RBI: नोटबंदी के एक साल बाद भी नहीं हो पायी है नोटों की गिनती

देश में नोटबंदी के लगभग एक साल पूरे होने को हैं लेकिन रिजर्व बैंक अभी भी वापस आये नोटों की गिनती एवं जांच का काम पूरा नहीं कर सका है। केंद्रीय बैंक ने संवाददाता द्वारा सूचना का अधिकार (आरबीआई) के तहत पूछे गये एक सवाल के जवाब में यह जानकारी दी। रिजर्व बैंक ने कहा कि वह 30 सितंबर तक 500 रुपये के 1,134 करोड़ नोट तथा 1000 रुपये के 524.90 करोड़ नोट का सत्यापन कर चुका है। इनके मूल्य क्रमश: 5.67 लाख करोड़ रुपये और 5.24 लाख करोड़ रुपये हैं। उसने आगे कहा कि दो पालियों में सभी उपलब्ध मशीनों में नोटों की गिनती एवं जांच की जा रही है।

आरटीआई के तहत रिजर्व बैंक से नोटबंदी के बाद वापस आये नोटों की गिनती के बारे में पूछा गया था। गिनती समाप्त होने के समय के बारे में उसने कहा, ‘‘वापस आये नोटों की गिनती की प्रक्रिया जारी है।’’ उसने कहा कि नोटों की गिनती एवं जांच करने वाली 66 मशीनों का इस्तेमाल किया जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले साल आठ नवंबर को 500 रुपये और 1000 रुपये के नोटों को चलन से बंद करने की घोषणा की थी। उसके बाद लोगों द्वारा विभिन्न बैंकों में जमा किये गये अमान्य नोटों की गिनती एवं जांच केंद्रीय बैंक कर रहा है। विपक्षी पार्टियां नोटबंदी के साल पूरा होने के मौके पर आठ नवंबर को काला दिवस मनाने की घोषणा की है।

 

POPULAR ON IBN7.IN