कोच बनने के बाद रवि शास्त्री को बीसीसीआई दे सकता है इतने करोड़ का सैलरी पैकेज

रवि शास्त्री भारतीय क्रिकेट टीम के नए मुख्य कोच चुने गए हैं। सूत्रों के मुताबिक उन्हें बीसीसीआई की ओर से सालाना 7 या 7.5 करोड़ सैलरी दी जा सकती है। शनिवार को बीसीसीआई के उच्च पदस्थ सूत्र ने टीओआई को बताया की बीसीसीआई रवि शास्त्री को 7 करोड़ रुपये सालाना का पैकेज अॉफर कर सकती है। इतना ही पैसा पूर्व कोच अनिल कुंबले ने बोर्ड से मई में अपने प्रेजेंटेशन के दौरान मांगा था। लेकिन यह 7.5 करोड़ से ज्यादा नहीं हो सकता। बतौर टीम डायरेक्टर रवि शास्त्री का पैकेज भी 7-7.5 करोड़ के बीच ही था। सूत्रों ने यह भी कहा कि शास्त्री के साथ काम करने वाले मुख्य सपोर्ट स्टाफ, जैसे बैटिंग, बॉलिंग और फील्डिंग कोच को सालाना 2 करोड़ से ज्यादा का पैकेज नहीं मिलेगा। एक अधिकारी ने बताया कि बोर्ड में जल्द से जल्द कॉन्ट्रैक्ट्स को अंतिम रूप देने की तैयारी चल रही है।

हालांकि बैटिंग कोच संजय बांगड़ और शास्त्री की पसंद भरत अरुण (अगर बॉलिंग कोच नियुक्त किए गए तो) की सैलरी थोड़ी बढ़ सकती है। सूत्र ने बताया कि संजय बांगड़ ने किंग्स इलेवन पंजाब की नौकरी छोड़ दी है। अगर भरत अरुण आते हैं तो उन्होंने आरसीबी और हैदराबाद रणजी टीम में अपने पदों से भी हाथ धोना पड़ेगा। वहीं राहुल द्रविड़ का इंडिया ए और अंडर-19 टीम के साथ पहले साल का कॉन्ट्रैक्ट 4.5 करोड़ और दूसरे साल का 5 करोड़ का है। उन्हें विदेशी दौरे पर भारतीय टीम के बैटिंग कंसलटेंट के तौर पर अतिरिक्त पैसे दिए जाएंगे।

हालांकि बोर्ड में जहीर खान को कंसलटिंग बॉलिंग कोच बनाने को लेकर अब तक स्थिति साफ नहीं हो पाई है। एक अधिकारी ने कहा, जहीर खान कितने दिन टीम इंडिया के साथ रहेंगे, इस पर स्थिति साफ नहीं हो पाई है। उनकी सैलरी उनकी मौजूदगी से ही तय होगी। उनके मुताबिक बोर्ड ने पिछले साल जहीर खान की उस मांग को भी खारिज कर दिया था, जिसमें उन्होंने 100 दिनों के लिए सालाना 4 करोड़ रुपये की मांग की थी।

POPULAR ON IBN7.IN