भारत, कुवैत संयुक्त उद्यमों में तेजी लाने पर सहमत

नई दिल्ली, 11 मार्च (आईएएनएस)| भारत और कुवैत, तेल एवं गैस क्षेत्र में संयुक्त उद्यम परियोजनाओं को अंतिम रूप देने के लिए बातचीत में तेजी लाने पर सोमवार को सहमत हो गए।

पेट्रोलियम मंत्रालय द्वारा यहां जारी एक बयान में कहा गया है कि केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री एम. वीरप्पा मोइली और कुवैत के अमीरी दिवान मामलों के मंत्री, शेख नासिर सबाह अल-अहमद अक-जबेर अल-सबाह के बीच यहां हुई एक बैठक में यह संकल्प लिया गया।

कुवैत के मंत्री ने सुझाव दिया कि दोनों देशों के विशेषज्ञों को खास परियोजनाओं पर बातचीत करनी चाहिए। उन्होंने बैठक में उपस्थित भारतीय तेल कम्पनियों व अधिकारियों को कुवैत का दौरा करने के लिए आमंत्रित किया।

मोइली ने मित्रवत एवं दीर्घकालिक द्विपक्षीय सम्बंधों को नई गति देने की आवश्यकता पर जोर दिया। उन्होंने भारत में तेल एवं गैस की खोज में तथा पेट्रोकेमिकल परियोजनाओं में निवेश के लिए कुवैत की कम्पनियों को आमंत्रित किया।

मोइली ने कुवैत में तेल उद्योग की परियोजनाएं विकसित करने में भारत की सरकारी स्वामित्व वाली ईआईएल की भागीदारी का प्रस्ताव भी किया।

ज्ञात हो कि कुवैत, भारत की ऊर्जा सुरक्षा खोज में एक महत्वपूर्ण साझेदार है। भारत द्वारा प्रतिवर्ष आयात किए जाने वाले कच्चे तेल का 10-10 प्रतिशत हिस्सा कुवैत द्वारा मुहैया कराया जाता है।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

 

POPULAR ON IBN7.IN