एमएस धोनी, बेन स्‍टोक्‍स, सौरव गांगुली जैसे क्रिकेटरों ने देखा है भूत, पढ़‍िए उनके अनुभव

विश्व की सबसे डरावनी फिल्मों में से एक ‘कंज्यूरिंग’ में काम चुके एक्टर एड वर्रेन का मानना है कि अगर दुनिया में भगवान मौजूद हैं, परियों की कहानियां सच्ची है तो इस धरती पर शैतान यानि भूत भी मौजूद हैं। हम उनकी उपस्थिति से इंकार नहीं कर सकते हैं। हालांकि दुनिया में भूतों के होने ना होने को लेकर अलग-अलग व्यक्तियों की अपनी सोच है। लेकिन क्रिकेटर जगत में नाम कमा चुके स्टुअर्ट ब्रॉड, शेन वॉटसन, बेन स्टोक्स से लेकर पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की बात करें तो उन्होंने असल जिंदगी में भूत की उपस्थिति को महसूस किया है। आज आपको यहां भूतों की उपस्थिति को लेकर इन्हीं हस्तियों के अनुभव को साझा करने जा रहे हैं।

साल 2005 की एशेज सीरीज को कौन भूल सकता है। सीरीज के दौरान अपने रूम में ठहरे शेन वॉटसन ने खुद भूत की उपस्थिति को महसूस किया। ऑस्टेलिया के पूर्व ऑलराउंडर ने इस दौरान तेज गेंदबाज ब्रेट ली के मीडिया मैनेजर को भी ये बात बताई। तब उन्होंने मैनेजर से कहा, ‘मैंने भूत देखा है। मैं कसम खाता हूं कि मैं सच कह रहा हूं।’ खुद मैनेजर ने बताया कि तब वॉटसन मजाक नहीं कर रहे थे। घटना के बाद इंग्लैंड के खिलाड़ियों ने वाटसन को इस घटना के बाद तंग भी किया था।

साल 2002 में इंग्लैंड के खिलाफ जीते गए मैच को कौन भूल सकता है जिसमें भारतीय टीम ने विरोध टीम के खिलाफ 326 बनाकर जीत हासिल की थी। इस मैच से कप्तान सौरव गांगुली इतने खुश हुए कि उन्होंने तब अपनी शर्ट तक उतार दी थी। मैच के बाद के अनुभव को साझा करते हुए तब सौरव गांगुली ने बताया कि रात को जिस होटल में वो रुके थे वहां कथित तौर पर बाथरूम की टंकी अपने आप चलने लगी थी। ये सब करीब आधा घंटे तक लगातार चलता रहा जिससे पूर्व कप्तान खासे डर गए थे। और सीधे रोबिन सिंह कमरे में चले गए।

मशहूर लैंगहम होटल भी कथित तौर पर भूतों की उपस्थितियों के आरोप से अछूता नहीं है। इंग्लैंड का ये होटल दुनिया के सबसे मशहूर होटलों में एक माना जाता है। साल 2014 में इसी होटल में ठहरे स्टअर्ट ब्रॉड, बेन स्टोक्स और एमएस धोनी कथित तौर पर भूत के डर से अपने कमरे बदले के लिए संबंधित अधिकारियों से अपील की थी।

POPULAR ON IBN7.IN