
Poker sites http://gbetting.co.uk/poker with all bonuses.