विश्व बैंक ने जीडीपी वृद्धि अनुमान घटाकर 7 फीसदी किया

वाशिंगटन: | नोटबंदी के बाद विश्व बैंक ने अपने पहले पूर्वानुमान में चालू वित्त वर्ष में देश की जीडीपी वृद्धि दर का अनुमान घटाकर 7 फीसदी कर दिया है, जबकि बीते साल जून 7.6 फीसदी रहने का अनुमान लगाया गया था। बैंक ने मंगलवार को जारी की गई वैश्विक अर्थव्यवस्था संभावनाओं की एक रिपोर्ट में कहा, "भारत की वृद्धि दर वित्त वर्ष 2017 में 7 फीसदी रहने का अनुमान है, जोकि भारत के विस्तार में अच्छी खासी कमी को दिखाता है।"

इसमें कहा गया, "अप्रत्याशित रूप से नोटबंदी- बड़े मूल्य के नोटों को चरणबद्ध रूप से बाहर करने- ने साल 2017 के तीसरी तिमाही के वृद्धि को दबा दिया।"

इसमें यह भी कहा गया, "कमजोर औद्योगिक उत्पादन और विनिर्माण और सेवा क्रय प्रबंधक सूचकांकों से अनुमान है कि वित्त वर्ष 2017 की चौथी तिमाही में भी इनमें कमजोरी बनी रहेगी।"

बीते सप्ताह देश के आधिकारिक सांख्यिकीविद ने भी देश के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) वृद्धि दर के वित्त वर्ष 2016-17 में 7.1 फीसद रहने का अनुमान जताया है जबकि वित्त वर्ष 2015-16 में यह 7.6 फीसदी था।

POPULAR ON IBN7.IN