हेराफेरी के आरोपी बैंकों ने दिए जांच के आदेश

नई दिल्ली, 16 मार्च (आईएएनएस)| देश के तीन प्रमुख बैंकों पर धन की हेराफेरी का आरोप लगने के बाद आरोपी बैंकों ने आंतरिक जांच के आदेश दिए हैं। एचडीएफसी बैंक ने शनिवार को कहा कि धन की हेराफेरी के आरोपों की स्वतंत्र फॉरेंसिक जांच के लिए उसने डिलायटी टॉच तोमात्सु की सेवा ली है।

इस मामले में आईसीआईसीआई बैंक ने 18 अधिकारियों को निलंबित कर दिया है, जबकि निजी क्षेत्र के तीसरे बैंक एक्सिस बैंक ने कहा कि आंतरिक जांच के आदेश दिए गए हैं।

भारतीय रिजर्व बैंक और वित्त मंत्रालय ने भी इस मामले में जांच शुरू कर दी है।

एचडीएफसी बैंक ने कहा कि अपने आचार संहिता और अधिकारियों के नैतिक मानकों के उल्लंघनों का पता लगाने के लिए उसने अमरचंद एंड मंगलदास तथा सुरेश ए श्रॉफ एंड कंपनी की भी सेवा ली है।

संस्थान ने एक बयान में कहा, "बैंक अनुपालन, कारपोरेट गवर्नेस और नैतिकता के सर्वोच्च मानकों के लिए प्रतिबद्ध है और नियमों तथा कानूनों के कार्यान्वयन के लिए इसके पास अपनी प्रणाली है।"

उल्लेखनीय है कि खोजी पत्रकारिता करने वाली वेबसाइट कोब्रा पोस्ट ने गुरुवार को सनसनीखेज खुलासा करते हुए कहा था कि देश के तीन बैंक धन की हेराफेरी में लिप्त हैं।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

POPULAR ON IBN7.IN