GST के बदले कमिश्नर संसार चंद को रिश्वत दे रहे थे कानपुर के कारोबारी, चढ़े सीबीआई के हत्थे

कानपुर में  जीएसटी   और केंद्रीय उत्पाद आयुक्त संसार चंद सहित 9 लोगों को रिश्वत के मामले में हिरासत में लिया गया है. इसमें 3 सरकारी अधिकारी शामिल हैं. सीबीआई ने बताया है कि कानपुर में जीएसटी के आयुक्त संसार चंद एक 'संगठित रिश्वत रैकेट' चलाते थे. कानपुर के व्यापारियों और उद्योगपतियों ने उनके बारे में बताया कि जो नियमित रूप से रिश्वत देते रहता उसके खिलाफ कोई कदम नहीं उठाया जाता था, भले ही उसने जीएसटी भी न जमा किया हो. यह रिश्वत का पैसा इकट्ठा करने का काम तीन लोगों के हाथ में था. पैसे का लेनदेन हवाला जरिए होता था जिसमें कमिश्नर की पत्नी भी शामिल थीं. कारोबारियों से संसार चंद की पत्नी को महंगे टीवी, फ्रिज देने और रिश्वत का पैसा हवाला के जरिए देने के लिए कहा जाता था.  
 

एजेंसी के सूत्रों के मुताबिक, सीबीआई ने कानपुर और दिल्ली में कल देर रात चलाए अभियान के तहत आयुक्त के तौर पर तैनात भारतीय राजस्व सेवा के 1986 बैच के अधिकारी, महकमे के दो अधीक्षक, एक निजी स्टाफ और पांच गैर सरकारी व्यक्तियों को गिरफ्तार किया है.

आरोप है कि आयुक्त ‘आदतन’ अपराधी है और कारोबारियों से मासिक तथा साप्ताहिक आधार पर रिश्वत लेता है. एक सूत्र ने बताया कि कथित तौर पर रिश्वत देने वाले एक शख्स को भी हिरासत में ले लिया गया है. फिलहाल प्राथमिकी दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है.