2011 वर्ल्‍ड कप फाइनल को लेकर विराट कोहली का खुलासा

सुपरस्टार आमिर खान और भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली पहली बार एक चैट शो में साथ नजर आएंगे। तीन अक्‍टूबर को दोनों सितारों ने यह शो शूट किया। इसके लिए आमिर ने अपनी आगामी फिल्म ‘सीक्रेट सुपरस्टार’ के प्रचार से एक दिन की छुट्टी ली। चैट शो पर विराट कोहली ने कई खुलासे किये। कोहली ने कहा कि वह 2011 वर्ल्‍ड कप फाइनल में वह श्रीलंकाई तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा की यॉर्कर्स का सामना करने से डर रहे थे। वर्ल्‍ड कप तक कोहली क्रिकेट में इतना बड़ नाम नहीं थे। मुंबई के वानखेड़े स्‍टेडियम में मलिंगा ने बेहद जल्‍दी ही भारत के दोनों ओपनर्स, वीरेंद्र सहवाग और सचिन तेंदुलकर को वापस पवेलियन भेज दिया था। नंबर 4 पर बल्‍लेबाजी करने विराट कोहली उतरे थे। गौतम गंभीर के साथ 83 रनों की महत्‍वपूर्ण साझेदारी करने वाले कोहली ने उस फाइनल में 35 रन बनाए थे। अब उन्‍होंने खुलासा किया है जब वह सचिन के आउट होने के बाद बल्‍लेबाजी करने आए तो उनके दिमाग में क्‍या चल रहा था।

कोहली ने शो पर आमिर खान से कहा, ”मुझे डर लग रहा था मलिंगा यॉर्कर नहीं डाले। मैं पहले से ही नर्वस था। लेकिन 2-3 गेंद खेलने के बाद, मैं सेटल हो गया।” भारतीय क्रिकेट टीम ने 28 साल बाद 2011 में विश्‍व कप अपने नाम किया था। फाइनल में गौतम गंभीर और महेंद्र सिंह धोनी की शानदार बल्‍लेबाजी की बदौलत टीम ने आसानी से श्रीलंका द्वारा दिए गए चुनौतीपूर्ण लक्ष्‍य का पीछा किया था।

वर्ल्‍ड कप के बाद की श्रृंखलाओं में विराट कोहली की बल्‍लेबाजी निखरती चली गई। साल 2012 में, श्रीलंका के खिलाफ 43 ओवर में 321 रनों का पीछा करते हुए विराट कोहली ने 133 रनों की शानदार पारी खेली थी। एकदिवसीय क्रिकेट इतिहास की सबसे अच्‍छी पारियों में से एक माने जाने वाली इसी पारी में एक समय कोहली ने मलिंगा को मैदान के चारों ओर मारा था। मलिंगा के एक ओवर में कोहली ने 2,6,4,4,4,4 (26 रन) बटोरे थे।

POPULAR ON IBN7.IN