कोहली, शास्त्री ने भुवनेश्वर-बुमराह को सराहा

आस्ट्रेलिया को पांच मैचों की वनडे सीरीज में 4-1 से शिकस्त देने के बाद भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली और मुख्य कोच रवि शास्त्री ने जसप्रीत बुमराह-भुवनेश्वर कुमार की जोड़ी की तारीफ की है। भारत ने रविवार को विदर्भ क्रिकेट संघ स्टेडियम में खेले गए मैच में आस्ट्रेलिया को सात विकेट से मात देते हुए सीरीज का अंत जीत के साथ किया।

भुवनेश्वर और बुमराह ने इस सीरीज में चार मैच खेले और पांच-पांच विकेट लिए, लेकिन डेथ ओवरों में किए गए शानदार प्रदर्शन से इन दोनों गेंदबाजों ने सभी की तारीफें लूटी हैं।

पांचवें वनडे मैच में जीत के बाद शास्त्री ने कहा, "हमारी डेथ ओवरों में गेंदबाजी शानदार रही। यह सिर्फ योग्यता की बात है। जब आपके पास इस तरह के गेंदबाज होते हैं तो वो आपको अंतिम ओवरों में वापस मैच में ले आते हैं।"

मुख्य कोच ने कहा, "ये दोनों एक-दूसरे का अच्छा साथ देते हैं। उनके पास अनुभव है, अलग तरह का एक्शन है और उनकी यॉर्कर गेंदें सटीक होती हैं।"

कोहली ने भी इन दो गेंदबाजों की तारीफ करते हुए कहा, "भुवी (भुवनेश्वर) और बुमराह ने हमारे लिए बेहतरीन प्रदर्शन किया है। वह बेहतरीन 'क्लास' के गेंदबाज हैं। जब भी मैच हमारे हाथ से फिसल रहा होता है ये दोनों हमारी वापसी करा देते हैं।"

कप्तान ने कहा कि आस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज में एकतरफा जीत हासिल करना हमारी टीम के बारे में काफी कुछ कहता है।

कोहली ने कहा, "जीत कर अच्छा लग रहा है। यह वाकई एकतरफा जीत है। हमने सभी क्षेत्रों में शानदार प्रदर्शन किया। हम कई बार दबाव में थे, लेकिन हमने फिर भी चार मैचों में जीत हासिल की।"

उन्होंने कहा, "टीम जिस तरह से खेली उससे मैं काफी खुश हूं। हमने जिस तरह का प्रदर्शन श्रीलंका के खिलाफ किया था उसी को दोहराया इस पर मुझे गर्व है। यह हमारी टीम की योग्यता बताता है।"

टीम के क्रूरतापूर्ण रवैये के बारे में कोहली ने कहा, "यह टीम का दूसरा स्वाभाव बन गया है (लगातार मैच जीतना)। जब हम 3-0 से सीरीज जीत गए थे तब हमें प्ररेणा की जरूरत थी और ऐसे में टीम प्रबंधन ने हमें प्रेरित रखने में अहम रोल किया।"

उन्होंने कहा, "हमारे पास नंबर-1 स्थान को वापस पाने का मौका था और हमने ऐसा ही किया। इन खिलाड़ियों ने इसे मुमकिन करने में काफी मेहनत की है।"

POPULAR ON IBN7.IN