राजधानी में टिकट कन्फर्म नहीं होने पर हवाई सफर की सुविधा, रेलवे बोर्ड को पसंद आया एअर इंडिया का प्लान

राजधानी एक्सप्रेस के यात्रियों की एसी1 और एसी 2 की टिकट अगर कंफर्म नहीं होती है तो वे अपने गंतव्य तक पहुंचने के लिए हवाई यात्रा कर सकेंगे। एयर इंडिया के पूर्व चेयरमैन अश्विनी लोहानी ने पिछली गर्मियों में यह सुझाव दिया था लेकिन रेलवे बोर्ड ने इस पर अपनी कोई सकारात्मक प्रतिक्रिया नहीं दी थी। रेलवे बोर्ड के चेयरमैन बनने के बाद लोहानी ने एक बार फिर से इस योजना को हरी झंडी देने की बात कही है अगर एयर इंडिया इस योजना को आगे बढ़ाता है। टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार लोहानी ने कहा कि अगर एयर इंडिया इस प्रस्ताव को लेकर हमारे पास आता है तो हम इसे स्वीकार कर लेंगे।

इस योजना के बारे में बात करते हुए लोहानी ने कहा कि रेलवे में भारी मांग और आपूर्ति की कमी के कारण लोगों की बड़ी संख्या में राजधानी की एसी 2 की टिकट लगभग हर दिन अनकंफर्मड होती हैं। जिन भी यात्रियों की आखिरी समय पर भी टिकट कंफर्म नहीं होगी उनकी सीधी सारी जानकारी स्वयं एयर इंडिया के साथ साझा हो जाएगी। इसके बाद एयर इंडिया मामूली कॉम्पेटेटिव रेट्स पर यात्रियों को हवाई सफर करने के लिए ऑफर करेगी। लोहानी ने कहा कि राजधानी एसी 2 टिकट का किराया हवाई यात्रा के अधिक या कम समान है। वहीं इस पर एयर इंडिया के अंदरुनी सूत्रों का कहना है कि लोहानी का आइडिया बहुत अच्छा है लेकिन क्या किसी फायदे के आरोपों के बिना रेलवे भी प्राइवेट एयर इंडिया और अन्य प्राइवेट एयरलाइन्स के साथ समान रूप से ऐसा कर सकता है।

वरिष्ठ आईएएस अधिकारी राजीव बंसल ने इस योजना पर बात करते हुए कहा कि लोहानी को अगस्त के आखिर में केवल तीन महीने के लिए एयर इंडिया के चेयरमैन का कार्यभार संभालने की जिम्मेदारी सौंपी गई थी और जब लोहानी रेलवे बोर्ड के चेयरमैन बन गए हैं तो इतनी जल्दी किसी भी प्रस्ताव पर कमेंट करने के लिए सक्षम नहीं हैं। बंसल ने कहा कि ट्रेन और हवाई सफर के किराए में काफी अंतर है। फिलहाल लोहानी के प्रस्ताव को पसंद करते हुए एयर इंडिया ने राजधानी एसी 2 के किराए को दिल्ली से मुंबई के बीच हवाई यात्रा के टिकट को मैच करने का फैसला लिया है।

POPULAR ON IBN7.IN