सऊदी अरब को जवाब देने के लिए कतर ने विदेश से प्‍लेन से मंगवाईं गायें

संयुक्त अरब अमीरात और अरब देशों द्वारा कतर को दूध सप्लाई रोके जाने के बाद कतर ने बड़ा कदम उठाते हुए विदेशों से हवाई जहाज के जरिए गायें मंगवाई हैं ताकि दूध की कमी को पूरा किया जा सके। पहली खेप में 165 गायें बूडापेस्ट से लाई गई हैं। अगस्त तक कुल चार हजार गायें लाई जानी हैं। विदेश से आई गायों के पहले झुंड को दोहा से 80 किलोमीटर दूर एक खेत में रखा गया है।

बलडाना लाइवस्टोक प्रोडक्शन के सीनियर मैनेजर जॉन डोरे ने बताया कि फिलहास 165 गाय लाया गया है। इनमें से 35 गाय अभी दूध दे रही है जबकि बाकी 130 गाय दो से तीन हफ्तों के बाद दूध देने लगेंगी। हालांकि, इससे पहले आी मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया था कि 4000 गायों को ऑस्ट्रलिया और अमेरिका से 60 फ्लाइट के जरिए अगस्त तक कतर में लाया जाएगा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 3,700 किलोमीटर से अधिक की दूरी सफर करने के बाद और 41 डिग्री सेल्सियस गायों का यह झुंड नए परिवेश से अनजान लग रहा है।

गौरतलब है कि सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात, बहरीन और इजिप्ट ने पिछले महीने कतर से सभी तरह के संबंध विच्छेद कर लिए थे। इन देशों ने स्थलीय सीमा को भी सील कर दिया और खाद्य पदार्थों का निर्यात भी रोक दिया। खाड़ी देशों ने कतर पर आतंकवाद का समर्थन करने का आरोप लगाया है, जबकि कतर इन आरोपों से इनकार करता रहा है। खाड़ी देशों के इस कदम से कतर में सबसे ज्यादा असर दूध की सप्लाई पर पड़ा है क्योंकि कतर दूध की आपूर्ति के लिए इन्हीं देशों पर निर्भर था। हालांकि, राजनीतिक संकट शुरू होने के बाद से कतर ने तुर्की, ईरान और मोरक्को सहित विभिन्न देशों से भोजन आयात करना शुरू कर दिया है।

बता दें कि हाल ही में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की सऊदी अरब यात्रा के बाद इन देशों ने कतर के साथ अपने राजनयिक संबंधों को खत्म कर दिया था। खाड़ी देशों ने कतर पर फिलिस्तीनी आतंकवादी समूह हमास और शिया क्षेत्रीय शक्ति ईरान को मदद करने का आरोप लगाया है।

POPULAR ON IBN7.IN