चेक से पेमेंट करने पर ‘जुर्माना’ वसूल रही है एसबीआई कार्ड

आप अगर भारतीय स्टेट बैंक की ईकाई एसबीआई कार्ड का क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल करते हैं तो आपको चेक से पेमेंट करने पर चार्ज देना पड़ सकता है। एसबीअाई कार्ड अब 2000 रुपये से कम का क्रेडिट कार्ड का बिल चेक से देने पर 100 रुपये का जुर्माना वसूल रही है। एसबीआई कार्ड के एमडी और सीईओ विजय जसुजा ने टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया कि पेमेंट की तारीख नजदीक आने पर लोग ड्रॉप बॉक्स में बड़ी संख्या में चेक डालते हैं। इससे लेट पेमेंट चार्ज को लेकर विवाद होता रहता है। हमने इसकी समीक्षा की। ऐसा संभव नहीं है कि बैंक हर महीने चेक कलेक्शन में गलती करे। ऐसे विवाद निपटाने के लिए चेक पेमेंट्स का चलन खत्म करने की दिशा में कदम उठाया है। एसबीआई कार्ड देश की अकेली ऐसी संस्था है जो बैंक नहीं है और फाइनेंस कंपनी के रूप में रजिस्टर है। यह क्लियरिंग के लिए चेक कलेक्ट करने और डिपॉजिट करने पर चार्ज वसूलती है।

नया शुल्क वैसे एसबीआई खाताधारकों पर लागू नहीं होगा जो काउंटरों पर जाकर चेक पेमेंट करते हैं, क्योंकि ऐसे मामलों में चेक को क्लियरिंग के लिए नहीं भेजा जाता, बल्कि इंटरबैंक ट्रांसफर के जरिए पेमेंट हो जाती है। हालांकि, दूसरे बैंकों के चेक एसबीआई शाखाओं के काउंटरों पर जमा करने पर भी चार्ज देना होगा।

जसूजा ने कहा कि 92 फीसदी लोग चेक से पेमेंट नहीं करते हैं। चेक के जरिए पेमेंट करने वाले कुल 8 फीसदी लोगों में से 6 फीसदी लोगों का बिल 2,000 रुपये से ज्यादा होता है। ऐसे में सिर्फ 2 फीसदी लोगों को ही शुल्क देना पड़ रहा है। कंपनी चेक पेमेंट का चलन कम कर रही है और ऑनलाइन पेमेंट वालों को ज्यादा से ज्यादा रिवॉर्ड पॉइंट्स दे रही है। एसबीआई कार्ड्स के मुताबिक बिल पेमेंट्स के 14 तरीके हैं, लेकिन ज्यादातर के लिए मोबाइल या डेस्कटॉप पर इंटरनेट की जरूरत पड़ती है।

एसबीआई कार्ड स्‍टेट बैंक ऑफ इंडिया के अलावा दूसरे ग्राहकों के लिए भी क्रेडिट कार्ड जारी करती है। एसबीआई के कस्‍टमर्स के लिए डेबिट और एटीएम कार्ड भी एसबीआई कार्ड ही देती है, लेकिन इसे एसबीआई की तरफ से जारी माना जाता है। एसबीआई और एसबीआई कार्ड के बीच इसके लिए आपसी समझौता है।

POPULAR ON IBN7.IN